4 विटामिन जो स्मोकिंग के बाद आपके फेफड़ों को स्वस्थ करने में आपकी मदद करते हैं

मार्च 14, 2019
यह याद रखना अहम होगा कि गंभीर बीमारियों के पीछे सबसे जोखिम वाली बातों में तंबाकू एक है। अपने शरीर को स्वस्थ रहने में अगर आप कोई मदद करना चाहते हैं, तो धूम्रपान छोड़ना और अपने आहार में इन महत्वपूर्ण विटामिन को शामिल करना निश्चित करें।

क्या आपकी स्मोकिंग की आदत हैं? क्या आपने इसे हाल ही में छोड़ा है? दोनों ही स्थितियों में आपको यह जान लेना चाहिए कि कुछ विटामिन का सेवन करने से आपको धूम्रपान के बाद अपने फेफड़ों को ठीक करने में सहायता मिलती है

कई लोग इसे नजरअंदाज करते हैं। हम आमतौर पर सोचते हैं कि धूम्रपान छोड़ना सब कुछ फिर से दुरुस्त कर लेने के लिए पर्याप्त है। हालाँकि, आपको यह नहीं भूलना चाहिए कि स्मोकिंग की आदत निकोटीन की वजह से एक लत में बदल जाती है

निकोटिन आपकी कोशिकाओं और आपके शरीर के सिस्टम को गंभीर नुकसान पहुंचाता है। यह नुकसान हमेशा अपने आप ठीक नहीं होता और न ही इतनी जल्दी ठीक  होता है।

सौभाग्य से, कुछ खाद्य पदार्थ हैं जो ऐसे पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं जो निकोटीन से होने वाले नुकसान का प्रतिकार करते हैं। इस प्रकार वे धूम्रपान के बाद आपके फेफड़ों को ठीक करने में मदद करते हैं और श्वसन रोगों की संभावना को भी रोकते हैं। यहाँ हम आपको बताना चाहते हैं कि स्मोकिंग के बाद आपके फेफड़ों को ठीक करने के लिए कौन सी विटामिन ज़रूरी है।

1. धूम्रपान के बाद फेफड़ों को ठीक करने के लिए विटामिन C

स्मोकिंग के बाद स्वस्थ फेफड़ों के लिए विटामिन C

स्मोकिंग आपके शरीर में विटामिन C को 25% तक कम कर देता है। धूम्रपान के बाद अपने फेफड़ों को ठीक करने के लिए इस महत्वपूर्ण विटामिन का सेवन बढ़ाना ज़रूरी है।

नतीजतन, विटामिन C की कमी से आपको संक्रमण होने की अधिक संभावना होगी, क्योंकि आपका इम्यून सिस्टम कमजोर रहता है।

इस विटामिन की कमी से आने वाली अन्य समस्याएं हैं:

  • असमय झुर्रियों का उभरना
  • अनिद्रा (Insomnia)
  • मसूड़ों में दर्द, सूजन और हल्के रक्तस्त्राव जैसी समस्याएं।

कुछ खाद्य पदार्थ हैं जिनमें आप इस पोषक तत्व को पा सकते हैं।

  • कीवी
  • नींबू
  • संतरा
  • चकोतरा (Grapefruit)
  • अनन्नास (Pineapple)

इससे आपको धूम्रपान करने के बाद अपने फेफड़ों को ठीक करने में मदद मिलती है। इसलिए अगर आप अभी भी स्मोकिंग करते हैं, तो आपको तीन गुना ज्यादा विटामिन C लेने की ज़रूरत है

हालाँकि, अगर आप धूम्रपान रोकने की कोशिश में हैं  तो आपको पता होना चाहिए कि विटामिन C आपको अपने निकोटीन की ललक को कम करने में मदद करेगा।

2. विटामिन A

विटामिन A या बीटा-कैरोटीन की कमी से आपके इम्यून सिस्टम या रोग प्रतिरोधक क्षमता में बदलाव हो सकते हैं। इससे आपके श्वसन तंत्र में संक्रामक रोगों की संख्या बढ़ सकती है।

यह पोषक तत्व आप इनमें पा सकते हैं:

  • बेर (Plums)
  • कद्दू (Pumpkin)
  • आम
  • आड़ू (Peache)
  • गुलाबी चकोतरा (Pink grapefruit)
  • लेटस, स्विस कार्ड (Lettuce, swiss chard)
  • तरबूज
  • टमाटर
  • गाजर
  • ब्रोकली

हम आपको यह भी पढ़ने की सलाह देते हैं: 10 संकेत जो आपके फेफड़ों को विफल कर सकते हैं

3. विटामिन E

स्मोकिंग के बाद स्वस्थ फेफड़ों के लिए विटामिन E

विटामिन E तम्बाकू सेवन से जुड़े फेफड़ों के ट्यूमर का जोखिम कम करने में मदद करता है

इसे टोकोफेरॉल (tocopherol) के नाम से भी जाना जाता है। यह फैट में घुलनशील विटामिन है जो एक एंटीऑक्सीडेंट का काम करता है। साथ ही यह ज़रूरी फैट को बचाने में मदद करता है।

धूम्रपान के बाद अपने फेफड़ों को ठीक करने और तमाम फायदे पाने के लिए विटामिन ई लेना निश्चित करें। इसे पाने के कुछ प्राकृतिक तरीके हैं:

  • अंडे की जर्दी (Egg yolks)
  • मूंगफली (Peanuts)
  • नारियल
  • अनाज (चावल, सोया)
  • ब्रोकली
  • सलाद
  • ब्रसल स्प्राउट
  • होल ब्रेड

