एप्पल साइडर विनेगर: इस सौ प्रतिशत प्राकृतिक सामग्री से अपने दांत चमकायें

14 अक्टूबर, 2018
क्योंकि यह थोड़ा तेज़ असर करता है, इसके उल्टे असर से बचने के लिए बहुत जरूरी है कि आप इससे कुल्ला करने से पहले विनेगर को पानी में मिलाकर डाइल्युट कर लें।

एप्पल साइडर विनेगर के दांतों से जुड़े फायदों पर बात करने से पहले याद दिला दें कि ज्यादातर लोग ही चाहते हैं, उनके दाँत सफ़ेद दिखें। क्योंकि जहाँ यह साफ़-सफ़ाई का एहसास देता है, वहीं ज्यादा आकर्षक मुस्कान भी देता है

हालांकि दांतों को ऐसा बनाये रखना मुश्किल हो सकता है। लेकिन बहुत से बाजारू और घरेलू ट्रीटमेंट हैं जो इसमें आपकी मदद करते हैं।

रिजल्ट हर व्यक्ति के लिए अलग-अलग होंगे, लेकिन कुछ लोगो ने खुद ही देखा है कि वास्तव में दांतों को उन भद्दे पीले धब्बों के बिना चमकदार दिखाना संभव है

हालांकि अधिकांश तरीकों में आम तौर पर बहुत पैसा खर्च होता है, आप विकल्प के तौर पर ऐसा एक ट्रीटमेंट चुन सकते हैं जो सस्ता और प्राकृतिक दोनों है।

यह एक ऐसी चीज है जिसे आप आमतौर पर अपने रसोई में रखते हैं। इसके ख़ास गुण दांतों से दाग साफ़ करते हैं और उन्हें स्वस्थ रखते हैं।

यह और कुछ नहीं बल्कि जाना-माना एप्पल साइडर विनेगर है।  यह ऐसी सामग्री है, जिसमें आपके मुँह के स्वास्थ्य के लिए बहुत सारे फायदे छिपे हुए हैं।

क्या आप जानना चाहते हैं, यह इतना असरदार क्यों है?

सफेद दांतों के लिए एप्पल साइडर विनेगर 

सफेद दांतों के लिए एप्पल साइडर विनेगर 

जब आपके दांतों के स्वास्थ्य की बात आती है तो यह 100% ऑर्गेनिक तत्व एक पारंपरिक उपाय होता है।

यह पके हुए सेब के फर्मेंटेशन से बनता है। प्रोसेस के दौरान यह एल्कलाइन उत्पाद में बदल जाता है।

एप्पल साइडर विनेगर में पेक्टिन, प्राकृतिक एंजाइम, आयरन, कैल्शियम, पोटैशियम और मैग्नीशियम जैसे मिनरल होते हैं। ये सभी मजबूत दांत बनाए रखने के लिए जरूरी होते हैं।

हालांकि इसके ज्यादातर लाभों का लेना-देना आपके अंदरूनी सेहत से है, यह पाया गया है कि आप इसका उपयोग कुल्ला करने के लिए भी कर सकते हैं।

इसे भी आजमायें:  दांतों के टार्टर की सफ़ाई के लिए 3 जोरदार घरेलू ट्रीटमेंट

एसिटिक एसिड की तरह इसके एसिडिक गुण जर्म्स को कम करते हैं और जिंजीवाइटिस व कैविटीज़ जैसे अन्य इन्फेक्शन को रोकते हैं

एप्पल साइडर विनेगर से पायें चमचमाते दांत

एप्पल साइडर विनेगर में सफेदी वाला प्रभाव भी होता है। हालांकि यह बाजार में उब्लब्ध दांत सफ़ेद करने वाले उत्पाद की तरह तेज़ असर नहीं करता, फिर भी यह भोजन से बने टार्टर और दाग के खिलाफ अच्छा उपाय है

एक अन्य लाभ भी है जिसका जिक्र किया जाना चाहिये। यह अतिरिक्त एसिडिटी को कम करता है और उस वातावरण को बदल देता है जिसमें बैक्टीरिया विकसित होते हैं।

यह नए इन्फेक्शन होने से रोकता है और हमारी उस असहज भावना को कम करता है कि हमारी सांस बदबूदार है

