वेरीकोस वेंस से छुटकारा पाने के लिए आजमाएं ये 3 प्राकृतिक इलाज

04 सितम्बर, 2018
इस नेचुरल ट्रीटमेंट में इस्तेमाल की जाने वाली चीज़ों के सूजनरोधी और वैसोडाईलेटिंग प्रभाव वेरीकोस वेंस को कम कर आपकी टांगों में रक्त प्रवाह को बेहतर बना सकते हैं।

वेरीकोस वेंस वयस्क हो जाने पर महिलाओं को होने वाली सबसे आम समस्याओं में से एक है। नसों के फैलकर खून को दिल में वापस जाने से रोकने के कारण यह परेशानी पैदा होती है।

आपके शरीर की सामान्य नसें हाथ-पैरों में खून के प्रवाह को बढ़ाने के लिए वाल्व का इस्तेमाल करती हैं। उस वाल्व के खराब हो जाने से वह नस वेरीकोस वेंस यानी सूजी हुई नस में तब्दील हो जाती है।

हालांकि यह अवस्था एक निष्क्रिय जीवनशैली, तंबाकू आदि जैसे नशों की लत का नतीजा भी हो सकती है, लेकिन वेरीकोस वेंस आनुवंशिक कारणों, गर्भावस्था और हॉर्मोन के असंतुलन से भी हो पैदा हो सकती है।

शुरू में भले ही जानी-मानी “स्पाइडर वेंस” कोई बहुत छोटी-सी समस्या लगे, पर वक़्त के साथ-साथ यह आपकी टांग से उभरती किसी दर्दनाक नस का रूप भी धारण कर सकती है।

कई लोगों के लिए एक कारगर इलाज के बारे में जानना इसलिए भी ज़रूरी होता है कि भद्दी दिखने के साथ-साथ वेरीकोस वेंस सूजन और दर्द का कारण भी बन सकती हैं।

अच्छी बात यह है कि इस अवस्था में सुधार लाने के लिए आज कई नुस्खे उपलब्ध हैं। उससे भी अच्छी बात यह है कि वे नुस्खे आपकी जेब पर ज़्यादा असर नहीं डालते।

कुछ नेचुरल इन्ग्रेडिएंट की मदद से आप  बेहद कारगर और सस्ते वैकल्पिक उपाय तैयार कर सकते हैं।

आज हम आपके वेरीकोस वेंस के शानदार प्राकृतिक इलाज के लिए एलो वेरा, गाजर और एप्पल साइडर विनेगर से बने अपने ख़ास घरेलू नुस्खे के बारे में बताने जा रहे हैं। एक बार इसे आज़माकर तो देखें!

वेरीकोस वेंस के इस प्राकृतिक इलाज के क्या-क्या फायदे हैं?

वेरीकोस वेंस के इलाज के घरेलू नुस्खे

एलो वेरा, गाजर और सेब के सिरके का मिश्रण सूजन को कम कर वेरीकोस वेंस को उभरने से रोकता है

इस मिश्रण को रोज़ाना अपने पैर पर लगाने से आपकी टांगों में रक्त-प्रवाह भी बेहतर होगा और दर्द भी कम हो जाएगा

इस मिश्रण की एक ज़रूरी सामग्री एलो वेरा जेल कॉस्मेटिक इंडस्ट्री में अपने शानदार पौषणिक गुणों और नम करने वाली खूबियों के लिए जाना जाता है।

इसे भी आजमायें: वेरीकोस वेंस (Varicose Veins) के लिए 5 वैकल्पिक ट्रीटमेंट

इसके सूजनरोधी और वैसोडाईलेटिंग प्रभावों से फैली हुई नस भी वापस सिकुड़कर खून के प्रवाह को बेहतर बना देगी।

आपकी त्वचा को नुकसान पहुंचाए बगैर एंटीऑक्सीडेंट और पानी की अपनी मात्रा की वजह से यह लगाने में भी आसान है।

वेरीकोस वेंस के इलाज में गाजर की अहम भूमिका होती है

समय से पहले उम्र को बढ़ने और त्वचा के दाग-धब्बों से बचाने वाले एंटीऑक्सीडेंट बीटा-कैरोटीन का एक शानदार स्रोत गाजर है।

