वेरीकोस वेंस (Varicose Veins) के लिए 5 वैकल्पिक ट्रीटमेंट

जून 27, 2019
वेरीकोस वेंस की तकलीफ़ सर्कुलेटरी प्रॉब्लम से जुड़ी बहुत ही आम समस्याओं में से एक है। इस समस्या के कई कारण हो सकते हैं। इस लेख में हम ऐसे तरह-तरह के नेचुरल ट्रीटमेंट की चर्चा करेंगे जिनसे इस समस्या का इलाज़ किया जा सकता है।

वेरीकोस वेंस (Varicose Veins) के उपचार के लिए हमें हमेशा दवाओं का सहारा लेना की ज़रूरत नहीं है। इन्हें ठीक करने के लिए कई तरह के ऐसे नेचुरल ट्रीटमेंट उपलब्ध हैं, जिनका हम बड़ी आसानी से सहारा ले सकते हैं। 

वेरीकोस वेंस की समस्या केवल सौन्दर्य से जुड़ी हुई समस्या नहीं है। यह हमारे शारीरिक अंगों में हुई किसी गड़बड़ी की ओर भी संकेत करती हैं।

इनसे आपको सामन्य तौर पर कष्ट और परेशानी हो सकती है। इस परेशानी से जूझ रहे लोग अक्सर “पैरों में भारीपन” की शिकायत करते हैं।

  • वेरीकोस वेंस की समस्या रक्त वाहिकाओं (blood vessel) के चौड़े होने पर होती है।
  • इस कारण खून को शरीर के निचले हिस्से तक प्रवाहित होने में बाधा आती है।
  • यही दिक्कत वापस फ़िर से उस वक़्त होती है, जब खून आपके शरीर के निचले भाग से ऊपर आपके दिल की ओर बहने की कोशिश करता है।

यह समस्या दुनिया भर में बहुत आम है।

वेरीकोस वेंस के कारण (Varicose vein causes)

वेरीकोस वेंस के मुख्य कारण

आम तौर पर, ख़राब ब्लड सर्कुलेशन के कारण वेरीकोस वेंस की समस्या जन्म लेती है।

लेकिन इनका उभरना कई दूसरे प्रत्यक्ष और सम्बंधित कारणों की वजह से हो सकता है:

  • अनुवांशिक रूप से (Genetic inheritance)
  • बढ़ा हुआ कोलेस्ट्रॉल
  • सुस्त जीवनशैली
  • हाइपरटेंशन
  • मोटापा

एक और प्रबल कारण है जिसे ध्यान में रखा जाना चाहिए। वह है कार्डियोवैस्कुलर हेल्थ यानी दिल के सेहत का ख़याल न रखना। इसके लिए हम आपको सालाना मेडिकल चेकअप की सलाह देंगे। आपको अपनी जांच तब तो ज़रूर करा लेना चाहिए अगर आपके परिवार में किसी सदस्य को ऊपर बताई गईं शिकायतें रही हों, या अगर आप ख़ुद किसी प्रकार की कार्डियोवैस्कुलर समस्या से पीड़ित हों।

वैसे तो वेरीकोस वेंस का इलाज़ करना संभव है, लेकिन शारीरिक बनावट में किसी भी प्रकार की तबदीली से बचने के लिए आपको प्राकृतिक उपायों को इस्तेमाल में लाना चाहिए। कई प्रकार के वैकल्पिक ट्रीटमेंट उपलब्ध हैं, और इनमें से कोई भी उतना जटिल नहीं है जितना आपको लगता है।

इस अर्थ में वेरीकोस वेंस का सिर्फ एक ही उपलब्ध मेडिकल ट्रीटमेंट नहीं हैं। बहुत गंभीर हालातों में  कई बार सर्जरी का ही विकल्प बचता है।

इसे भी पढ़ें: 8 बेजोड़ एक्सरसाइज जो वेरीकोस वेंस का इलाज करती हैं

वेरीकोस वेंस से बचने के उपाय

इनसे बचने के लिए हम अपना ध्यान रखने के साथ-साथ कुछ स्वस्थ्य आदतें अपना सकते हैं। सबसे अच्छा होगा कि हम एक संतुलित जीवनशैली अपनाएँ। हमें इन बातों की ओर ख़ास ध्यान देना होगा:

  • स्वस्थ्य आहार का पालन करें
  • खूब पानी पिएं और शरीर को हाइड्रेटेड रखें
  • रेगुलर एक्सर्साइज़ करें
  • बहुत लम्बे समय तक बैठें या खड़े रहने से बचें

