7 लक्षण जो बताते हैं, आपको तुरंत पानी पीना चाहिए

12 नवम्बर, 2018

हमें प्यास लगना इस बात का संकेत होता है कि हमारे शरीर में पानी की कमी होने लगी है। ऐसी नौबत न आने दें। लगातार पानी पीते रहें ताकि आपका शरीर सुचारू रूप से कम कर सके।

दिन में आपको कम से कम डेढ़ लीटर पानी पीना चाहिए। मगर ऐसे भी बहुत से लोग हैं, जो अपने शरीर को हाइड्रेट करने वाली इस सलाह का पालन नहीं करते।

आमतौर पर अगर आप ज़्यादा पानी नहीं पीते तो हो सकता है कि आपका शरीर आपको कुछ संकेत दे रहा हो। फ़ौरन पानी पी लेने के उन संकेतों पर आइए एक नज़र डालते हैं।

1. मुंह का सूखापन

पानी की कमी की वजह से मुंह का सूखापन

अगर थोड़ी-थोड़ी देर बाद आपका मुंह सूखने लगता है तो शायद आपको बस पानी पीने की ज़रुरत है।

कुछ पी लेने से आमतौर पर मुंह के सूखेपन से निपटा जा सकता है। लेकिन इस काम में सभी तरल कारगर नहीं होते। खासकर पानी का तो इसमें कोई सानी नहीं होता।

जहाँ तक बात मीठी ड्रिंक्स की है तो उनसे आपको बस कुछ ही देर की राहत मिलती है। आपके मुंह और गले में मौजूद म्यूकस मेम्ब्रेन्स को वे गीला नहीं कर पाती और नतीजतन आपका शरीर ज़रूरतानुसार हाइड्रेट नहीं हो पाता।

ध्यान रखें कि इस लक्षण के महसूस होने पर आप किसी और तरल का सेवन न कर बस पानी ही पिएं।

इसे भी पढ़ें: थोड़ी-थोड़ी देर में पेशाब क्यों आता है?

2. रूखी-सूखी त्वचा

पानी न पीने से हमारी त्वचा सूखने लगती है

पानी की कमी की वजह से पैदा होने वाले सबसे साफ़-साफ़ दिखाई देने वाले लक्षणों की सूची में शायद त्वचा के सूखेपन का भी नाम आता है।

आपको यह बात नहीं भूलनी चाहिए कि आपकी त्वचा आपके शरीर का सबसे बड़ा अंग होती है व आपको उसका भी उतना ही ख्याल रखना चाहिए, जितना आप अपने शरीर के बाकी हिस्सों का रखते हैं। इस बात की कभी-कभी हम अनदेखी कर देते हैं।

अगर आप त्वचा के सूखेपन से परेशान हैं तो आपको इस बात को समझ लेना चाहिए कि पानी की कमी उसके सबसे प्रमुख कारणों में से एक होती है। इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं।

डिहाइड्रेशन की वजह से आपका शरीर अपनी सफ़ाई नहीं कर पाता। अत्यधिक चरबी को निकाल बाहर कर पाने की अपनी क्षमता से हाथ धोकर वह पसीने के तौर पर हमारे शरीर की गर्मी को नियंत्रित कर पाने में भी असमर्थ हो जाता है।

पानी पीकर इन सभी बातों से बचा जा सकता है।

3. आँखों का सूखापन

पानी न पीने से आपकी आँखें थकी-थकी रहती हैं

आँखों की खुजली या सूखापन इस बात का एक और लक्षण होता है कि आपके शरीर को पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं मिल रहा है।

तो अगर आपकी आँखें लाल हो जाएँ और उनके कोने आपको सूखे-सूखे महसूस होने लगें, तो इसके पीछे डिहाइड्रेशन का हाथ हो सकता है। इससे आपकी आँखों पर असर पड़ने लगता है, खासकर अगर आपको चश्मा लगा हो।

