ख़राब लेग सर्कुलेशन की रोकथाम और उसका इलाज कैसे करें

40 साल से ज्यादा उम्र की महिलाओं में वेरीकोस वेंस, थकान और ख़राब लेग सर्कुलेशन जैसी समस्याएं होना बहुत ही आम बात है।
ख़राब लेग सर्कुलेशन की रोकथाम और उसका इलाज कैसे करें

आखिरी अपडेट: 26 जुलाई, 2018

खुद को एक्टिव बनाये रखना ख़राब लेग सर्कुलेशन से छुटकारा पाने का एक बढ़िया तरीका हो सकता है। इससे सर्कुलेटरी और लिम्फैटिक दोनों सिस्टम एक्टिव रहते हैं।

इस आर्टिकल में, हम आपको बतायेंगे कि आखिर ख़राब लेग सर्कुलेशन क्या है और इसकी रोकथाम तथा इलाज कैसे किया जाये।

ख़राब लेग सर्कुलेशन होता क्या है?

हमारे हाथ और पैरों का निचला हिस्सा फ्लूइड एक्सचेंज जोन होता है। साथ ही यह उन नसों और धमनियों का आखिरी छोर भी होता है जो खून को दिल तक वापस लाने में मदद करते हैं।

इस कार्य में ब्लड वेसल्स, लिम्फैटिक सिस्टम, प्लाज्मा और प्रोटीन भी शामिल होते हैं।

इसीलिए, जब इसमें कोई गड़बड़ी होती है, तो फ्लूइड एक जगह जमा होने लगता है और “वापस” अपनी सही जगह पर नहीं आ पाता है। यह एक आम समस्या है, क्योंकि आमतौर पर जब हम बैठे या खड़े होते हैं तो हमारे पैर नीचे की ओर ही होते हैं।

गुरुत्वाकर्षण बल शरीर के पूरे प्रेशर को एड़ियों में ले आता है जो कि पैरों में कई प्रकार की समस्याओं का कारण बनता है। उदहारण के लिए:

  • थकान
  • सूजन
  • सुन्न होना
  • वेरीकोस वेंस

ख़राब लेग सर्कुलेशन को कैसे ठीक करें

इसे रोकना हो, इलाज करना हो या कम करना हो, सबसे पहले आपको अपनी रोजाना की आदतों को बदलना होगा। शुरुआत में काफी दिक्कतें हो सकती हैं, लेकिन धीरे-धीरे आपको अच्छे नतीजे दिखने लगेंगे।

ख़राब लेग सर्कुलेशन को ठीक करने के लिए इन बातों पर ध्यान दें:

1. अपने उठने-बैठने का तरीका सुधारें

सीधे खड़े होना

  • अगर आप ऑफिस में काम करते हैं, तो समय-समय पर अपनी डेस्क से उठें और थोड़ी देर इधर-उधर घूमें।
  • जब भी आप कंप्यूटर के सामने बैठकर काम कर रहें हो उस समय अपने पैरों को ऊंचा उठाये रखने के लिए किसी बेंच या डस्टबिन का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • यदि आपके काम में पूरे दिन खड़े रहना पड़ता है, तो कोशिश करें कि हर घंटे में कुछ मिनट बैठने या थोड़ा चलने-फिरने के लिये समय निकाल पायें।

लम्बी ट्रिप के दौरान, हवाई जहाज या ट्रेन से यात्रा के समय, फुटरेस्ट का इस्तेमाल करें और जितना हो सके बार-बार अपनी सीट से उठते रहें। अगर आप कार से सफ़र करते हैं, तो हर एक या दो घंटे में रुकें और थोड़ा आराम करें।

2. फिजिकल एक्टिविटी करते रहें

ऐसा जरूरी नहीं है कि आप अपनी रूटीन में ज्यादा एक्सरसाइज करें। बस, रोज थोड़ा घूमना-फिरना, स्विमिंग या बाइक राइडिंग काफी है।

  • हल्की और लंबे समय तक चलने वाली एक्सरसाइज जरूरी है ताकि लिम्फैटिक सिस्टम और सर्कुलेटरी सिस्टम दोनों एक्टिवेट हो जाएं।
  • आपके शिड्यूल में रोजाना कम से कम 30 मिनट की एक्सरसाइज जरूर होनी चाहिये।

3. खूब पानी पियें

पानी पियें

ख़राब लेग सर्कुलेशन से निपटने का एक अच्छा तरीका है भरपूर पानी या तरल पदार्थों का सेवन करना जिससे शरीर में मौजूद टॉक्सिन पेशाब के  साथ बाहर निकल जायें।

  • पैरों में सर्कुलेशन की गड़बड़ी को ठीक करने के लिये यह जरूरी है कि आप पानी, नेचुरल जूस (ताजा निचोड़ा हुआ) और हर्बल इंफ्यूजन (मूत्रवर्धक जड़ी-बूटियाँ जैसे रोजमेरी का रस आदि) पियें।
  • शराब, सोडा और कॉफी के सेवन से बचें क्योंकि ये उल्टा असर भी दिखाते हैं।
  • रोजाना कम से कम 2 लीटर पीना जरूर पियें और जब कोई फिजिकल एक्सरसाइज कर रहें हों तो पानी 3 लीटर तक बढ़ा दें।

