4 स्मूदी: अपनी कमर को ट्रिम करने के लिए

अपने खाने में कोई कटौती किये बिना अगर आप अपने पेट के मोटापे को ट्रिम करना चाहते हैं, तो डाइट में उन खाद्य पदार्थों को शामिल करना ज़रूरी है जो वजन घटाने और फैट गलाने में मददगार हैं। उदाहरण के लिए, इन स्मूदी को आज़माएं!
4 स्मूदी: अपनी कमर को ट्रिम करने के लिए

आखिरी अपडेट: 02 फ़रवरी, 2019

ज्यादातर लोग जो अपने शरीर के अलग-अलग हिस्सों में जमे फैट से छुटकारा पाना चाहते हैं, वे कमर को भी ट्रिम करना चाहते हैं।

न सिर्फ ज्यादा वजन के कारण, बल्कि ऐसे अन्य कारण भी हैं जिनसे आपकी कमर के आसपास का हिस्सा भारी हो सकता है। इसलिए आपको अलग-अलग खाद्य पदार्थों को आजमाने की कोशिश करनी चाहिए, ताकि जान सकें कि खास आपके लिए उनमें कौन सा सबसे ज्यादा असरदार है।

आपको इन चार स्वादिष्ट और भरपूर पोषण देने वाली स्मूदी के बारे में जानना चाहिये। ये अपने आपको भूखा रखे बिना कमर को ट्रिम करने में मदद आपकी करेंगी।

वजन घटाने का सबसे अच्छा रास्ता यह है कि स्वास्थ्यवर्धक खाना खाने और अपराधबोध या निराशा से बचने का तरीका सीखें। इसके लिए आपको अपने खाने के तरीके को बदलना होगा और प्राकृतिक व पूर्ण भोजन का चुनाव करना होगा। ये स्मूदी आपको वे सभी पोषक तत्व प्रदान करेंगी जिनको आपको जरूरत है। जो आपको ऊर्जा से भरपूर, फुर्तीला और जोशीले स्पिरिट में रहने में मदद करती हैं।

अगर आप सही तरीके से खाना-पीना सीख जायें तो न केवल अपना वजन कम कर पायेंगे, बल्कि आपको कभी भी किसी डाइटिंग की जरूरत नहीं पड़ेगी।

खुद को भूखा रखे बिना कमर को ट्रिम करें

कमर को ट्रिम करें

पेट कई अलग-अलग शारीरिक कार्यों से जुड़ा है, इसलिए कमर पतली करने के लिए आपको उन सभी कारणों को ध्यान में रखना होगा।

  • नुकसानदेह फैट से भरे खाद्य पदार्थ। उदाहरण के लिए तली हुई चीजें, पेस्ट्री, सॉस, डेयरी प्रोडक्ट और अन्य कई चीजें।
  • जरूरत से ज्यादा रिफाइंड शुगर का सेवन जो आपके इंसुलिन लेवल में असंतुलन और पैंक्रियाज की समस्याओं का कारण बनता है।
  • पाचन से जुड़ी समस्याएं जैसे गैस और कब्ज।
  • हार्मोन का असंतुलन।

चार बहुत असरदार स्मूदी (Four very effective smoothies)

आज हम आपके लिये प्राकृतिक चीजों से बनी चार स्वादिष्ट स्मूदी बनाने की जानकारी पेश करना चाहते हैं। ये आपको भूखा रखे बिना कमर को ट्रिम करने के लिये बहुत ही कारगर हैं।

इन्हे इस्तेमाल करके देखिये!

1. सेब, मैका, और नारियल का तेल ( Apple, maca, and coconut oil)

मिल्क स्मूदी

यह स्मूदी मीठी और मलाईदार होती है। इसमें मौजूद चीजें आपको अपना लक्ष्य पाने में मदद करेंगी। इस तरह यह नाश्ते के लिए सबसे बढ़िया विकल्प है।

सेब (Apples)

सेब फाइबर से भरपूर होता है, खासकर इनका छिलका जो कमर में जमा फैट घटाने में मदद करता है। इसमें मौजूद मैलिक एसिड के कारण यह फल आपके लीवर के लिए भी फ़ायदेमंद होता है और अनचाहे मोटापे को कम करने में मदद करता है।

मैका (Maca)

मैका पेरू में पाई जाने वाली एक वेजिटेबल रूट है जो इसकी ऊर्जा तथा लिबिडो (कामेच्छा) में सुधार करने की क्षमता के लिए जानी जाती है। यह हार्मोन से जुड़ी उन समस्याओं को नियंत्रित करने में भी मदद करती है, जो पेट की सूजन का कारण हो सकती हैं।

आप मैका को पाउडर के रूप में थोड़ी-थोड़ी मात्रा में सेवन कर सकते हैं और धीरे-धीरे इस मात्रा को बढ़ा सकते हैं। ऐसा न करने पर यह घबराहट का कारण बन सकता है।

नारियल तेल

इस तेल में आपके स्वास्थ्य के लिए कई तरह के लाभकारी गुण होते हैं। उदाहरण के लिए, यह आपके मेटाबोलिज्म को एक्टिवेट करता है ताकि आप आसानी से ज्यादा से ज्यादा फैट और कैलोरी को जला सकें, खासतौर पर पेट के आसपास वाले हिस्सों में।

