नेचुरल तरीके से खांसी से लड़ने के लिए प्याज का इस्तेमाल करें

प्याज में मौजूद गुण श्वसन के संक्रमण से मुकाबले के लिए एकदम सही हैं, आप इसे प्राकृतिक चीजों के साथ मिलाकर करने से उनके एक्स्पेक्टोरेंट गुणों को भी बढ़ा सकते हैं।
नेचुरल तरीके से खांसी से लड़ने के लिए प्याज का इस्तेमाल करें

आखिरी अपडेट: 03 फ़रवरी, 2021

प्याज एक नेचुरल फ़ूड है जो सांस की समस्याओं से लड़ने में मदद करती है और खांसी से प्राकृतिक रूप से लड़ती है। यह अपने प्राकृतिक गुणों के कारण ऐसा कर पाती है।

प्याज एंटीऑक्सिडेंट, एंटी इन्फ्लेमेटरी एजेंट और एंटीबायोटिक कम्पाउंड से समृद्ध हैं। इसलिए यह ऐसी सब्जी है जो रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट पर हमला करने वाले वायरस और बैक्टीरिया से लड़ने में आपकी मदद करती हैं।

दिलचस्प बात यह है कि ट्रेडिशनल मेडिसिन से अलग प्याज अवांछित साइड इफेक्ट का कारण नहीं बनता है। आप उन्हें कई सामग्रियों के साथ भी मिला सकते हैं जो आपकी इम्यून हेल्थ को बढ़ाते हैं।

एक्स्पेक्टोरेंट होने के अलावा प्याज के दूसरे प्रभाव भी है। वे कंजेशन को भी कम करते हैं और गले के दर्द और कफ की मात्रा को नियंत्रित करते हैं।

क्या आप जानते हैं, उनका इस्तेमाल कैसे करना है? नीचे बताये गए नुस्खों को आज़मायें।

खांसी से लड़ने के लिए प्याज और शहद

खांसी से लड़ने के लिए प्याज और शहद

जब आप प्याज में मौजूद पोषक तत्वों को शहद के एंटीबायोटिक गुणों से मिलाते हैं, तो आपको एक शक्तिशाली नेचुरल सिरप मिलता है। यह खांसी को शांत करता है और बलगम को घटाता है।

दोनों तत्व आपके रेस्पिरेटरी ट्रैक्ट में होने वाली जलन को कम करते हैं। साथ ही वे आपके शरीर में जमा टोक्सिन को बाहर निकालने में आपकी मदद करते हैं।

सामग्री

  • 1 प्याज
  • ½ कप शहद

निर्देश

  • प्याज को छोटे टुकड़ों में काट लें और उन्हें कांच के जार में डाल दें।
  • फिर शहद को जार में डालें। सुनिश्चित करें कि यह पूरी तरह से प्याज को ढक ले।
  • जार पर एक ढक्कन रखें और इसे 12 घंटे तक ठंडी, अंधेरी जगह पर रखें।

इसका इस्तेमाल कैसे करें

  • नाश्ते के लिए एक बड़ा चम्मच सिरप लें। इसे रोजाना दो या तीन बार लें।
  • इसे रोजाना लें जब तक खांसी से छुटकारा नहीं मिले।

इसे भी पढ़ें : खांसी का नुस्खा बनाने के लिये अदरक का इस्तेमाल कैसे करें

प्याज और लहसुन की चाय

गर्म चाय में प्याज और लहसुन मिलाने से गले की जलन से राहत मिलती है। यह ज्यादा बलगम होने पर मददगार होता है।

इसके विटामिन और मिनरल आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत करते हैं। वे आपके रेस्पिरेटरी सिस्टम पर हमला करने वाले पैथोजेन के लिए शरीर की प्रतिक्रिया करने की क्षमता में मदद करते हैं।

सामग्री

  • ½ प्याज
  • 1 लहसुन की कली
  • 2 कप पानी

निर्देश

  • प्याज और लहसुन को काट लें। उन्हें पानी के साथ एक बर्तन में डालें और उबालने के लिए छोड़ दें।
  • पानी उबलने लगे तो आँच को कम कर दें। इसे दो या तीन मिनट तक और उबलने दें।
  • फिर इसे आंच से हटा दें। इसे तब तक कमरे के तापमान पर ठंडा होने दें जब तक कि यह ठंडा न हो जाए।
  • बाद में इसे सर्व करें।

