हाई ब्लड प्रेशर को कम करने वाले अन्न, फल और सब्जियां

जून 20, 2019
उच्च रक्तचाप यानी हाई ब्लड प्रेशर में सुधार लाने के लिए और आपके सामान्य स्वास्थ्य के लिए भी लहसुन सर्वोत्तम खाद्य पदार्थों में से एक है। कच्चा खाया जाए, तो यह आपके कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी कम करने में आपकी बहुत मदद कर सकता है।

हाई ब्लड प्रेशर यानी उच्च रक्तचाप को “क्रॉनिक” बीमारी माना जाता है। यह बीमारी आर्टरिज यानी धमनियों के भीतर खून के दबाव में बढ़ोतरी से होती है।
उच्च रक्तचाप को दो पैमानों पर मापा जाता है, सिस्टोलिक और डायस्टोलिक। सिस्टोलिक और डायस्टोलिक प्रेशर दरअसल खून के दबाव की दो स्थितियों को व्यक्त करते हैं, एक जब दिल धड़क रहा हो और दूसरा जब वह विश्राम की स्थिति में होता है।

इस लेख में, हम आपको दिखाएंगे कि बढ़े हुए रक्तचाप को प्राकृतिक रूप से किन खाद्य पदार्थों को खाकर घटाया जा सकता है?

रक्तचाप बढ़ने के क्या कारण है?

आहार की गलत आदतें, जेनेटिक कंडीशन और बीमारियाँ हाई ब्लड प्रेशर का जोखिम बढ़ाती हैं। इनमें सबसे आम फैक्टर ये हैं:

नमक

बहुत नमकीन खाना खाने से रक्तचाप बढ़ जाता है। हाइपरटेंशन से पीड़ित रोगियों में से एक तिहाई लोग सोडियम के प्रति संवेदनशील होते हैं, क्योंकि यह शरीर में द्रव धारण की क्षमता को बढ़ा देता है।

रेनिन के स्राव में कमी

अफ्रीकी-अमेरिकी मूल के लोगों का शरीर कम रेनिन (किडनी से निकलने वाला पदार्थ) का स्राव करता है। इससे उनके हाई ब्लड प्रेशर से पीड़ित होने की संभावना ज्यादा होती है। इसका अर्थ यह भी है कि रेनिन से जुड़ी दवाएं उनपर कम प्रभावी होंगी।

इंसुलिन प्रतिरोध

डायबिटीज से पीड़ित बहुत से लोग हाइपरटेंशन के भी शिकार होते हैं। इंसुलिन में सिम्पैथेटिक नर्व सिस्टम की गतिविधियों को बढ़ाने की क्षमता होती है वह भी बिना रक्तचाप को बढ़ाए। इस वजह से इंसुलिन से जुड़ी समस्याएं हाई ब्लड प्रेशर को बढ़ावा देती हैं।

अतिरिक्त वजन और मोटापा

हाई ब्लड प्रेशर

बॉडी मास इंडेक्स यानी शरीर के द्रव्यमान सूचकांक और हाई ब्लड प्रेशर के बीच गहरा संबंध है।

फैट से भरी आर्टरी यानी धमनियों को पंप करने के लिए आपके हार्ट को बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है । यह धमनियों की दीवारों पर ज्यादा दबाव डालता है।

जेनेटिक प्रवृत्ति

  • कुछ ऐसे जीन हैं जिनसे हाई ब्लड प्रेशर का खतरा बढ़ सकता है। हाई ब्लड प्रेशर, कोरोनरी और किडनी की बीमारियों के बीच बहुत गहरा सम्बंध है।
  • इसलिए यदि आपके घर में ब्लड प्रेशर की फैमिली हिस्ट्री है तो आपमें भी इसके विकसित होने की संभावनाएं रह ही जाती हैं।

आयु

जैसे-जैसे आप बड़े होते हैं धमनी की दीवारें पतली और ख़राब होने लगती हैं और रक्त वाहिकाओं के सख्त होते जाने के कारण आपमें उच्च रक्तचाप के विकसित होने का खतरा बढ़ता जाता है।

धमनी की दीवारों का लचीलापन खत्म होने से खून के बहाव में कठिनाई होने लगती है।

हाई ब्लड प्रेशर को कम करने के लिए क्या खायें

अब जबकि आपने हाई ब्लड प्रेशर का कारण जान लिया है तो अगला कदम इसको रोकना होगा।
कम सोडियम वाले संतुलित आहार के साथ फिजिकल एक्सरसाइज और कुछ आरामदेह लाइफस्टाइल इस बीमारी से पीछा छुड़ाने में आपकी मदद करेगी।
अगर आप अपना ब्लड प्रेशर नेचुरल तरीके से घटाना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे बेहतरीन अन्न, फल और सब्जियों की सूची नीचे देखें।

लहसुन से घटायें हाई ब्लड प्रेशर

हाई ब्लड प्रेशर को कम करे लहसुन

लहसुन सभी के लिए अच्छा है और इसे सुपर एंटीबायोटिक माना जाता है। रोजाना लहसुन की एक या दो कलियाँ खाना (बेहतर होगा अगर यह कच्चा हो) रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल को कम करता है।
 खाली पेट लहसुन की कली खाने का आइडिया कैसा रहेगा? इसमें एलीसिन होता है। इसमें वे गुण हैं जो हाई ब्लड प्रेशर को कम करते हैं।

