वेरीकोस वेंस से छुटकारा दिलाएंगे ये घरेलू नेचुरल तरीके

मई 28, 2018
क्या आप वेरीकोस वेंस से छुटकारा पाना और रक्त संचार तंत्र को बढ़ावा देना चाहते हैं? स्थानीय उपचार के साथ ऐसी चीजों का सेवन करें जिनमें सूजनरोधी और रक्त जमाव-रोधी गुण हों।

वेरीकोस वेंस देखने में तो बुरी लगती ही हैं इसके अलावा ये रक्त संचार या लिम्फैटिक यानी लसिका तंत्र की समस्याओं की सूचक भी हो सकती हैं।

वेरीकोस वेंस तब दिखाई देती हैं जब रक्त संचार तंत्र में एक दिशा में काम करने वाले वाल्व, खासतौर से जो पैरों में होते हैं, ठीक से काम नहीं करते हैं। इसकी वजह से खून का ढेर लग जाता है और खून सही तरह से हृदय तक वापस नहीं जाता है।

इससे कैपिलरीज यानी केशिका वाहिकाएं चौड़ी हो जाती हैं। फिर त्वचा के नीचे जो नस होती है वह विकृत हो जाती है और लाल या नीला निशान दिखाई देता है।

ज्यादातर वेरीकोस वेंस की वजह से दर्द नहीं होता है। लेकिन उनके कारण प्रभावित जगह पर सिहरन की अनुभूति, भारीपन महसूस होना या अन्य जटिलतायें हो सकती हैं।

खुशखबरी यह है कि बहुत सारे नेचुरल उपाय उपलब्ध हैं जो आपको इससे शीघ्र राहत दे सकते हैं।

यहाँ पर हम आपको 6 बढ़िया घरेलू उपायों के बारे में बतायेंगे जो आपको वेरीकोस वेंस को अलविदा कहने में मदद करेंगे। अच्छी बात यह है कि ये ज्यादा महंगे भी नहीं हैं।

इनको अभी आजमा कर देखें!

1. वेरीकोस वेंस से छुटकारा पाने के लिए एलोवेरा इस्तेमाल करें

वेरीकोस वेंस से छुटकारा पाने का तरीका

एलोवेरा के क्रिस्टल्स आवश्यक पोषक तत्त्वों से परिपूर्ण होते हैं। ये पुष्टिकर तत्त्व आपकी त्वचा और रक्त परिवहन तंत्र के लिए स्वास्थ्यकारी होते हैं।

इसलिए बरसों से इसे सूजी हुई और दर्द करने वाली नसों को नेचुरल तरीके से ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा ये वेरीकोस वेंस से छुटकारा पाने के लिए भी बहुत अच्छा है।

क्या आप जानते हैं कि इसमें कसैलापन होता है और यह एक मॉइस्चराइजर भी है? एक बार जब आपका शरीर इसको सोख लेता है तो यह नयी वेरीकोस वेंस को बनने से रोकता है।

उपयोग करने का तरीका

  • आवश्यकता के अनुसार एलोवेरा लें और प्रभावित जगह पर हल्के से हाथ को गोल-गोल घुमाकर मलें।
  • त्वचा को द्रव सोखने दें और अगले दिन धोएं।
  • रोज रात को इस प्रक्रिया को दोहरायें जब तक आपकी परेशानी दूर नहीं हो जाती है।

2. लहसुन

लहसुन एक जादुई सुपर फूड है जिसे सालों से वेरीकोस वेंस का समग्र उपचार करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

जैसा कि आप जानते होंगे इसमें सल्फ्यूरिक कम्पाउंड प्रचुर मात्रा में मौजूद होते हैं। त्वचा में अवशोषित होने के बाद इनका जोरदार सूजनरोधी और रक्त जमावरोधी असर होता है।

उपयोग करने का तरीका

  • नींबू जूस के साथ या गर्म पानी में डालकर कच्चे लहसुन की एक कली खाएं।
  • नहीं तो कच्चे लहसुन का पेस्ट बनायें और उसमें थोड़ा सा ऑलिव ऑयल मिलाएं। फिर इस मिश्रण को वेरीकोस वेंस पर लगाकर मालिश करें।
  • इस उपचार को रोज दोहरायें।

3. हॉर्स चेस्टनट्स

वेरीकोस वेंस से छुटकारा पाने का उपाय

हॉर्स चेस्टनट वह गजब की चीज है जिसे दुनिया भर के लोग वेरीकोस वेंस से निपटने और पैरों की सूजन और दर्द को कम करने के लिए इस्तेमाल करते हैं।

