इस स्पाइस टी से अपना मेटाबोलिज्म एक्टिव करें

11 नवम्बर, 2019
मसालेदार खाना हमारे मेटाबोलिज्म को एक्टिव करने और वजन घटाने में हमारी मदद करता है। अगर आप उनके आदी नहीं हैं, तो आप उन्हें अपनी डाइट में थोड़ा-थोड़ा करके शामिल करना शुरू कर सकते हैं।

स्पाइस टी रेसिपी  से पहले हम जानना चाहेंगे कि क्या आप अपने मेटाबोलिज्म को एक्टिव करना चाहेंगे? बहुत से लोग अपना वजन घटाना चाहते हैं। हालांकि बहुत कम खाना खाने के बावजूद भी अक्सर वे नहीं घटा पाते। क्योंकि उनका मेटाबोलिज्म बहुत धीमा होता है। नतीजतन यह उनके द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली एनर्जी की मात्रा घटा देता है।

इस आर्टिकल में हम आपके मेटाबोलिज्म को एक्टिव करने के लिए वार्मिंग क्वालिटी वाले मेडिसिनल स्पाइस टी रेसिपी शेयर करेंगे।

यह उन लोगों के लिए आदर्श है जो कोल्ड सेंसिटिव हैं या जो आसानी से कुछ वजन घटाना चाहते हैं।

मैं अपना वजन क्यों नहीं घटा पा रहा?

ऐसे कई फैक्टर हैं जो व्यक्ति के वजन  डालते हैं। इसमें हेरिडिटी के साथ निश्चित रूप से फ़ूड हैबिट आते हैं।

हालांकि भावनात्मक या हार्मोन से जुड़े फैक्टर हैं जो वजन घटाने में रुकावट डालते हैं। भले ही आप अपनी डाइट या एक्सरसाइज के साथ जमकर मशक्कत कर रहे हों।

इनमें से कई मामलों में यह संभव है कि आपका मेटाबोलिज्म धीमा है। नतीजतन यह आपके द्वारा जलायी जाने वाली कैलोरी की मात्रा घटा देता है।

इस वजह से अपने मेटाबोलिज्म को नेचुरल तरीके से एक्टिव करना महत्वपूर्ण है। यह मसालेदार और गर्म मेडिसिनल स्पाइस टी है।

यह मेडिसिनल स्पाइस टी उन लोगों के लिए भी बहुत अच्छी है जो कोल्ड सेंसिटिव हैं। आखिरकार यह आपको तुरंत गर्म कर देता है!

आपको अपना मेटाबोलिज्म क्यों एक्टिव करना चाहिए?

मेटाबोलिज्म शारीरिक और रासायनिक  प्रक्रियाओं से जुड़ा है जो सेलुलर लेवल पर होता है। इन प्रक्रियाओं में भोजन एनर्जी में बदल जाता है।

आप इस एनर्जी का इस्तेमाल न सिर्फ अपनी एक्टिविटी में करते हैं, बल्कि अपने अंदरूनी कार्यों को करने के लिए भी करते हैं। इनमें से कुछ एक्टिविटी में पाचन और रेस्पिरेशन भी शामिल हैं।

यह भी पढ़े: 11 खाद्य पदार्थ जो आपके पाचन और कब्ज को प्रभावित करते हैं

जब आपका मेटाबोलिज्म ठीक ढंग से काम नहीं करता है और नार्मल से नीचे होता है, तो आपके द्वारा खर्च की जाने वाली ऊर्जा की मात्रा कम हो जाती है। नतीजतन आपका वजन बढ़ने की संभावना ज्यादा होती है।

दूसरी ओर अगर आप अपने मेटाबोलिज्म को एक्टिवेट करें तो इसे बदलना संभव है।

इस मेडिसिनल प्लांट की स्पाइस टी से आप अपने मेटाबोलिज्म को एक्टिवेट कर सकते हैं और इसे नेचुरल तरीके से तेज कर सकते हैं। इस तरह आप एक शरीर के ऊँचे टेम्परेचर और ज्यादा कैलोरी जलने का असर देखेंगे।

यह भी पढ़े: इस नेचुरल ड्रिंक से हड्डियाँ मज़बूत करें, जोड़ों का दर्द घटाएं

अपने मेटाबोलिज्म को एक्टिव करने के लिए स्पाइस टी

डिटॉक्स करने के लिए अदरक

डिटॉक्स करने के लिए स्पाइस टी : अदरक

यह एक्जोटिक जड़ एक मसालेदार फ्लेवर देता है। यह शरीर को एक स्फूर्तिदायक गर्माहट भी देता है और आपको कितना पसीना आएगा, उसे नियंत्रित करता है। यह शरीर के तरल पदार्थों और जहरीले तत्वों से छुटकारा पाने में बहुत उपयोगी है।

