40 की उम्र से ऊपर वाले लोगों के लिए आदर्श एक्सरसाइज

27 जून, 2019

जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है, आपके शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कम होती जाती है। आपकी मांसपेशियां, त्वचा और हड्डियां, सभी धीरे-धीरे कमज़ोर पड़ने लगती हैं। 40 की उम्र से ऊपर वाले लोगों को इस ओर से सतर्क होना पड़ता है।

बढ़ती उम्र कभी भी अपने लक्ष्य हासिल करने में बाधा नहीं बन सकती है। न ही आप इसे अपनी देखभाल बंद करने का बहाना बना सकते हैं। ज़रूरत केवल एक्सरसाइज करने के लिए प्रेरित होने और स्वस्थ जीवनशैली अपनाने की है। आपको इसके नतीजे भी जल्द नज़र आने लगेंगे।

इसी कारण, समय बीतने के साथ हम सभी को वे विशेष काम करने में परेशानी होने लगती है जो पहले हम आसानी से कर लेते थे।

इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे उन एक्सरसाइज के बारे में, जो 40 की उम्र से ऊपर के लोगों के लिए आदर्श हैं।

एक्सरसाइज करने के हैं कई फ़ायदे

40 की उम्र से ऊपर: आदर्श एक्सरसाइज

टहलना, कोई चीज़ उठाना, दौड़ना, लिखना, खाना बनाना या कपड़े पहनना जैसी कुछ आम गतिविधियां हैं जिन्हें करने में 40 की उम्र से ऊपर के लोगों को परेशानी होती है।

इनसे बचने के लिए आपको अपना शरीर चुस्त-दुरुस्त रखना चाहिए, खुद को सक्रिय रखते हुए एक्सरसाइज करते रहना चाहिए, भले ही आपकी उम्र कम हो या ज़्यादा।

अगर आप अक्सर बैठे-बैठे काम करते हैं तो आपकी मांसपेशियों में दर्द की संभावना बढ़ जाती है। एक्सरसाइज की कमी से आपकी हड्डियों और धमनियों के लिए भी समस्याएं खड़ी हो सकती हैं।

यहां एक बात स्पष्ट कर दें। हम इस बात की सलाह नहीं देते हैं कि 40 की उम्र से ऊपर आप बहुत ज़्यादा एक्सरसाइज करें या इसके उलट वजन बढ़ा लें।

इसे भी पढ़ें:  4 मिनट की जापानी ट्रिक से बनायें पत्थर की तरह सख्त ऐब्स

शरीर में ऑक्सीजन की आपूर्ति बढ़ाने, मांसपेशियों और अंगों को चुस्त-दुरुस्त रखने के लिए एक्सरसाइज करना बहुत अच्छा रहता है।

जैसे-जैसे वर्ष बीतते जाएंगे, आप अपने एक्सरसाइज करने के फैसले पर गर्व महसूस करेंगे। आपका शरीर मज़बूत और ऊर्जावान बना रहेगा। साथ ही, आपके बीमार पड़ने का ख़तरा भी बहुत कम हो जाएगा।

दरअसल, एक स्टडी में पता चला है कि 40 वर्ष की उम्र से ऊपर स्ट्रेंथ एक्सरसाइज करने से आपकी मासपेशियां मज़बूत रहती हैं और आप अपनी रोज़मर्रा की गतिविधियां लंबे समय तक जारी रख सकते हैं।

इसीलिए, इस पोस्ट में हम आपको ऐसी एक्ससाइज के बारे में बताएंगे, जिन्हें करके आप 40 की उम्र से ऊपर भी अपनी मासपेशियां मज़बूत और शरीर ताक़तवर बनाए रख सकते हैं। इस तरह आप लचक, ऑक्सीजन की आपूर्ति और ताक़त की कमी से होने वाली समस्याओं से बच सकते हैं।

हड्डियों या मँसपेशियों को हुए नुकसान की भरपाई करने वाली एक्सरसाइज

40 की उम्र से ऊपर: हड्डियों, मांसपेशियों

समय बीतने के साथ मासपेशियों और हड्डियों का कमज़ोर होना आम बात है। ब्लड प्रेशर की समस्या होना भी आम है। इस कारण कई बीमारियां होती हैं, जैसे किः