इस सबके अलावा आपको यहाँ दी गई अन्य बातों का भी ध्यान रखना होगा।

  • हर 2 घंटों पर अपने शरीर को थोड़ा तान कर अंगड़ाई लें (जब ऑफिस में काम पर हों, तब ऐसा ज़रूर करें)।
  • शावर से नहाते समय, पानी के टेम्परेचर को बदल-बदल कर नियंत्रित करते रहें।
  • ऐसा करने से आप अपने ब्लड सर्कुलेशन में सुधार ला सकते हैं। अगर आप गर्म पानी से नहा रहें हैं, तो उसका तापमान 38ºC से ज़्यादा नहीं होना चाहिए।
  • हर थोड़ी देर पर अपने पैरों को उठाकर ऊपर की ओर करने की कोशिश करें।
  • ऐसा करने से रक्त आसानी से वापस शरीर के ऊपरी हिस्से में पहुँच सकेगा।
  • साथ ही साथ आप अपनी पसंद के किसी भी एसेंशियल ऑयल से हर रोज़ अपने पैरों की 15 से 20 मिनट के लिए मसाज कर सकते हैं।
  • तंग या कसे हुए कपड़े पहनने से बचें।
  • आरामदायक इनर वियर पहने।
  • अपने पैरों को बहुत ज़्यादा गर्मी से बचाएँ। अगर आप समुद्र के किनारे या फ़िर कहीं बाहर घूमने गए हैं, तो सन प्रोटेक्शन ज़रूर लें।

वेरीकोस वेंस के लिए विभिन्न तरह के नेचुरल ट्रीटमेंट

वेरीकोस वेंस के वैकल्पिक उपचार को ज़रूर आज़माएँ

भले ही वेरीकोस वेंस के ट्रीटमेंट के लिए कई प्रकार के वेनोटोनिक और वेसोप्रोटेक्टर ड्रग्स उपलब्ध हैं। लेकिन इन दवाइयों के  कई प्राकृतिक विकल्प भी मौजूद हैं। ये कितने प्रभावशाली हैं, यह तो इस बात पर निर्भर करता है कि आप इनका कितना नियमित इस्तेमाल करते हैं।

वेरीकोस वेंस के ट्रीटमेंट के लिए यहाँ सुझाए गए उपचारों को इसलिए भी इस्तेमाल में लाना चाहिए क्योंकि ये सभी ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाने का काम करते हैं।

इसके अलावा इनके एंटी-इंफ्लेमेटरी प्रभाव सूजन में भी कमी लाते हैं ( ख़ास तौर पर लहसुन)।

विभिन्न फ़ायदेमंद उपचार:

  1. लहसुन
  2. पुदीना
  3. तेज पत्ता
  4. यूकलिप्टस
  5. मेरीगोल्ड यानी गेंदा
  6. एलो वेरा
  7. गाजर
  8. समुद्री नमक
  9. हॉर्सटेल (एक प्रकार का पेड़)
  10. हॉर्स चेस्टनट
  • वेरीकोस वेंस के उपचार में इस्तेमाल में लाया जाने वाला एलो वेरा, एक बहुत ही प्रसिद्ध उपचार है।
  1. यह ऐसा पेड़ है जो सौन्दर्य से जुड़े कई फ़ायदे देता है।
  2. इसके जेल को ठंडा करके लगाने से ब्लड सर्कुलेशन में सुधार आता है।
  • अगर हम अन्य विकल्पों को देखें तो पुदीना, तेज पत्ता और यूकलिप्टस ऐसे पेड़ हैं जो आपके शरीर को तरोताज़ा होने में मदद करते हैं।
  1. इनकी यही ख़ूबी वेरीकोस वेंस के उपचार में बहुत काम आती है।
  2. इन्हें आप अपनी त्वचा पर टॉनिक या फ़िर एक बॉडी लोशन की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं।
  3. टॉनिक बनाने के लिए आप बेकिंग सोडा का उपयोग कर सकते हैं।
  • वेरीकोस वेंस के उपचार में तेज पत्ता और गेंदे के पेड़ की पंखुड़ियाँ भी इस्तेमाल में लाई जाती हैं।
  1. इनका लेप बना लें और रात के समय इसे लगाकर सुबह तक यूं ही छोड़ दें।
  2. इनके पेड़ के डंठल से भी एक टॉनिक तैयार कर सकते हैं।
  • अगर आप पानी में समुद्री नमक मिला कर नहाते हैं, तो उससे भी आपको बहुत फ़ायदा मिलेगा। इस पानी में थोड़ा सा एप्पल साइडर विनेगर मिलाने से इसके फ़ायदे दुगने हो जाएँगे।

यहाँ सुझाए गए सभी प्राकृतिक उपचारों के इस्तेमाल के कई फ़ायदे हैं। ये बाज़ार की दवाओं जैसे महँगे भी नहीं हैं।

लेकिन हम इस बात पर भी जोर देंगे कि आपको केवल प्राकृतिक उपचारों पर ही निर्भर नहीं रहना चाहिए। यदि समस्या बढ़ती है, तो अपने डॉक्टर की सलाह ज़रूर लें और साथ-साथ इनका भी उपयोग करते रहें।