यह अपच और महिलाओं की सेहत के लिए शानदार है।

मेटाबोलिज्म को एक्टिव करने के लिए दालचीनी

सीलोन सिनामन (Ceylon cinnamon) या दालचीनी आपके ब्लड शुगर लेबल को रेगुलेट करने के लिए उम्दा मसाला है। यह पाचन को बढ़ाता है और मेटाबोलिज्म को एक तरह से उत्तेजित करता है जो वजन घटाने में आपकी मदद कर सकता है।

संतुलन के लिए लाल मिर्च (Cayenne pepper)

डिटॉक्स करने के लिए स्पाइस टी : लाल मिर्च Cayenne pepper

आपको मसाले से डरना नहीं चाहिए! इसके बजाय इसे धीरे-धीरे अपनी डाइट में शामिल करना बेहतर है।

इस तरह, आप अपने शरीर को स्पाइसी फ़ूड के लिए आदी बना सकते हैं। इसके अलावा, लाल मिर्च एक ऐसा इंग्रेडिएंटहै जो आपकी फिजिकल एक्टिविटी को बैलेंस करता है।

इसे भी पढ़ें : छह चमत्कारिक घरेलू इलाज : धमनी की दीवारों की सफ़ाई करने के लिए

दर्द से राहत के लिए काली मिर्च (Black pepper)

लाल मिर्च के मुकाबले काली मिर्च कुछ हल्की होती है। हल्दी के साथ मिलने पर इन दो मसालों में शानदार एंटी इन्फ्लेमेटरी, दर्द निवारक और ट्यूमर रोकने वाले गुण आ जाते हैं।

रोज हल्दी खाएं

डिटॉक्स करने के लिए स्पाइस टी : हल्दी

हल्दी सेहत के लिए कई फायदों वाली स्पाइस है जिसे आप हर दिन की अपनी डाइट में रख सकते हैं! इसे सभी तरह की रेसिपी, मिठाई और ड्रिंक में डाल सकते हैं।

ज्यादा न्यूट्रिशन के लिए नींबू का छिलका

नींबू के छिलके में इसके गूदे के मुकाबले ज्यादा पोषक तत्व होते हैं। इस कारण आपको इसे हमेशा अपने जूस, स्मूदी और सलाद आदि में शामिल करना चाहिए। आप इसे फ्रीज कर सकते हैं और जब भी जरूरत हो बाहर निकाल सकते हैं।

यह जरूरी है कि नींबू ऑर्गेनिक हो। क्योंकि अगर यह ऑर्गेनिक न हो तो छिलके में कीटनाशक, मोम और सभी तरह के खतरनाक केमिकल कम्पाउंड हो सकते हैं।

अपने मेटाबोलिज्म को एक्टिव करने के लिए यह स्पाइस टी कैसे बनाएं

सामग्री

  • 1 चम्मच अदरक पाउडर या ताजी अदरक
  • 1 चम्मच या एक स्टिक सीलोन दालचीनी पाउडर
  • एक चुटकी लाल मिर्च
  • 1/2 चम्मच काली मिर्च
  • 1 चम्मच हल्दी पाउडर
  • 1 ऑर्गनिक नींबू का छिलका
  • 4 कप पानी

निर्देश

  • सबसे पहले एक बर्तन में पानी डालें और उबाल लें।
  • फिर नींबू का छिलका डालें और 5 से 10 मिनट तक पकने दें।
  • इसके बाद आंच बंद करें और सभी मसाले डालें।
  • फिर इसे बर्तन को ढंकते हुए 10 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • अंत में इसे छान लें दें और पीने से पहले थोड़ा ठंडा होने दें।
  • चाहें तो इसे गन्ने के रस, शहद या स्टीविया से मीठा कर सकते हैं।
  • Pérez-Guisado, J. (2008). Las dietas cetogénicas: fundamentos y eficacia para la pérdida de peso. Archivos Latinoamericanos de Nutricion.
  • Zagalaz Sánchez, M. L., Martínez López, E. J., & Rodríguez Marín, I. (2008). Anorexia nerviosa y práctica de ejercicio físico para perder peso. Apunts: Educación Física y Deportes.
  • De Domingo Bartolome, M., & López Guzmán, J. (2014). La estigmatización social de la obesidad. Cuadernos de Bioética. https://doi.org/10.4271/2010-01-0141