5 लाजवाब तरीके: इनसे बेडरूम को कीटाणुमुक्त रखें

यदि रात के समय आपको गले में तकलीफ़ होती है, आँखों में जलन होती है या ठीक से नींद न आती हो, तो आपको शायद अपने बेडरूम को कीटाणुरहित करने की आवश्यकता है।
5 लाजवाब तरीके: इनसे बेडरूम को कीटाणुमुक्त रखें

आखिरी अपडेट: 21 सितम्बर, 2018

रात में अच्छी नींद सोने के लिए अपने बेडरूम को कीटाणुमुक्त रखना अहम है। लेकिन बेडरूम को सिर्फ नेचुरल तरीकों से ही रोगाणुओं से मुक्त करने की कोशिश करनी चाहिए।

अक्सर हम सोचते हैं, शयनकक्ष में बिछी चादरों को धोना और साफ़ करना ही काफी है। लेकिन इतना ही करना पर्याप्त नहीं है।

हम हर रात बेडरूम में कई घंटे बिताते हैं। इससे कुछ सूक्ष्मजीवों के लिए हमारा बेडरूम आदर्श जगह बन जाता है। यहाँ इनकी मौजूदगी से कई स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याएं खड़ी हो सकती हैं।

आप जानते होंगे, बैक्टीरिया, फंगस और घुन की प्रतिरोधी क्षमता बहुत मज़बूत होती है। आप कितनी भी साफ़-सफ़ाई क्यों न कर लें, इनसे छुटकारा पाना बड़ा मुश्किल होता है। इनसे छुटकारा पाने के लिए आपको अपनी चीज़ों को कीटाणुरहित बनाए रखना पड़ता है।

इनमें से कुछ तो एलर्जी, जकड़न और असहजता का कारण बन सकते हैं। ठीक से नींद न आने की समस्या भी हो सकती है। चाहे जो भी हो, आपके अच्छे स्वास्थ्य के लिए निर्विघ्न नींद पूरी होना बेहद ज़रूरी है। अपने बेडरूम को कीटाणुरहित बनाने से आप साँस से जुड़ी अनेक तकलीफ़ों से भी बच सकते हैं।

यह भी महत्वपूर्ण है कि कीटाणुओं से निजात पाने के लिए आप नेचुरल प्रोडक्ट का ही इस्तेमाल करें। कई कीटाणुनाशक बहुत कठोर और हानिकारक होते हैं। ये आपकी सेहत को खतरे में डाल सकते हैं। यदि घर में छोटे बच्चे या पालतू जानवर हों, तो आपको नुकसान पहुँचाने वाले कीटाणु-नाशकों के उपयोग से बचना चाहिए। छोटे बच्चे या पालतू जानवर, दोनों ही ऐसे प्रोडक्ट के प्रति ज़्यादा संवेदनशील होते हैं।

बेडरूम को कीटाणुमुक्त रखने के 5 नेचुरल तरीके

अपने बेडरूम को कीटाणुरहित बनाने के लिए आपको वहाँ मौजूद हर चीज़ पर ध्यान देना होगा। केवल चादरों को धोने से काम नहीं चलेगा। कमरे के हर कोने पर गौर करना होगा।

बेडरूम को कीटाणुमुक्त रखने के तरीके

सरसरी निगाह से देखने पर आपको नज़र नहीं आएगा, लेकिन हर दिन की धूल-मिट्टी, बैक्टीरिया, घुन आदि एलर्जी उत्पन्न करने वाले कणों को एकत्रित करते जाते हैं। इससे आपको परेशानी हो सकती है और नींद पर भी बुरा प्रभाव पड़ सकता है।

इसलिए, बेहद ज़रूरी है कि थोड़ा समय निकालकर आप अपने बेडरूम को कीटाणुओं से मुक्त करने के लिए कुछ ठोस कदम उठाएँ।

1. चादरों और कम्बल की सफ़ाई बनाए रखें

सबसे पहले याद रखें कि आपको रोज़ अपना बिस्तर झाड़ना चाहिए। बिस्तर पर बिछी चादरों का हर हफ्ते धोया जाना ज़रूरी है। थोड़े समय के अंतराल पर कम्बल, रजाई, गद्दों पर चढ़े लिहाफ़ आदि को भी साफ़ करना चाहिए। इनमें भी धूल-मिट्टी एकत्रित होती है।

इस तरह से साफ़-सफ़ाई की शुरुआत करें:

  • बिस्तर पर चढ़ी सभी चादरों, लिहाफ़ों को साबुन से धोएं।
  • हर दिन बिस्तर को अच्छी तरह से झाड़ें।
  • धूल-कणों से छुटकारा पाने के लिए वैक्यूम क्लीनर का इस्तेमाल करें।

