अपनी गर्दन और डबल चिन को टोन करने के बेहतरीन उपाय

22 नवम्बर, 2018
एक पौष्टिक आहार और पानी के सेवन की अपनी मात्रा को बढ़ाकर अपने शरीर के इस भाग को आप हाइड्रेटेड रख सकते हैं। रोज़ाना इन कसरतों को करके आप अपनी डबल चिन को घटा सकते हैं।

हमारी ठोड़ी के नीचे जमा चर्बी या फ़िर लगातार बढ़ते-घटते वज़न से ठोड़ी की लटकती त्वचा को डबल चिन कहा जाता है।

कई लोगों के लिए यह उनके आत्मविश्वास पर बुरा असर डालने ब्यूटी प्रॉब्लम जैसी होती है।

लेकिन आपको इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए, डबल चिन का होना उस कार्डियोमेटाबोलिक जोखिम की तरफ इशारा करता है, जिसकी आपको  अनदेखी नहीं करनी चाहिए

इसलिए अपने वज़न को काबू में रखने के लिए जीवन शैली में बदलाव लाकर अच्छी आदतों को अपनाना बहुत ज़रूरी होता है।

इसके अलावा, कुछ कसरतें और छोटी-मोटी टिप्स का पालन करने से भी आप चर्बी के जमाव को कम कर अपनी त्वचा के रंग में सुधर ला सकती हैं।

आइए उनपर एक नज़र डालते हैं!

डबल चिन को कम कर गर्दन को टोन करने वाली एक्सरसाइज और टिप्स

हमारे चेहरे और गर्दन की कई मांसपेशियां उन पर चढ़ी त्वचा को ढीली नहीं होने देतीं।

उनकी बदौलत अपनी जवानी में आप झुर्रियों से बचे रहते हैं व आपकी ठोड़ी वाली जगह में फैट का जमाव कम हो जाता है

लेकिन ज़्यादातर लोग इस बात को नज़रंदाज़ कर देते हैं, शरीर की बाकी मांसपेशियों की ही तरह ठोड़ी को भी लगातार एक्सरसाइज की ज़रूरत होती है।

आख़िर लचीली, मज़बूत और सुडौल बने रहने के लिए हमारी त्वचा को अतिरिक्त पोषण चाहिए।

इन बातों को ध्यान में रखते हुए आपके लिए हमने एक आसान-सी दिनचर्या बनाई है। साथ ही, हमारे पास आपके लिए दो ख़ास सुझाव भी हैं ताकि आप अपने लक्ष्य को आसानी से हासिल कर सकें।

इसे भी पढ़ें: 7 एक्सरसाइज कुछ ही दिनों में कमर ट्रिम करने वाली

एक्सरसाइज़ #1

डबल चिन के लिए चेहरे की कसरत
  • पीठ सीधी व मुंह को बंद रखते हुए खड़े रहकर जीभ को गोल-गोल घुमाते हुए अपने मुंह के ऊपरी हिस्से को छुएं
  • इस कसरत को 10 बार दोहराते हुए रोज़ाना 3 बार करें।

एक्सरसाइज़ #2

  • किसी आरामदायक जगह पर बैठकर रिलैक्स करें। ध्यान रहे, आपकी पीठ बिल्कुल सीधी होनी चाहिए।
  • उसके बाद सभी स्वरों (अंग्रेज़ी की वॉवल्स) को खींच-खींचकर बोलें, ताकि आपका मुंह ज़्यादा से ज़्यादा खुल सके।
  • इस एक्सरसाइज को 10 बार दोहराते हुए दिन में दो से तीन बार करें।

एक्सरसाइज़ #3

डबल चिन से निपटने के लिए गर्दन की कसरत
  • किसी आरामदायक कुर्सी पर बैठकर पीठ को सीधी और अपनी बाहों को क्रॉस कर लें।
  • गर्दन को दूर तक आगे झुकाकर धीरे-धीरे उसे दायीं या बायीं ओर मोड़ लें
  • अपनी मुद्रा को दो सेकंड तक बनाए रखकर अपनी पुरानी पोज़ीशन में लौट आएं। फिर उसी हरकत को दूसरी दिशा में करें।
  • इस प्रक्रिया को रोज़ाना 10 बार दोहराएं।

