सूजन को रोकने वाली स्मूदी के साथ जोड़ों के दर्द से राहत पायें

इस स्मूदी को कुछ चीजों को मिलाकर बनाने से एक सूजन रोकने वाली रेमेडी बनती है जिसका आप जोड़ों के दर्द को रोकने और उससे राहत पाने के लिए आनंद ले सकते हैं।
सूजन को रोकने वाली स्मूदी के साथ जोड़ों के दर्द से राहत पायें

आखिरी अपडेट: 08 अक्टूबर, 2018

चोट, पोषण की कमी या कार्टिलेज के घिसने के कारण युवा और बूढ़े दोनों ही जोड़ों के दर्द का शिकार हो सकते हैं।

हालांकि बुजुर्गों में यह ज्यादा आम है। क्योंकि बुढ़ापा अंगों की क्षय से जुड़ा हुआ है। कई युवा लोग ऐसे लक्षणों का अनुभव कर रहे हैं जो उनकी जीवन की गुणवत्ता पर बुरी तरह से असर डालते हैं।

अनुमान है कि 30% से अधिक, उम्रदराज वयस्कों को गाउट (gout), मोच, आर्थराइटिस और इसी तरह की अन्य समस्याएं होती हैं।

सबसे चिंताजनक यह है कि शारीरिक निष्क्रियता और पौष्टिक आहार की कमी के कारण ऐसे मरीजों की संख्या बढ़ रही है।

अधिकांश मामलों को दर्द कम करने और सूजन को रोकने वाली दवाएं लेकर नियंत्रित किया जा सकता है।

लेकिन दर्द बार-बार उभर सकता, पर गंभीर मामलों में यह रोगी के मूवमेंट को सीमित कर सकता है।

अच्छी खबर यह है कि जोड़ों के दर्द से निजात पाने और उससे जुड़ी हुई अधिक गंभीर समस्याएं होने के जोखिम से छुटकारा पाने के लिए 100% नेचुरल तरीके भी हैं।

घर की बनी स्वादिष्ट स्मूदी उनमें से एक है जिसके घटकों का संयोजन जोड़ों की देखभाल के लिए एक सेहतमंद विकल्प प्रदान करता है।

क्या आप जानना चाहते हैं?

जोड़ों के दर्द से छुटकारा पाने के लिए सूजन रोकने वाली स्मूदी

जोड़ों के दर्द से राहत पायें: स्मूदी बनायें

सूजन रोकने वाली यह स्मूदी कम कैलोरी वाला ड्रिंक है जिसमें एनर्जी देने की खूबी और पाचक गुण होते हैं। इसे जोड़ों और मांसपेशियों की समस्याओं के सामान्य ट्रीटमेंट के पूरक के रूप में बनाया गया है।

यह अनन्नास, अदरक, हल्दी, काली मिर्च और अन्य घटकों को मिलाकर बनती है जिनमें एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं। ये शरीर में सूजन को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

इसका मुख्य घटक अनन्नास है, जिसमें ब्रोमेलेन नाम का एंजाइम होता है। यह सूजे हुए टिशू को नियंत्रित करने से संबंधित है।

यह आपके भोजन के पाचन में सुधार करता है। इसके अलावा शरीर में जमा हुए तरल पदार्थों को हटाने में मदद करता है।

जोड़ों के दर्द से राहत पायें: अनन्नास

अनन्नास में बड़ी मात्रा में विटामिन C और विटामिन B-कॉम्प्लेक्स होते हैं। इनकी सिफारिश हड्डियों और कनेक्टिव टिशू को मजबूत करने के लिए की जाती है।

यह पोटैशियम और मैग्नीशियम का एक अच्छा स्रोत भी है। ये दोनों मिनरल मांसपेशियों और हड्डी के स्वास्थ्य की रक्षा के लिए जरूरी हैं।

कई स्टडीज़ से पता चला है, ब्रोमेलेन जटिल बीमारियों, जैसे रूमेटोइड आर्थराइटिस, ऑस्टियोआर्थराइटिस और कार्टिलेज के घिसने के कारण होने वाली अन्य स्थितियों के लक्षणों को कम कर सकता है ।

यह किसी भी घाव को भरने की प्रक्रिया को सुधारने और मोच और फ्रैक्चर से तेजी से राहत प्रदान करने का एक शानदार उपाय है।

जोड़ों के दर्द के लिए इस सूजन रोकने वाली स्मूदी को कैसे बनायें?

