जानें कितना लाभदायक है अनन्नास का पानी

14 अगस्त, 2018
अनन्नास का पानी आम तौर पर अपने मूत्रवर्धक गुणों के कारण जाना जाता है लेकिन यह इतना गुणकारी है कि इसे अपनी डेली डाइट का हिस्सा बनाने में ही समझदारी है।

बहुत कम लोग यह जानते हैं कि अनन्नास का पानी हमारे लिए कितना लाभकारी है। अगर आपको इसकी जानकारी नहीं है तो हम आपको बताएंगे कि यह कितना गुणकारी है।

दरअसल, अनन्नास (Ananas comosus) गर्म स्थानों पर पाया जाने वाला एक स्वादिष्ट फल है। यह ब्रोमेलियाड्स (bromeliads) परिवार का एक सदाबहार पौधा है।

लंबे समय से इसे खाने और औषधीय गुणों के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसके तेज़ फ्लेवर में और भी कई गुणकारी तत्व होते हैं। इसमें रोगों से लड़ने और उनकी रोकथाम करने के गुण हैं।

अगर पोषण की बात करें तोअनन्नास में भारी मात्रा में पाचक एंजाइम और एंटीऑक्सीडेंट यौगिक होते हैं जो अंगों की डिटॉक्सीफिकेशन (शुद्धीकरण) प्रक्रिया में बहुत मददगार हैं।

इसके अलावा, आहार के तौर पर यह फाइबर, प्रोटीन और विटामिन का शानदार स्रोत है। ये सभी शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत अहम हैं।

वैसे कई लोग इसे यूं ही खाना पसंद करते हैं, जबकि कुछ इससे एक स्वादिष्ट औषधीय पेय बनाते हैं जिसे आप दिन में कई बार पी सकते हैं।

क्या आपने कभी अनन्नास का पानी पिया है? आज इस पोस्ट में हम आपको इसके फ़ायदों के बारे में बताएंगे। साथ ही, यह भी कि आप इनका लाभ कैसे उठा सकते हैं

इसे भी पढ़ें: हाई ब्लड प्रेशर को कम करने वाले अन्न, फल और सब्जियां

अनन्नास के पानी के आश्चर्यजनक लाभ

अनन्नास के पानी से कई तरह के स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं। यही नहीं, यह ज़रूरी पोषक तत्वों से भरपूर होता है। शरीर में पानी की सही मात्रा बनाए रखने के लिए इसे सबसे उपयुक्त माना जाता है।

अनन्नास का पानी

यह एंटी इंफ्लामेटरी है

ब्रोमेलेन एंजाइम की अधिक मात्रा के कारण यह पेय एक प्राकृतिक एंटी-इंफ्लामेटरी साधन है जो आपके शरीर की विभिन्न प्रकार के रोगों से सुरक्षा करता है।

  • इसके शरीर में पहुंचने पर रक्च संचार दोबारा ठीक हो जाता है और ऊतकों से अतिरिक्त द्रव्य को बाहर निकालने की प्रक्रिया को बढ़ावा मिलता है।
  • इसके अलावा, यह गठिया और हड्डी रोगों के मुख्य लक्षणों और अन्य इंफ्लामेटरी अवस्थाओं का मुकाबला करता है।
  • साथ ही, यह यूरिक एसिड के विघटन को बढ़ावा देता है। अत्यधिक मात्रा में यूरिक एसिड जमा होने पर किडनी स्टोन या गाउट की समस्या पैदा हो जाती है।

यह आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मज़बूत करता है

अपने नियमित आहार के हिस्से के तौर पर इस पेय का सेवन करना ज़रूरी विटामिट C की खुराक पाने का शानदार तरीका है। इसी वजह से यह आपके इम्यून सिस्टम के सुरक्षा तंत्र की सहायता के लिए आदर्श माना जाता है।

  • वायरस या बैक्टीरिया से होने वाले संक्रमणों का ख़तरा कम करने के लिए इसके सेवन की सलाह दी जाती है।
  • इसके अलावा, यह जुकाम और मूत्र संबंधी रोगों के लक्षणों से आराम पहुंचाने के लिए आदर्श है

वजन घटाने में मददगार

अनन्नास का पानी: वजन घटाता है

वजन कम करने के गुणों के कारण अनन्नास का पानी बहुत लोकप्रिय हो गया है। यह चमत्कारिक रूप से फैट कम नहीं करता है। फिर भी, यह वजन घटाने में मदद के लिए आदर्श माना जाता है।

