जाँघों की जूँ (क्रैब्स) क्या है और ये कैसे फैलती है?

01 अप्रैल, 2020
जाँघों की जूँ आमतौर पर जेनिटल क्षेत्र को प्रभावित करती हैं। हालांकि ये पेट या कांख जैसे दूसरे अंगों में भी दिखाई दे सकती हैं। वे कैसे फैलती हैं? हम आपको इस आर्टिकल में उनके बारे में बताएंगे।
 

“क्रैब्स” जाँघों की जूँ के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला आम स्लैंग नाम हैं। ये छोटे कीड़े हैं जो इंसानों के जाँघों की बालों में रहते हैं। इस स्थिति को एक सेक्सुअली ट्रांसमिटेड रोग माना जाता है, पर यह एकमात्र तरीका नहीं है जिससे वे फैलती हैं।

एक्सपर्ट का अनुमान है कि लगभग एक मिलियन लोग हर साल क्रैब्स यानी जाँघों की जूँ का शिकार होते हैं। यह बहुत आम है। जिस कीड़े के कारण यह होता है उसे थाईरस प्युबिस (Pthirus pubis) कहा जाता है। यह खून पीकर जीता है और इसके काटने से जेनिटल एरिया में बहुत तेज खुजली होती है।

दिलचस्प तथ्य यह है कि पूरे इतिहास में कुछ ग्रंथों में जाँघों की जूँ के अस्तित्व का उल्लेख मिलता है, यहां तक ​​कि खुद बाइबिल में भी। ये सिर की जूँ की तरह ही होती हैं, लेकिन मुख्य फर्क यह है कि ये जूँ किसी दूसरी बीमारी को नहीं फैलाती हैं। हालाँकि, यह बहुत ही असुविधाजनक संक्रमण है जो पीड़ित लोगों के सामाजिक जीवन पर भी असर डाल सकता है। इसलिए इस लेख में हम आपको जाँघों की जूँ के बारे में बताएँगे।

जाँघों की जूँ कैसे काम करती है?

ज्यादातर मामलों में जाँघों की जूँ सेक्सुअली ट्रांसमिटेड होती है। हालांकि संक्रमण दूसरे तरीकों से फैल सकता है।

हमने ऊपर बताया है, जाँघों की जूँ छोटे कीड़े हैं जो इंसानों में विशेष रूप से जेनिटल एरिया में रहते हैं। जाँघों की जूँ और समुद्री केकड़ों के आकार में कुछ समानता होती है। वे सीमेंट जैसे एक पदार्थ के जरिये बालों से सट जाते हैं। वहाँ वे त्वचा को काटती हैं। काटना बहुत तेज होता है और उनकी लार और मल में मौजूद कुछ तत्वों के कारण खुजली होती है।

आमतौर पर इन्फेक्शन के एक हफ़्ते बाद लक्षण उभरते हैं। खुजली के अलावा त्वचा पर गांठ और थक्के बनना आम है, साथ ही खरोंचने से जुड़ी चोटें भी बनती हैं

ये अक्सर सिर्फ जाँघों को प्रभावित करती हैं, जाँघों की जूँ दूसरे क्षेत्रों में फैल सकती है। उदाहरण के लिए यह जानना अहम है कि यह किसी व्यक्ति के सीने के बालों, बगलों या पेट को भी अपनी चपेट में भी ले सकती हैं।

 

एक अहम तथ्य यह है कि वे पलकों में भी दिखाई दे सकती हैं। यह उन बच्चों में आम है, जिनके साथ यौन दुर्व्यवहार किया गया है। इसलिए बच्चों में इस तरह की जूँ की मौजूदगी कभी-कभी पेडियाट्रिसियन के लिए बलात्कार और यौन दुर्व्यवहार का संकेत भी होती है।

