चाइल्ड अब्यूजर को कैसे पहचानें

नवम्बर 15, 2019
क्या आप चाइल्ड अब्यूज यानी बाल शोषण के संकेत जानते हैं? यहां जानें, इसे कैसे पहचानें और अपने बच्चे को किसी किस्म के नुकसान से कैसे बचाएं।

चाइल्ड अब्यूजर की पहचान करने में सक्षम होना एक ऐसी स्किल है, जिसे आज की दुनिया में हर किसी को जानना चाहिए। बेशक उन्हें पहचानना बहुत कठिन हो सकता है।

ये ऐसे लोग हैं जो उन बच्चों भरोसा जीत लेते हैं जिनका उन्हें शोषण करना होता है। उनकी कोई विशेष शारीरिक विशेषताएं नहीं होती हैं। वे किसी भी जाति, धर्म या लिंग के हो सकते हैं। यहां किसी चाइल्ड अब्यूजर की पहचान करना सीखने में मददगार कुछ टिप्स दिए गए हैं।

एक संभावित चाइल्ड अब्यूजर की प्रोफाइल

1. वे फैमिली फ्रेंड बन जाते हैं

ये लोग उस बच्चे के फैमली से एक रिश्ता बनाने की कोशिश करते हैं जिसका वे दुरुपयोग करना चाहते हैं। चाइल्ड अब्यूजर परिवार में अच्छी तरह घुल मिल जाने के लिए तमाम करतब करता है। इसके अलावा, जो लोग बच्चों का शोषण करते हैं, वे अक्सर बहुत मिलनसार होते हैं, बच्चों की केयर करते हैं, उन्हें पार्क में ले जाते हैं, शॉपिंग कराते हैं और ऐसी ही तमाम चीजें करते हैं।

जहाँ तक चाइल्ड अब्यूजर की पहचान करने की बात है, याद रखें, इस तरह का आदमी बच्चे का करीबी दोस्त बनने और उनका भरोसा जीतने की कोशिश करता है

2. चाइल्ड अब्यूजर में से ज्यादातर लोग बच्चों के लिए अजनबी नहीं होते हैं

चाइल्ड अब्यूजर में ज्यादातर बच्चों के लिए अजनबी नहीं होते हैं

अमेरिकन साइकोलॉजिकल एसोसिएशन के अनुसार यौन शोषण के 30% बच्चे किसी न किसी रिश्तेदार के शिकार थे। इसके अलावा 60% मामले में बच्चे एक वयस्क आदमी के शिकार थे जिन्हें वे जानते थे। 10% मामले में ही चाइल्ड अब्यूजर कोई अजनबी था।

3. चाइल्ड अब्यूजर की विशेषताएँ

आमतौर पर अतीत में उनका शारीरिक या यौन रूप से शोषण किया गया है। इसके अलावा उनमें से कुछ मनोवैज्ञानिक या पर्सनालिटी डिसऑर्डर वाले हो सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : भावनात्मक रूप से एब्युसिव रिलेशन के 5 वार्निंग संकेत

4. वे ऐसे जॉब करते हैं, जिमसें उन्हें बच्चों के आसपास रहना होता है

ये लोग उनके कोच, आया, शिक्षक के रूप में उनके साथ घंटों बिताते हैं। इसी तरह वे दावा करते हैं कि वे बच्चों से प्यार करते हैं और यही उनका जीवन है।

5. वे शातिर और चालाक हैं

वे भरोसा जीतने के लिए ट्रिक्स, एक्टिविटी, गेम का उपयोग करते हैं। ये लोग सीक्रेट को गुप्त रखना जानते हैं, जिन्हें वे अपनी शक्ति के स्रोत के रूप में इस्तेमाल करते हैं

उनके गेम्स में अक्सर एक सेक्सुअल क्रिया होती है, जैसे अनचाहा स्नेह, चुंबन, आदि। दुर्भाग्य से मासूम मन इस तरह से पोर्नोग्राफिक कंटेंट, एक्सटॉर्शन और रिश्वतखोरी के बारे में जानने लगता है। हालांकि बच्चे से छेड़छाड़ करने वाले बच्चे को भ्रमित करने, उन्हें अलग-थलग करने के लिए अपनी एक्टिविटी को स्नेहपूर्ण दर्शाने की कोशिश करते हैं।

चाइल्ड अब्यूजर की पहचान करने में सक्षम लक्षण

चाइल्ड अब्यूजर बच्चे के खिलौने, जिताबें और उसके कपड़ों को रखता है

वे सिर्फ एक बच्चे पर फोकस नहीं कर सकते हैं, बल्कि एक साथ कई बच्चों का शोषण करते हैं।