इसे भी आजमायें: मैट्रेस के दाग-धब्बों और दुर्गंध को प्राकृतिक रूप से कैसे हटाएँ

2. गद्दों से नेचुरल तरीके से कीटाणुओं को खत्म करने का प्रयास करें

बेडरूम को कीटाणुमुक्त रखें: गद्दों के कवर को बदलें

गद्दों के दूषित होने की संभवना बहुत अधिक होती है। ये आपके बेडरूम का वे हिस्से हैं, जिन पर ख़ास ध्यान दिया जाना चाहिए। ये रात के समय आपके शरीर से निकलने वाले पसीने को सोख लेते हैं। इनमें धूल भी एकत्रित हो जाती है। इन्हें कीटाणुओं से मुक्त करने के लिए आपको घर पर तैयार किये गए एक सरल उपाय को उपयोग में लाना है।

सामग्री

  • आधा कप बेकिंग सोडा  (125 ग्राम)
  • यूकेलिप्टस एसेंशियल ऑइल / नीलगिरी का तेल (10 बूँदें)

तैयारी

  • एक बर्तन में बेकिंग सोडा डालें।
  • इसमें 10 ग्राम यूकेलिप्टस एसेंशियल ऑइल मिलाएँ।
  • अब इसे अच्छी तरह मिलाकर 5 मिनट के लिए ऐसे ही छोड़ दें।

इस्तेमाल सम्बंधी निर्देश

  • सबसे पहले इस मिश्रण को पूरे गद्दे पर छिड़क लें।
  • अब इसे 1 घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ दें।
  • इसके बाद वैक्यूम क्लीनर से सफ़ाई करें।
  • अंत में गद्दे पर लिहाफ़ चढ़ा दें।

3. खिड़कियाँ और पर्दे साफ़ रखें

बेडरूम को कीटाणुमुक्त रखने के लिए पर्दों को साफ़ रखें

पर्दे कमरे के लुक को निखारने का काम करते हैं। रंग-बिरंगे होने और कमरे की साज-सज्जा बढ़ाने के अलावा ये खिड़कियों से आने वाली रोशनी पर भी रोक लगाते हैं। कमरों की खिड़कियों या दरवाज़े के पास लटके होने के कारण ये धूल-मिट्टी को भी रोकते हैं।

यही कारण है कि इन पर आसानी से गर्द जम जाती है। आपको इन्हें महीने में एक बार ज़रूर धोना चाहिए और वापस लटकाने से पहले खिड़कियों को भी अच्छी तरह साफ़ कर लेना चाहिए।

इसे भी आजमायें: अपने गद्दों और तकियों को कीटाणुमुक्त और स्वच्छ रखने के तरीके सीखें

4. नेचुरल तरीकों से फ़र्श की सफाई करें

हमारे न चाहते हुए भी सारी गन्दगी फ़र्श पर आकर गिरती ही है। इसलिए ज़रूरी है कि साफ़ और स्वस्थ्य वातावरण बनाए रखने के लिए समय-समय पर कमरे के फ़र्श को कीटाणु-नाशकों के इस्तेमाल से साफ़ किया जाए।

फ़र्श की सफाई करने के लिए हमेशा सिरके और नींबू का इस्तेमाल करें। सिरके के इस्तेमाल से कीटाणुओं का नाश होता है और नींबू से सुखद सुगंध बनी रहती है।

सामग्री

  • एक बाल्टी गर्म पानी  (3 लीटर)
  • सेब का सिरका (10 मिलीलीटर)
  • नींबू का रस  (5 मिलीलीटर)
  • पोछा या सफाई के लिए इस्तेमाल में लाया जाने वाला स्क्रबर
  • वैक्यूम क्लीनर या झाड़ू
बेडरूम को कीटाणुमुक्त रखे नीबू का रस

तैयारी

  • बाल्टी में पड़े गर्म पानी में सिरका मिलाएँ।
  • इसमें नींबू का रस मिलाएँ।
  • अब इसे अच्छी तरह से मिला लें।
  • इसके बाद पोछे को इस मिश्रण में डुबोएं।

इस्तेमाल से जुड़ा निर्देश

  • सबसे पहले फ़र्श पर झाड़ू लगा लें।
  • इसके बाद पोछा लगाएँ।
  • अंत में, इसे सूखने के लिए छोड़ दें।

5. पौधों से हवा को शुद्ध करें

बेडरूम को कीटाणुमुक्त रखने में पेड़-पौधों का योगदान

पौधों से कमरे में सामंजस्य और शांति का अनुभव होता है। ये हवा को भी शुद्ध करते हैं। आप अपने बेडरूम में कुछ पौधे रख सकते हैं।

कुछ ऐसे पौधे जो हवा को शुद्ध बनाए रखने के साथ-साथ अच्छी नींद दिलाने में भी सहायक होते हैं, ये हैं:

  • चमेली
  • लैवेंडर
  • गार्डेनिया
  • कैक्टस
  • वलेरिअना

इन युक्तियों को आज़मा कर देखें। आपको बहुत कम समय में बेहतरीन परिणाम मिलेंगे!

It might interest you...
9 चीज़े जिन्हें अपने बेडरूम में रखने से बचें
स्वास्थ्य की ओरइसमें पढ़ें स्वास्थ्य की ओर
9 चीज़े जिन्हें अपने बेडरूम में रखने से बचें

क्या आप जानते हैं कि ऐसी कुछ चीज़ें हैं, जो आपको अपने बेडरूम में नहीं रखनी चाहिए? अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक कर हमारा आर्टिकल पढ़ें।