एस्पिरिन के 6 उपयोग, जिनके बारे में आपको किसी ने नहीं बताया होगा

11 अक्टूबर, 2018
अपने केमिकल कंपाउंड की वजह से एस्पिरिन के सबसे कारगर इस्तेमाल में एक है, पैर के फंगस को ख़त्म कर उसे दुबारा नरम बनाना।

अपनी असरदार सूजनरोधी, एनाल्जेसिक और खून के थक्के रोकने वाली खूबियों की बदौलत एस्पिरिन नाम से मशहूर एसिटाइलसैलिसाइलिक एसिड (Acetylsalicylic acid) दुनिया भर में सबसे ज़्यादा इस्तेमाल की जाने वाली ओवर द काउंटर दवाइयों में से एक है।

सिरदर्द, मांसपेशियों के दर्द और सर्दी-ज़ुखाम जैसी तकलीफ से निजात पाने के लिए पुराने ज़माने से ही इसका इस्तेमाल किया जाता रहा है।

ब्लड सर्कुलेशन की समस्याओं और दिल के दौरे के खतरे के खिलाफ़ भी सबसे कारगर दवाइयों में इसका उपयोग होता है।

लेकिन ज़्यादातर लोगों को यह नहीं पता, एस्पिरिन के और भी कई फायदे हैं। यह घरेलू कॉस्मेटिक्स और उत्पादों के तौर पर काम जो आ सकती है।

आज हम आपको एस्पिरिन के 6 ऐसे ही दिलचस्प उपयोगों के बारे में बताने जा रहे हैं।

1. होंठों के लिए घरेलू एक्सफोलिएंट (homemade lip exfoliant)

एस्पिरिन के उपयोग: घरेलू एक्सफोलिएंट

एसिटाइलसैलिसाइलिक एसिड की खूबियों की बदौलत होंठों की नाज़ुक परत को उतारने व उसकी रक्षा करने में एस्पिरिन  एक कमाल का विकल्प है

इसका इस्तेमाल करने से आप होंठों की त्वचा उतरने, मृत कोशिकाओं के जमा होने और फटे होंठों से बची रहेंगी।

सामग्री

  • एक चम्मच ब्राउन शुगर (12.5 ग्राम)
  • एक चम्मच शहद (7.5 ग्राम)
  • एक चम्मच ऑलिव ऑयल (5 ग्राम)
  • एस्पिरिन की दो गोलियां
  • विटामिन E के तेल की छह बूँदें

बनाने और सेवन की विधि

  • ओखली और मूसल की मदद से एस्पिरिन को पीसकर उसका बारीक पाउडर बना लें।
  • उसमें बाकी सामग्री डालकर उन्हें  पीसें और एक गाढ़ा पेस्ट बना लें।
  • उस मिश्रण को होंठों पर लगाकर एक्सफोलियेट करने के लिए उसे गोल-गोल घुमाएं
  • इसे पांच मिनट तक अपना काम करने दें। उसके बाद उसे धो लें।
  • इसे हफ्ते में एक बार आजमाएं।

इसे भी आजमायें: क्या होता है जब आप ऐस्परिन हेयर ट्रीटमेंट का इस्तेमाल करते हैं

2. त्वचा में एक नयी ताज़गी भरने वाली छीलन (Rejuvenating peel)

त्वचा के दाग-धब्बों और मृत त्वचा को हटाकर उसे नया करने वाले ब्यूटी ट्रीटमेंट को माइक्रोडर्म एब्रेशन ( microderm abrasion) कहा जाता है।

हालांकि अक्सर इसे ख़ास कॉस्मेटिक उत्पादों की मदद से किया जाता है, घर पर आप एस्पिरिन के इस्तेमाल से भी ऐसा कर सकते हैं।

सामग्री

  • एस्पिरिन की पांच गोलियां
  • दो चम्मच नींबू का रस (20 मिलीलीटर)
  • एक चम्मच बेकिंग सोडा (10 ग्राम)

बनाने और सेवन की विधि

  • एस्पिरिन और नींबू के रस से एक गाढ़ा मिश्रण बना लें।
  • अपने चेहरे को साफ़ कर उस मिश्रण को बीस मिनट तक उस पर लगाए रखें।
  • उसके बाद, गोल-गोल मालिश करते हुए ठंडे पानी से उसे धो लें।
  • नींबू में मौजूद एसिड को बेअसर करने के लिए थोड़ा-सा बेकिंग सोडा लगाकर अपने चेहरे को दुबारा धो लें।
  • अपनी त्वचा को नम कर इस प्रक्रिया को ख़त्म करें। इसे हफ्ते में दो बार दोहराएं।

