नेचुरल तरीकों से केलोइड निशान का इलाज कैसे करें

11 जुलाई, 2018
प्राकृतिक तरीकों से केलोइड निशान का इलाज करना बहुत ही स्वस्थ और सरल प्रक्रिया है। फिर भी, यह मानने से पहले कि आपकी मर्ज वाकई केलोइड निशान की है, इसकी सही डायग्नोसिस के लिए एक विशेषज्ञ से परामर्श लेना चाहिए।
जब हम केलोइड निशान का जिक्र करते हैं, तो हम उन घावों के बारे में बात कर रहे हैं जिनके घाव के चिन्ह उस हिसाब से नहीं ठीक होते जैसे हम चाहते हैं।
कुछ असामान्य रूप से ठीक होते हैं। उदाहरण के लिए, कुछ ऐसे निशान छोड़ते हैं जो मूल घाव से बड़े होते हैं, और उनका एक बहुत ही खास रंग होता है। इसके अलावा, कई लोग जिन्हें केलोइड निशान होते हैं, वे उस अंग पर दर्द और खुजली का सामना करते हैं।
इसलिए, केलोइड निशान न केवल सौंदर्य पर बदनुमा दाग बनते हैं, बल्कि असुविधा भी पैदा करते हैं। उनके गठन के दौरान, रोगियों को चिंता होने लगती है कि निशान किसी प्रकार का संक्रमण तो नहीं है।
इसलिए, यदि आप भी ऐसी किसी परेशानी का सामना कर रहें हैं, तो उस संभावना को ख़ारिज करने के लिए सीधे एक्सपर्ट से मिल लेना चाहिए।
हालांकि केलोइड निशान का सटीक कारण अज्ञात है, लेकिन ये निशान उन लोगों में बहुत आम हैं जिनकी त्वचा गहरे रंग की होती है।
केलोइड निशान जलने, सर्जरी, संक्रमण या मुँहासे के बाद दिखाई देते हैं।
वे शरीर के ऊपरी भाग में विशेष रूप से कान, गर्दन, पीठ और चेहरे पर भी होते हैं। इन कष्टप्रद निशानों से निपटने के लिए, स्थानीय दवा की दुकानों में जेल और लोशन हैं, या फिर लेजर थेरेपी।
फिर भी, हम प्राकृतिक तरीके से केलोइड निशान का भी ख्याल रख सकते हैं। हममें से कई लोग वैकल्पिक तरीकों का प्रयास करना पसंद करते हैं जो हमारे शरीर के लिए स्वस्थ और कम आक्रामक हैं।

केलोइड निशान का इलाज करने के लिए प्राकृतिक उपचार

एप्पल साइडर विनेगर

सेब का सिरका दिलाये केलोइड निशान से मुक्ति
यह महत्वपूर्ण है कि आप इस प्रकार का सिरका ही चुनें, कोई और नहीं। एप्पल साइडर विनेगर की अम्लता और गुण जलन और निशान के आकार को कम करने में मदद करते हैं।

आपको क्या करना चाहिये?

  • सबसे पहले, प्रभावित क्षेत्र पर सिरका डालें और धीरे-धीरे इसे 2 मिनट तक मालिश करें। फिर, इसे 5 मिनट के लिए सूखने दें।
  • समय बीतने के बाद, नियमित रूप से उपचार की प्रभावशीलता में सुधार के लिए इसी उपाय को हराएं।
  • हर दिन यह उपचार करना आपके लिए सुरक्षित है।

बेकिंग सोडा

केलोइड निशान के इलाज के लिए बेकिंग सोडा

एक शानदार एक्सफोलिएंट होने के अलावा, बेकिंग सोडा सूजन को भी कम करता है और त्वचा के कीटाणुओं को नष्ट करता है। आइये, नीचे हम आपको केलोइड निशान के इलाज के रूप में इसका उपयोग करने के तरीके के बारे में बताते हैं।

सामग्री

  • बेकिंग सोडा के 2 चम्मच (20 ग्राम)
  • हाइड्रोजन पेरॉक्साइड के 6 चम्मच (60 मिलीलीटर)

