बाथरूम से मिनरल डिपॉज़िट हटाने के घरेलू उपाय

जून 21, 2019
अगर आपके बाथरूम में मिनरल डिपॉज़िट के दाग हैं तो इन आसान स्टेप्स से आप उनसे छुटकारा प्राप्त कर सकते हैं। आपको कहीं भी मिल जाने वाली प्राकृतिक और सस्ती सामग्री की ही ज़रुरत पड़ेगी।

आपके बाथरूम में कई चीज़ों पर दाग के निशान छोड़ जाने वाला कैल्शियम ही मिनरल डिपॉज़िटों के लिए ज़िम्मेदार होता है। अपनी एलर्जी या उन पर होने वाले अपने खर्चे की वजह से अगर आपको औद्योगिक सामग्री का इस्तेमाल करना अच्छा नहीं लगता तो घर पर उपलब्ध चीज़ों के इस्तेमाल से मिनरल डिपॉज़िटों को हटाने के घरेलू नुस्खों की तरफ हम आपका ध्यान खींचना चाहेंगे।

ऐसे कई लोग होते हैं, जिन्हें अपने बाथरूम को बिल्कुल साफ़-सुथरा रखना अच्छा लगता है। हमेशा पानी के संपर्क में रहने और अन्य कमरों जैसी वेंटिलेशन न होने की वजह से बाथरूम आसानी से गंदे हो जाते हैं।

इसीलिए सफाईपसंद लोगों के लिए बाथरूम किसी दैनिक चुनौती जैसे होते हैं। नलों, शावरों और शीशों के दुश्मन, यानी कि मिनरल डिपॉज़िटों के जमा हो जाने पर स्थिति और भी खराब हो जाती है। इन नुस्खों का इस्तेमाल कर आप घर पर रखे सामान की मदद से मिनरल डिपॉज़िटों से छुटकारा पा सकते हैं।

मिनरल डिपॉज़िटों के बनने का क्या कारण होता है?

नलों से आने वाले पानी में कैल्शियम, आयरन और मैग्नीशियम जैसे खनिज पदार्थ मौजूद होते हैं। इस पानी के छींटें अक्सर इन सतहों पर जमा हो जाते हैं। इसीलिए हमारे बाथरूम के फर्श पर अक्सर उन सफ़ेद या पीले-से दाग-धब्बों की भरमार लग जाती है।

खनिज के इस जमाव के एक और परिणाम को हमारे बाथरूम के कई हिस्सों में लगने वाली जंग के रूप में देखा जा सकता है। पानी में मौजूद आयरन के हवा के संपर्क में आने से वह ऑक्सीडाइज़ होकर धब्बे छोड़ जाती है।

इसे भी पढ़ें:  शावर के फव्वारे में पानी का दबाव बढ़ाने के आसान तरीके

मिनरल डिपॉज़िटों को हटाने के घरेलू उपाय

बाथरूम के टाइलों पर जमा मिनरल डिपॉज़िटों को कैसे हटाएं

बात जब उन्हें साफ़ करने की आती है तो आप मिनरल डिपॉज़िटों को हटाने के लिए केमिकल प्रोडक्ट्स खरीद सकते हैं। लेकिन ऐसे प्राकृतिक विकल्प भी हैं, जो कम क्षयकारी और स्वास्थ्य के लिए कम हानिकारक होने के साथ-साथ कम दाम में भी भी मिल जाते हैं। उनमें से कुछ हैं:

1. बेकिंग सोडा और सिरका या नींबू का रस

आसानी से मिलने वाली इस सामग्री और एक स्पंज के साथ आप अपने सिंक में जमा मिनरल डिपॉज़िटों को फ़ौरन हटा सकते हैं। बस इन स्टेप्स का पालन करें:

  • एक स्पंज का भिगोकर उसमें थोड़ा बेकिंग सोडा डाल दें।
  • गंदी सतहों को तब तक उससे साफ़ करते रहे, जब तक कि उन पर जमा खनिज गायब न हो जाएं।
  • स्पंज को धोकर बेकिंग सोडा को हटाने के लिए सतहों को दुबारा साफ़ करें।
  • नलों के किनारों पर लगे दाग-धब्बों को हटाने के लिए किसी टिशू पेपर पर थोड़ा सिरका या नींबू का रस छिड़क लें।
  • गंदी जगह पर टिशू को लपेटकर उसे रातभर ऐसे ही छोड़ दें।
  • अगली सुबह, बचे-खुचे दाग-धब्बों को स्पंज से हटा दें।
  • इन्हीं स्टेप्स का पालन कर आप टाइल्स की सफाई भी कर सकते हैं।

