ड्रिंक जो बढ़ाते हैं आपका ब्लड प्रेशर

जुलाई 17, 2018
अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर है तो इनसे दूर रहना ही बेहतर है। अगर आपको अपने दिल की देखभाल करनी है तो भी इनको ज़्यादा पीने से बचें, या फिर पूरी तरह ही इनसे पीछा छुड़ा लें।

हाई ब्लड प्रेशर यानी उच्च रक्तचाप आपके स्वास्थ्य के लिए एक खतरा है। अगर इसे ठीक न किया जाए या इस पर काबू न पाया जाए तो यह काफी नुकसान पहुंचा सकता है।

इसलिए, आपको इस बारे में सतर्क रहना चाहिए कि कौन सी ड्रिंक पी रहे हैं और जो ड्रिंक ब्लड प्रेशर बढ़ाते हैं उनसे बचके रहें।

हाई ब्लड प्रेशर के खतरे

हाइपरटेंशन यानी उच्च रक्तचाप के कई खतरों में से एक यह है कि बिना किसी लक्षण के ही यह शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है।

इसलिए इसे “साइलेंट किलर” भी कहा जाता है। उच्च रक्तचाप आपके जीवन की क्वॉलिटी में कमी ला सकता है। इसके कारण हर वक्त एक बेचैनी बनी रहती है और आपको दिल का दौरा भी पड़ सकता है।

उच्च रक्तचाप से ग्रस्त होने की गंभीरता के बावजूद, ऐसे ट्रीटमेंट मौजूद हैं जिन्हें अगर अपने जीवन जीने के तरीके में बदलाव लाने के साथ-साथ अपनाएं तो हाइपरटेंशन पर लगाम लग सकता है।

क्या हैं  हाई ब्लड प्रेशर से जुड़ी सबसे आम काॅम्प्लिकेशन?

धमनियों को नुकसान (Arterial Damage)

हाई ब्लड प्रेशर

आर्टरी यानी धमनियां जब अच्छी स्थिति में होती हैं तो वे लचीली होती हैं और जब तक हमारा ब्लड प्रेशर सामान्य रहता है इनमें काफ़ी लचक और मज़बूती रहती है।

ब्लड प्रेशर के बढ़ने पर आर्टरी को नुकसान पहुंचता है और वे संकरी हो जाती हैं। इससे उनके अंदर की दीवार पर मौजूद सेल की परत पर असर पड़ता है और वे मोटी और सख्त हो जाती है।

आपके आहार में खाए जाने वाली वसा आपके खून में मिल जाती है। जैसे-जैसे यह खून के साथ गुज़रती है, क्षतिग्रस्त सेल इसे इकठ्ठा करने लगते हैं।

यह बदलाव शरीर के अलग-अलग हिस्सों (दिमाग, टांगें, दिल, गुर्दे आदि) में खून के बहाव को प्रभावित करता है।

इसे भी पढ़ें:

हाई ब्लड प्रेशर घटाने के लिए घरेलू नुस्ख़े

धमनी-विस्फार (Aneurysm)

एक क्षतिग्रस्त आर्टरी से लगातार खून का बहाव होना इसकी दीवार की मोटाई को बढ़ा देता है जिस वजह से ऐन्यरिज़म होता है।

अगर एक ऐन्यरिज़म फट जाए तो अंदरूनी हेमरेज़ हो सकता है और आपकी जिंदगी खतरे में पड़ सकती है।

दिल

हाई ब्लड प्रेशर: दिल

अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर है तो यह आपके दिल पर असर डाल सकता है क्योंकि दिल ही आपके शरीर में खून को पंप करने के लिए जिम्मेदार होता है।

ऐसी स्थिति में खून के लिए बहना मुश्किल होता है। इस तरह हाइपरटेंशन की वजह से छाती में दर्द, अरिद्मिअ (arrhythmia) या दिल का दौरा पड़ सकता है।

आपके दिमाग को भी नुकसान पहुंच सकता है क्योंकि इसकी वजह से ट्रांजिएंट इस्कीमिक अटैक हो सकता है जिसमें दिमाग को बहुत ही थोड़े समय के लिए खून नहीं मिल पाता।

यह तो सिर्फ़ कुछ गंभीर परेशानियां मात्र हैं जो हाई ब्लड प्रेशर पर काबू न पाने की वजह से होती हैं।

ड्रिंक जो बढ़ाते हैं ब्लड प्रेशर

हाइपरटेंशन से बचने और इसके इलाज के कई तरीके हैं। इनमें से एक है, ऐसे ड्रिंक से बचना जो ब्लड प्रेशर को बढ़ाते हैं।

आइसोटोनिक ड्रिंक (Isotonic drink)

