सुबह का नाश्ता छोड़ने के 7 नतीजे

09 जनवरी, 2019
सुबह के नाश्ते से मिलने वाले पोषक तत्व शरीर की ताकत बनाए रखने के लिए जरूरी होते हैं। सुबह का नाश्ता छोड़ने के नतीजों को जानने के लिए इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़ें!

बहुत से लोग सुबह के नाश्ते को छोड़ने के बुरे नतीजों के बारे में नहीं जानते। वे लगातार इस जरूरी खाने को  छोड़ते रहते हैं। हालांकि पिछले कुछ सालों में एक स्वस्थ डाइट के रूप में सुबह के नाश्ते पर खास ध्यान दिया गया है। इसके बावजूद कई लोग सुबह के नाश्ते के शानदार फायदों को अनदेखा करते हैं

दरअसल कुछ लोग यह समझते हैं कि नाश्ता न करना कुछ कैलोरी कम खाने का एक तरीका है और इससे आसानी से वजन घटता है। जबकि सच यह है कि ऐसा होने की बजाय नाश्ता नहीं करने से आपका वजन ज्यादा बढ़ सकता है। इससे दूसरी समस्याएं भी हो सकती हैं। यह आपकी सेहत पर असर डालता है।

इसलिए आपकी डाइट में सुबह के नाश्ते को शामिल करना बहुत जरूरी है। इससे भी ज्यादा ज़रूरी है कि नाश्ता सेहतमंद भी हो।

क्या आप जानते हैं, जब आप सुबह का नाश्ता नहीं खाते हैं तो आपके शरीर में क्या होता है ? इस आर्टिकल में सुबह का नाश्ता छोड़ने के नुकसानदेह नतीजों के बारे में जानेंगे।

 1. थकान और ताकत की कमी महसूस होना

थकी हुयी औरत

पूरे दिन शारीरिक और मानसिक कामों को करने के लिए अपने शरीर को तगड़े नाश्ते से “रिचार्ज” करना बहुत जरूरी है। सुबह का नाश्ता छोड़ने का एक नतीजा थकान और नींद के रूप में सामने आता है जिसे दूर नहीं किया जा सकता।

फिर भी, ध्यान रखें! इसके बदले में थोड़ी कॉफी और क्रैकर्स खाने से कोई फायदा नहीं मिलेगा।

अगर आपका लक्ष्य आपके शरीर को ताकत देना है, तो आपका नाश्ता सभी जरूरी नूट्रीअन्ट से भरपूर होना चाहिए।

इसे भी आजमायें: स्वस्थ लिवर के लिये नाश्ते के समय अपनायें 7 लाजवाब उपाय

2. ब्लड शुगर लेवल का बढ़ जाना

आपको नाश्ते से जो पोषक तत्व मिलते हैं वे आपके ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने के लिए बहुत जरूरी होते हैं।

इसलिए जब आप इसे समय पर नहीं खाते हैं या इसके बजाय दूसरी नुकसानदायक चीजें खा लेते हैं, तो आपका इंसुलिन का बनना कम होने लगता है और आपका शरीर ज्यादा मात्रा में शुगर को जमा करने लगता है।

यह समस्या एक चेतावनी है, खासकर उन लोगों के लिए जिन्हें डायबिटीज का खतरा हो। अगर यह परेशानी जल्दी से जल्दी सुलझायी न जाये, तो बढ़ा हुआ ग्लूकोस दूसरी बीमारियां और लक्षणों को पैदा कर सकता है।

3. नाश्ता छोड़ने की वजह से आप भूखा महसूस करते हैं

नाश्ता करती हुयी औरत

नाश्ता न करने के बुरे नतीजों में एक है, एंग्जायटी महसूस होना। इससे वजन बढ़ सकता है।

हालांकि पहले ऐसा लगता है कि नाश्ता नहीं करने से आप कम कैलोरी ले रहे हैं। जबकि असल में, इस तरह आपमें खाने की बहुत तीव्र इच्छा रहती है। इससे आप जरूरत से ज्यादा खाते हैं।

4. यह आपमें भावनात्मक असंतुलन पैदा करता है

सुबह के पहले खाने को छोड़ने की वजह से होने वाली नूट्रीअन्ट की कमी से भावनात्मक असंतुलन पैदा हो सकता है।

