क्या होता है, जब आप एक विषाक्त संबंध त्याग देते हैं

जून 27, 2019
एक टॉक्सिक संबंध प्रामाणिक प्रेम की आपकी मूल अवधारणाओं को विकृत करता है। जब आप एक विषाक्त संबंध का त्याग करते हैं, तो इसके फायदे आपके जीवन के सभी पहलुओं में गूंजते हैं।

एक टॉक्सिक संबंध आपको तोड़ देता है, आपकी पहचान को नुकसान पहुंचाता है और आपके आत्मसम्मान को कमजोर करता है। यह विश्वसनीय प्रेम, सम्मान और जीवन को साझा करने वाली सभी बातों के बारे में आपकी मूल अवधारणाओं को विकृत करता है। इसलिए, जब आप अंततः एक विषाक्त संबंध छोड़ देते हैं, तो लाभ आपके जीवन के सभी पहलुओं में दिखने लगता है।

हम जानते हैं कि कुछ प्रकार के रिश्तों को ‘विषाक्त’ कहने का प्रचलन है। लोग किसी भी अपमानजनक, हानिकारक या नियंत्रित व्यवहार के बारे में बात करने के लिए इस शब्दावली का प्राय: अत्यधिक उपयोग करते हैं। हालांकि, हमें इस लोकप्रिय शब्द का उपयोग करने से पहले किसी रिश्ते का विस्तार से सावधानीपूर्वक विश्लेषण करने की जरूरत है।

कभी-कभी, एक असामान्य व्यवहार वास्तव में एक अलग विकार के कारण हो सकता है जिसे एक अलग दृष्टिकोण की जरूरत होती है। जमीनी बात यह है कि हमें लेबलों से सावधान रहना चाहिए।

जटिल लोग और उलझे हुए रिश्ते प्रचुर मात्रा में मौजूद हैं। हालांकि, कभी-कभी एक व्यक्ति समस्याओं का मूलकेंद्र और भावनात्मक, शारीरिक या मनोवैज्ञानिक दुरुपयोग का भँवर बन जाता है। यह एक जहरीले रिश्ते का सच्चा स्वभाव है।

यदि आपने कभी इसका अनुभव किया है और आप रिश्ते से बाहर निकलने में कामयाब रहे हैं, तो आपको पता होगा कि यह प्रक्रिया आसान नहीं है। तंदुरुस्त

इन सबसे ऊपर, हम यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि एक विषैले साथी के साथ तत्काल संबंध समाप्त कर देने का यह मतलब नहीं होता कि आप तत्काल खुशी और तंदुरुस्त अनुभव करने लगेंगे। जब आप एक विषाक्त संबंध अंततः छोड़ देते हैं, तो आपके जीवन को बेहतर होने में थोड़ा समय लगेगा ही।

प्रक्रिया न तो आसान है और न ही तेज है।

आपके द्वारा विषाक्त संबंध छोड़ने के बाद, एक घाव बना रहता है।

आइए एक पल के लिए एक व्यक्ति की कल्पना करें, जो शाखाओं और कंटीली झाड़ियों से भरे घने जंगलों के बीच हाथ द्वारा नेतृत्व किया जा रहा हो।

यह व्यक्ति खुद को नेतृत्व करने की अनुमति देता है क्योंकि वे दूसरे व्यक्ति पर भरोसा करते हैं। हालांकि, वे जानते हैं कि यात्रा थकाऊ है, सांस घुटने वाली है, और शाखाएं उनकी त्वचा को खरोंचती हैं।

वे अपने आस-पास जो कुछ भी देख सकते हैं वह सुंदर या आशावान दिखता है।

आप पसंद कर सकते हैं : एकतरफा रिलेशनशिप को भुला देने के तीन स्टेप

वे अंततः इस हाथ को जाने देने का फैसला करते हैं और अपने तरीके से आगे बढ़ते हैं। वे ऐसा अपनी खुशी को वापिस पाने के लिए और दूसरे व्यक्ति को एक अलग रास्ते पर आगे बढ़ने की अनुमति देने के लिए स्वतंत्र महसूस करते हैं।

जब वे ऐसा करते हैं, तो वे तीव्र और विरोधाभासी भावनाओं का अनुभव करते हैं।

  • वे मुश्किल से खुद को पहचानते हैं। इस दर्दनाक यात्रा का परिणाम होता है कि वे कई निशान और खुले घावों का साथ छोड़ जाते हैं।
  • वे थका हुआ महसूस करते हैं। सांसें लेनी मुश्किल होती है और ठीक होने के लिए एक‌ मात्र ‌विकल्प चुपचाप और शांत रहना होता है।
  • वे खो गए। वे जंगल के उस हिस्से में रुके हैं जहाँ उन्हें रास्ता नहीं पता है। वे नहीं जानते कि अब कौन सी राह पकड़नी है।

