घरेलू नुस्ख़े जो कोलेस्ट्रॉल घटाने में आपकी मदद कर सकते हैं

अक्टूबर 16, 2019
क्या आपको मालूम हुआ है कि आप हाई कोलेस्ट्रॉल से पीड़ित हैं? इन नुस्खों में से कुछ को आजमाकर देखें कि क्या वे आपकी मदद कर सकते हैं!

क्या आपको बताया गया है कि आपका कोलेस्ट्रॉल हाई है जबकि आप इस खबर की उम्मीद नहीं कर रहे थे? अब आप शायद अपने कोलेस्ट्रॉल लेवल को नेचुरल तरीके से कम करने का रास्ता खोज रहे हैं।

दरअसल अगर आप इसके बारे में सोचते हैं, तो यह कोई असामान्य बात नहीं है। कमर्शियल फ़ूड में कई चीजें होती हैं जो इस समस्या का कारण बनती हैं

साथ ही निष्क्रिय लाइफस्टाइल के कारण हमारा शरीर लगभग उन सभी खाद्य पदार्थों को जमा करता है जिनका हम सेवन करते हैं।

कोलेस्ट्रॉल लेवल कम करने के लिए कुछ आम लाइफस्टाइल टिप्स

अगर आपका कोलेस्ट्रॉल 200 से ज्यादा है, तो इसे गंभीर मानें। यह आप पर निर्भर करता है कि आप गंभीर स्थिति की चेतावनी पर पहल करते हैं या नहीं।

अगर यह एक क्रॉनिक बीमारी में बदल जाये तो जोखिम बहुत ज्यादा हो जाता है।

म कार्डियोवैस्कुलर रोग, एनजाइना, सीने में दर्द, आर्टियोस्केलेरोसिस  या कॉरोनरी रोग से पीड़ित होने की संभावना की बात कर रहे हैं। जाहिर है यह मामला कोई साधारण नहीं है।

इस वजह से अपनी लाइफस्टाइल में अहम बदलाव करना ज़रूरी है। कम फैट वाली डाइट के अलावा आपको एक्सरसाइज शुरू कर देनी चाहिए।

हमारा मकसद अपनी रूटीन के लिए एक शिड्यूल अपनाना है, इसलिए ऐसा चुनें जिसे आप रेगुलर कर सकते हैं। उदाहरण के लिए वाकिंग के असाधारण फायदे हैं लेकिन अगर आप इसमें बोर होते हैं आप इसे छोड़ देंगे।

इसलिए सबसे अच्छा ऑप्शन  हमेशा वह होता है जिसे आप न छोड़ें। अगर कोई भी ऑप्शन आपको अपील नहीं करता है, तो कई चीजों को आज़माएं और फिर निर्णय लें।

नुस्ख़े जो आपकी मदद कर सकते हैं

1. ओटमील वाटर (Oatmeal water)

कोलेस्ट्रॉल लेवल कम करने के लिए कुछ आम लाइफस्टाइल टिप्स

दलिया फाइबर से भरपूर होती है और कुछ लोग इसे कोलेस्ट्रॉल से लड़ने में मददगार मानते हैं और इसे खाने की सलाह देते हैं। यह धमनियों को शुद्ध करने के लिए कोलेस्ट्रॉल के मॉलिक्यूल को अपने साथ लपेट ले जाता है।

सामग्री

  • 1 कप रोल्ड ओट्स
  • 12 कप पानी
  • 1 स्टिक दालचीनी

तैयारी

  • जई को ब्लेंडर में रखकर पर्याप्त मात्रा में पानी डालें और मिश्रण को ब्लेंड करें।
  • बाकी पानी एक बड़े बर्तन में डालें और ओट्स को गरम करें।
  • इसे छान लें।

सेवन करने का तरीका

  • चाहे तो आप इसे फ्रिज में रख सकते हैं और पूरे दिन इसका एक चौथाई पियें।

इसे भी पढ़ें : ये 9 खाद्य खाकर प्राकृतिक तरीके से अपनी धमनियों की सफ़ाई करें

2. गोभी का पानी (Cabbage water)