4. पैरों को ऊपर उठायें

काम के दौरान अपने पैरों को बेंच पर रखकर आराम देने वाली तकनीक के अलावा, घर में भी आप इस तकनीक को दोहराकर ख़राब लेग सर्कुलेशन का मुकाबला कर सकते हैं।

  • उदाहरण के लिए, जब आप TV देखते समय सोफे पर बैठे होते हैं, तो अपनी एड़ियों को किसी मेज या कुर्सी पर रखकर आराम दे सकते हैं।
  • जब आप बेड पर होते हैं, तो अपने पैरों को दीवार के सहारे हेडबोर्ड पर लटकाएं और कुछ देर आराम दें।
  • सोते समय, पैरों के नीचे कोई तकिया रख सकते हैं। आपके पैरों की ऊंचाई दिल से ऊपर होनी चाहिये।

5. ज्यादा फल और सब्जियां खाएं

फल कोलेस्ट्रॉल

एक स्वस्थ डाइट के लिए यह एक बहुत अच्छा विकल्प हैं क्योंकि इनमें भरपूर मात्रा में पानी और पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो शरीर में द्रव्य जमा होने और ख़राब लेग सर्कुलेशन की रोकथाम करते हैं।

जब हमारी डाइट ज्यादा प्रोटीन और फैट से भरी होती है, तो लिम्फैटिक सिस्टम पर ज्यादा भार रहता है और ठीक से काम नहीं कर पाता है।

  • ऐसे खाद्यों को खाना बंद कर दें जो खून को “गाढ़ा” करते हैं और द्रव्य के प्रवाह को रोकते हैं।
  • हो सके तो, उन्हीं फल और सब्जियां को खाएं जो कच्चे और मौसमी हों।

इसे भी पढ़ें: 8 बेजोड़ एक्सरसाइज जो वेरीकोस वेंस का इलाज करती हैं

 

6. शीतल स्नान करें

  • नहाकर बाहर निकलने से पहले, अपने पैरों को ठंडे पानी की धारा में भिगा लें। उन्हें गर्म पानी में डुबायें और फिर ठंडे पानी से भिगायें।
  • जब आप दर्द और थकान महसूस कर रहे हों उस समय यह तरीका तुरंत राहत देता है।
  • घंटों तक एक ही पोजीशन में रहकर समय बिताने से होने वाले नुकसान से बचने के लिए सुबह के समय भी इसे दोहरा सकते हैं।

7. विशेष प्रकार के मोज़े पहनें

सोने के लिए मोजे

इन्हें “रेस्टिंग सॉक्स” या “थेरपयूटिक सॉक्स” भी कहते हैं और इनका इस्तेमाल आमतौर पर लंबी हवाई यात्राओं के दौरान किया जाता है। ये पैरों पर दबाव नहीं डालते हैं और फ्लूइड सर्कुलेशन को बनाये रखने के साथ-साथ ख़राब लेग सर्कुलेशन को रोकते हैं।

साथ ही, हम आपको सुझाव देते हैं कि आप बहुत ज्यादा टाइट पैंट न पहनें, क्योंकि वह भी ब्लड सर्कुलेशन में रुकावट पैदा करता है।

8. नमक और चीनी के इस्तेमाल में कटौती करें

सोडियम और ग्लूकोज लिम्फैटिक और सर्कुलेटरी सिस्टम के दो दुश्मन हैं, इसलिए अपने खाने में इनकी मात्रा में कटौती करना जरूरी है।

  • नमक ब्लड प्रेशर और फ्लूइड रिटेंशन को बढ़ाता है और किडनी के काम में गड़बड़ी करता है। इसे बदलने के लिए, आप खुशबूदार जड़ी -बूटी या समुद्री नमक (कम मात्रा में) का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • चीनी इंसुलिन लेवल में गड़बड़ी करती है और आपका वजन बढ़ाती है। चाय और मिठाई को मीठा करने के लिए स्टेविया, शहद या कैरब का इस्तेमाल करें।

9. मालिश करें

मालिश करें

जब आप घर पर हों तो ख़राब लेग सर्कुलेशन को ठीक करने के लिए सेल्फ-मसाज की मदद ले सकते हैं।

नहाने के बाद (गर्म और ठंडे पानी वाली तकनीक से), अपने हाथों में रोजमेरी के तेल की कुछ बूंदें लें और दोनों हाथों पर रगड़कर अपने पैरों की उँगलियों से जांघों की तरफ दबाकर रगड़ें।

जब मालिश हो जाये, तो अपने पैरों को आधे-एक घंटे तक कुशन या दीवार के सहारे ऊपर उठाये रखें।

मुख्य फोटो सौजन्य से © wikiHow.com

यह आपकी रुचि हो सकती है ...
वेरीकोस वेंस की समस्या से छुटकारा दिलाएंगे ये नेचुरल ट्रीटमेंट
स्वास्थ्य की ओर
इसमें पढ़ें स्वास्थ्य की ओर
वेरीकोस वेंस की समस्या से छुटकारा दिलाएंगे ये नेचुरल ट्रीटमेंट

वेरीकोस वेंस यानी सूजी हुई नसें कई लोगों को न केवल दिखने में खराब लगती हैं, बल्कि ये ख़राब रक्त संचार का भी संकेत हैं। हमें इनका जल्द से जल्द उपचार...