  • इसके इस गुण का कारण इसमें कैलोरीज की कम मात्रा और पेट भरा होने काअहसास देने की इसकी क्षमता हैं।
  • भूख का अहसास न होने देने में सहायक होने के बावजूद यह आपका वजन नहीं बढ़ने देता है और डिटॉक्सिफिकेशन को बढ़ावा देता है।
  • इसके अलावा, इसमें मौजूद फाइबर पाचन प्रक्रिया में सुधार लाते हैं। यह कोलेस्ट्रॉल को भी नियंत्रित करता है।
  • अंत में, यह ऊर्जा के स्रोत के रूप में ग्लूकोज़ देता है और इस कारण मेटाबोलिज़्म से संबंधित कार्यों में सहायता करता है।

यह आपका लीवर साफ़ करता है

अनन्नास के पानी में पाए जाने वाले एंजाइम और एंटीऑक्सीडेंट लीवर की कार्यप्रणाली में सुधार लाने में बहुत मददगार होते हैं। ये इसके ऊतकों में बचे वेस्ट को बाहर निकलाने की प्रक्रिया को बढ़ावा देते हैं।

  • अपने शुद्धीकरण प्रभाव के कारण यह ख़ून के फिल्टर होने की प्रक्रिया में सुधार लाता है जो कि टॉक्सिन बाहर निकालने के लिए ज़रूरी है।
  • इसके अलावा, इसके एंटीऑक्सीडेंट कोशिकाओं की दोबारा विकसित होने में मदद करते हैं और फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान के विरुद्ध सुरक्षा प्रदान करते हैं

इसे भी जानें: 5 शानदार फ्रूट स्मूदी जो वज़न घटाने में हैं उतने ही असरदार

यह आपकी थायरॉइड ग्रंथि को स्वस्थ रखता है

अनन्नास का पानी: थायरॉइड

अनन्नास के पानी में न्यूनतम मात्रा में आयोडीन और ज़रूरी खनिज होते हैं जो थायरॉइड ग्रंथि के कार्यों के लिए मदगार होते हैं। 

  • इसका सेवन करने से हाइपोथायरॉइडिज़्म और हाइपरथायरॉइडिज़्म जैसे रोगों के होने का ख़तरा कम हो जाता है।
  • थायरॉइड विकार से ग्रस्त रोगियों में यह कुछ लक्षणों को नियंत्रित करने में मदद करता है।
  • इसमें पाए जाने वाले ब्रोमेलेन के कारण यह थायरॉइड ग्रंथि की कार्यप्रणाली में गड़बड़ी के कारण ऑटो इम्यून रोग होने का ख़तरा कम करता है।

घर पर अनन्नास का पानी कैसे तैयार करें

अनन्नास का पानी तैयार करना बहुत आसान है। इसे रोज़ाना तैयार किया जा सकता है। विशेष तौर पर अगर आप अपने आहार में तरल का सेवन बढ़ाना चाहते हैं।

सामग्री

  • 1/2 अनन्नास, छिलके के साथ
  • 4 कप पानी (1 लीटर)

तैयारी

  • सबसे पहले, छिलका उतारे बगैर अनन्नास के कई टुकड़े कर लें।
  • फिर, इन्हें एक बर्तन में डालें और पानी में डुबो दें।
  • 10 या 15 मिनट इसे उबलने दें और फिर ठंडा होने दें।
  • गुनगुना या ठंडा होने पर इसे छलनी से छानकर पियें।

सेवन

  • एक कप अनन्नास का पानी खाली पेट पियें और खाना खाने से पहले हर बार दोहराएं।
  • इसमें शूगर या आर्टिफिशियल स्वीटनर्स मिलाने से बचें क्योंकि ये इसके स्वास्थ्यवर्धक गुणों को कम कर सकते हैं।

अगर आपने इस स्वास्थवर्धक पेय को अब तक नहीं आज़माया है तो देर न करें। घर पर इसकी रेसिपी तैयार करें और जानें कि यह आपके स्वास्थ्य के लिए कितना फ़ायदेमंद है!

  • James A. Duke. La nueva farmacia natural: Alimentos curativos para prevenir y tratar más de 75 males comunes. Rodale, 2010.
  • Q. Ashton Acton. Gingivitis: New Insights for the Healthcare Professional: 2013 Edition: ScholarlyPaper.
  • Paul Pitchford. Sanando con alimentos integrales: tradiciones asiáticas y nutrición moderna. North Atlantic Books, 2007.