विटामिन B, मिनरल और फाइबर की मात्रा की वजह से गाजर सेहत के लिए उन सबसे अच्छी सब्ज़ियों में से एक है, जिन्हें आपको अपने आहार में शामिल करना चाहिए।

उसे एक चिकने पेस्ट में ब्लेंड कर अपनी त्वचा पर किसी लोशन की तरह लगाकर हम उसका फायदा उठा सकते हैं।

गाजर के कई सक्रिय कंपाउंड का इस्तेमाल त्वचा को मज़बूत बनाने वाले फर्मिंग ट्रीटमेंट में किया जाता है क्योंकि वे त्वचा को लचीला बनाकर उसे ढीला बनने से रोकते हैं।

अन्य वेरीकोस वेंस उपचारों में भी गाजर एक कमाल की सप्लीमेंट है क्योंकि रक्त-प्रवाह में सुधार लाकर यह सूजन को कम कर देती है।

अंत में एप्पल साइडर विनेगर की बारी है, जो इस इलाज में बेहद कारगर सूजनरोधी कंपाउंड वाला एक पोषक, स्फूर्तिदायक और शक्तिदायक खाद्य पदार्थ होता है।

सेब के सिरके को वेरीकोस वेंस पर लगाने से सूजी हुई नसों का आकार तो कम होता ही है, टांग में दबाव और भारीपन के एहसास से राहत भी मिल जाती है।

एलो वेरा, गाजर और एप्पल साइडर विनेगर वाले इस ट्रीटमेंट को ऐसे तैयार करें

एलो वेरा, गाजर और सेब साइडर सिरके से करें वेरीकोस वेंस का इलाज

इन तीन चीज़ों का एक ही इलाज में इस्तेमाल आसान भी होता है व इसे बनाने में ज़्यादा समय भी नहीं लगता।

लेकिन शुरू करने से पहले आपको यह समझ लेना चाहिए कि यह नुस्खा अपने आप ही आपकी परेशानियों को हल नहीं कर देगा

लगातार इसका इस्तेमाल करने से आपके रक्त-प्रवाह और आपकी नसों की हालत में सुधार तो आ जाएगा, पर मनचाहे नतीजे पाने के लिए आपको पौष्टिक आहार का सेवन व नियमित रूप से एक्सरसाइज भी करनी होगी।

इसे भी पढ़ें: वेरीकोस वेंस के ट्रीटमेंट के लिए बनाएँ नीबू और लहसुन का मलहम

सामग्री

  • एक बड़ी गाजर
  • एलो वेरा की दो पत्तियां
  • सेब के सिरके के तीन चम्मच (30 मिलीलीटर)

बनाने की विधि

  • गाजर को छीलकर उसे छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें। उनके हल्का हो जाने तक उन्हें थोड़े-से पानी में कम आंच पर उबालें।
  • अच्छे से पक जाने पर उन्हें किसी फोर्क से मैश कर उनका पेस्ट बना लें।
  • किसी चाक़ू से एलो वेरा की पत्तियों को काटकर उनका अंदरूनी जेल निकाल लें।
  • उसे मैश की हुई गाजर में मिलाकर उसमें सेब का सिरका डाल दें।
  • एक मलाईदार पेस्ट बन जाने पर उसे अपनी वेरीकोस वेंस के ऊपर लगा लें।

इस्तेमाल करने की विधि

  • पेस्ट को लगाने से पहले अपने टांग पर जमी पपड़ी या परत को हटाकर यह सुनिश्चित कर लें कि आपकी त्वचा उस पेस्ट को सहज ही सोख लेगी।
  • प्रभावित जगह पर क्रीम लगाकर हल्की-हल्की मालिश के माध्यम से उसे टखनों से पिंडलियों तक फैला दें।
  • 30 से 40 मिनट बाद उसे ठंडे पानी से धो लें।
  • इस प्रक्रिया को रोज़ाना दोहराएं।

जैसाकि आप देख सकते हैं, इस सामान्य समस्या के इलाज के लिए आपको महंगे कॉस्मेटिक्स खरीदने की कोई ज़रूरत नहीं है।

हमारी सलाह मानकर अगर आप नियमित रूप से इस नुस्खे को अपनाते हैं तो कुछ ही दिनों में आपको वेरीकोस वेंस वाली अपनी परेशानी में एक बढ़ा सुधार दिखाई दे जाएगा।