ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम के लिए कैल्शियम से भरपूर नुस्खा

जब तक काफी देर न हो जाए ऑस्टियोपोरोसिस कोई भी लक्षण प्रकट नहीं करता। इसलिए डाइट में कैल्शियम की मात्रा इसी वक्त बढ़ा देना अहम होगा ताकि बढ़ती उम्र के साथ होने वाली जटिलताओं से बचा जा सके।
ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम के लिए कैल्शियम से भरपूर नुस्खा

आखिरी अपडेट: 26 जून, 2019

ऑस्टियोपोरोसिस एक खामोश रोग है जो धीरे-धीरे हड्डियों की हालत खराब कर देता है। इसके कारण होने वाले विनाश को फिर से ठीक नहीं किया जा सकता। पर कैल्शियम से भरपूर खाद्यों वाली संतुलित डाइट बनाए रखने पर ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम संभव है। इसके अलावा, ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम करने के लिए प्राकृतिक नुस्खों का इस्तेमाल किया जा सकता है।

इस लेख में हम कुछ ऐसे ही नुस्खों पर नजर डालेंगे।

ऑस्टियोपोरोसिस क्या है?

ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम

ऑस्टियोपोरोसिस हड्डियों का एक रोग है जो बोन मास या हड्डियों का घनत्व कम कर देता है। इस रोग का लक्षण है छेददार हड्डियाँ। अंदरूनी कोशिकाओं का आकार बढ़ाकर हड़्डियाँ भुरभुरी हो जाती हैं और ज्यादा आसानी से टूट जाती हैं।

यह एक खामोश रोग है क्योंकि अक्सर यह अज्ञात रहता है जब तक यह हड्डियों को क्षय नहीं कर देता

कलाई में और हिप के वर्टिब्रा में भी बार-बार फ्रैक्चर होते हैं। यह सबसे गंभीर फ्रैक्चर है क्योंकि इसे तुरंत सर्जिकल इंटरवेंशन की जरूरत है। रोगी के स्वास्थ्य पर भी इसका गंभीर परिणाम होता है।

ऑस्टियोपोरोसिस के कारण क्या हैं?

कई कारण हैं जिनकी वजह से ऑस्टियोपोरोसिस होता है। इनके बीच, सबसे अहम कारण है बढ़ती उम्र। जब आपकी उम्र बढ़ती है तो हड्डियों का घनत्व कम हो जाता है, जिससे हड्डियाँ ज्यादा नाजुक हो जाती हैं। 50 वर्ष की उम्र पार होने पर ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा बढ़ जाता है।  

एक दूसरा अहम कारण है मोटापा। इसका हड्डियों के घनत्व से सीधा संबंध है। जेनेटिक कारणों का भी असर पड़ता है। जिन व्यक्तियों के परिवार के सदस्य ऑस्टियोपोरोसिस का शिकार हुए हैं उनकी ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित होने की ज्यादा संभावना होती है।

इसी तरह, यह रोग उन लोगों को भी हो सकता है जो कम कैल्शियम वाली डाइट खाते हैं। महिलाओं में इसका खतरा पुरुषों से चार गुना ज्यादा है। इसका कारण यह है कि मेनोपाज़ के दौरान कैल्शियम कम हो जाता है।

ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम कैसे करेंगे

आहार में नट्स, ब्लू फिश और डेयरी प्रोडक्ट शामिल करते हुए कैल्शियम से भरपूर डाइट लेने पर ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम संभव है।

इसके अलावा निष्क्रिय जीवन शैली से बचना और मोटापे को रोकना ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम के अहम उपाय हैं।ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित व्यक्तियों के लिए विशेष एक्सरसाइज़ भी हैं जो इस रोग के लक्षणों से राहत दिलाने में मदद करती हैं।

ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम के लिए कैल्शियम से भरपूर नुस्खा

हड्डियों और दाँतों को प्रतिरोधी क्षमता और मजबूती देना कैल्शियम का बुनियादी काम है। इसके अलावा, यह मासपेशियों की सुरक्षा और कोशिकाओं की झिल्लियों की पारगम्यता के बीच में आता है।

वयस्कों को प्रतिदिन 800 मिलिग्राम कैल्शियम लेने की सलाह दी जाती है।

11 वर्ष से 24 वर्ष की आयु के किशोरों और युवाओं और साथ-साथ गर्भवती, स्तनपान कराती या पोस्ट-मेनोपाज वाली महिलाओं को रोजाना 1200 मिलिग्राम कैल्शियम खाना चाहिए।

