साइनोसाइटिस से राहत पाने के लिए दो सामग्रियों का असरदार योग

अदरक और सिरके के गुणों को कंबाइन कर आप कुछ ही समय में साइनसाइटिस से राहत पा सकते हैं। लेकिन इस बात में कोई दो राय नहीं कि इस उपचार का सिलसिलेवार पालन करते रहना बेहद ज़रूरी है। 
साइनोसाइटिस से राहत पाने के लिए दो सामग्रियों का असरदार योग

आखिरी अपडेट: 29 दिसम्बर, 2018

साइनोसाइटिस पर चर्चा में जाने से पहले यह जान लें कि साइनस हड्डियों से बने हवा भरे छेद हैं जो आपकी खोपड़ी यानी स्कल के भीतर और नाक से पास स्थित हैं।

ये बलगम पैदा करने वाले सेल्स से जुड़े होते हैं। यही कोशिकाएँ सांस लेते वक्त उसके आस-पास के क्षेत्र को चिकनाई देती हैं।

बैक्टीरिया या वायरस के संक्रमण से ग्रस्त होने की परिस्थिति में इस मुलायम टिश्यू में सूजन आ सकती है और आप साइनोसाइटिस नाम की एक मेडिकल कंडीशन के शिकार हो सकते हैं।

नतीजतन आपको ज़्यादा बलगम आना शुरू हो जाता है। कई दूसरे बदलाव भी सामने आते हैं। बलगम का रंग तक बदल जाता है। कई बार यह पीले या हरे रंग का हो जाता है।

इसके अलावा, अक्सर तीव्र सिरदर्द और नाक और उसके ऊपरी हिस्से में तेज़ दबाव का अनुभव बना रहता है।

यदि आप सर्दी लगने या प्रूदषण की चपेट में आने के बाद इसका शिकार होते हैं, तो संक्रमण ज्यादा बढ़ जाता है। लेकिन कुछ लोग क्रोनिक साइनोसाइटिस से पीड़ित होते हैं जो 10 से 12 हफ़्ते तक बना रह सकता है।

कुछ ऐसे घरेलू उपचार उपलब्ध हैं जिनसे आप साइनोसाइटिस के लक्षणों पर काबू पाकर इससे राहत महसूस कर सकते हैं।

इस लेख में हम एक ऐसे ही घरेलू ट्रीटमेंट की बात करेंगे जिसमे केवल दो अद्भुत इन्ग्रेडिएंट के मेल से आपको लाभ होगा।

क्या आप इस बारे में जानने के लिए तैयार हैं?

साइनोसाइटिस से राहत पाने के लिए दो सामग्रियों का असरदार योग

साइनोसाइटिस के इस ट्रीटमेंट के लिए आपको जिंजर रूट यानी अदरक और एप्पल साइडर विनेगर के योग की ज़रूरत पड़ेगी।

अदरक और एप्पल साइडर विनेगर, दोनों ही अपने एंटी-इंफ्लेमेटरी (anti-inflammatory), एंटीऑक्सीडेंट (antioxidant) और डिकन्जेस्टेंट (decongestant) खूबियों के लिए जाने जाते हैं। ये सूजन कम करते हैं और सर्दी-खांसी में आराम पहुंचाते हैं। इन्हें कई तरह की समस्याओं से निपटने के लिए उपयोग में लाया जाता है।

साइनोसाइटिस का ट्रीटमेंट करने के लिए इन दोनों का एक मिश्रण तैयार कर उसे इस्तेमाल में ला सकते हैं। इस मिश्रण से बलगम बनने की समस्या और सूजन की परेशानी से निजात मिलेगी।

अदरक के लाभ (The benefits of ginger)

साइनोसाइटिस से राहत: अदरक

अदरक के अन्दर जिन्जिरोल (gingerol ) नाम का एक एक्टिव कंपाउंड पाया जाता है। सदियों से इसका उपयोग पाचन और सांस से जुड़ी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए किया जाता रहा है।

इसमें बहुत से एंटी-ऑक्सीडेंट, विटामिन और मिनरल पाए जाते हैं। ये सभी शरीर के इम्यून रिस्पांस यानी रोकक्षम प्रतिक्रियाओं को मज़बूती देते हैं। इस मज़बूती के कारण आपका शरीर साइनस के टिश्यू में सूजन उत्पन्न करने वाले कई किस्म के वायरल और बैक्टीरियल संक्रमण से लड़ने के लायक बनता है।

अदरक एलर्जी के रिएक्शन को कम करती है और फफूंद को बढ़ने से रोकती है। यह एक एंटिफंगल एजेंट है।

अदरक में पायी जाने वाली खुशबू से नाक की बलगम साफ करने में मदद मिलती है और साइनोसाइटिस से जुड़े दर्द में भी आराम मिलता है।

एप्पल साइडर विनेगर के लाभ (The benefits of apple cider vinegar)

