हाई ब्लड प्रेशर के इलाज़ के लिए 5 प्राकृतिक नुस्खे

19 जून, 2019
यह जानने के लिए कि उच्च रक्तचाप है या नहीं, हम डॉक्टर के पास चेकअप के लिए जाते हैं। उसके बाद आहार में सुधार कर हम रक्तचाप को नियंत्रित कर सकते हैं।

हाई ब्लड प्रेशर अक्सर बड़ी उम्र के लोगों को होता है। यह खराब जीवनशैली जैसे तनाव, ज़्यादा वज़न या ज़्यादा अल्कोहल या नमक के सेवन की वज़ह से हो सकता है।

हालाँकि हम इस स्थिति को रोक सकते हैं, लेकिन इसका खतरा हमेशा रहता ही है। हाई ब्लड प्रेशर के इलाज के लिए आप प्राकृतिक तरीके भी अपना सकते हैं।

हाई ब्लड प्रेशर क्या होता है?

उच्च रक्तचाप,या हाइपरटेंशन रक्त के बहाव में दबाव के बढ़ जाने से होता है। रक्त प्रवाह की गति सामान्य लेवल से तेज़ हो जाती है, जिससे रक्त संचार में काफ़ी समस्याएं हो सकती हैं।

हाई ब्लड प्रेशर का खराब कोलेस्ट्रॉल (LDL) से संबंध है और अक्सर यह समस्या 55 साल की उम्र के बाद शुरू होती है

इसे रोकने के लिए, आपको अपने परिवार के इतिहास को देखना चाहिए, क्योंकि आपको उच्च रक्तचाप होने में आनुवंशिक कारणों का काफ़ी हाथ होता है

हाई ब्लड प्रेशर के लक्षण क्या हैं?

हाई ब्लड प्रेशर के सबसे सामान्य लक्षण हैं:

  • मितली और उल्टियाँ
  • चक्कर आना
  • चेहरे पर लाली
  • चेहरे पर सूजन
  • छाती में दर्द
  • सिरदर्द

अगर आपको ज़रा सा भी शक हो तो अपना रक्तचाप चेक कराएं हाई ब्लड प्रेशर नापने के मॉनिटर से आपको इसके सही लेवल का पता चल सकता है

मॉनिटर से सिस्टोलिक प्रेशर (धमनियों में रक्त का दबाव) और डाइस्टोलिक प्रेशर (दो धड़कनों के बीच दिल जब रक्त नहीं फेंक रहा होता है) का पता चलता है

आपको अपने डॉक्टर से संपर्क करके मालूम कर लेना चाहिए कि आपके लिए सर्वश्रेष्ठ इलाज क्या रहेगा

इसे भी पढ़ें: हाई ब्लड प्रेशर को कम करने वाले अन्न, फल और सब्जियां

हाइपरटेंशन को आप कैसे रोक सकते हैं?

इस समस्या को पूरी तरह दूर करने का कोई अंतिम निदान नहीं है  इसे रोकना ही इसका इलाज है हाइपरटेंशन रोकने के लिए, आपको नमक की मात्रा कम कर देनी चाहिए और नियमित रूप से एक्सरसाइज करनी चाहिए। जीवनशैली में इन बदलावों से आपके ह्रदय के स्वास्थ्य को ठीक रखने में बहुत मदद मिलती है

आपको एक ऐसा संतुलित आहार लेना चाहिए जिसमें खूब फल और सब्ज़ियाँ हों इसके अलावा, तंबाकू और अल्कोहल को कम करने या बिल्कुल छोड़ देने की कोशिश करें

उच्च रक्तचाप के इलाज के लिए प्राकृतिक नुस्खे

प्राकृतिक नुस्खे उच्च रक्तचाप के लिए अच्छे विकल्प हैं। प्राकृतिक नुस्खे ऐसे कुछ मामलों में बहुत उपयोगी सिद्ध होते हैं जहाँ लक्षण अचानक ही उभर आते हैं। उच्च रक्तचाप से पीड़ित लोगों को तुरंत निदान के लिए अपने पास कुछ रखना चाहिए। कुछ प्राकृतिक नुस्खे इस प्रकार हैं:

1. लहसुन

लहसुन ब्लड प्रेशर को 8% तक कम कर देता है इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो त्वचा और नर्वस सिस्टम को बेहतर बनाते हैं लहसुन को हम बहुत तरह के प्राकृतिक नुस्खों में इस्तेमाल कर सकते हैं

