इन प्राकृतिक उपचारों से वर्टिगो का इलाज करें

जून 27, 2019
अचानक ही होने वाली यह एक बहुत परेशान और अक्षम करने वाली संवेदना है। इसका मतलब सिर्फ चक्कर आना नहीं है। आपके आस-पास की हर चीज अचानक घूमने लगती है। ऐसा लगता है, आप अपने पैरों पर खड़े रहने में सक्षम नहीं हैं। इस पोस्ट में हम वर्टिगो का नेचुरल तरीके से इलाज करना सीखेंगे।

क्या आप जानते हैं, प्राकृतिक उपचारों से वर्टिगो (Vertigo) का इलाज कैसे किया जाए?

इसमें ऐसा आभास होता है, जैसे हमारे आस-पास की चीज़ें खिसक या सरक रही हों, हमारे चारों ओर दुनिया तेज़ी से गोल-गोल घूम रही हो या हम घूम रहे हों, और हम किसी भी समय गिर सकते हैं। वर्टिगो को चक्कर समझकर भ्रमित नहीं होना चाहिए। इसमें एक तरह की अस्थिरता और असुरक्षा महसूस होती है।

यह किसी को भी प्रभावित कर सकता है, हालांकि बच्चों में यह सहज और क्षणिक संकट के रूप में होता है। बुजुर्गों में यह लंबे समय की अस्थिरता में बदल सकता है।

इस पोस्ट में हम आपको वर्टिगो के बारे में बताएंगे। साथ ही यह भी बताएंगे कि इसके कारणों और लक्षणों के बारे में क्या जानने की आवश्यकता है। हम आपको इन लक्षणों के लिए नेचुरल ट्रीटमेंट भी बताएंगे।

वर्टिगो के लक्षण

आम तौर पर ऐसा महसूस होता है कि आसपास की चीज़ें तेज़ी से घूम रही हैं और ऊंचाई से गिरने जैसी एक तरह की सनसनी पैदा होती है। इसके साथ अन्य लक्षण भी हो सकते हैं:

  • कान बजना
  • शरीर का असंतुलन
  • चक्कर आना
  • एक कान से सुनाई ना देना
  • आंखों के साथ ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई
  • दोहरा दिखाई देना
  • चेहरे का लकवा
  • भाषा की अभिव्यक्ति में कठिनाई
  • हाथ-पैरों की कमजोरी

वर्टिगो के एपिसोड के दौरान हमें कैसा बर्ताव करना चाहिए

सबसे पहले हमें नीचे बैठना या फर्श पर लेट जाना चाहिए, क्योंकि खड़े होने पर गिरने का बहुत बड़ा खतरा होता है इस प्रकार चोट लगने से बचा जा सकता है।

फिर हमें एक विशिष्ट बिंदु या एक वस्तु को देखना चाहिए जो गति में नहीं है।

इसे भी पढ़ें:

मेमोरी लॉस से लड़ने वाले प्राकृतिक खाद्य

प्राकृतिक उपचारों से वर्टिगो का इलाज कैसे करें

1. वर्टिगो को नियंत्रित करने के लिए अदरक

अदरक वर्टिगो उपचार

चीनी नाविकों ने चक्कर आने से बचने के लिए सदियों से अदरक का उपयोग किया है और आज अदरक का उपयोग उसी उद्देश्य के लिए व्यापक रूप से किया जाता है।

  • अदरक हाई ब्लडप्रेशर और एसिडिटी का मुकाबला करती है और सामान्य ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करती है, जो वर्टिगो के एपिसोड को कम करता है।
  • अदरक में ऐसे पदार्थ पाए जाते हैं जो सूजन को नियंत्रित करते हैं और पेट की परेशानी और वर्टिगो से छुटकारा दिलाते हैं।

सामग्री

  • 1 कतरी हुई अदरक (15 ग्राम)
  • 1 कप पानी (250 मिलीलीटर)

आपको क्या करना है?