साइनोसाइटिस से राहत: एपल साइडर

एप्पल साइडर विनेगर विटामिन, मिनरल, एमिनो एसिड और अन्य ट्रेस एलिमेंट का एक नेचुरल सोर्स है और साइनोसाइटिस के ट्रीटमेंट में भी सहायक है।

इसके भीतर मौजूद गुण शरीर की रक्षा प्रणाली को मजबूत करते हैं। एप्पल साइडर विनेगर साइनोसाइटिस की स्थिति से जुड़ी एलर्जी, सर्दी, फ्लू और अन्य साँस सम्बंधित परेशानियों को भी कम करता हैं।

इसमें बहुत अधिक पोटैशियम होता है, जो ऐसा मिनरल है जिससे अतिरिक्त बलगम बनने को कम किया जा सकता है। यह सर्दी-जुखाम जैसी समस्याओं को बढ़ने से रोकता है।

एप्पल साइडर विनेगर और अदरक आप साइनोसाइटिस से कैसे राहत पा सकते हैं?

एप्पल साइडर विनेगर और अदरक आप साइनोसाइटिस

अब जब आप इन दो चमत्कारी इन्ग्रेडिएंट की खूबियों के बारे में जान चुके हैं, तो समय आ गया है कि इस घरेलू उपचार को तैयार किया जाए।

इस बात का ध्यान रखें कि आप 100% शुद्ध एप्पल साइडर विनेगर का ही इस्तेमाल करें क्योंकि शुद्ध सिरके की तुलना में इसके अन्य रिफाइंड विकल्पों में वही औषधीय गुण नहीं पाए जाते।

 सामग्री

  •  अदरक का एक बड़ा टुकड़ा
  • 1 कप आर्गेनिक एप्पल साइडर विनेगर (250 मिलीलीटर)

तैयार करने की विधि

  • अदरक को घिस लें और उसे एप्पल साइडर विनेगर के साथ मिलाकर एक बंद ढक्कन वाले कांच के जार में रख दें।
  • अब इस मिश्रण को 10 दिनों के लिए किसी ठंडी और कम रोशनी वाली जगह पर रख दें।
  • इस दौरान इस मिश्रण को समय-समय पर हिलाते रहें जिससे यह आपस में मिल जाए।

उपयोग कैसे करना है

  • साइनोसाइटिस का इलाज करने के लिए आपको इस मिश्रण को दिन में दो बार पांच मिनट के लिए साँस के माध्यम से खीचना यानी इन्हेल करना चाहिए।
  • रात के समय इस मिश्रण को एक कपड़े पर डालकर उस कपड़े को नम कर लें और फ़िर एक घंटे के लिए उसे अपनी गर्दन पर रखें।
  • सर्वोत्तम नतीजे पाने के लिए इस प्रक्रिया को पांच दिनों तक दोहराएँ।
  • यदि इसके बाद भी आपकी हालत में सुधार नहीं आता है, तो अपने डॉक्टर से परामर्श लें।

एक अन्य विकल्प…

साइनोसाइटिस से राहत ऐसे

साइनोसाइटिस का इलाज करने के लिए अदरक के गुणों का एक और तरीके से भी फ़ायदा उठा सकते हैं। अदरक से बनी गरम चाय के धुएं से भी भांप ले सकते हैं।

 सामग्री

  • 5 चम्मच ताजी घिसी हुई अदरक (50 ग्राम)
  • 1 लीटर पानी

कैसे करें?

  • ताज़ी अदरक घिसकर उसे पानी में उबाल लें।
  • इस मिश्रण को तीन मिनटों के लिए उबलने दें और फ़िर इसे आँच से हटाने के बाद अपने सिर को तौलिये से ढक कर स्टीम लें।
  • अगले पांच मिनट के लिए इसके धुंए से भाप लेते रहें।
  • हर रात सोने से पहले इस प्रक्रिया को दोहराएँ।

साइनोसाइटिस के कारण होने वाले और भी कई असहज लक्षणों के उपचार के लिए यह विधि बहुत कारगर साबित होती है।

अपने इलाज के लिए इन सभी उपचारों को अपनाकर आप कुछ ही दिनों में साइनोसाइटिस की तकलीफ से छुटकारा पा सकते हैं।

यह आपकी रुचि हो सकती है ...
चमत्कारिक घरेलू एंटीवायरल: अदरक वाली चाय ऐसे बनायें
स्वास्थ्य की ओरइसमें पढ़ें स्वास्थ्य की ओर
चमत्कारिक घरेलू एंटीवायरल: अदरक वाली चाय ऐसे बनायें

प्रकृति में कई आम बीमारियों का इलाज छिपा है। अदरक भी उन्हीं में से एक है। इससे घरेलू एंटीवायरल बनाने के लिए अदरक वाली चाय आप कई तरह से बना सकते हैं।



  • Hemanta Panigrahi. Efficacy of ayurvedic medicine in the treatment of uncomplicated chronic sinusitis. (2006).
  • Mayo Clinic Staff. Acute sinusitis. (2018).