  • उच्च रक्तचाप के इलाज के लिए आपको लहसुन की एक कली रोज़ खानी चाहिए इसलिए, फ़्रिज़ में छिली हुई लहसुन की कलियाँ रखने से आपको काफ़ी सुविधा होगी
  • लहसुन की कली को निगलने या चबाने के बजाए आप उसे एक गिलास पानी में रात भर भिगो कर रख सकते हैं
  • आप पानी में नींबू का रस मिलाकर खाली पेट पी सकते हैं इससे पाचन ठीक होने के अलावा आपके पेट का pH भी स्थिर रहेगा

2. पार्स्ले और नींबू का मिश्रण (Parsley and lemon blend)

एक पूरे नींबू के रस में पार्स्ले मिलाकर खाली पेट पिएं यह मिश्रण उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करता है क्योंकि दोनों चीज़ें मूत्रवर्धक हैं ये शरीर में जमा द्रवों को बाहर निकाल देती हैं जिससे रक्त का दबाव कम होता है

  • दूसरा फ़ायदेमंद तरीका है कि आप प्रात:काल खाली पेट गर्म पानी में नींबू डालकर पियें

इसे भी पढ़ें:  ड्रिंक जो बढ़ाते हैं आपका ब्लड प्रेशर

3. ओट्स (Oats)

ओट्स खाने से कोलेस्ट्रॉल 5% कम होता है, साथ ही हाइपरटेंशन में भी फ़ायदा होता है। ओट्स रक्त संचार में भी सहायक होता है।

  • पानी उबालकर उसमें ओट्स डाल दें, और रख दें। रोज़ाना कम से कम एक लीटर ओट्स का पानी पिएं।

इसे भी देखें: रोज़ाना सुबह ओट्स खाने के 13 कारण

4. मैग्नीशियम

चुकंदर या नट्स में हमें मैग्नीशियम क्लोराइड मिलता है जो हाइपरटेंशन कम करता है।

यह आपको फ़ार्मेसी और नेचुरल फ़ूड स्टोर में मिल सकता है।

  • इसे तैयार करने के लिए, 33 ग्राम मैग्नीशियम क्लोराइड ( 2 टेबलस्पून) को एक लीटर उबलते पानी में डालें।
  • रोज़ाना खाली पेट एक छोटा ग्लास पिएं।
  • यह हाई ब्लड प्रेशर रोकने का एक तरीका है। मैग्नीशियम क्लोराइड की कमी से उच्च रक्तचाप का खतरा बढ़ जाता है।

5. चुकंदर ( Beets)

मैग्नीशियम के अलावा, चुकंदर में पोटैशियम, आयरन, सोडियम, कैल्शियम,फ़ॉस्फ़ेट और ज़िंक होता है। नियमित चुकंदर खाने से शरीर को और भी कई फायदे होते हैं।

इसके स्वाद और दूसरे गुणों के कारण इसे आसानी से खाया जा सकता है। सलाद से लेकर स्मूदी तक चुकंदर को आप कई तरह से अपने आहार में शामिल कर सकते हैं और इसके फ़ायदे उठा सकते हैं।

  • जहाँ तक हाई ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने की बात है, खाली पेट चुकंदर का रस पीने से बहुत अच्छे परिणाम निकलते हैं।
  • आपको बस इसे उबालकर ब्लेंड करना है और पी जाना है।

हाइपरटेंशन से स्वास्थ्य को कई खतरे होते हैं। इसलिए जैसे भी हो इसे रोकिए।

  • Organizacion Mundial de Salud. (2015). OMS | Preguntas y respuestas sobre la hipertensión. Preguntas y Respuestas Sobre La Hipertensión.
  • Piskorz, D. (2011). Hipertensión arterial. Salud(i)Ciencia. https://doi.org/10.2319/111211-702.1
  • OMS, O. M. de la S. (2013). Información general sobre la hipertension en el mundo. Oms. https://doi.org/WHO/DCO/WHD/2013.2
  • Consenso Latinoamericano sobre Hipertensión Arterial. (2000). Consenso Latinoamericano sobre Hipertensión Arterial. Journal of Hypertension. https://doi.org/10.1002/dta.1860
  • CINGOLANI, H. D., GIRONACI, M., VICARIO, A., MIATELLO, R., COSTA, M. de los A., BRANDANI, L., … PIZORNO, J. (2012). Hipertensión Arterial. Revista de Difusión de La Sociedad Argentina de Hipertensión ARterial. https://doi.org/10.1080/03067310802398872