क्योंकि एक अच्छे खाने में वे चीजें होती हैं जो आपकी अच्छी सेहत के लिए जरूरी हैं। उसी तरह गलत नाश्ता स्ट्रेस और चिड़चिड़ापन बढ़ाता है।

अगर आपके इमोशन आपके काम या परिवारिक जीवन पर असर डाल रहे हैं, तो आपको एक बार अपनी डाइट पर ध्यान देना चाहिए। इसके अलावा, सेराटोनिन से भरपूर चीजों का इस्तेमाल फायदेमंद रहेगा। उदाहरण के लिए डार्क चॉकलेट, केले, एवोकैडो आदि। इन्हें अपनी डाइट में शामिल करें।

5. इम्यून सिस्टम कमजोर होता है

जुकाम से पीड़ित महिला

सुबह के नाश्ते से मिलने वाले नूट्रीअन्ट आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने में मदद करते हैं।

इस वजह से, सुबह का नाश्ता छोड़ने से आपका इम्यून सिस्टम कमजोर हो सकता है। इससे आपका शरीर इंफेक्शन से लड़ने के मामले में कमजोर हो जाता है।

इसे भी पढ़ें: अगले दिन के नाश्ते के लिए चिया सीड्स और ओटमील

6. पाचन से जुड़ी समस्याएं (digestive problems)

पाचन में गड़बड़ी और कब्ज सुबह का नाश्ता छोड़ने के दूसरे बुरे नतीजे हैं। हालांकि कई वजहें हैं जिनसे यह समस्या होती है, लेकिन सुबह के नाश्ते से मिलने वाले नूट्रीअन्ट की कमी इसको और बढ़ावा देती है।

यह बहुत जरूरी है कि आपके नाश्ते में डाइटरी फाइबर, फैटी एसिड, और पानी शामिल हों। यह सब आपके शरीर से टॉक्सिन को बाहर निकालने और बाउल फंक्शन को ठीक रखने में मदद करते हैं। इसके साथ ही, यह आपके बैक्टीरियल फ्लोरा के pH  को रेगुलेट करते हैं और पाचन से जुडी परेशानियां और गैस की परेशानियों का ख़तरा कम करते हैं।

7. दिल की बीमारियों का जोखिम

छाती में दर्द

हावर्ड T.H. चान स्कूल ऑफ़ पब्लिक हेल्थ द्वारा किए गए अध्ययन के अनुसार, जो लोग सुबह का नाश्ता नहीं करते उनमें दिल की बीमारियों का जोखिम 27 % ज्यादा रहता है।

साफ तौर पर, सुबह का नाश्ता नहीं करने से डायबिटीज, मोटापा, कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना और ब्लड प्रेशर जैसी बीमारियाँ हो सकती हैं। ये सभी फैक्टर दिल की बीमारियों के खतरे पर सीधा असर डालते हैं और आपके दिमाग की सेहत पर भी असर डालते हैं।

रिसर्च बताती है कि हर रोज सुबह का नाश्ता करने की आदत बीमारियों से लड़ने वाली अच्छी आदत है।

सुबह का नाश्ता छोड़ना बंद करें

क्या आप हर रोज नाश्ता करते हैं? क्या यह पूरा और संतुलित होता है?

अब जब आप सुबह का नाश्ता छोड़ने के बुरे नतीजे जान चुके हैं, तो ज्यादा पौष्टिक तत्वों वाला नाश्ता खाने की कोशिश करें। इसके साथ ही यह याद रखें, इसमें कैलोरी की मात्रा आपके शरीर के रोज की खपत के 25% के बराबर होनी चाहिए।

  • Cahill, L. E., Chiuve, S. E., Mekary, R. A., Jensen, M. K., Flint, A. J., Hu, F. B., & Rimm, E. B. (2013). Prospective study of breakfast eating and incident coronary heart disease in a cohort of male US health professionals. Circulation128(4), 337-343.
  • Durá Travé, T. (2013). Análisis nutricional del desayuno y almuerzo en una población universitaria. Nutrición Hospitalaria28(4), 1291-1299.
  • Herrero Lozano, R., & Fillat Ballesteros, J. C. (2006). Estudio sobre el desayuno y el rendimiento escolar en un grupo de adolescentes. Nutrición Hospitalaria21(3), 346-352.
  • Rodríguez, M. P. G., & de la Rosa Morales, V. (2007). Los adolescentes que consumen comida rápida y no desayunan tienen más riesgo de ser obesos en la vida adulta. Evidencias en pediatría3(2), 46.