5 स्वादिष्ट स्मूदी: आपकी डिटॉक्स डाइट के लिए

मार्च 29, 2019
फल और सब्जियों को मिलाने मात्र से आप अपनी डिटॉक्स डाइट के लिए कुछ बेहतरीन ड्रिंक तैयार कर सकते हैं। ये आपकी भूख शांत करेंगे और वजन घटाने में भी मदद करेंगे।

डिटॉक्स डाइट वाली स्मूदी तैयार करने के लिए वाकई दर्जनों रेसिपी उपलब्ध हैं। उनमें एंटी-ऑक्सीडेंट और शरीर को शुद्ध करने वाले (purifying) पदार्थ मौजूद होते हैं। ये जहरीले तत्वों को शरीर से बाहर निकालने और वजन कम करने में आपकी मदद करते हैं।

बेशक ये कोई चमत्कार नहीं हैं। लेकिन निश्चित रूप से इनके चमत्कारिक स्वास्थ्यवर्धक लाभ होते हैं। बहुत ज्यादा खाने के बाद वजन कम करने और भोजन के बीच लगने वाली भूख पर काबू पाने के लिए इनकी सिफारिश की जाती है

क्या आप अपने शरीर को डिटॉक्स करने की कोशिश कर रहे हैं? क्या आप बहुत ज्यादा कैलोरी लिये बिना तरोताजा होना चाहते हैं?

यदि हाँ, तो इस आर्टिकल में बताई गयी रेसिपी को आज़माने में संकोच न करें। ये सभी स्मूदी पाचक हैं और वजन कम करने वाले गुणों से भरपूर स्वास्थ्यवर्धक फल और सब्जियों से बनी हैं।

1. डिटॉक्स डाइट के लिए स्मूदी: अनन्नास और अदरक (Pineapple and Ginger Smoothie)

डिटॉक्स स्मूदी बनाने के लिए अनन्नास सबसे अच्छी चीजों में से एक है। इसमें ड्यूरेटिक (मूत्रवर्धक) और एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं जो शरीर में जमा फ्लूइड और टॉक्सिन को बाहर निकालने में मदद करते हैं।

अनानास और अदरक से बनी डिटॉक्स स्मूदी

ज़रूरी चीजें:

  • 4 टुकड़े (slices) अनन्नास
  • 1/2 गिलास चावल का दूध (125 मिली)
  • 1/2 बड़ा चम्मच बारीक़ कटी हुई अदरक (2.5 ग्राम)

बनाने का तरीका:

  • अनन्नास के टुकड़ों को क्यूब्स में काटें और उन्हें एक ब्लेंडर में डाल दें।
  • उसके बाद, उसमें चावल का दूध और बारीक़ कटी हुई अदरक डालें और कुछ सेकंड के लिए ब्लेंड करें।
  • सुनिश्चित कर लें कि सभी चीजें आपस में अच्छी तरह मिल जायें।

सेवन करने का तरीका:

  • इस स्मूदी को नाश्ते से पहले खाली पेट या दोपहर के बीच में पियें।

इसे भी पढ़ें : बनायें स्वादिष्ट वेस्ट-स्लिमिंग स्मूदी

2. चुकंदर और नींबू की स्मूदी (Beetroot and Lemon Smoothie)

चुकंदर के डाइजेस्टिव गुण नींबू के रस के एल्केलाइन गुणों के साथ मिलकर एक शानदार डिटॉक्स स्मूदी बनाते हैं। इसके गुण अपशिष्ट पदार्थों यानी मल को शरीर से बाहर निकालने और ब्लड के pH लेवल को बनाये रखने में मदद करते हैं।

चुकंदर और नींबू की स्मूदी

जरूरी चीजें:

  • 1 चुकंदर
  • 2 छिले हुये नींबू
  • 1/2 चम्मच बारीक़ कटी हुई अदरक (2.5 ग्राम)
  • 1 गिलास पानी (250 मिली)

बनाने का तरीका:

  • चुकंदर और नींबू को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर एक ब्लेंडर में डालें।
  • उसमें अदरक और पानी डालें और ज्यादा से ज्यादा स्पीड पर प्रोसेस करें।

सेवन करने का तरीका:

  • मिश्रण को छान लें और इसे खाली पेट पियें

3. सौंफ़, खीरा और अजवाइन की स्मूदी (Fennel, Cucumber, and Celery Smoothie)

डिटॉक्स स्मूदी में मुख्य रूप से पायी जाने वाली चीजों में एक हरे फल और सब्ज़ियाँ हैं।

क्योंकि उनमें अधिक मात्रा में क्लोरोफिल और एंटी-ऑक्सीडेंट पाये जाते हैं, इसलिए वे शरीर को डिटॉक्स करने और इसे फ्री रेडिकल्स से बचाने के लिए बहुत ही कारगर हैं

सौंफ़, ककड़ी, और अजवाइन की स्मूदी

इस स्मूदी में हम सौंफ़, खीरा और सेलरी को मिलायेंगे – पोषक तत्वों से भरपूर तीन चीजें जो पाचन और मेटाबोलिज्म को बेहतर बनाने में मदद करते हैं। यह स्मूदी आपकी भूख को काबू करने और फ्लूइड रिटेंशन के कारण होने वाली सूजन से राहत पाने में मदद करेगा