इसे भी पढ़ें : बालों को रखिये स्वस्थ, आजमाइए ये 5 नारियल तेल के नुस्ख़े

जाँघों की जूँ कैसे फैलती हैं

एक्सपर्ट जाँघों की जूँ  को एक सेक्सुअली ट्रांसमिटेड रोग मानते हैं। यह स्थिति आमतौर पर किसी ऐसे व्यक्ति के साथ यौन संपर्क के कारण होती है जो पहले से ही इससे संक्रमित हो। हालांकि इनके फैलने का यही एकमात्र तरीका नहीं है।

हालांकि यह बहुत कम देखा जाता है, लेकिन जाँघों की जूँ  संक्रमित व्यक्ति के कुछ कपड़ों, चादरों या तौलियों के इस्तेमाल से भी फैल सकती है।

बाथरूम या शौचालय जैसी जगहों से इस संक्रमण को हासिल करना लगभग असंभव है।

क्योंकि यह कीट लंबे समय तक इंसानी देह से दूर नहीं रह सकता है। उन्हें जीवित रहने के लिए लगभग 82 °F या ऊँचे टेम्परेचर की ज़रूरत होता है। फिर भी जिस किसी को भी यह संक्रमण हो, उसके आस-पास की सभी वस्तुओं और कपड़ों को अच्छी तरह से साफ किया जाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें : लीख से जल्दी पीछा कैसे छुड़ायें

जाँघों के जूँ की इन्फेक्शन की डायग्नोसिस और इलाज कैसे किया जाता है

जाँघों के जूँ की इन्फेक्शन

एक शारीरिक जांच आमतौर पर जाँघों की जूँ का पता लगाने के लिए पर्याप्त होती है। आमतौर पर उन्हें नंगी आंखों से देखा जा सकता है।

इनकी डायग्नोसिस बहुत आसान है क्योंकि यह आमतौर पर जननांग क्षेत्र का निरीक्षण करने से दिख जायेगी। आमतौर पर उन्हें नंगी आंखों से देखा जा सकता है। इस तरह डॉक्टर को आमतौर पर किसी दूसरे सबूत की ज़रूरत नहीं होती है।

कुछ क्रीम, शैंपू, और लोशन जो कीड़ों को मारते हैं, इसका इलाज कर सकते हैं। ज्यादातर लोगों को अक्सर सभी जूँ को मारने के लिए एकाधिक बार इसके इस्तेमाल की ज़रूरत  होती है। इसके अलावा, सभी कपड़ों, तौलियों और चादरों को अच्छी तरह से साफ करना ज़रूरी होता है।

 

हालांकि सबसे अहम बात आस-पास के लोगों, विशेषकर सेक्स पार्टनर को सावधान करने की ज़रूरत है क्योंकि यह बहुत संक्रामक इन्फेक्शन है।

निष्कर्ष

जाँघों की जूँ कीड़े हैं जो उन अंगों में खुजली का कारण बनते हैं जहां जननांगों पर बाल होते हैं। वे आमतौर पर संभोग के समय संक्रमित होते हैं लेकिन उनके कपड़ों या चादर आदि से भी फैल सकते हैं।

अगर इस संक्रमण के बारे में आपका कोई सवाल है, तो अपने डॉक्टर से सलाह लें। वे बीमारी को खत्म करने के लिए सबसे सही इलाज और कुछ सिफारिशों का संकेत देंगे।

  • Ladilla. (n.d.). Retrieved December 3, 2019, from https://www.brennerchildrens.org/KidsHealth/Parents/Para-Padres/Las-infecciones/Ladilla.htm
  • Ladillas: qué son y cómo se transmiten | Faros HSJBCN. (n.d.). Retrieved December 3, 2019, from https://faros.hsjdbcn.org/es/articulo/ladillas-como-transmiten
  • Ladillas (Pediculosis). El tratamiento de las enfermedades de transimisión sexual (ETS). Institut Marquès. (n.d.). Retrieved December 3, 2019, from https://institutomarques.com/ginecologia/unidad-de-la-mujer/enfermedades-de-transmision-sexual/ladillas/
  • Anderson AL, Chaney E. Pubic lice (Pthirus pubis): history, biology and treatment vs. knowledge and beliefs of US college students. Int J Environ Res Public Health. 2009;6(2):592–600. doi:10.3390/ijerph6020592