3. पैर का इलाज

एस्पिरिन के उपयोग: पैर का इलाज

फंगल ग्रोथ, सूखेपन और घट्टों जैसी पैर की समस्याओं से लड़ना एस्पिरिन के सबसे कमाल के उपयोगों में शामिल है।

इसके एक्टिव कम्पाउंड त्वचा को नरम बनाकर बीमारी फैलाने वाले कीटाणुओं के खिलाफ एक सुरक्षा कवच बनकर खड़े रहते हैं

सामग्री

  • एस्पिरिन की पांच गोलियां
  • एक चम्मच नींबू का रस (5 मिलीलीटर)
  • एक चम्मच पानी (10 मिलीलीटर)

बनाने और इस्तेमाल की विधि

  • एस्पिरिन को पीसकर उसके पाउडर को नींबू के रस और एक चम्मच पानी में मिला लें।
  • एक पेस्ट बन जाने पर उसे अपनी सूखी त्वचा पर 30 मिनट तक लगाए रखें
  • गर्म पानी से धोकर प्यूमिक स्टोन की मदद से मृत त्वचा को हटा लें।
  • उस मिश्रण को हफ़्ते में तीन बार लगाकर बाद में मॉइस्चराइज़िंग क्रीम का इस्तेमाल करें।

इसे भी पढ़ें: 6 गजब के उपचार जो मस्सों से छुटकारा दिलाकर बढ़ायेंगे आकर्षण

4. दाग हटाने और निखार लाने वाला तत्व

एसिटाइलसैलिसाइलिक एसिड पसीने के धब्बों के साथ-साथ मूल रूप से सफ़ेद रंग वाले कपड़ों का रंग बदल देने वाले कई अन्य दाग-धब्बों को हटाने में मददगार साबित होता है।

सामग्री

  • एस्पिरिन की पांच गोलियां
  • पानी (आवश्यकतानुसार)

निर्देश

  • एस्पिरिन को पीसकर पानी में मिला लें। एक गाढ़ा पेस्ट बना लें।
  • इस मिश्रण को पसीने के दाग-धब्बों पर पंद्रह मिनट के लिए लगाकर छोड़ दें।
  • कपड़े को सामान्य रूप से धोने के बाद आप पाएंगे, वह नए जैसा हो गया है।

5. त्वचा के अंदर उगे बाल

एस्पिरिन के उपयोग: इन्ग्रोन बालों से छुटकारा पाएं

इस दवा के एक्सफोलियेट करने वाले गुण त्वचा के अंदर उगने वाले बालों से पैदा होने वाली असहजता से छुटकारा दिलाने के लिए एकदम सही होते हैं।

उसके सूजनरोधी प्रभाव से त्वचा की सूजन कम हो जाती है व बाल को बाहर खींच निकालने में मदद मिलती है।

सामग्री

  • एस्पिरिन की एक गोली
  • एक चम्मच नारियल का तेल (7.5 ग्राम)

बनाने और इस्तेमाल की विधि

  • पिसी हुई एस्पिरिन को नारियल तेल में मिलाकर उसे प्रभावित जगह पर लगा लें।
  • पंद्रह मिनट तक इंतज़ार कर उसे धो लें।
  • समस्या के गायब हो जाने तक इस प्रक्रिया को रोज़ाना दोहराएं।

6. बाथरूम क्लीनर

एस्पिरिन का इस्तेमाल बाथटब और नाली में जमा साबुन की झाग और लाइम को हटाने के लिए किया जाता है।

सामग्री

  • एस्पिरिन की पांच गोलियां
  • लिक्विड साबुन या डिटर्जेंट

निर्देश

  • एस्पिरिन की पांच पिसी हुई गोलियों को थोड़े से लिक्विड साबुन या फिर डिटर्जेंट में मिलाकर उस मिश्रण का इस्तेमाल गंदी जगहों को साफ़ करने में करें।
  • दस मिनट तक लगाए रखने के बाद उसे ठंडे पानी से धो दें।

अगर आप भी उन्हीं लोगों में से थे, जो एस्पिरिन के ऐसे अलग उपयोगों से वाकिफ़ नहीं थे, तो बेशक अब आप उस श्रेणी से बाहर आ चुके हैं!

एस्पिरिन के फायदे देखकर आप दंग रह जाएंगे!