कैल्शियम की सलाह दी गई मात्रा लेने के लिए नीचे दिए गए जूस में से किसी एक को तैयार किया जा सकता है।

1. ब्रोकली, गाजर और लेटिस जूस (Broccoli, carrot, and lettuce juice)

ब्रोकली एक ऐसी सब्जी है जिसमें कैल्शियम सबसे ज्यादा मौजूद है। इसके साथ लेटिस का जोड़ शानदार है।

ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम ब्रोकली-लेटूस-गाजर से

दूसरी ओर, गाजर के जूस में ड्यूरेटिक और एंटीऑक्सिडेंट गुण हैं जो शरीर की सफाई करते हैं। इसके साथ-साथ ये कैल्शियम को हड्डियों में फिक्स करने में भी मदद करते हैं।

इन तीन सब्जियों को इकट्ठा करना ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम के लिए एक आदर्श नुस्खा है।

सामग्री

  • 1 कप गाजर का नेचुरल जूस
  • 3 पत्ते लेटिस के
  • 1 ब्रोकली हेड

आपको क्या करना चाहिए?

  • सामग्रियों को ब्लेंडर में मिलाइए और ताजा जूस पीजिए। इसे छानना या मीठा बनाना जरूरी नहीं है
  • प्रतिदिन 3 गिलास पीने की सलाह दी जाती है, हालांकि इसे बढ़ाया जा सकता है।

2. योगर्ट, एप्पल और एलमंड स्मूदी

योगर्ट एक डेयरी उत्पाद है जिसमें हड्डियों के लिए कैल्शियम की मात्रा ज्यादा है। दूसरी ओर, एलमन्ड का हरेक 100 ग्राम 240 मिलिग्राम कैल्शियम उपलब्ध करता है। वहीं एप्पल एक ऐसा फल है जिसमें कैल्शियम की सबसे ज्यादा मात्रा मौजूद है।

ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम - ग्रीन-स्मूदी

बहुत बढ़िया क्रीमी फ्लेवर के साथ शरीर को कैल्शियम देने के लिए यह एक उचित मिश्रण है।

सामग्री

  • 1 कप नेचुरल योगर्ट (250 मिलीलीटर)
  • 1 छिला हुआ एप्पल बिना बीजों के
  • 5 बादाम

आपको क्या करना चाहिए?

  • योगर्ट को कटे हुए एप्पल के साथ ब्लेंड कीजिए।
  • एलमन्ड मिलाइए और कुछ मिनटों के लिए एक बार फिर ब्लेंडर चलाइए।
  • गिलास में डालिए और स्वाद के लिए दालचीनी मिलाइए। इसे हर 3 दिन पर पीजिए।
  • असर बढ़ाने के लिए थोड़े-थोड़े समय के लिए बदन में धूप लगने दीजिए

ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम में आपकी मदद करने के लिए आपको बहुत से कैल्शियम से भरपूर खाद्य मिल जाएँगे। उम्र से संबंधित रोगों से बचने  के लिए कुंजी यही है कि जवानी में अपने स्वास्थ्य की देखभाल करें।

कैल्शियम से भरपूर डाइट लेने के अलावा इन रोकथाम करने वाले नुस्खों का फायदा उठाना भी बहुत बढ़िया आइडिया है।

यह आपकी रुचि हो सकती है ...
ऑस्टियोआर्थराइटिस, ऑस्टियोपोरोसिस और आर्थराइटिस : तीनों में क्या अंतर हैं?
स्वास्थ्य की ओरइसमें पढ़ें स्वास्थ्य की ओर
ऑस्टियोआर्थराइटिस, ऑस्टियोपोरोसिस और आर्थराइटिस : तीनों में क्या अंतर हैं?

अर्थराइटिस, ऑस्टियोअर्थराइटिस और ऑस्टियोपोरोसिस तीनों अलग-अलग चीजें हैं। इनमें से किसी भी बीमारी से पीड़ित कोई व्यक्ति यह अच्छी तरह से जानता है। फि...



  • Dodington, D. W., & Ward, W. E. (2014). Osteoporosis. In Diet, Exercise, and Chronic Disease: The Biological Basis of Prevention. https://doi.org/10.1201/b16783
  • NIH Consensus Development Panel on Osteoporosis Prevention, Diagnosis, and Therapy. (2001). Osteoporosis Prevention, Diagnosis, and Therapy. JAMA: The Journal of the American Medical Association. https://doi.org/10.1001/jama.285.6.785
  • Weaver, C. M. (2003). Calcio. In Conocimientos Actuales sobre Nutrición.