इसके अलावा, तंबाकू छोड़ने के बाद आपके फेफड़ों की सेहत को बहाल करने में मदद करने के अलावा, विटामिन E इनके इलाज में भी मदद करता है:

  • अल्जाइमर्स (Alzheimer’s)
  • PMS
  • पुरुष बांझपन

4. विटामिन B9

विटामिन B9 या फोलिक एसिड रक्त कोशिकाओं के निर्माण में योगदान देता है। यह एनीमिया की रोकथाम और आपकी त्वचा को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं।

स्मोकिंग के बाद फेफड़ों को ठीक करने के अलावा आपके सेन्ट्रल नर्वस सिस्टम के सही ढंग से काम करने के लिए विटामिन बी9 आवश्यक है। ऐसा इसलिए है क्योंकि यह विटामिन ट्रांसमिशन में भूमिका निभाता है।

आपको पता होना चाहिए कि यह विटामिन एक्टिव स्मोकिंग करने वालों को इस आदत से पीछा छुड़ाने में मदद करता है। इसलिए विटामिन बी9 पाने के लिए आपको इन चीजों को भोजन में शामिल करना चाहिए।

  • एवोकैडो
  • प्याज
  • लहसुन
  • सोया
  • नट्स
  • स्ट्रॉबेरीज
  • किशमिश
  • नींबू
  • गाजर
  • कद्दू

हम आपको यह भी पढ़ने की सलाह देते हैं: फिगर को सुडौल बनाए रखने और टोन करने की 7 नेचुरल टिप्स

तंबाकू के कारण होने वाले फेफड़ों के रोग को रोकने के अन्य तरीके

स्मोकिंग के बाद स्वस्थ फेफड़ों के लिए विटामिन B9

  • जंक फूड खाने से बचें, जैसे कि फ्राइज़ या अन्य फ़ूड जिनमें कृत्रिम स्वीटनर होते हैं

सबसे पहले बता दें कि, ऐसे खाद्य पदार्थ हैं जिनसे आपको सावधान रहना चाहिए, खासकर सॉफ्ट ड्रिंक से। इसकी वजह आपके नर्वस सिस्टम और आंतों की कार्य प्रणाली में होने वाले बदलाव हैं। ये दरअसल धूम्रपान के नुकसानदेह असर को बढ़ा देते हैं।

अपने फ़ूड प्लानिंग करते समय ट्रिप्टोफैन से भरपूर खाद्य पदार्थों को भी शामिल करें। यह एक एमिनो एसिड है जिस पर सेरोटोनिन उत्पन्न करने की जिम्मेदारी होती है।

यह उन लोगों के लिए मददगार है जो धूम्रपान छोड़ रहे हैं। आखिरकार सेरोटोनिन का हाई लेवल आपकी एंग्जायटी घटाता है।

  • ज्यादा कैल्शियम लें।

निकोटिन से होने वाले नुकसान से बोनमास को क्षति होती है जो उम्र के साथ बढ़ जाता है। ऐसे में अपने आहार में ज्यादा कैल्शियम लेना इस असर को कम कर देता है। यह आपकी हड्डियों को स्वस्थ रखने में भी आपकी मदद करता है। नतीजतन, आप फ्रैक्चर और दूसरे नुकसान को कम कर सकते हैं।

  • एक्सरसाइज भी आपके कार्डियोपल्मोनरी सिस्टम को बढ़ाती है। डेली एक्सरसाइज और फिजिकल एक्टिविटी में भाग लेकर आप दरअसल अपने हार्ट की वर्कआउट करते हैं। यह ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है और आर्टरीज में थ्रोम्बोसिस (thrombosis) बनने से रोकता है। लम्बी अवधि में यह हार्ट अटैक की संभावना को बढ़ा देता है।

एक्सरसाइज हाई ब्लडप्रेशर को उभरने से रोकती है। यह आपकी लंग परफॉरमेंस को दुरुस्त करती है और आपके ब्रीदिंग की लय (प्रति मिनट 14 से 22 श्वास के बीच) को सही रखने में मदद करती है

यह याद रखना अहम होगा कि गंभीर बीमारियों के पीछे सबसे जोखिम वाली बातों में तंबाकू एक है। अगर आप धूम्रपान छोड़ना चाहते हैं तो लंबी अवधि तक बीटा-कैरोटीन सप्लीमेंट लेने से दूर रहें।

  • Albanes, D., Heinonen, O. P., Taylor, P. R., Virtamo, J., Edwards, B. K., Rautalahti, M., … & Barrett, M. J. (1996). α-Tocopherol and β-carotene supplements and lung cancer incidence in the Alpha-Tocopherol, Beta-Carotene Cancer Prevention Study: effects of base-line characteristics and study compliance. JNCI: Journal of the National Cancer Institute, 88(21), 1560-1570.
  • Harats, D., Ben-Naim, M., Dabach, Y., Hollander, G., Havivi, E., Stein, O., & Stein, Y. (1990). Effect of vitamin C and E supplementation on susceptibility of plasma lipoproteins to peroxidation induced by acute smoking. Atherosclerosis, 85(1), 47-54.
  • Omenn, G. S., Goodman, G., Thornquist, M., Grizzle, J., Rosenstock, L., Barnhart, S., … & Keogh, J. (1994). The β-carotene and retinol efficacy trial (CARET) for chemoprevention of lung cancer in high risk populations: smokers and asbestos-exposed workers. Cancer research, 54(7 Supplement), 2038s-2043s.
  • Omenn, G. S., Goodman, G. E., Thornquist, M. D., Balmes, J., Cullen, M. R., Glass, A., … & Barnhart, S. (1996). Effects of a combination of beta carotene and vitamin A on lung cancer and cardiovascular disease. New England journal of medicine, 334(18), 1150-1155.