लेमन डाइट करने से पहले जानें इन बातों को

अप्रैल 6, 2019
लेमन डाइट के दौरान आपको ढेर सारे फल, सब्ज़ियाँ और सेहतमंद फैट्स का सेवन करना बेहद ज़रूरी होता है ताकि कमज़ोरी न आ जाए।

क्या आपने कभी लेमन डाइट के बारे में सुना है? एक अनोखी खुशबू और एसिड जैसे स्वाद वाले नींबू को दुनिया के सबसे बहु-उपयोगी फलों में से एक के तौर पर देखा जाता है। अपने तत्वों और खूबियों की बदौलत उसके बेइंतिहा फायदे होते हैं।

बात चाहे आपकी त्वचा के स्वास्थ्य में सुधार लाने की हो या आपके घर की चीज़ों की चमक को बरक़रार रखने की या फ़िर किन्हीं साइड इफेक्ट्स या अनचाहे ताज्जुबों के बगैर आपकी सेहत को बेहतर बनानी की, नींबू हर कसौटी पर खरा उतरता है।

इस लेख में हम नींबू की वज़न घटाने वाली खूबियों की चर्चा करने जा रहे हैं। साथ ही, हम आपको यह भी बताएँगे कि एक लेमन डाइट में क्या-क्या होता है।

लेमन डाइट कैसे अपनाएँ

न्यूनतम मेहनत में तेज-तर्रार नतीजे देने की अपनी खासियत की वजह से यह डाइट काफ़ी लोकप्रिय हो गई है। लेकिन यहाँ आपको इस बात पर भी गौर करना चाहिए कि कई लोग इसका सहारा स्थायी परिणामों के लिए न लेकर तेज़ नतीजों के लिए लेते हैं।

लेमन डाइट का आपको लंबी अवधि तक पालन नहीं करना चाहिए। आपकी सेहत के लिए नींबू के तमाम फायदों के बावजूद आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि किसी भी चीज़ की अति नुकसानदेह ही होती है।

चूंकि नींबू एक प्राकृतिक मूत्रवर्धक फल होता है, इस डाइट की मदद से आप अपने शरीर से टॉक्सिन्स और गैरज़रूरी तरल पदार्थों को निकाल बाहर कर सकते हैं। लेमन डाइट का पालन आपको पांच से सात दिन से ज़्यादा अवधि तक नहीं करना चाहिए। ऐसा करके कैलोरी के सेवन में अचानक आए बदलाव और फलों के सेवन की बढ़ी मात्रा से आपके शरीर को कोई नुकसान नहीं होगा।

इसे भी पढ़ें : जानें नींबू के औषधीय गुण और वे नुस्ख़े जो आप इनसे बना सकते हैं

इस डाइट की शुरुआत करने से पहले करें ये काम

लेमन डाइट करने से पहले रखें इन बातों का ख्याल

अपनी लेमन डाइट को शुरू करने से पहले आपको अपने डॉक्टर या न्यूट्रीशनिस्ट की राय ले लेनी चाहिए। ऐसा करके आप यह सुनिश्चित कर लेते हैं कि आपके शरीर को मनचाहे नतीजे ही मिलेंगे, अस्पताल के इमरजेंसी रूम में एक बिस्तर नहीं।

इस डाइट को करने के कई तरीकों की खोज आप इन्टरनेट पर कर सकते हैं। सबसे जानी-मानी लेमन डाइट सात दिनों तक चलती है। जैसाकि हमने पहले कहा, इस डाइट का ज़्यादा लंबे समय तक पालन करने से आपको बचना चाहिए। इसके अलावा, आपको एक संतुलित आहार का सेवन भी करते रहना चाहिए।

नींबू के रस को ऐसे ही पीने से परहेज़ करें

लेमन डाइट के दौरान आपको दिन में नींबू के रस के छः गिलास पीने होते हैं। उसके साथ-साथ सादे दही, फलों या सीरियल बार्ज़ का सेवन करते रहना भी बेहद ज़रूरी होता है।

और तो और, चिकन या उबले अण्डों से मिलने वाले प्रोटीन व फलों और सब्ज़ियों को भी आपको अपने आहार में शामिल कर लेना चाहिए। इसकी अति करने से बचने के लिए आपको चाहिए कि नींबू के रस के सभी गिलासों को एक-साथ न पीकर आप उन्हें अपने ब्रेकफास्ट, लंच, शाम के स्नैक्स और डिनर के दौरान लें

इसे भी पढ़ें : सोने से पहले पानी और नींबू का रस – आपकी नींद का एक कमाल का हमदर्द

क्या खाएं और क्या न खाएं

लेमन डाइट के दौरान आपको किन-किन चीज़ों से परहेज़ करना चाहिए?