कसरत #4

  • अपनी गर्दन की मांसपेशियों को पूरी तरह से कसकर अपनी भौंहों को ऊपर की तरफ़ खींचने की कोशिश करें।
  • इस प्रक्रिया को 5 बार दोहराते हुए दिन में दो से तीन बार तक करें।

कसरत #5

च्यूइंग गम और डबल चिन
  • अपनी मनपसंद च्यूइंग गम खरीदकर उसे अपनी गर्दन और चेहरे की मांसपेशियों पर अपना जादू दिखाने दीजिए।
  • कम से कम 10 मिनट तक उसे लगातार ज़ोर-ज़ोर से चबाते रहें
  • इस कसरत को दिन में दो से तीन बार दोहराएं।

इसे भी पढ़ें: 7 आम गलतियां जो फेस वाश के समय आप अक्सर करती हैं

गर्दन को टोन करने के लिए हाइड्रेशन

अपनी गर्दन को टोन करने के लिए आपको ज़्यादा से ज़्यादा पानी पीने के साथ मॉइस्चराईज़िग प्रोडक्ट का भी इस्तेमाल करना होगा

डिहाइड्रेशन से बचने और अपनी त्वचा के कोने-कोने तक ज़्यादा से ज़्यादा ऑक्सीजन पहुँचाने के लिए दिन में 6 से 8 गिलास पानी पिएं।

गर्दन की लटकती त्वचा और डबल चिन को कम करने के लिए त्वचा को कसने वाली खूबियों से युक्त किसी मॉइस्चराइज़िग क्रीम का इस्तेमाल करें।

फलों और सब्ज़ियों के ज़्यादा सेवन से भी आपको फायदा होगा। उनके एंटीऑक्सीडेंट गुण आपकी त्वचा में सुधार जो लाते हैं।

गेहूं के बीज वाले तेल की मालिश

वीट जर्म ऑइल से डबल चिन को अलविदा कहें

डबल चिन पैदा करने वाली ढीली त्वचा को कसने में गेहूं के बीज का तेल (वीट जर्म ऑइल) काफ़ी फायदेमंद होता है।

त्वचा में नमी लाकर उसे टोन करने और कसने वाले पोषक तत्व, यानी विटामिन E इस तेल में भरपूर मात्रा में मौजूद होता है।

अपनी उँगलियों को धीरे-धीरे दबाते हुए अपनी ठोड़ी से लेकर गर्दन के निचले भाग को सहलाएं।

सुबह उठने के बाद और रात को सोने से पहले इस कसरत को करें।

सेब और चुकंदर का जूस

नियमित रूप से इस प्राकृतिक जूस को पीने से आपके शरीर से टॉक्सिक पदार्थ बाहर हो जाते हैं और तरल एक जगह पर जमा नहीं होता। डबल चिन के आख़िर यही तो कारण होते हैं।

कम कैलोरीज़ और ज़्यादा एंटीऑक्सीडेंट वाले इस जूस से लोगों का पेट इतना भरा-भरा रहता है कि ज़्यादा खाने की उनकी इच्छा काबू में रहती है।

सामग्री

  • दो सेब
  • आधा चुकंदर
  • आधा गिलास पानी (100 मिलीलीटर)

बनाने की विधि

  • सेब और चुकंदर को एक-एक कर किसी जूसर में रख दें।
  • दोनों जूस को किसी ब्लेंडर में डालकर उनमें आधा गिलास पानी डाल दें।
  • हफ़्ते में कम से कम तीन बार उसे अपने नाश्ते से पहले पिएं।

इस बात का ध्यान रखें कि नियमित रूप से पालन किए जाने पर ही ये सभी सुझाव कारगर होंगे।

इनके नतीजे एकदम से सामने नहीं आते और वे व्यक्ति दर व्यक्ति अलग होते हैं।