अपने घर से कीड़े-मकोड़ों का सफाया कैसे करें?

24 अक्टूबर, 2018

कीड़े-मकोड़ों को अपने घर में आने से रोकने के लिए आप उचित बैरियर लगाकर अपने घर की नाकाबंदी कर सकते हैं, या फ़िर प्राकृतिक कीटनाशक या रेपेलैंट का इस्तेमाल कर उन्हें घर की चौखट के बाहर रोक सकते हैं।

आमतौर पर कीड़े-मकोड़ों को पसंद करने वाले लोग गिनती के ही होते हैं। वैसे भी, आधी रात को हमारे कान के पास मंडराते मच्छरों की भनभनाहट से ज़्यादा परेशान करने वाली शायद ही कोई बात होती हो।

उस शोर से हमारे शरीर की चेतावनी प्रणाली सक्रिय हो उठती है, जिसकी वजह से हमें नींद नहीं आती। और तो और, अगले दिन होने वाली थकान और चिड़चिड़ापन हमारी बर्दाश्त से बाहर होते हैं। चैन की नींद सोने की जगह आप पूरी रात जागे जो रहते हैं।

अगर आपके साथ भी ऐसा हो चुका है तो शायद अब अपनी उस इकलौती परेशानी, यानी कि उन कीड़े-मकोड़ों का खात्मा करने का वक़्त आ चुका है। हालांकि अपने घर से कीड़े-मकोड़ों को निकाल बाहर करने के कई तरीके हैं, लेकिन हर तरीका हर किसी के लिए कारगर नहीं होता

मौसम में आए बदलावों के साथ हो सकता है, आपको अपने घर में चींटी, कॉकरोच जैसे कीड़ों की संख्या में भी बढ़ोतरी देखने को मिले।

भले ही ये भद्दे जीव आपको काटते न हों, पर आपके परिवेश में उनकी मौजूदगी आपके घर की साफ़-सफाई और आपके सुख-चैन, दोनों ही के लिए अनचाही होती है।

उड़ने और भागने वाले कीड़े

कीड़े-मकौड़ों से छुटकारा पाएं

अब तक आपको अंदाज़ा हो चुका होगा कि इन दोनों कीड़ों में सबसे बड़ा फर्क इनके चलने-फिरने के तरीके में है।

जहाँ एक तरफ़ उड़ने वाले कीड़े हवा के माध्यम से चलते-फिरते हैं, वहीं भागने वाले कीड़े-मकोड़े ज़मीन पर रेंगते-भागते हैं।

इस बात को ध्यान में रखकर ही उन्हें अपने चक्रव्यूह में फंसाया जा सकता है। उनसे छुटकारा पाने का सबसे कारगर तरीका उन्हीं की स्तर पर जाकर काम करना जो होता है।

ध्यान रहे, सभी जीव-जंतु वातावरण में किसी न किसी तरह की भूमिका निभाते हैं। आपका लक्ष्य उन्हें मारना नहीं, बल्कि उन्हें अपने घर से निकाल बाहर करना होना चाहिए, बशर्ते कि वे किसी बेकाबू बीमारी के वेक्टर न बन जाएँ।

कीड़े-मकोड़ों को अपने घर में घुसने से रोकने की तरकीबें

1. स्क्रीन

कीड़े-मकोड़ों को घर से बाहर रखने का यह एक बेहद कारगर उपाय होता है। इसके तहत आपको बस अपने घर के खिड़की-दरवाज़ों के ऊपर एक स्क्रीन ही लगानी होती है। इससे हवा तो अंदर आती है, पर कीड़े-मकोड़े स्क्रीन के बाहर ही रह जाते हैं।

देखने में भले ही वे स्क्रीन अच्छी न लगे, लेकिन कम से कम वे ज़हरीली और नुकसानदेह तो नहीं होती। तो अब आप एलर्जी या केमिकल रिएक्शन से डरे बगैर नाक में दम करने वाले कीड़ों से छुटकारा पा सकते हैं।

2. बिजली वाला कीटनाशक

स्क्रीन ही की तरह यह तरीका भी उड़ने वाले कीड़ों के लिए सही होता है। बिजली वाले ये उपकरण सुपरमार्केट और दवाई की दुकानों पर उपलब्ध होते हैं।

