वॉशर की सफाई और इसके रख-रखाव की 4 तरकीबें

साफ़-सुथरी वाशिंग मशीन वह खुशमिज़ाज वॉशर है जो आने वाले कई सालों तक आपके कपड़े धोती रहेगी। वाशिंग मशीन और वॉशर की सफाई और इसके रख-रखाव के लिए इन 4 सलाहों पर ध्यान दें।
वॉशर की सफाई और इसके रख-रखाव की 4 तरकीबें

आखिरी अपडेट: 21 मई, 2018

हमारे घर के सभी उपकरणों को नियमित साफ़-सफाई की जरूरत होती है। भले ही वे किसी अन्य सामान की साफ़-सफाई में काम क्यों न आते हों। वाशिंग मशीन ऐसा ही उपकरण है। इसका बहुत अधिक इस्तेमाल होता है। वॉशर की सफाई और इसके रख-रखाव की ओर ध्यान न देने से यह अपना काम सही ढंग से नहीं कर पाएगी और आपके कपड़े  साफ़ नहीं हो पाएँगे।

वॉशर ज्यादातर समय मॉइस्चर को झेलता है। फफूंद और साबुन जमा हो जाना आम बात है। शुरुआत में अगर आपने इसे अनदेखा किया तो समय बीतने के साथ साथ यह एक बड़ी समस्या बन जाएगी। आपके कपड़ो से गन्दी बदबू आएगी।
वाशिंग मशीन की नियमित देखरेख से इस प्रकार की झुंझलाहट से बचा जा सकता है। साथ ही इसके सभी हिस्सों और पुर्जों को भी उम्दा हाल में रखा जा सकता है।
इस लेख  में हम वॉशर की सफाई और इसके रख-रखाव के 4 तरीकों की बात करेंगे। इससे आपकी वाशिंग मशीन हमेशा अच्छे हाल में रहेगी और कपड़े भी बेहतरीन तरीके से साफ़ होंगे।

  1. सामान्य रूप से वॉशर की सफाई और इसकी देखरेख

 
वॉशर की सफाई और इसके रख-रखाव

गरम पानी और सेब के सिरके का घोल वॉशर की सफाई का एक बहुत ही बढ़िया उपाय है। यह मुश्किल दाग-धब्बे मिटाने के साथ-साथ कीटाणु और फफूंद को ख़त्म करता है।

फफूंद और गन्दी बदबू को रोकने के लिए इसका महीने में एक बार उपयोग करना एक अच्छा विचार है।

सामग्री

  • गरम पानी
  • 1/2 कप सेब का सिरका

उपयोग के निर्देश

  • वॉशर में गरम पानी डालें। इसमें सेब का सिरका मिलाएँ और मशीन को थोड़ी देर के लिए चलने दें।
  • एक बार जब ये प्रक्रिया पूरी हो जाए तो वॉशर का ढक्कन खोलें। एक घंटे तक उसे सूखने के लिए छोड़ दें।

2. फ़िल्टर की सफाई

वॉशर का फ़िल्टर उसके ड्रम के अन्दर होता है। वॉशर की सफाई में यह सबसे पेचीदा हिस्सा होता है। यहाँ पर सतर्क रहकर ध्यान देने की जरूरत होती है। फ़िल्टर के मामले में यह अहम नहीं होता कि किस प्रोडक्ट का उपयोग किया जा रहा है। अहम बात फ़िल्टर की सफाई होती है और यदि उसके अन्दर कुछ फंसा हुआ है तो उसे हटाना होता है।

उपयोग के निर्देश

  • प्लग से वाशिंग मशीन का तार निकालें। सुनिश्चित करें कि मशीन पूरी तरह से खाली हो। फ़िल्टर का कवर हटाएं।
  • इसे पूरी तरह से हटाने के लिए ऊपर की ओर स्क्रॉल करें।
  • फिल्टर में से किसी भी तरह के फाइबर, कागज़, गंदगी या किसी भी अन्य फंसी हुई वस्तु को निकालें।
  • अब एक पेचकश लें और इसका इस्तेमाल टरबाइन को घुमाने के लिए करें जिससे अन्दर की ओर फंसे किसी भी मलबे को हटाया जा सके।
  • इसके बाद इस्तेमाल से पहले वापस फ़िल्टर को ठीक से लगा दें जिससे पानी अन्दर की ओर न रिसने पाए।

3. सील की सफाई

वॉशर की सफाई और इसके रख-रखाव की 4 तरकीबें

फफूंद और गन्दी बदबू रबर की सील से आती है। यही वह जगह है जहाँ नमी इकठ्ठी होती है।

वैसे तो आप हर धुलाई के बाद इस जगह को साफ़ रख सकते हैं , लेकिन कुछ नमी हमेशा रह जाएगी और जल्दी या बाद में इससे समस्या होगी।

कीटाणुओं और फफूंद को मारने के लिए हम हाइड्रोजन पेरोक्साइड और नींबू के एंटीसेप्टिक गुणों का फ़ायदा उठाएँगे।

सामग्री

  • 3 चौथाई पानी
  • 1/4 कप नींबू का रस
  • 1 कप हाइड्रोजन पेरोक्साइड

निर्देश

  • ताज़े नींबू से रस निकालें और तुरंत पानी और हाइड्रोजन पेरोक्साइड के साथ एक बाल्टी में मिलाएं।
  • ध्यान से देखें की सील की स्थिति क्या है ताकि उसे दोबारा आसानी से लगाया जा सके।
  • जब आप फफूंद देखें तो उस पर नींबू वाला कीटाणुनाशक डालें और एक स्पंज से पोंछ लें।
  • सील के चारों तरफ सफाई करें ताकि फफूंद को पूरी तरह से हटाया जा सके।
  • सील को बदलने से पहले घोल को एक बार दोबारा छिड़कें और एक सूखे कपड़े से पोंछ लें।

4. साबुन और फैब्रिक सॉफ़्नर डिस्पेंसर की सफाई

वॉशर

अक्सर साबुन और फैब्रिक सॉफ़्नर डिस्पेंसर में बहुत सारे अवशेष जमा हो जाते हैं। ख़ासतौर से जब आप डिटर्जेंट पाउडर का उपयोग करते हैं।

इन्हें साफ़ करना आसान भी है और जरूरी भी। क्योंकि इनके किनारों पर गन्दगी जमा होकर सड़ सकती है। इससे ख़राब बदबू आ सकती है।

सामग्री

  • 1 कप सिरका
  • 1 चौथाई गरम पानी

निर्देश

  • सिरके को गरम पानी में घोल लें।
  • डिस्पेंसर को सुखा दीजिए और इन्हें घोल में 10 मिनट के लिए डुबो कर रखिए।
  • इन्हें सफाई से पोछें और सुखा दें।
  • यदि आपके डिस्पेंसर ऐसे है जिन्हें निकाला नहीं जा सकता तो इस घोल को उन पर छिड़क कर एक साफ़ स्पंज से पोंछ लें।

वॉशर की सफाई और इसकी देखरेख का अंतराल

वॉशर में गंदगी और फफूंद बहुत जल्दी जल्दी जमा हो जाते हैं। इसलिए वॉशर की देखरेख की तरकीबों को कम से कम महीने में दो बार दोहराना है। इससे ये अच्छे हाल में काम करेगा।

इसके अलावा हर बार जब आप कपड़े धो चुके हों, मशीन के ढ़क्कन को खुला छोड़ दीजिये। इससे अन्दर की नमी सूख जायेगी।