2. नाशपाती, अदरक, और ब्रूअर्स यीस्ट (Pear, ginger, and brewer’s yeast)

यह स्मूदी ताज़गी से भरपूर और खुशबूदार होती है, जो इसे गर्मियों के लिए शानदार विकल्प बनाता है। इसके अलावा, इसमें मौजूद पदार्थ यकीनन आपकी कमर के आसपास के कुछ इंच कम करने में आपकी मदद करेंगे।

नाशपाती (Pear)

नाशपाती मिनरल से भरपूर फल है जो फ्लूइड रिटेंशन से लड़ने में मदद करता है। शरीर में जल का जमाव बढ़ा हुआ पेट होने की सबसे आम वजहों में से एक है।

अदरक (Ginger)

यह मसाला भी शरीर से फ्लूइड को बाहर निकालता है और आपके मेटाबोलिज्म को भी तेज़ करता है, जिससे आसानी से वजन कम करने में मदद मिलती है।

ब्रूअर्स यीस्ट (Brewer’s yeast)

यह सप्लीमेंट नर्वस सिस्टम को रेगुलेट करने और एंग्जायटी से लड़ने में मदद करता है। जब बात उन इमोशनल समस्याओं को नियंत्रित करने की आती है जो आपको ज्यादा खाने के लिये मजबूर करते हैं, तो यह बहुत फ़ायदेमंद होता है।

3. अनन्नास, एवोकैडो और चिया सीड्स (Pineapple, avocado, chia seeds)

ग्रीन स्मूदी

यह मौसमी स्मूदी मीठी और मलाईदार दोनों है, साथ ही बहुत पौष्टिक और संतोषजनक विकल्पों में से एक है।

अनन्नास (Pineapple)

एक नेचुरल ड्यूरेटिक होने के अलावा अनन्नास आपके पाचन में सुधार करता है और भारीपन या सूजन को कम करता है।

एवोकैडो (Avocado)

जब वजन घटाने की बात आती है तो एवोकैडो सबसे बढ़िया होते हैं। उनका हेल्थी फैट आपके मेटाबोलिज्म को एक्टिवेट करता है और आपको फैट बर्न करने में मदद करता है।

इसके अलावा, एवोकैडो आपकी स्मूदी को और ज्यादा गाढ़ा और पेट भराऊ बनाता है।

चिया सीड्स (Chia seeds)

अगर आप उन्हें पहली रात को भिगाकर रख दें, तो ये बीज कब्ज से मुकाबला करने और आँतों से जुड़ी किसी भी समस्या पर काबू पाने में मदद करते हैं।

4. जई, दालचीनी, और कोको (Oats, cinnamon, cocoa)

किसी भी शारीरिक या दिमागी मेहनत से पहले बिना अतिरिक्त वजन बढ़ाये यह स्मूदी भी सुपर नूट्रिशस और आदर्श है।

जई का दलिया (Oatmeal)

जई वजन घटाने के लिए बहुत ही बढ़िया है, क्योंकि यह बहुत संतोषजनक होती है और भोजन के बीच खाने की इच्छा को शांत करके स्नैकिंग से बचने में आपकी मदद करती है। इसलिए आप जई का दलिया (flaked oats) या जई का आटा (ground oats) इस्तेमाल कर सकते हैं और उन्हें पचाने में आसान बनाने के लिए थोड़ा पका सकते हैं।

दालचीनी (Cinnamon)

दालचीनी आपकी कमर को पतला करने में मदद करती है क्योंकि इससे आपकी बहुत ज्यादा कैलोरी बर्न होती है। यह आपके ब्लड शुगर लेवल को रेगुलेट करने के लिए भी बहुत मददगार है, जो पेट में वसा के जमने का कारण बन सकता है।

कोको (Cocoa)

कोको आपको अच्छा और ऊर्जा से भरा हुआ महसूस कराता है और बिना कोई ग़लती किये अपने स्वास्थ्यवर्धक स्मूदी में थोड़ी चॉकलेट का मज़ा लेने की अनुमति देता है।

यह आपकी रुचि हो सकती है ...
एक महीने में वेस्टलाइन ट्रिम करने के 5 स्टेप
स्वास्थ्य की ओरइसमें पढ़ें स्वास्थ्य की ओर
एक महीने में वेस्टलाइन ट्रिम करने के 5 स्टेप

अपनी वेस्टलाइन ट्रिम करने के लिए, ध्यान रखें, जब आप वजन बढ़ाती हैं, तो अतिरिक्त फैट हमेशा शरीर के एक ही हिस्से में नहीं जमा होता है।



  • Warrilow A, Mellor D, McKune A, Pumpa K. Dietary fat, fibre, satiation, and satiety-a systematic review of acute studies. Eur J Clin Nutr. 2019 Mar;73(3):333-344.
  • Eyres L, Eyres MF, Chisholm A, Brown RC. Coconut oil consumption and cardiovascular risk factors in humans. Nutr Rev. 2016 Apr;74(4):267-80
  • Calder PC. Omega-3 fatty acids and inflammatory processes: from molecules to man. Biochem Soc Trans. 2017 Oct 15;45(5):1105-1115.