ख़ास बल्ब से लैस इन उपकरणों में एक प्लग होता है। उनमें एक ऐसा पदार्थ होता है, जिसकी गंध मच्छरों तक पहुँच जाती है। उसे कोई खतरा समझकर वे बाहर भाग जाते हैं।

इस उपकरण का इस्तेमाल करते वक़्त अपने घर के दरवाज़ों को खुला रखें, खासकर अगर आप किसी छोटे कमरे में हैं। भले ही आप उस पदार्थ को सूंघ न सकते हों, पर आपके अंदर जाती उसकी गंध आपको बीमार कर सकती है।

हमेशा सावधानी बरतें, खासकर अगर आपके घर में बच्चे हों।

इसे भी पढ़ें:  गद्दे को कीटाणुमुक्त करने और उसकी देखभाल के लिए 5 टॉप टिप्स

3. अपने घर से कीड़े-मकोड़ों को भगाने वाले खुशबूदार पौधे

कीड़े-मकौड़ों को दूर भगाने वाले पौधे

इससे ज़्यादा आसान और प्रभावशाली तरीका शायद ही कोई हो। कीड़े-मकोड़ों को दूर भगाने के लिए सबसे उपयुक्त पौधे हैं:

  • तुलसी
  • पुदीना
  • अजवायन

पिछले उपाय ही की तरह, यहाँ भी सारा खेल गंध का ही होता है।

उस गंध को भांपकर कीड़े उन पौधों के आसपास भी नहीं फटकेंगे। उन पौधों का इस्तेमाल आप खाना बनाने या फ़िर और भी कई प्राकृतिक उपायों के तौर पर कर सकते हैं।

4. खाने-पीने की अपनी चीज़ों को अच्छे से स्टोर करें

यह उपाय उड़ने और रेंगने वाले कीड़ों, दोनों ही के लिए कारगर है। दोनों के लिए खाने से ज़्यादा लुभावना और कुछ नहीं होता।

खाने को स्टोर करने का सबसे अच्छा तरीका उसे फ्रिज में या फ़िर एयरटाइट डिब्बों में बंद कर रखना होता है। ऐसा कर आप उनकी गंध को कीड़े-मकोड़ों की पैनी नाक तक पहुँचने से रोक पाते हैं।

5. छिद्रों को सिलिकॉन से भर दें

कीड़े-मकौड़ों से बचने के लिए छिद्रों को भर दें

चलने या रेंगने वाले कीड़े-मकोड़े दीवारों में बनी सुराख से हमारे घर में घुस आते हैं। ऐसे में बाथरूम से अच्छी शायद ही कोई जगह हो।

इसीलिए कीड़े-मकोड़ों से छुटकारा पाने का सबसे अच्छा तरीका नज़र में आने वाले किसी भी छिद्र को बंद कर देना होता है।

6. ‘प्रवेश द्वारों’ पर रिपेलैंट छिड़कना

यह तरकीब भी बिजली वाले उपकरण जैसी ही होती है। फर्क बस इतना है कि इसमें आपको कीड़े भगाने वाली इस चीज़ को बिल्कुल दरवाज़ों, खिड़कियों, बालकनी आदि के नीचे रखना होगा

ध्यान रखें कि ये चीज़ें बहुत टॉक्सिक होती हैं व आपको अपने घर या उस कमरे को कुछ देर तक खुला छोड़ देना चाहिए।

इन छोटी-मोटी तरकीबों को अपनाकर आप अपने घर को कीड़े-मकोड़ों से मुक्त कर पाएंगे, उन्हें मारे बगैर!

इस तरह पर्यावरण को नुकसान पहुंचाए बिना हम अपनी सुविधा का भी ख्याल रख पाएंगे। दुनिया में यह बात काश सभी लोगों की समझ में आ पाती। आख़िर आप अपने वास्तविक घर की, यानी कि हमारी पृथ्वी की रक्षा जो कर रहे हैं।

  • Estados Unidos. Departamento de Salud, Educacion y Bienestar. (1971). Insectos en hogares y bodegas de alimentos, de importancia para la salud publica. Agencia Internacional de Desarrollo.
  • Luckmann, W. H., Metcalf, R. L., & Price, P. W. (1990). Introducción al manejo de plagas de insectos. Limusa
  • Schon, I. (2008). Los hogares de los insectos (Insect Homes)/Insectos comunes (Everyday Insects). Science and Children45(7), 55.