अगर आप लेमन डाइट करने जा रहे हैं तो आपको पर्याप्त मात्रा में फलों, सब्ज़ियों और सेहतमंद फैट्स का सेवन करना चाहिए। साथ ही, जंक फ़ूड, बेहद मीठी ड्रिंक्स या फ़िर एनर्जी ड्रिंक्स से परहेज़ करें।

इस डाइट का पालन करते हुए सेहतमंद खान-पान करना अपेक्षाकृत आसान होता है। अगर खाने-पीने की आपकी आदतें आपकी सेहत के लिए अच्छी नहीं हैं, तो उन्हें बदलने के लिए अभी भी देर नहीं हुई है।

फायदे

लेमन डाइट के कई फायदे होते हैं। इस फल से आपके पाचन-तंत्र में सुधार और संतुलन, दोनों ही आ जाते हैं। नतीजतन आपकी मलत्याग-प्रक्रिया बेहतर हो जाती है। इसीलिए अपना कुछ किलो वज़न आप जल्द ही कम कर पाते हैं।

नींबू से आपका शरीर हाइड्रेट भी हो जाता है। चूंकि इस डाइट के दौरान आप ज़्यादातर पानी ही पीते हैं, त्वचा के सूखेपन और लचीलेपन की कमी से आप बचे रह सकते हैं

विटामिन सी में कमाल की सूजनरोधी खूबियाँ होती हैं। इसीलिए आपको जल्द ही अपनी फ्लूइड रिटेंशन से राहत मिल सकती है। इस डाइट का इससे मिलता-जुलता एक और फायदा यह भी होता है कि इससे आपके इम्यून सिस्टम में मज़बूती आ जाती है।

नुकसान

देखने में यह डाइट भले ही कितने भी फायदेमंद क्यों न लगे, पर आपको कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। उनमें से पहली बात तो यह कि कैलोरीज़ के अपने सेवन को एकदम से इतना घटा देने से आपको कमज़ोरी महसूस हो सकती है

नींबू की वजह से आपके पेट में जलन हो सकती है व कुछ समस्यायें बद से बदतर हो सकती हैं। नींबू जैसे साइट्रस फलों की वजह से एसिड रिफ्लक्स जैसी अवस्था और भी बिगड़ सकती है।

लेमन डाइट के नतीजे

इस लेमन डाइट को करके आप अपना 8 से 11 पौंड तक वज़न घटा सकते हैं। सुनने में यह बात करिश्माई लग सकती है पर ध्यान रहे कि सही चीज़ों को खाते और नींबू के रस को पीते वक़्त आपको अनुशासित रहना चाहिए।

क्या आपने कभी इस डाइट का पालन किया है? क्या आप इस लेमन डाइट या फ़िर किसी और फ़्लैश डाइट का पालन करना चाहेंगे?

  • Kim, M. J., Hwang, J. H., Ko, H. J., Na, H. B., & Kim, J. H. (2015). Lemon detox diet reduced body fat, insulin resistance, and serum hs-CRP level without hematological changes in overweight Korean women. Nutrition Research. https://doi.org/10.1016/j.nutres.2015.04.001
  • Fukuchi, Y., Hiramitsu, M., Okada, M., Hayashi, S., Nabeno, Y., Osawa, T., & Naito, M. (2008). Lemon Polyphenols Suppress Diet-induced Obesity by Up-Regulation of mRNA Levels of the Enzymes Involved in β-Oxidation in Mouse White Adipose Tissue. Journal of Clinical Biochemistry and Nutrition. https://doi.org/10.3164/jcbn.2008066
  • González-Molina, E., Domínguez-Perles, R., Moreno, D. A., & García-Viguera, C. (2010). Natural bioactive compounds of Citrus limon for food and health. Journal of Pharmaceutical and Biomedical Analysis. https://doi.org/10.1016/j.jpba.2009.07.027
  • Lemon, P. W. R. (2000). Beyond the Zone: Protein Needs of Active Individuals. Journal of the American College of Nutrition. https://doi.org/10.1080/07315724.2000.10718974