जरूरी चीजें:

  • 1/2 सौंफ का पौधा
  • 1 खीरा (cucumber)
  • 2 डंठल सेलरी
  • 1 गिलास पानी (250 मिली)

बनाने का तरीका:

  • सभी चीजों को काट लें और उन्हें पानी के साथ एक ब्लेंडर में डालें।
  • तब तक प्रोसेस करें जब तक आपको एक पतला घोल न प्राप्त हो जाए।

सेवन करने का तरीका:

  • इस स्मूदी को खाली पेट या जब आपको भूख लगे तब पियें
  • अगर आप किसी डिटॉक्स प्लान पर हैं, तो इसे लगातार दो हफ्ते तक पियें।

इसे भी पढ़ें : 5 शानदार ग्रीन स्मूदी : शरीर को डिटॉक्स करने और वजन घटाने के लिए

4. क्रैनबेरी और बेरी से बनी स्मूदी (Cranberry and Berry Smoothie)

क्रैनबेरी एंटी-ऑक्सिडेंट और एंटी-इन्फ्लेमेटरी यौगिकों से भरपूर होते हैं जो शरीर को टॉक्सिन और यूरिनरी इन्फेक्शन से बचाने में मदद करते हैं। बेरी और नींबू के साथ इन शक्तिशाली गुणों को बढ़ाकर आप अपने डिटॉक्स डाइट के लिए एक बढ़िया स्मूदी पा सकते हैं।

क्रैनबेरी स्मूदी

ज़रुरी चीजें:

  • 1 गिलास क्रैनबेरी का रस (250 मिली)
  • एक नींबू का रस
  • 1/2 कप बेरी (100 ग्राम)
  • 1 गिलास नारियल का पानी

बनाने का तरीका:

  • सभी चीजों को एक ब्लेंडर में डालें और तब तक प्रोसेस करें जब तक कि सारी चीजें अच्छी तरह से मिक्स न हो जाएँ।

सेवन करने का तरीका:

  • इस मात्रा को रोज़ाना दो या तीन ड्रिंक तक ले जायें।
  • शुरुवात इसे खाली पेट पी कर करें और बाकी भोजन के बीच में पीते रहें।

5. गोभी, सेब और नींबू की स्मूदी (Cabbage, Apple, and Lemon Smoothie)

इस स्मूदी में एल्कलाइजिंग और ड्यूरेटिक पदार्थ मौजूद होते हैं जो आपके स्वास्थ्य के लिए फ़ायदेमंद हैं। रीफ्लक्स और हार्ट-बर्न से लड़ने के साथ-साथ, वे फ्लूइड को शरीर से बाहर निकालने में भी मदद करते हैं। वे आँतों के संक्रमण से बचाव और इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाने में भी मदद करते हैं।

गोभी, सेब, और नींबू की स्मूदी

ये गुण इसे आपकी डिटॉक्स डाइट के लिए एक और बेहतरीन स्मूदी बनाते हैं। इसमें बहुत कम कैलोरी होती है और यह उन लोगों के लिए बहुत फ़ायदेमंद है जो अपना वजन कम करने की कोशिश कर रहे हैं।

जरूरी चीजें:

  • 1/2 गोभी
  • 2 सेब
  • एक नींबू का रस
  • 1 गिलास पानी (250 मिली)

बनाने का तरीका:

  • सभी चीजों को बारीक़ काटें और उन्हें नींबू के रस और पानी के साथ एक ब्लेंडर में डाल दें।
  • उसके बाद, उन्हें कुछ मिनटों के लिए ब्लेंड करें, जब तक कि सभी चीजें अच्छी तरह से मिल न जायें।

सेवन करने का तरीका:

  • इसे बिना छाने परोसें और खाली पेट, हफ्ते में कम से कम 3 बार पियें

आप चाहते हैं इन रेसिपी को आज़माना? जैसा कि आप देख सकते हैं, वे सचमुच बहुत आसान हैं और उनमें केवल वही चीजें शामिल हैं जिनमें बहुत कम कैलोरी होती है।

अगर आप अपने शरीर को डिटॉक्स करने या अपनी पाचन क्रिया को बेहतर बनाने की कोशिश कर रहे हैं, तो अपनी डिटॉक्स डाइट के लिए इन शानदार स्मूदी को आज़माएँ।

  • Seeram, N. P. (2008). Berry fruits: Compositional elements, biochemical activities, and the impact of their intake on human health, performance, and disease. In Journal of Agricultural and Food Chemistry. https://doi.org/10.1021/jf071988k
  • Biedrzycka, E., & Amarowicz, R. (2008). Diet and health: Apple polyphenols as antioxidants. Food Reviews International. https://doi.org/10.1080/87559120801926302
  • González-Molina, E., Domínguez-Perles, R., Moreno, D. A., & García-Viguera, C. (2010). Natural bioactive compounds of Citrus limon for food and health. Journal of Pharmaceutical and Biomedical Analysis. https://doi.org/10.1016/j.jpba.2009.07.027