जोड़ों के दर्द से राहत पायें: स्मूदी

आपके जोड़ों की रक्षा करने वाला यह ड्रिंक आपकी प्रोटीन, जो दर्द को बढ़ाने से जुड़े होते हैं, को पचाने की क्षमता को सुधारने में मददगार है।

पोषक तत्वों और सक्रिय पदार्थों का संयोजन अकड़न को कम करने, कोलेजन के सिंथेसिस को सुधारने और बेहतर गतिशीलता के लिए आपके एनर्जी लेवल को बढ़ाने में मदद करता है।

अन्य प्रकार के ट्रीटमेंट के विपरीत, इसमें कोई कठोर रसायन नहीं होता है। यह किसी दुष्प्रभाव का कारण नहीं बनता है।

इसे जरूरत के मुताबिक रोज दिन में एक बार या सप्ताह में दो से तीन बार तैयार किया जा सकता है।

इसके लिए ज़रूरी सामग्री आसानी से किराने की दुकान में मिल जाती हैं और तैयारी में केवल कुछ मिनट लगते हैं।

सामग्री

  • 1 पका हुआ अनन्नास
  • 1 बड़ा चम्मच ग्रेट की हुई ताजी अदरक की जड़ (10 ग्राम)
  • 2 डंठल अजवाइन (celery)
  • 1 नींबू का रस
  • 1/2 छोटा चम्मच नारियल का तेल (3 ग्राम)
  • 2 नाशपाती
  • 1/2 छोटा चम्मच हल्दी पाउडर (2 ग्राम)
  • 1 संतरे का रस
  • 1/2 छोटा चम्मच पिसी हुई काली मिर्च (2 ग्राम)

निर्देश

  • अनन्नास को छीलें, बीच का हिस्सा हटा दें और इसे स्लाइस में काट लें।
  • नाशपाती को काटें, ताजी अदरक की जड़ को ग्रेट करें और खट्टे फलों का रस निकालें।
  • सभी घटकों को मसालों सहित ब्लेंडर में डालें और दो से तीन मिनट तक प्रोसेस करें।
  • यदि जरूरत हो तो थोड़ा पानी डालें ताकि आपको एक स्मूद और समरूप तरल मिल जाये।
  • इसे तुरंत पियें या फ्रिज में कुछ घंटों तक रखें जब तक कि यह अच्छी तरह से ठंडा न हो जाये।
  • इसे नाश्ते से आधा घंटा पहले या दोपहर से पहले पियें।

याद रखें!

यह स्पष्ट होना चाहिए कि यह स्मूदी केवल जोड़ों के दर्द के लक्षणों को कम करती है। यह एक चमत्कारिक इलाज या उसके समान कोई चीज नहीं है।

आपको अच्छे पोषण के साथ अपने जोड़ों को सहारा देना चाहिए क्योंकि बहुत ज्यादा प्रोसेस्ड शुगर और फैट का उपभोग दर्द को बढ़ा सकता है।

कम प्रभाव वाली शारीरिक एक्टिविटी करना भी जरूरी है, किसी ट्रेनर की देखरेख में करें तो अच्छा है और अपने जोड़ों पर बहुत ज्यादा शारीरिक स्ट्रेन डालने से बचने की कोशिश करें।

यह आपकी रुचि हो सकती है ...
इस नुस्खे को सीखकर कमर और जोड़ों के दर्द को अलविदा कहें
स्वास्थ्य की ओरइसमें पढ़ें स्वास्थ्य की ओर
इस नुस्खे को सीखकर कमर और जोड़ों के दर्द को अलविदा कहें

अपने शरीर पर दबाव डालना, चीजों पर उछालना और गलत आदतें आपकी हड्डियों और जोड़ों को कमजोर कर देती हैं। उन्हें अच्छी शेप में बनाये रखने और कमर दर्द और जोड़ों के दर्द से छुटकारा पाने के लिए, इस नुस्खे को आजमाएं।



  • Brien S, Lewith G, Walker A, Hicks SM, Middleton D. Bromelain as a treatment for osteoarthritis: a review of clinical studies. Evid Based Complement Alternat Med 2004; 1: 251-7.
  • Bruce BK, Harrison TE. Mayo clinic guide to pain relief. Rochester: Rosetta Books; 2014.
  • Neogi T. The epidemiology and impact of pain in osteoarthritis. Osteoarthritis Cartilage 2013; 21: 1145-53.
  • Rodríguez-Hernández JL. Osteomuscular and rheumatic pain. Rev Soc Esp Dolor 2004; 11: 94-102.