इतना ही नहीं, बहुत से लोग इसका फ्लेबिटिस या नसों की सूजन को दूर करने के लिए एक वैकल्पिक उपाय जैसे उपयोग करते हैं। इसका शरीर के सरकुलेटरी सिस्टम पर सकारात्मक असर होता है।

इसमें एक और खूबी है, इसकी वजह से कुछ मरीजों की नसों के वाल्व फिर से ठीक से काम करने लगते हैं। इससे खून के लिए वापस शरीर के ऊपर के हिस्सों में जाना संभव हो जाता है।

उपयोग करने का तरीका

  • रोज एक हॉर्स चेस्टनट टैब्लेट लें।
  • हॉर्स चेस्टनट का नेचुरल अर्क बनवाएं और इसे प्रभावित जगह पर लगाकर मालिश करें।

4. ग्रीन क्ले

आपने शायद ग्रीन क्ले के बारे में नहीं सुना होगा। यह एक अद्भुत चीज है जो पैरों में वेरीकोस वेंस की वजह से होने वाली सूजन और भारी स्पंदन को रोकता है।

यह एक जबरदस्त घटक है जिसमें सूजनरोधी, कसैले और शांत करने वाले गुण पाये जाते हैं। यह शरीर के नीचे के हिस्से की नसों की सूजन को काफी कम कर सकता है।

उपयोग करने का तरीका

  • पहले गुनगुना पानी डालकर ग्रीन क्ले का स्मूद पेस्ट बनायें। फिर प्रभावित जगह पर लगायें।
  • इसे लगाने के बाद 30 मिनट के लिए अच्छी तरह सूखने दें। फिर गुनगुने पानी से धोएं।
  • इस उपचार को एक हफ्ते में कम से कम तीन बार दोहरायें।

5. पार्सले जूस

वेरीकोस वेंस से छुटकारा पाने का नेचुरल तरीका

पार्सले के रस में मूत्रवर्द्धक और सूजनरोधी गुण मौजूद होते हैं। इसलिए यह सरकुलेशन की परेशानियों का उपचार करने के लिए एक आवश्यक साधन है।

इस रस का नित्य सेवन करने से आपके पैरों के टिश्यू में एकत्र द्रव से छुटकारा पाने में मदद मिलती है। यह पूरे शरीर में रक्त संचार को प्रोत्साहित भी करता है।

उपयोग करने का तरीका

  • एक लीटर पार्सले रस बनायें और उसे दिन भर में तीन या चार बार बराबर मात्रा में पियें।
  • अगर आप इस उपचार को और भी अच्छे से करना चाहते हैं तो इस द्रव को सीधे प्रभावित जगह पर लगायें और अच्छी तरह मालिश करें ताकि वह ठीक से अवशोषित हो जाये।

6. कॉफ़ी ग्राउंड्स

अपने पसंदीदा पेय को बनाने के बाद हो सकता है कि आप भी दूसरे लोगों की तरह कॉफ़ी ग्राउंड्स को यूंही फेंक देते हैं। शायद आप इनके जोरदार गुणों से परिचित नहीं हैं जिनके कारण ये भिन्न प्रकार के वैकल्पिक उपचारों के लिए बहुत उपयोगी हैं।

उदाहरण के लिए, इसके सूजनरोधी प्रभाव की वजह से अच्छा रक्त संचार होता है और नसें चौड़ी नहीं होती हैं।

नियमित रूप से कॉफ़ी ग्राउंड्स को लगाने से त्वचा की मृत कोशिकाएं हट जाती हैं, नसों का लचीलापन बढ़ता है और आप समय से पहले बुड्ढे नहीं होते हैं।

उपयोग करने का तरीका

  • थोड़े से कॉफ़ी ग्राउंड्स लें और उनको गुनगुने पानी या ऑलिव ऑयल से गीला करें। फिर प्रभावित जगह पर लगाकर हल्के से मालिश करें।
  • उनको त्वचा पर 15 मिनट के लिए छोड़ दें। उसके बाद धोएं।
  • बेहतरीन परिणाम के लिए इस उपाय को हफ्ते में दो या तीन बार दोहरायें।

क्या आप इन घरेलू उपायों को आजमाने के लिए तैयार हैं? जैसा कि आपने देखा वेरीकोस वेंस से छुटकारा पाने के लिए बाज़ार जाकर महंगी चीजें खरीदने की कोई जरुरत नहीं है।

आप यहाँ बताये गए किसी भी उपाय को चुनें और देखें कि अपनी त्वचा पर कोई नुकसानदेह प्रोडक्ट लगाये बिना वेरीकोस वेंस का इलाज करना कितना आसान है।

Arora, M. (2017). Management of varicose veins. JK Science. https://doi.org/10.9738/INTSURG-D-14-00084.1