  • ऑस्टियोपोरोसिस
  • मधुमेह (डायबिटीज़)
  • मोटापा
  • दिल के रोग

इन बीमारियों के ख़तरों से बचने का सबसे अच्छा तरीका है वजन उठाना। विशेष तौर पर डंबल से एक्सरसाइज करना सबसे बेहतर है।

  • वजन उठाने से हड्डियों का घनत्व फिर से ठीक हो जाता है।
  • बांहों की एक्सरसाइज करने के साथ-साथ आप अपना पॉस्चर भी ठीक कर सकते हैं और कमर को चोट व अन्य समस्याओं से बचा सकते हैं

शरीर की लोच फिर पाने के लिए 40 की उम्र से ऊपर वाले लोगों के लिए एक्सरसाइज

कुछ एक्सरसाइज ऐसी हैं जिन्हें करके आप अपने शरीर की लोच दोबारा हासिल कर सकते हैं, बांहों और ठोड़ी के नीचे परेशान करने वाली मोटी त्वचा से छुटकारा पा सकते हैं

हमारी सलाह है कि आप योग और पिलेट्स का अभ्यास करें। ये एक्सरसाइज करने से आपकी पॉस्चर में सुधार आएगा और कमर दर्द से राहत मिलेगी। इससे आपको आराम पाने और वजन घटाने में भी राहत मिलेगी।

दिल की देखभाल

40 की उम्र से ऊपर: दिल की देखभाल

दिल को स्वस्थ रखने के लिए साइक्लिंग से बेहतर एक्सरसाइज कोई नहीं है। चाहे सड़क हो या फिर जिम, साइकिल चलाने से आपका दिल स्वस्थ रहता है

साथ ही, साइकिल चलाने का आनंद लेते हुए आप लोगों से मेल-जोल बढ़ा सकते हैं और अपना पॉस्चर भी सुधार सकते हैं।

इसे भी पढ़ें:  5 तिब्बती एक्सरसाइज: दस मिनट में सभी मांसपेशियों की कड़ी मशक्कत करें

शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाना

40 की उम्र से ऊपर: प्रतिरोध

ताक़त और प्रतिरोध बढ़ाने के लिए हम आपको जिम में मशीनों का इस्तेमाल करने की सलाह देंगे। आप इनका इस्तेमाल अपनी मांसपेशियां मज़बूत करने और उन्हें सही स्थिति में रखने के लिए कर सकते हैं।

अगर आपको जिम जाना अच्छा नहीं लगता तो ज़रूरी उपकरणों को खरीदकर घर पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इस तरह आपको घर में ही एक ऐसी जगह मिल जाएगी जहां आप खुद एक्सरसाइज कर पाएंगे।

मांसपेशियों की मज़बूती बढ़ाना

40 की उम्र से ऊपर: मसल मास

इसके लिए आपको हम स्वीमिंग करने की सलाह देंगे। यह एक्सरसाइज शरीर की सभी मांसपेशियों को मज़बूत करती है। यह आपके फेफड़ों की क्षमता भी बढ़ाती है

अब तक आप समझ गए होंगे कि एक्सरसाइज बंद करने के लिए उम्र बढ़ने का बहाना बनाना सही नहीं है। सच तो यह है कि उम्र बढ़ने के साथ-साथ आपको और भी ज़्यादा एक्सरसाइज करनी चाहिए ताकि आप हमेशा स्वस्थ रहें

एक्सरसाइज करने से आप को सुख-शांति मिलती है। आप खुद को नई गतिविधियों और परिस्थितियों के हिसाब से ढाल लेते हैं और वे काम कर पाते हैं जिन्हें करने का विश्वास आपको पहले नहीं था।

आप बेझिझक, बिना चोटिल या निराश हुए अपनी ज़िंदगी जी सकते हैं क्योंकि आप जानते हैं कि मज़बूत मांसपेशियों के साथ आपका शरीर किसी भी एडवेंचर के लिए तैयार है।

40 की उम्र कभी भी अपने लक्ष्य हासिल करने में बाधा नहीं बन सकती है। न ही आप इसे अपनी देखभाल बंद करने का बहाना बना सकते हैं।

ज़रूरत केवल एक्सरसाइज करने के लिए प्रेरित होने और स्वस्थ जीवनशैली अपनाने की है। आपको इसके नतीजे भी जल्द नज़र आने लगेंगे।