याददाश्त बढ़ाने के लिए क्या खाएं, तेज दिमाग के लिए कुछ टिप्स

05 अगस्त, 2020
आपके भोअजन का आपके मस्तिष्क की सेहत से निकट सम्बन्ध है। ऐसे खाद्य खाएं जो ब्रेन को उत्तेजित करें और अपनी लाइफस्टाइल और रोजमर्रा की चीजों का ध्यान रखें।

याददाश्त कम होना कोई उम्र नहीं जानता। इसलिए अपने दिमाग को स्वस्थ रखने के लिए जल्दी कदम उठाने की जरूरत है। अपनी याददाश्त और संज्ञानात्मक कार्य को बढ़ाने के लिए ऐसे खाद्य खाना चाहिए जो इसमें मददगार हों।

लेकिन मेमोरी लॉस का कारण क्या होता है?

मेमोरी लॉस विटामिन, विशेष रूप से B कॉम्प्लेक्स, साथ ही साथ एमिनो एसिड के अभाव के कारण होता है।

मेमोरी लॉस होने और संज्ञानात्मक कार्य में कमी आने पर के मामले में आपके द्वारा खाए जाने वाले भोजन की बहुत अहमियत है। आपको एंटीऑक्सिडेंट, प्रोटीन और एसेंशियल फैट खाने की जरूरत है।

ब्रेन फंक्शन को आपका खाना कैसे प्रभावित करता है

आपके मस्तिष्क में हर क्यूबिक मिलीमीटर में लगभग एक अरब न्यूरॉन्स होते हैं।

यह लगातार नए कनेक्शन बदल रहा है और बना रहा है। आपका मस्तिष्क आपस में जुड़े हुए न्यूरॉन्स से ज्यादा कुछ नहीं है जो कुछ केमिकल के माध्यम से काम करता है।

गलत खानपान आपको मानसिक विकारों के साथ-साथ न्यूरोन के डिजेनेरेटिव रोगों के प्रति अधिक संवेदनशील बना देगा।

बैलेंस डाइट खाने से मस्तिष्क से जुडी एक्टिविटी बढ़ेगी और याददाश्त में सुधार होगा, एकाग्रता में सुधार होगा और अवसाद और एंग्जायटी से भी राहत मिलेगी।

इसे भी पढ़ें : मेमोरी लॉस से लड़ने वाले प्राकृतिक खाद्य

याददाश्त बढ़ाने के लिए क्या खाएं

ग्लूकोज आपके मस्तिष्क के लिए ईंधन का काम करता है, जबकि प्रोटीन बिल्डिंग ब्लॉक्स और न्यूरोट्रांसमीटर के रूप में काम करता है।

दूसरी ओर फैटी एसिड (लिपिड) न्यूरॉन्स की रक्षा करने वाले नए मेम्ब्रेन बनाने में मदद करते हैं।

विविधता भरी डाइट का सेवन जरूरी है, जैसा कि दिन में 4 या 5 बार भोजन करना, भोजन न छोड़ना और ज्यादा पानी पीना।

लेकिन सबसे बढ़कर आपके आहार में ऐसे खाद्य पदार्थों को शामिल करन है जिसमें ये तत्व हों:

1. याददाश्त सही रखा है ओमेगा 3

ओमेगा 3 पॉलीअनसेचुरेटेड फैट है जो आपके शरीर को चाहिए लेकिन शरीर उसे खुद पैदा नहीं कर सकता। इन्हें नियमित खाना आपके मस्तिष्क के लिए अच्छा है।

वे आपके मस्तिष्क की कोशिकाओं के मेम्ब्रेन पर एक प्रोटेक्टिव परत के रूप में काम करते हैं। वे उन खाद्य पदार्थों में पाए जा सकते हैं जो आपकी मेमोरी को बढ़ाते हैं, जिनमें शामिल हैं:

  • ट्राउट
  • सार्डिन
  • टूना
  • शेलफिश
  • नट्स
  • सोया
  • वनस्पति तेल

2. एंटीऑक्सीडेंट

एंटीऑक्सिडेंट वनस्पति आधारित खाद्य पदार्थों में पाए जाते हैं।

वे सेल ऑक्सीकरण के कारण होने वाले नुकसान को कम करने और आपकी एकाग्रता को बेहतर बनाने में मदद करते हैं। आपका शरीर अपना खुद का एंटीऑक्सिडेंट बनाने में सक्षम है, फिर भी उन्हें अपने आहार में शामिल करना बहुत अच्छा है।