बेकिंग सोडा किसी भी सतह को नुकसान पहुंचाए बगैर उसकी सफाई कर देता है। सिरके और नींबू के रस ही की तरह वह भी बैक्टीरिया को मार देता है। बेकिंग सोडा भी ज़हरीला नहीं होता। लेकिन आपको एलुमिनियम पर सिरके और नींबू का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने से उसमें जंग लग सकती है।

2. सिरके से टॉयलेट की सफाई करें

बाथरूम में अगर कहीं सबसे ज़्यादा बैक्टीरिया होता है, तो वह है टॉयलेट के अंदर। इसीलिए बैक्टीरिया से उत्पन्न होने वाली अलग-अलग तरह की बीमारियों को फैलने से रोकने के लिए नियमित रूप से अपने टॉयलेट्स की सफाई करना ज़रूरी होता है

अगर आप अपने टॉयलेट से मिनरल डिपॉज़िटों को हटाना चाहते हैं तो ऐसा करने का एक कारगर तरीका है। अपने गुणों के कारण यहाँ हम नींबू के रस या सिरके का इस्तेमाल कर सकते हैं

कुछ लोग इन तरल पदार्थों के इस्तेमाल से पहले ही टॉयलेट को फ्लश कर देते हैं। लेकिन हम आपको ऐसा न करने की सलाह ही देंगे। इन तरल पदार्थों को लगाकर कुछ घंटों के लिए छोड़ दें

जिद्दी दागों को साफ़ करने के लिए आप किसी कपड़े का प्रयोग कर सकते हैं।  दुबारा सिरका या नींबू का रस लगाकर आपको इस पूरी प्रक्रिया को दोहराना भी पड़ सकता है।

अगर इससे भी काम न बने तो आप किसी झांवें (पमिस स्टोन) का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। टॉयलेट से दाग-धब्बे हटाने में वह आपकी मदद करेगा। लेकिन टॉयलेट के सूखा होने पर उसका इस्तेमाल न करें क्योंकि इससे पोर्सिलेन टूट सकता है। फ्लश को धीरे-धीरे रगड़कर अपनी समस्या से निजात पाएं।

इसे भी पढ़ें:  4 नायाब डेकोरेशन आईडिया छोटी किचन के लिए

3. सोडा से टॉयलेट की सफाई करें

कोका-कोला से अपने टॉयलेट की सफाई करें

आप मानें या न मानें, लेकिन आप अपने टॉयलेट की सफाई सोडा के एक कैन से भी कर सकते हैं। अगर आप इस तरकीब को आज़माना चाहते हैं तो इन निर्देशों का पालन करें:

  1. टॉयलेट को फ्लश कर दें ताकि उसका पानी ज़्यादा से ज़्यादा साफ़ हो।
  2. टॉयलेट में सोडा डालकर उसे आधे घंटे के लिए छोड़ दें।
  3. उसे ब्रश से एक या दो बार साफ़ कर बीच-बीच में फ्लश चलाते रहें ताकि टॉयलेट का पानी बिल्कुल साफ़ हो जाए।

4. शीशों से मिनरल डिपॉज़िटों को हटाएं

बाथरूम के शीशों पर पानी के छींटें पड़ने से उन पर भी खनिज जमा हो सकता है। पर इन्हें हटाना काफ़ी आसान होता है।

सिरके को पानी में मिलाकर उसे पतला बना लें (पानी की मात्रा सिरके से चार गुना ज़्यादा होनी चाहिए) व फिर उसे शीशों पर छिड़क दें। उसे साफ़ करते ही किसी करिश्मे की तरह सारे सफ़ेद धब्बे गायब हो जाएंगे।

खनिज को जमा होने से रोकें: नलों और टाइलों पर आप मिनरल डिपॉज़िटों को बनने से भी रोक सकते हैं। पानी से खनिज पदार्थ हटाने के लिए आप नलों पर फ़िल्टर लगवाने के साथ-साथ मिनरलों को जमा होने से रोकने के लिए अपने बाथरूम की रोज़ाना सफाई कर सकते हैं।

अपने घर को साफ़-सुथरा रखना आसान तो नहीं, लेकिन आवश्यक ज़रूर होता है। अपने बाथरूम से मिनरल डिपॉज़िटों को हटाने की इन तकनीकों का इस्तेमाल कर आप उसे सूखा व पानी-रहित रख सकते हैं।

Jones, D. (1995). Hard water. Nature. https://doi.org/10.1038/377106a0

Georgiou, D., Bendos, D., Kalis, M., & Koutis, C. (2018). Removal and/or prevention of limescale in plumbing tubes by a radio-frequency alternating electric field inductance device. Journal of Water Process Engineering. https://doi.org/10.1016/j.jwpe.2017.12.013