इन 5 हेल्दी ड्रिंक को आजमायें जो एनीमिया से उबरने में आपकी मदद कर सकते हैं

यदि आप एनीमिया का इलाज करना चाहते हैं, तो आपको इन उपायों को आजमाने से  पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें कि उनके इलाज के साथ इन नुस्खों का कोई टकराव तो नहीं।
इन 5 हेल्दी ड्रिंक को आजमायें जो एनीमिया से उबरने में आपकी मदद कर सकते हैं

आखिरी अपडेट: 17 मार्च, 2021

प्रचलित मेडिकल ट्रीटमेंट के अलावा भी हेल्दी ड्रिंक के रूप में ऐसे प्राकृतिक नुस्खे मौजूद हैं जो एनीमिया से उबरने के दौरान लक्षणों को रोकना आसान बना सकते हैं।

इन्हें आज़मानान भूलें!

एनीमिया एक ऐसी स्थिति है जो तब होती है जब खून में हीमोग्लोबिन का लेवल कम होता है। आयरन की कमी लगभग हमेशा ही इसका कारण होती है।

इसका मतलब यह हुआ कि शरीर की कोशिकाओं और टिशू में कम ऑक्सीजन पहुंचता है। नतीजतन मांसपेशियां कमजोर हो जाती हैं, एकाग्रचित्त हो पाना बहुत मुश्किल होता है, और स्किन और बालों की समस्याओं का अनुभव करते हैं।

आयरन का कम सेवन या आयरन के कम अवशोषण के कारण यह स्थिति पैदा हो सकती है। हालांकि कुछ मामलों में ब्लीडिंग, किडनी फेल्योर और सर्जरी से होने वाली जटिलतायें भी इसका कारण होते हैं।

वजह जो भी हो इलाज करना जरूरी है। यदि एनीमिया को आगे बढ़ने दिया जाए तो बड़ी समस्याएं हो सकती हैं, जैसे कि टैकीकार्डिया, हाई ब्लडप्रेशर, और याददाश्त की गड़बड़ी। रिकवरी की प्रक्रिया धीमी हो सकती है, लेकिन कुछ ड्रिंक हैं जो एनीमिया से उबरने में आपकी मदद कर सकते हैं।

एनीमिया से उबरने में मदद करने के लिए हेल्दी ड्रिंक

1. गाजर और मूली से बना हेल्दी ड्रिंक

एनीमिया से उबरने में मदद करने के लिए हेल्दी ड्रिंक

आयरन, पोटेशियम और जिंक की मौजूदगी के कारण यह प्राकृतिक हेल्दी ड्रिंक एनीमिया से रिकवरी में मदद कर सकता है।

इसे पीने से लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन को बढ़ावा मिलता है। दूसरी बातों के अलावा यह कोशिकाओं के ऑक्सीडेशन को बढ़ाने के लिए सर्कुलेशन में सुधार करता है।

सामग्री

  • 1 गाजर
  • 1 मूली
  • 3 जलकुम्भी के पत्ते (watercress leaves)
  • 1 गिलास पानी

तैयारी

  • गाजर को छीलकर स्लाइस में काट लें, फिर इसे ब्लेंडर में डालें।
  • बाद में मूली काट लें, जलकुंभी को धो लें और गाजर के ऊपर डालें।
  • अंत में एक गिलास पानी डालें और सभी सामग्रियों को प्रोसेस करें, जब तक कि आपको एक ड्रिंक नहीं मिलता।

कैसे इस्तेमाल करे

  • एनीमिया से रिकवरी करने के दौरान इस हेल्दी ड्रिंक को हर रोज खाली पेट पिएं।

और देखें: 7 खाद्य : इन्हें खाकर प्राकृतिक रूप से एनीमिया से लड़ें

2. अल्फाल्फा, हॉर्सटेल और स्टिंगिंग बिछुआ पेय

इस प्राकृतिक हेल्दी ड्रिंक में मौजूद चीजें शरीर को विटामिन, मिनरल और पावरफुल एंटीऑक्सिडेंट देती हैं। साथ में वे एनीमिया से रिकवरी प्रक्रिया में एक शक्तिशाली सहायक हैं।

वे खून की गुणवत्ता में सुधार करते हैं और उन पोषक तत्वों के नुकसान को रोकने में मदद करते हैं जो कमजोरी और थकान पैदा करते हैं।

सामग्री

  • अल्फाल्फा (Alfalfa) स्प्राउट्स का 1 चम्मच
  • 1 चम्मच अश्वपुच्छा (horsetail)
  • 1/2 बड़ा चम्मच हरा बिछुआ (nettle)
  • 1 कप पानी

तैयारी

  • एक पैन में पौधों को एक कप पानी में डालें।
  • पेय को 3 से 5 मिनट तक उबलने दें, फिर आँच से उतार लें।
  • अंत में इसे कमरे के तापमान तक पहुंचने तक छोड़ दें और फिर छान लें।