इसके एसिडिक गुण आपके दाँत के एनामेल पर थोड़ा आक्रामक हो सकते है। इसलिए इसे पानी में घोलकर पतला किए बिना इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

आप सोचते होंगे कि बिना पानी मिलाये इसका शुद्ध उपयोग करें तो प्रभाव ज्यादा अच्छे होंगे। लेकिन समय के साथ यह आपके दांतों को कमजोर कर सकता है

आगे हम आपको एप्पल साइडर विनेगर से कुल्ला करने का सही तरीका बतायेंगे जिससे आप बिना किसी चिंता के इसका इस्तेमाल कर सकें।

यह भी पढ़ें: सेब का सिरका खाएं, स्वस्थ रहकर वजन घटाएं

दांतों को चमकाने के लिए एप्पल साइडर विनेगर का उपयोग कैसे करें

एप्पल साइडर विनेगर का उपयोग कैसे करें

थोड़े समय में ही इस ट्रीटमेंट के प्रभाव को देखने के लिए सुनिश्चित करें कि आप 100% ऑर्गेनिक एप्पल साइडर विनेगर ही खरीद रहे हैं

भले ही आपको कुछ कम महंगे प्रोडक्ट मिल जाएँ , जो आपका थोड़ा पैसा ज़रूर बचा लेंगे लेकिन उतने प्रभावी नहीं होंगे। रिफाइनिंग प्रक्रिया के दौरान वे अपनी कुछ पोषण-गुणवत्ता खो चुके होते हैं।

सामग्री

  • एक बड़ा चमच्च एप्पल साइडर विनेगर (5 मिलीलीटर )
  • आधा कप गर्म पानी (125 मिलीलीटर )

निर्देश

  • आधे कप गर्म पानी में एक चम्मच एप्पल साइडर विनेगर मिला लें और सुबह अपने दांतों को ब्रश करने से पहले इसे कुल्ला करने के लिए इस्तेमाल करें।

  • 30 सेकंड के लिए इससे गार्गल करें। फिर इसे थूक दें और हर दिन की तरह ब्रश कर लें।

  • यदि आपको बदबूदार सांस की समस्या है या मुंह के इन्फेक्शन से पीड़ित हैं, तो दिन में दो से तीन बार यह ट्रीटमेंट दोहराएं।

  • इस ट्रीटमेंट को हर दिन दोहराएं और जब तक आपको परिणाम दिखना शुरू न हो जाए तब तक धैर्य रखें।

अच्छे परिणाम के लिए टिप्स

हालाँकि इस उपचार के प्रभाव हर व्यक्ति के लिए अलग-अलग होंगे, कुछ टिप्स हैं जो इस असरदार बना सकते हैं।

यदि आप दाँतों के दाग-धब्बे कम करने और उन्हें चमकदार बनाने की कोशिश कर रहे हैं, तो ये चीज़ें खाने से बचने की कोशिश करें:

  • डार्क चॉकलेट
  • स्टू
  • केचप और सोया सॉस
  • बीट्स
  • क्रैनबेरीज
  • रेड वाइन
  • कॉफ़ी
  • सॉफ्ट ड्रिंक

आप इन्हे कभी-कभार खा सकते हैं। लेकिन अच्छा यही रहेगा कि ट्रीटमेंट के दौरान इन्हे कम से कम खायें।

यह भी जरूरी है कि ब्रश करने में सावधानी बरतें। हर भोजन के बाद कम से कम 30 मिनट के लिए प्रतीक्षा करें। 

भोजन में मौजूद कुछ तत्व मुंह के पीएच को बदलते हैं। जब आप भोजन के तुरंत बाद अपने दांतों को ब्रश करते हैं, तो वे आपके एनामेल को कमजोर कर सकते हैं।

अपने ट्रीटमेंट के साथ-साथ अच्छी क़्वालिटी वाला टूथपेस्ट अपनाएँ। आप देखेंगे, एक चमचमाती उज्ज्वल मुस्कान पाना वाकई संभव है

University Health News Daily. (2017). E. Coli: Dangerous Bacteria Crops Up (Again) in Health Scare. https://universityhealthnews.com/daily/digestive-health/e-coli-protect-bacterias-dangerous-strains/