चाइल्ड अब्यूजर को अपने किये पर कोई पछतावा नहीं होता

चाइल्ड अब्यूजर को अपने किये पर कोई पछतावा नहीं होता

हम साइकोपैथ इस रूप में परिभाषित कर सकते हैं, की वह अपने कार्यों के लिए कोई पछतावा नहीं महसूस करते हैं

पीड़ित को एक वस्तु माना जाता है

कुछ लोग कहते हैं कि यह एक तरह से खुद को उस तकलीफ से बचाने का तरीका है जिससे वे एक बच्चे के रूप में गुजर चुके होते हैं।

आमतौर पर बच्चों का शोषण करने वाले बचपन में शोषित रहे थे

एब्नॉर्मल यौन अनुभव और हिंसा में ही ऐसे पर्सनलिटी डिसऑर्डर की जड़ें होती हैं।

चाइल्ड अब्यूज को रोकने की टिप्स

1. अपने बच्चे को अकेला न छोड़ें

चाइल्ड अब्यूज को रोकने की टिप्स

सड़क पर, पार्क में, मैदान में, पूल में, स्कूल में या जिम में हर जगह। शिक्षकों पर नजर रखें। बच्चों के जाने और आने का वक्त जानें और उनके साथ जाएँ।

2. खतरे के बारे में उनसे बात करें

उन्हें उन सीमाओं की जानकारी देनी चाहिए, जिन्हें किसी को भी पार नहीं करना है, यहां तक की फैमिली मेंबर को भी उनके प्राइवेट पार्ट को नहीं देखना चाहिए। इसके अलावा उन्हें सिखाएं कि किसी भी आदमी को उनके पैरेंट को बताये बिना उन्हें कुछ करने के लिए कहने का धिकार नहीं है, और अगर ऐसा होता है, तो यह गलत है।

इसे भी पढ़ें : बचपन का तनाव : वजह जब खुद माता-पिता हों

3. अपने बच्चे के मूड में बदलाव पर नजर रखें

सामान्य से ज्यादा शांत, उदास, या अपने में घुटने वाले व्यवहार पर नजर रखें। यह बाल शोषण का एक संभावित इंडिकेटर हो सकता है।

4. उनके द्वारा उपयोग किए जाने वाले सोशल नेटवर्क पर को नियंत्रित करें


ध्यान रखें, कहीं वे ऐसी फ़ोटो तो पोस्ट नहीं कर रहे हैं जो चाइल्ड अब्यूजर को आकर्षित करती हो। अपने या अपनी फैमिली के बारे में निजी जानकारी उन्हें पोस्ट नहीं करनई चाहिए, जैसे अपना पता, स्कूल, और जहां वे अक्सर जाते हैं।

5. पैरेंट के पास उनका पासवर्ड होना चाहिए

बच्चे को मिलने वाले मैसेज और फ्रेंड रिक्वेस्ट पर नजर रखना अहम है। यौन शोषण करने वाले महिलाएं और पुरुष भी हो सकते हैं, इसलिए हर तरह से अलर्ट रहें।

6. यह ध्यान रखें कि बच्चे को सहारा महसूस हो

जिन बच्चों को सपोर्ट नहीं मिलता है, वे चाइल्ड अब्यूज करने वालों के आसान शिकार होते हैं। अपने बच्चों से बात करें, दोस्ती और विश्वास का रिश्ता बनाएं, उन्हें अपनी समस्याओं के बारे में बताने के लिए उकसाएं।

अगर आपको संदेह है कि कोई व्यक्ति खतरनाक हो सकता है, तो मदद लेना बहुत अहम है। ऐसे संस्थान और संगठन हैं जो उन परिवारों को सपोर्ट करते हैं जो बाल शोषण का सामना कर रहे हैं

आपको मदद मिलनी चाहिए, हिंसा के चक्र को समाप्त करना, खामोशी तोड़ना और उनकी रिपोर्ट करना बहुत अहमहै, क्योंकि दुराचारियों के अक्सर कई शिकार होते हैं। अंत में, इन सुझावों का उपयोग करके चाइल्ड अब्यूजर की पहचान करें और बच्चों को नुकसानदेह हालत से बचाएं।

  • Gray, J. D., Cutler, C. A., Dean, J. G., & Kempe, C. H. (1977). Prediction and prevention of child abuse and neglect. Child Abuse & Neglect1(1), 45-58.
  • Black, C. A., & DeBlassie, R. R. (1993). Sexual abuse in male children and adolescents: Indicators, effects, and treatments. Adolescence28(109), 123-134.