गोभी में फाइबर की उच्च मात्रा है। पिछली रेसिपी की तरह इसे तैयार करना आसान है

सामग्री

  • 1/2 कैबेज हेड
  • 12 कप पानी

बर्तन

  • एक शीशे की बोतल

तैयारी

  • पानी गरम करें और गोभी डालें।
  • 5 से 10 मिनट तक उबालें।
  • उबलने के बाद तरल को बोतल में स्टोर करें।
  • इसे फ्रिज में रखें और ठंडा पिएं।

सेवन करने का तरीका

  • पिछले नुस्खा की तरह आप इसमें से रोजाना एक लीटर पी सकते हैं।

3. आर्टिचोक का पानी (Artichoke water)

सामग्री

तैयारी

  • पानी को उबाल आने तक गर्म करें।
  • धोकर आर्टिचोक डालें और 15 मिनट तक उबलने दें।
  • छानकर फ्रिज में ठंडा करें।

सेवन करने का तरीका

  • इस मामले में दिन भर में इसका 1 क्वार्ट पीना चाहिए।

4. जैतून का तेल (Olive oil)

क्या आप सोल्युबल फैट के बारे में जानते हैं? ओमेगा 3 के बारे में? ओमेगा 3 उन तत्वों से जुड़ा है जो खराब कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल) के मात्रा सीमित करते हैं और अच्छे कोलेस्ट्रॉल (एचडीएल) को बढ़ाते हैं

  • ऑलिव ऑयल को अगर आप बिना गर्म किए सेवन करें तो यह सबसे अच्छा हैं। हाई टेम्परेचर पर इसके तत्व डिकम्पोज हो जाते हैं और गुण खो जाते हैं।
  • हीट इसके मॉलिक्यूल स्ट्रक्चर को इस हद तक तोड़ देता है कि वे हमारी सेहत के लिए नुकसानदेह हो जाते हैं।
  • आप अपनी डाइट में एवोकैडो और मछलियां, जैसे ट्यूना और सामन भी शामिल कर सकते हैं।

शायद इसे पसंद करें : कद्दू से बनी होम रेसिपी जो ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करती है

5. गाजर और पालक का जूस


सामग्री

  • 3 गाजर
  • 2 पालक के पत्ते

तैयारी

  • गाजर को छोटे टुकड़ों में काट लें
  • पालक के पत्तों को स्लाइस करें
  • हर चीज को तरल में बदल दें। अगर तरल बहुत गाढा है, तो मनचाही तरलता के लिए ज़रूरी मात्रा में पानी डालें

सेवन करने का तरीका

  • हर बार भोजन के बाद इस जूस को पिएं। इससे आपकी सेहत को जबरदस्त फायदा होगा।

इन उपायों को असरदार बनाने के लिए जीवनशैली में बदलाव की जरूरत है

इसके लिए जितना संभव हो रीयलिस्टिक बनें। उदाहरण के लिए, अगर आप साल भर निष्क्रिय ज़िन्दगी गुजारने के बाद अगर दौड़ना शुरू करने का फैसला किया है, तो रोज एक घंटे दौड़ने का टार्गेट न लें। यह एक क्रमिक प्रक्रिया होनी चाहिए।

यही बात भोजन पर भी लागू होती है। आपको अचानक मीट खाना बंद नहीं करना चाहिए। सबसे पहले उन खाद्य पदार्थों को छोड़ने से शुरुआत करें जिनमें सबसे ज्यादा फैट है। समय के साथ आप अपनी सेहत में सुधार पायेंगे।

Othman, R. A., Moghadasian, M. H., & Jones, P. J. H. (2011). Cholesterol-lowering effects of oat ??-glucan. Nutrition Reviews. https://doi.org/10.1111/j.1753-4887.2011.00401.x

Mensink, R. P., & Plat, J. (2017). Dietary fats and coronary heart disease. In Food Lipids: Chemistry, Nutrition, and Biotechnology, Fourth Edition. https://doi.org/10.1201/9781315151854

Salem, M. Ben, Affes, H., Ksouda, K., Dhouibi, R., Sahnoun, Z., Hammami, S., & Zeghal, K. M. (2015). Pharmacological Studies of Artichoke Leaf Extract and Their Health Benefits. Plant Foods for Human Nutrition. https://doi.org/10.1007/s11130-015-0503-8