4. जोड़ों के आसपास उठता दर्द

जोड़ों के इर्द-गिर्द उठते दर्द के पीछे पानी की कमी का हाथ

अगर आपको अपने जोड़ों में दर्द महसूस हो रहा है तो इसके लिए आपकी त्वचा में पानी की कमी ज़िम्मेदार हो सकती है।

कार्टिलेज डिस्क्स जैसे कई जोड़ों में 80% पानी होता है। इसीलिए अपने जोड़ों को घिसने से बचाने के लिए आपको अपने शरीर में पानी की एक अच्छी-खासी मात्रा बनाए रखनी चाहिए।

पानी का एक उचित स्तर बनाए रखकर ही आपके जोड़े लगातार की जाने वाली तेज़ हरकतों के प्रभाव को झेल पाएंगे। कसरत से लेकर फिसलकर गिर जाने जैसी सभी गतिविधियाँ इन हरकतों में शामिल होती हैं।

5. छोटी-छोटी मांसपेशियां

पानी पीकर अपनी मांसपेशियों में मज़बूती लाएं

आपके शरीर के मसल मास का घटना कोई अच्छा लक्षण नहीं होता।

हमारे शरीर का ज़्यादातर हिस्सा पानी से बना होता है। इसीलिए कई तरह की शारीरिक क्रियाओं से पहले, उनके दौरान और उनके बाद आपको पानी पी लेना चाहिए।

ऐसा करने से आपको बेहतर महसूस होगा। और तो और, मांसपेशियों की सूजन और दर्द से भी आपको राहत मिलेगी। उस असहज एहसास से छुटकारा पाने के लिए आपको एक बहुत छोटा-सा काम करना होगा: अपने शरीर को हाइड्रेटिड रखें।

इसे भी पढ़ें: भावनात्मक थकान: खोयी एनर्जी को वापस कैसे पायें

6. आप थका-थका महसूस करते हैं

पानी की कमी से होनी वाली थकान

पानी की कमी की वजह से हमारे शरीर में एनीमिया जैसे लक्षण पैदा हो सकते हैं।

ऐसे में, आपका शरीर आपके खून से पानी सोखने लगता है। नतीजतन डिहाइड्रेशन की वजह से आपके शरीर के सभी अंगों में ऑक्सीजन की कमी होने लगती है। ऑक्सीजन की इस कमी के कारण आप सुस्त और उनींदा महसूस करने लगते हैं।

दिन बीतने के साथ-साथ आपकी थकान भी बढ़ती जाती है। अगर आपके साथ ऐसा हो रहा है और आमतौर पर आप उचित मात्रा में पानी नहीं पीते तो इस लक्षण को नज़रंदाज़ न करें। हो सकता है कि पानी के कुछ घूँट आपको राहत दे दें।

लंबे समय तक कॉफ़ी का सेवन करना कोई अच्छा उपाय नहीं होता। अपने शरीर की ज़रूरत के मुताबिक़ पानी पीने से बेहतर और कुछ नहीं होता।

7. त्वचा की झुर्रियां

पानी की कमी की वजह से होने वाली झुर्रियां

अगर जवानी में ही आपकी त्वचा पर बुढ़ापे के लक्षण दिखाई देने लगे हैं तो हो सकता है कि इसके पीछे कारण यह हो कि आप उचित मात्रा में पानी नहीं पी रहे हैं।

उम्र ढलने के साथ-साथ हमारे शरीर में मौजूद पानी की मात्रा भी कम होने लगती है। इसीलिए दिनभर में हमें ज़्यादा पानी पीना चाहिए।

पानी की कमी का सबसे साफ़ लक्षण त्वचा पर पड़ती झुर्रियां होती हैं। लेकिन वे उसका इकलौता लक्षण नहीं होती: डिहाइड्रेशन की वजह से हमारे अंदरूनी अंगों को पहुँचने वाला नुकसान बेहद चिंताजनक होता है

ऐसी नौबत न आने दें व रोज़ाना पानी की सही मात्रा लें।