प्याज, लहसुन और गाजर का जूस


इस जूस में प्याज होती है जो विटामिन, मिनरल और दूसरे महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से भरा होता है। वे आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करते हैं। यह खांसी और श्वसन संक्रमण से लड़ने में बेहतर मदद करता है।

इसमें एक्सपेक्टोरेंट और एंटी-इन्फ्लेमेटरी गुण होते हैं। ये कफ और दूसरे अवशेषों से छुटकारा पाने में आसान बनाते हैं जो कंजेशन का कारण बनते हैं।

सामग्री

  • मीडियम साइज़ की प्याज
  • 1 लहसुन की कली
  • सेलर के 2 डंठल
  • 1 मीडियम साइज़ की गाजर
  • 3 कप पानी

निर्देश

  • सभी सामग्रियों को धो लें, उन्हें छील लें, फिर उन्हें छोटे टुकड़ों में काट लें।
  • उन सभी को अपने ब्लेंडर में डालें और पानी डालें।
  • जब तक आपको एक स्मूद ड्रिंक न मिल जाए उन्हें कुछ मिनटों के लिए ब्लेंड करें।

कैसे पीना है

  • नाश्ते के लिए एक कप जूस पिएं। फिर इसे दोपहर में और फिर बिस्तर पर जाने से पहले पी लें।
  • इसे हर दिन तब तक पियें जब तक आपकी खांसी नहीं चली जाती।
  • इसे हर हफ्ते दो या तीन बार पी सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : खांसी, एलर्जी या फ्लू के इलाज में मदद के लिए प्याज का इस्तेमाल करें

प्याज और नींबू का जूस


प्याज और नींबू का जूस एक नेचुरल एंटीबायोटिक और एक्सपेक्टोरेंट है। यह आपको ऐसे रेस्पिरेटरी इन्फेक्शन का इलाज करने में मदद करता है जो खांसी का कारण बनता है।

इस जूस के लिए हम थोड़ा नींबू का जूस मिलाने का सुझाव देते हैं। कारण यह है कि नींबू का जूस इसके पोषण गुणों को बढ़ाता है और प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है।

सामग्री

  • ½ प्याज
  • नींबू

निर्देश

  • सबसे पहले प्याज का आधा हिस्सा काट लें और इसे जूसर के माध्यम से चलाएं।
  • इसका जूस निकालने के बाद इसे आधे नींबू के जूस के साथ मिलाएं।

इसे कैसे पीना है

  • नाश्ते के लिए इस प्याज और नींबू के जूस के दो या तीन बड़े चम्मच पिएं। चाहें तो दोपहर को फिर से वही पानी पी सकते हैं।
  • जब तक आप अपनी खांसी से छुटकारा नहीं पा लेते तब तक इसे हर दिन पिएं।

क्या आप अक्आसर खांसी से पीड़ित होते हैं? क्या आपको श्वसन संक्रमण है?

जैसा कि आप देख सकते हैं, इन समस्याओं के लिए प्याज की क्लीनिंग पावर का आनंद लेने के कई तरीके हैं। यदि आप इन लक्षणों से लड़ रहे हैं, तो इंतज़ार न करें, इस इलाज को आज़माएं।

यह आपकी रुचि हो सकती है ...
गले में खराश के लिए 3 प्राकृतिक नुस्ख़े
स्वास्थ्य की ओरइसमें पढ़ें स्वास्थ्य की ओर
गले में खराश के लिए 3 प्राकृतिक नुस्ख़े

आज हम आपको बताएंगे, गले में खराश के बारे में आपको क्या जानना चाहिए। फिर नेचुरल तरीके से राहत पाने के लिए आपको तीन तरीके बताएंगे।



  • Zhou, X., Yu, G., & Wu, F. (2011). Effects of intercropping cucumber with onion or garlic on soil enzyme activities, microbial communities and cucumber yield. European Journal of Soil Biology. https://doi.org/10.1016/j.ejsobi.2011.07.001
  • Nithya, A., & Babu, S. (2017). Prevalence of plant beneficial and human pathogenic bacteria isolated from salad vegetables in India. BMC Microbiology. https://doi.org/10.1186/s12866-017-0974-x
  • Roldán, E., Sánchez-Moreno, C., de Ancos, B., & Cano, M. P. (2008). Characterisation of onion (Allium cepa L.) by-products as food ingredients with antioxidant and antibrowning properties. Food Chemistry. https://doi.org/10.1016/j.foodchem.2007.11.058