तैयारी

  • सबसे पहले, बेकिंग सोडा और हाइड्रोजन पेरॉक्साइड मिलाएं जब तक कि इसमें पेस्ट जैसा गाढ़ापन न आ जाए।
  • फिर इसे निशान पर लगाएं और इसे 3-4 मिनट तक काम करने दें।
  • इसके अतिरिक्त, यदि आप इसकी प्रभावशीलता को बढ़ाना चाहते हैं, तो इसे दिन में 4 बार लगा सकते हैं।
ऊपर दिए गए अनुपात में बदलाव करना संभव है। बस सुनिश्चित करें कि प्रत्येक 3 भाग हाइड्रोजन पेरॉक्साइड के लिए 1 भाग बेकिंग सोडा हो।

एलो वेरा

एलो वेरा से केलोइड निशान का इलाज

हमने पहले भी घावों के इलाज के लिए एलो वेरा के उपयोग का उल्लेख किया है। इस मामले में हम इसकी हाइड्रेटिंग गुणवत्ता के बारे में बात करना चाहते हैं।
दूसरी ओर, यदि आप संक्रमण से पीड़ित हैं, तो यह अविश्वसनीय पौधा आपको इससे छुटकारा पाने में मदद करेगा। प्रक्रिया बेहद आसान है।

आपको क्या करना चाहिये?

  • सबसे पहले, गर्म पानी के साथ प्रभावित क्षेत्र को धो लें। फिर, एलो वेरा के डंठल को खोलें और अपनी त्वचा पर जेल लगाएं।
  • इसे जितनी बार चाहें उतनी बार लगा सकते हैं।

शहद

केलोइड निशान का इलाज

ऊपर सूचीबद्ध उपचारों की तरह ही, शहद सूजन को काम करती है। यह नेचुरल एंटीसेप्टिक है। यह त्वचा को ताजगी प्रदान करती है जो कि केलोइड निशान की समस्या में बहुत लाभदायक है।

आपको क्या करना चाहिये?

दिन में कम से कम एक बार प्रभावित इलाके में इसे लगाना पर्याप्त है।
चूंकि शहद पूरी तरह से नेचुरल प्रोडक्ट है, इसलिए इससे सेकेंडरी साइड इफेक्ट्स नहीं होते – यदि आपको इससे एलर्जी नहीं है तो।

केलोइड निशान का इलाज करने के लिए लहसुन का तेल

लहसुन उन अतिरिक्त फाइबर को बनने से रोकने में उपयोगी है जो निशान के आकार को बढ़ाते हैं।

सामग्री

  • 3 लहसुन की कलियाँ
  • 2 कप ओलिव ऑइल (400 ग्राम)

बर्तन

  • एक गिलास की बोतल
  • 1 स्ट्रेनर

कैसे लगाएं

  • सबसे पहले, लहसुन छीलें।
  • एक कप में भरकर ओलिव ऑइल लें और इसे गर्म करें।
  • तेल में स्वाद के लिए लहसुन के टुकड़ों को डालें।
  • एक अलग पैन में दोनों को बाकी तेल के साथ मिलाएं और इन सबको एक ओवन पर रखें।
  • ओवन को 20 मिनट के लिए 250 डिग्री सेल्सियस पर सेट करें।
  • इसे ग्लास की बोतल में डालने से पहले ठंडा होने दें।
  • इसका उपयोग करने से पहले दो घंटे प्रतीक्षा करें।
  • निशान पर इस उपचार को लगाएं और इसे 10 मिनट तक स्थिर होने दें।
  • एक बार समय बीत जाने के बाद, मिश्रण को गर्म पानी से हटा दें।
ये ट्रीटमेंट केलोइड के गठन को कम करने में मदद करते हैं। फिर भी, त्वचा को नुकसानदेह सिंथेटिक तत्त्वों के संपर्क में आने से बचाना चाहिए।
किसी भी मामले में, हम हमेशा एक विशेषज्ञ से परामर्श करने की सलाह देते हैं, क्योंकि घाव बहुत नाजुक हो सकते हैं। एक बार जब घाव की डायग्नोसिस केलोइड के रूप में हो चुकी है, तो हम आपको इन उपचारों का उपयोग करने के लिए, और हमें आपके अनुभव पर आपकी प्रतिक्रिया देने के लिए, प्रोत्साहित करते हैं।