ब्लड प्रेशर बढ़ाने वाले ड्रिंक: आइसोटोनिक ड्रिंक

इन्हें शरीर में पानी का स्तर बनाए रखने के लिए तैयार किया जाता है और इनमें सोडियम होता है। विशेष रूप से, सोडियम क्लोराइड और सोडियम बाइकार्बोनेट।

सोडियम हाई ब्लड प्रेशर से ग्रस्त लोगों के लिए बहुत नुकसानदेह होता है। इसलिए, सबसे अच्छा है कि आप ऐसे खाद्य पदार्थ और ड्रिंक न ही लें जिनमें सोडियम हो।

एनर्जी ड्रिंक

ऐसे लोग जिन्हें दिल से जुड़ी समस्याएँ या हाई ब्लड प्रेशर है, उन्हें ऐसे ड्रिंक के सेवन से बचना चाहिए।

कई रिसर्च स्टडी बताती हैं कि अगर स्वस्थ लोग इनका सेवन करते हैं तो उनका भी ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है।

ऊर्जा देने वाले ड्रिंक में टॉरीन और कैफीन पाया जाता है। शोधकर्ता यह मानते हैं कि ये तत्व ब्लड प्रेशर और दिल की धड़कन बढ़ाने के लिए ज़िम्मेदार हो सकते हैं।

चाहे कोई भी ब्रांड हो, अगर वह वादा करता है कि उसकी ड्रिंक से आपकी ऊर्जा बढ़ेगी, तो मतलब उसमें कम या ज़्यादा मात्रा में कैफीन और टॉरीन ज़रूर मौजूद होगा। इन तत्वों का ब्लड प्रेशर पर बड़ा असर पड़ता है।

इसे इस तरह भी समझा जा सकता है कि एक एनर्जी ड्रिंक पीना 2 कप कॉफ़ी पीने के बराबर होता है। 

एनर्जी ड्रिंक को शरीर में पानी का स्तर सुधारने वाली ड्रिंक या स्पोर्ट्स ड्रिंक न समझें। बाद वाली ड्रिंक्स शारीरिक थकान के बाद शरीर को चुस्ती-फुर्ती देने के लिए होती हैं।

इसे भी पढ़ें:

धमनियों की नेचुरल क्लीनिंग: भोजन में लें ये 5 चीजें

कॉफ़ी और चाय

ब्लड प्रेशर बढ़ाने वाले ड्रिंक: कॉफ़ी और चाय

जब ब्लड प्रेशर कम होता है तो थोड़ी मात्रा में कॉफ़ी या चाय पीने की सलाह दी जाती है। स्पष्ट रूप से, उच्च रक्तचाप वाले लोगों के लिए इनका सेवन बुरा ही है।

कॉफी ऐसी पेय है जो ब्लड प्रेशर को सबसे ज़्यादा बढ़ाती है। यहाँ तक कि उन लोगों को भी, जिन्हें उच्च रक्तचाप नहीं है, इसके सेवन को सीमित ही रखना चाहिए।

अल्कोहल

यह अभी तक साफ़ नहीं है कि अल्कोहल की वजह से ब्लड प्रेशर क्यों बढ़ता है।

बहरहाल, हम यह ज़रूर जानते हैं कि जब खून में अल्कोहल होता है तो दिल को ढंग से ऑक्सीजन नहीं मिल पाता।

अगर दिल तक ऑक्सीजन पहुँचने में परेशानी हो तो यह ज़्यादा ज़ोर से धड़कने पर मजबूर हो जाता है। इस तरह, यह शरीर के दूसरे हिस्सों में ऑक्सीजन और पोषक तत्वों की भरपाई करने की कोशिश करता है।

जैसा कि आप देख सकते हैं, ब्लड प्रेशर बढ़ाने वाले ड्रिंक बहुत प्रचलित हैं और आपके रोज़मर्रा के आहार का हिस्सा हो सकते हैं। इस वजह से, हाइपरटेंशन पर ध्यान देने का एक तरीका यह है कि अपने रोज़मर्रा के जीवन में बदलाव लाया जाये।

ये बदलाव, जैसे कि ऐसे ड्रिंक से दूर रहना, हाइपरटेंशन से ग्रस्त लोगों की सर्कुलेटरी प्रणाली की रक्षा करने में मदद करेंगे।

  • Organizacion Mundial de Salud. (2015). OMS | Preguntas y respuestas sobre la hipertensión. Preguntas y Respuestas Sobre La Hipertensión.

  • OMS, O. M. de la S. (2013). Información general sobre la hipertension en el mundo. Oms. https://doi.org/WHO/DCO/WHD/2013.2.

  • Piskorz, D. (2011). Hipertensión arterial. Salud(i)Ciencia. https://doi.org/10.2319/111211-702.1.