जब वे एक विषाक्त संबंध छोड़ देते हैं, तो अंततः उन्हें राहत मिलेगी। इसमें कोई संदेह नहीं है। हालांकि, तत्काल ही तंदुरुस्त नहीं महसूस करेंगे।

वे किसी निर्जन स्थान की जरूरत महसूस करेंगे, खुद को फिर से खोजने के लिए, अपने घावों की पहचान करने के लिए, विचार करने और सोचने के लिए कि वे अपने जीवन में कहां हैं और उन्हें क्या करना चाहिए।

यह भी पढ़ें : पैसिव एग्रेसिव व्यक्ति: इनके बारे में जानिए 3 बातें

स्वस्थ होने ‌का समय, आश्रय लेने का समय

विषाक्त संबंध छोड़ने के बाद अंतिम चीज जो करनी चाहिए वह है एक नए रिश्ते में आराम की तलाश।

कोई भी व्यक्ति एक दूसरे रिश्ते में आकर तुरंत अपने को ठीक नहीं कर सकता। ऐसा करना चिकित्सीय या स्वस्थपूर्ण नहीं है।

यह पहला दौर इसलिए किसी और को हमारे घावों को ठीक करने, हमारी संवेदना को कम करने या हमें भूलने में मदद करने की आवश्यकता नहीं है।

कुल मिलाकर, सबसे अच्छी बात जो करनी चाहिए वह यह कि इस आंतरिक यात्रा में चलने के लिए खुद को समय दें।

हमें अपने आत्मसम्मान को फिर से प्राप्त करने, अपनी पहचान को सुधारने, अपनी आशाओं को पोषण करने और खुद पर भरोसा करना सीखने के लिए समय की आवश्यकता है।

हमें घृणा, भय और निराशा को अपनी आत्मीय अंतरंगता के ढांचे से और अधिक मजबूती से निकालना होगा।

पसंद हो या न हो, हमें कुछ ठोस शोक प्रक्रिया को निर्दिष्ट रूप देने की आवश्यकता है। थोड़ा-थोड़ा करके ही सही, इससे हमें मदद मिलेगी :

  • अपनी भावनाओं को मुक्त करें
  • गुस्से को प्रवाहित करें
  • एक लचीला रवैया विकसित करें
  • याद रखें कि हम किस लायक हैं और हम क्या अधिकार रखते हैं

जब हम खुद को फिर से प्यार करेंगे तभी हम खुद को सही इंसान खोजने के लिए तैयार करेंगे।

यह भी पढ़ें : सच्चा प्यार करने वाला आपको सुकून और स्थिरता का भरोसा देता है

सौदेबाजी या नए विषाक्त संबंधों को मेरी मर्यादा स्वीकार नहीं करती है

आप शायद कम से कम एक व्यक्ति से मिले हों, जो एक विषाक्त संबंध को छोड़ने के बाद, दूसरे एक रिश्ते में सही हो गया हो।

एक जैसे अपमानजनक और थका देने वाली स्थितिए में पुनः फंस जाना आपके सोच से अधिक सामान्य बात है।

याद रखें : हमें स्वस्थ आत्म-सम्मान का निर्माण करना चाहिए और याद रखना चाहिए कि हमारी गरिमा को खरीदा या बेचा नहीं जा सकता।

यह याद रखना अत्यंत जरूरी है कि हम सबसे अच्छे के लायक हैं। प्यार करने का मतलब पीड़ा नहीं है, पागल, स्वार्थी और हानिकारक प्यार पर सामंजस्य भरा एकांत हमेशा बेहतर होता है।

निष्कर्ष के तौर पर, हम यह स्पष्ट करना चाहते हैं कि विषाक्त संबंध छोड़ने का सरल कार्य आपको तत्काल खुशी नहीं देगा।

हमें स्वयं में सुधार करने और अपने आत्मसम्मान और मर्यादा को दुरुस्त करने की जरूरत है ताकि हमेशा याद रहे कि फिर से नुकसानदायक रिश्तों में न पड़ें।

आइए सुनिश्चित करें कि यह अनुभव हमें विषाक्त प्रेम को ‘फिर नहीं’ कहना  सीखने की अनुमति दे।

मुख्य चित्र wikiHow.com के सौजन्य से

  • Amor, Pedro Javier, et al. “Variables psicosociales y riesgo de violencia grave en parejas con abuso de sustancias tóxicas y maltrato previo [Psychosocial variables and risk of severe violence in couples with substance abuse and previous maltreatment].” Acción Psicológica 9.1 (2012): 3-18.
  • Gayá, Verónica. “Acoso y Maltrato: La invisibilidad del origen es el gran problema de las relaciones tóxicas.” El siglo de Europa1145 (2016): 44-45.
  • Glass, Lillian. Relaciones tóxicas: 10 maneras de tratar a las personas que te complican la vida. Paidós, 1997.
  • Ross, Gregorio Armañanzas. Relaciones tóxicas: acoso, malos tratos y mobbing. Ediciones Eunate SL, 2013.