कुछ खाद्य पदार्थ जिनमें एंटीऑक्सिडेंट होते हैं:

  • जामुन
  • ब्रोकली
  • नट्स
  • ग्रीन टी
  • लहसुन
  • गाजर

इसे भी पढ़ें : 5 बेहतरीन मेमोरी एक्सरसाइज से तेज़ करें याददाश्त

3. विटामिन E

विटामिन E फैट में घुलनशील विटामिनों के ग्रुप से संबंधित है, जो कि ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस का मुकाबला करने में मदद करता है।

कुछ खाद्य पदार्थ जो आपकी मेमोरी बढ़ाते हैं और उनमें विटामिन E होता है:

  • मूंगफली
  • टमाटर
  • एस्परैगस
  • कीवी
  • कद्दू

4. पॉलीफेनोल

पॉलीफेनोल्स को ऐसे कम्पाउंड के रूप में परिभाषित किया जाता है जिनका एंटीऑक्सीडेंट असर होता है। वे पौधों में पाए जाते हैं।

कुछ खाद्य पदार्थ जिनमें पॉलीफेनोल होते हैं:

  • रास्पबेरी
  • चेरी
  • ग्रीन टी
  • अंगूर

5. याददाश्त बढ़ाने के लिए विटामिन B

फोलिक एसिड के रूप में जाना जाने वाला विटामिन B आपके होमोसिस्टीन लेवल को कम करने में मदद करता है, जिससे कार्डियोवैस्कुलर समस्याएं हो सकती हैं। यह आपके शरीर को न्यूरॉन्स सहित नई कोशिकाओं का उत्पादन करने में भी मदद करता है।

विटामिन B की कमी से एंग्जायटी, न्यूरो की समस्याएं और मेमोरी लॉस हो सकती है।

कुछ खाद्य जो आपकी मेमोरी को बढ़ाते हैं और उनमें विटामिन B होते हैं:

  • बादाम
  • स्विस कार्ड
  • पालक
  • पत्ता गोभी
  • अखरोट
  • एवोकैडो

ऐसे खाद्य जो याददाश्त को नुकसान पहुँचाते हैं

यदि आप याददाश्त को कम होने से रोकना चाहते हैं और दूसरी बीमारियों को दूर करना चाहते हैं, तो अपने आहार से इन खाद्य पदार्थों को हटायें:

  • चीनी, सफेद आटा, सफेद चावल। वे आपके तंत्रिका तंत्र को भी बदल सकते हैं और सक्रियता का कारण बन सकते हैं।
  • सेचुरेटेड फैट। आपकी याददाश्त पर असर डालने के अलावा यह पाचन को धीमा करता है।
  • प्रोसेस्ड फ़ूड। वे धीरे-धीरे आपकी याददाश्त को समझने और योजना बनाने की क्षमता को प्रभावित करते हैं।

मस्तिष्क को उत्तेजित करने के लिए सुझाव

  • बैलेंस पौष्टिक आहार लें।
  • अपना भोजन सही समय पर खाएं।
  • प्रकृति के संपर्क में रहें।
  • सप्ताह में 3 बार कम से कम 30 मिनट तक फिजिकल एक्टिविटी करें।
  • अपना ब्लडप्रेशर और कोलेस्ट्रॉल देखें।
  • स्ट्रेस का सामना करना सीखें।
  • वजन न बढ़ने को लेकर सावधान रहें, क्योंकि इससे मानसिक गिरावट और डिमेंशिया हो सकता है।
  • बाहर निकलें और मज़ेदार बातें करें और सामाजिक बनें ; अपना दिमाग साफ़ रखें।
  • रात में कम से कम 8 घंटे की नींद लें। यह आपके न्यूरोन को संतुलन में रखने में मदद करेगा।
  • दिन में कम से कम 8 गिलास पानी पिएं।

अपने मस्तिष्क का ख्याल रखें और बेहतर खाएं और अपनी लाइफस्टाइल में कुछ बदलाव करें। यह इसके लायक है।