 टमाटर

टमाटर में एमीनो एसिड होते हैं जो उच्च रक्तचाप को कम करने में मदद करते हैं। इसके अलावा लाइकोपिन और ग्लूटाथियोन कम्पाउंड टमाटर में पाए जाते हैं, जो एंटी-ऑक्सीडेंट हैं और ब्लड सर्कुलेशन में सुधार लाते हैं।

सलाद और जूस में खूब टमाटर खाएं।

अनन्नास

इस समृद्ध फल में ब्रोमेलेन होता है। यह एंजाइम रक्त के थक्के को तोड़ता है और खून को पतला करता है।

इस ट्रॉपिकल फल में आपके ब्लड सर्कुलेशन के लिए ढेर सारे फायदे वाले गुण हैं। इनका लाभ उठाने के लिए हफ़्ते में कम से कम एक बार हल्की मिठाई के रूप में अनन्नास का रस पियें या साबूत फल खाएं।

केला

हाई ब्लड प्रेशर: केला

 

केला मैग्नीशियम और पोटैशियम से भरा हुआ है। मूत्रवर्द्धक या ब्लड प्रेशर से जुड़ी दवाइयाँ खाने वालों के लिए इसकी सिफारिश की जाती है (दोनों दवाइयां शरीर में आवश्यक पोषक तत्वों को कम कर देती हैं)।
यह मसल क्रैम्प यानी माँसपेशियों की ऐंठन को रोकने के लिए उपकारी है और विटामिन्स का अच्छा स्रोत हैं। नाश्ते या स्मूदी के रूप में डंटकर केले खाएं।

गाजर

गाजर विटामिन C और बीटा कैरोटीन से समृद्ध है और रक्त संचार प्रणाली के दोषों को रोकने वाले गुणों की खान है।

कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए सलाद या स्मूदी में कच्चा गाजर खाएं, रक्त वाहिकाओं की रक्षा करें और धमनियों को कठोर होने से बचाएं।

फलियां

अपने शरीर को पोटैशियम, मैग्नीशियम, विटामिन B, आयरन और फाइबर प्रदान करने के लिए लेग्युम यानी दाल, चने, बीन्स, मटर आदि को सप्ताह में कम से कम तीन बार खाएं।
ये जरूरी फैटी एसिड और वनस्पति प्रोटीन से समृद्ध हैं।

पत्तेदार सब्जियां हाई ब्लड प्रेशर में उपयोगी हैं

क्रुसिफेरस परिवार की पत्तेदार सब्जियों का पूरा कुनबा एंटी-ऑक्सिडेंट से भरपूर होते हैं जो धमनियों की क्षय को रोकते हैं और वैस्कुलर हेल्थ को ठीक रखते हैं। इस परिवार में ब्रोकोली, केल और ब्रसेल्स स्प्राउट्स आदि आते हैं।

• ऐसे हजारों व्यंजन हैं जिनमें ये सब्जियां शामिल होती हैं। ये ब्लड प्रेशर मैनेजमेंट के लिए ग्लूकोसिनॉलेट्स से भरे होते हैं।

नींबू

यह खट्टा फल विटामिन C और फ्लैवोनोइड्स से समृद्ध है।
ये दोनों पोषक तत्व धमनियों को अच्छी दशा में रखने और उनके लचीलेपन को बनाए रखने में मदद करते हैं। इसे हृदय पर रक्त का दबाव कम होता है।

सलाद ड्रेसिंग और व्यंजनों में स्वाद डालने के लिए नींबू का उपयोग करें ।

अमरूद

इस समृद्ध ट्रॉपिकल फल में कोलेस्ट्रॉल को कम करने और अच्छे कोलेस्ट्रॉल का लेवल बढ़ाने की क्षमता है। अमरूद उच्च रक्तचाप को कम करने में भी मदद कर सकता है।

  • यह फल डेज़र्ट के रूप में, दोपहर के नाश्ते के रूप में या रिफ्रेशिंग नेचुरल स्मूदी बनाने के लिए बहुत अच्छा रहेगा।

हाई ब्लड प्रेशर में चिया सीड्स खाएं
हाई ब्लड प्रेशर: चिया सीड्स

चिया सीड्स ओमेगा 3 फैटी एसिड, फाइबर और मैग्नीशियम (अन्य खनिजों केअलावा) के उत्कृष्ट स्रोत हैं।

  • एक गिलास दूध, दही या रस में एक चम्मच चिया सीड्स मिलाएं और नाश्ते के साथ पियें। डेज़र्ट, सलाद या सूप में ऊपर से भी छिड़क सकते हैं।
  • इन्हें सक्रिय करने के लिए पानी में दानों को हाइड्रेट करना न भूलें।

हल्दी

इस मसाले का अपना ख़ास जायका है। इसमें कई कंपाउंड हैं जो ट्राइग्लिसराइड्स और खराब कोलेस्ट्रॉल या एलडीएल को कम करते हैं।

हल्दी हृदयरोग को रोकने के लिए बहुत उम्दा है।

इसे चावल, पास्ता या तले हुए भोजन में डालें … यह वास्तव में बहुत समृद्ध और स्वास्थ्यवर्द्धक है।