  • पानी को गर्म करें और अदरक को इसमें मिलाएं।
  • जब यह उबलने लगे तो आँच पर से इसे हटा दें।
  • अंत में एक कप में इसे डालें और पिएं।

हमें हाइड्रेटेड रहना चाहिए

निर्जलीकरण के कारण वर्टिगो या चक्कर आ सकता है। पानी की कमी से रक्त की मात्रा घट जाती है और इसलिए मस्तिष्क में ऑक्सीजन की आपूर्ति कम हो जाती है।

इसके अलावा, कान के भीतरी भाग में मौजूद शरीर को नियंत्रित करने वाला बैलेंस सिस्टम शरीर में द्रव स्तर के बारे में जानकारी भेजने के लिए फ्लूइड का इस्तेमाल करता है। इस सूचना के आधार पर मस्तिष्क शरीर के संतुलन की व्याख्या करता है। हमें एक्सरसाइज के दौरान या यदि हम दस्त से पीड़ित हैं तो विशेष रूप से हाइड्रेटेड रहना चाहिए। इससे चक्कर आने में कमी आयेगी।

आपको क्या करना चाहिए?

  • रोजाना एक लीटर पानी पियें।
  • अगर इतना पानी पीना मुश्किल है, तो हमें कम से कम 3 गिलास पानी पीने का प्रयास करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें:

5 खाद्य जो आपके ह्रदय को गंभीर नुकसान पहुँचाते हैं

पेपरमिंट और पुदीना अर्क

वर्टिगो उपचार पुदीना

जड़ी-बूटियों का यह सही संयोजन खून में ऑक्सीजन को उत्तेजित करता है जो मस्तिष्क तक पहुंचता है। यह ताजा रसायन वर्टिगो एपिसोड के दौरान आराम देता है, और उनसे बचने में भी मदद करता है।

सामग्री

  • पुदीने के पत्तों के 2 चम्मच (10 ग्राम)
  • पेपरमिंट की पत्तियां 1 चम्मच (15 ग्राम)
  • 1 कप पानी (250 मिलीलीटर)

आपको क्या करना है?

  • पानी को गर्म करें और पेपरमिंट और पुदीने के पत्ते मिलाएं
  • पानी उबलने तक इंतज़ार करें और इसे बंद करें। फिर इसे 5 से 7 मिनट तक रहने दें, बाद में एक कप में डालें और पियें।
  • हर दिन सोने से पहले एक कप लें। यह न केवल चक्कर में आराम दिलाता है बल्कि शरीर को भी आराम देता है।

वर्टिगो को नियंत्रित करने के लिए क्रैनबेरी

क्रैनबेरी के एंटीस्पाज्मोडिक घटकों के कारण यह एक ऐसा फल है जो चक्कर आने पर रोक लगाता है, चक्कर के क्रम को कम करने में मदद करता है और सेरोटोनिन रिसेप्टर्स को अवरुद्ध करता है।

सामग्री

  • क्रैनबेरी की पत्तियां 3 चम्मच (45 ग्राम)
  • 1 कप पानी (250 मिलीलीटर)

आपको क्या करना है?

  • पानी को गर्म करें और जब यह उबल जाए तो इसमें क्रैनबेरी के पत्तों को मिला दें।
  • 5 मिनट तक अर्क को तैयार होने दें। फिर आँच बंद करें और 5 से 7 मिनट बाद छानकर पी लें।
  • दिन में दो बार अर्क पीना महत्वपूर्ण है, और हमेशा सोने से पहले इसे पिएं।

जटिलताएं

वर्टिगो रोज़मर्रा की गतिविधियों को प्रभावित कर सकता है, जैसे ड्राइविंग या काम करना। इसके अलावा, इससे प्रभावित कुछ रोगियों के गिरने पर लगी चोटें फ्रैक्चर का कारण बन सकती हैं।