कैसे इस्तेमाल करे

  • सुबह-सुबह एक कप अर्क पिएं।

3. वाईट वाइन और सौंफ के बीज (fennel seeds)


एंटीऑक्सिडेंट, एसेंशियल मिनरल और फैटी एसिड मौजूद होने के कारण वाईट वाइन और सौंफ़ लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन को बढ़ाने में कॉम्प्लीमेंट के रूप में काम करते हैं। इसलिए वे एनीमिया से उबरने के दौरान डाइट सप्लीमेंट बनाने का एक शानदार तरीका हैं।

सामग्री

  • 2 कप सफेद शराब
  • 3 बड़े चम्मच सौंफ के बीज

तैयारी

  • सफेद शराब के साथ एक कंटेनर में बीज डालें।
  • ड्रिंक को कवर करें और इसे 5 या 6 दिनों के लिए छोड़ दें।

कैसे इस्तेमाल करे

  • इसे छानें और रोजाना एक कप पियें।

नोट: यह उनुस्खा  नाबालिगों के लिए उपयुक्त नहीं है।

हम अनुशंसा करते हैं: तरबूज के इन 3 फायदों से आप हैरान हो जाएंगे

4. दूध और सेलरी

अगर आप लैक्टोज इनटॉलरेंट नहीं हैं, तो एनीमिया के लक्षणों से लड़ने के लिए यह हेल्दी ड्रिंक अच्छा कॉम्प्लीमेंट हो सकता है।

इसमें आयरन, फोलिक एसिड और एंटीऑक्सिडेंट तत्व होते हैं जो सेलुलर ऑक्सीडेशन को अनुकूलित करने के लिए खून की गुणवत्ता में सुधार करने में मदद करते हैं।

सामग्री

  • सेलरी की 3 स्टिक
  • 1 कप दूध

तैयारी

  • उबलने के लिए एक कप दूध डालें और जब यह एक उबाल तक पहुँच जाए तो सेलरी डालें।
  • ड्रिंक को कमरे के तापमान तक पहुंचने तक लगभग 10 से 15 मिनट तक छोड़ दें।

कैसे इस्तेमाल करे

  • एनीमिया से उबरने के दौरान दिन में एक बार यह पियें।

5. अंगूर और पार्सले जूस

अंगूर में एंटीऑक्सिडेंट तत्व होता है जिसे रेजवेराट्रॉल (resveratrol) के रूप में जाना जाता है। यह कोशिकाओं को बिगड़ने से बचाने के लिए खून से जहरीले पदार्थों को साफ करने में मदद करता है।

पार्सले के गुण इस नुस्खे के प्रभावों को मजबूत करते हैं। यह एनीमिया के लिए एक असरदार इलाज है।

सामग्री

  • 1/2 कप काले अंगूर
  • ताजा पार्सले की दो स्टिक
  • 1 गिलास पानी

तैयारी

  • अंगूर को धोएं और उन्हें ब्लेंडर में पार्सले और पानी के साथ मिलाएं।
  • सुनिश्चित करें कि ड्रिंक अच्छी तरह से मिश्रित हो और इसे छान लें।

कैसे इस्तेमाल करे

  • नाश्ते के बाद 2 या 3 सप्ताह तक पियें।

क्या आपको एनीमिया का पता चला है? क्या आप कमजोर और थका हुआ महसूस करते हैं? यदि हां, तो इन ड्रिंक में से किसी को भी आजमाएं और उनके प्राकृतिक फायदों का आनंद लें।

यदि आप एनीमिया का इलाज करना चाहते हैं, तो आपको इन उपायों को आजमाने से  पहले अपने डॉक्टर से सलाह लें कि उनके इलाज के साथ इन नुस्खों का कोई टकराव तो नहीं।

यह आपकी रुचि हो सकती है ...
9 खाद्य : ये आपके इम्यून सिस्टम को पावरफुल बनाते हैं
स्वास्थ्य की ओर
इसमें पढ़ें स्वास्थ्य की ओर
9 खाद्य : ये आपके इम्यून सिस्टम को पावरफुल बनाते हैं

अगर आप कमजोर, थके हुए और आसानी से संक्रमण का शिकार हो जाते हैं, तो यह आपकी इम्यून सिस्टम को मजबूत करने का वक्त है।



  • Koriem, K. M. M., & Arbid, M. S. (2018). Evaluating of β-carotene role in ameliorating of favism-induced disturbances in blood and testis. Journal of Complementary and Integrative Medicine. https://doi.org/10.1515/jcim-2017-0164
  • Alcocer‐varela, J., Iglesias, A., Llorente, L., & Alarcón‐Segovia, D. (1985). Effects of L‐canavanine on t cells may explain the induction of systemic lupus erythematosus by alfalfa. Arthritis & Rheumatism. https://doi.org/10.1002/art.1780280109
  • Cimolai, N., & Cimolai, T. (2008). Severe iron deficiency anemia and gastrointestinal dysfunction associated with ingestion of pan masala. Journal of Dietary Supplements. https://doi.org/10.1080/19390210802414352