क्या हेल्दी मेनोपाज संभव है?

20 दिसम्बर, 2018
हेल्दी मेनोपाज को एक महिला के जीवन के उस ख़ास चरण के रूप में समझना चाहिए जहाँ वह ज़िन्दगी के उदास पन्नों के बजाय, उसे उसकी संपूर्णता में उपभोग करती है, उसके साथ तालमेल बैठाती है।
 

महिलायें जब करीब-करीब चालीस की उम्र तक पहुंचती हैं, तो वे प्रसिद्ध और डरावने मेनोपाज या रजोनिवृत्ति के संकेतों का अनुभव करना शुरू कर देती हैं।

किसी महिला की ज़िन्दगी का यह वह स्टेज है जिसमें वह अपनी देह में ढेर सारे बदलावों के साथ-साथ भावनात्मक तब्दीलियों का भी अनुभव करती है।

इस लेख में, हम आपको ऐसी कुछ सलाह देने जा रहे हैं, कि सबसे सहज और हेल्दी मेनोपाज से कैसे गुजरा जाए।

दूसरे लोग चाहे जो भी कहें, हेल्दी मेनोपाज संभव है!

हेल्दी मेनोपाज तक कैसे पहुंचें?

कोई भी इनकार नहीं कर सकता कि रजोनिवृत्ति की शुरुआत एक महिला के जीवन में एक बड़ी घोषणा है, हालांकि वह हमेशा जानती थी कि एकदिन यह स्थिति आयेगी।

तो भले ही मेनोपाज अनिवार्य है, यह कोई मुश्किल अनुभव नहीं होना चाहिए।

दरअसल, ऐसी कई चीजें हैं जिन्हें करने पर आप ज्यादा सहज और स्वस्थ मेनोपाज तक पहुँच सकती हैं। आपको बस इतना करना है कि नीचे दिए गए स्टेप्स का पालन करें:

एक्सरसाइज

हो सकता है, कम उम्र के दिनों में आप ज्यादा स्पोर्टी नहीं थीं, लेकिन मेनोपाज की शुरुआत होते ही आपको अपनी लाइफस्टाइल में एक्सरसाइज ज़रूर अपना लेनी चाहिए भले ही वह हफ़्ते में कम से कम दो दिन ही क्यों न हो।

इसलिए कि एक्सरसाइज आपके जॉइंट, मांसपेशियों और ह्रदय को स्वस्थ रखती है।

हालांकि, यह न भूलें कि आपकी एक्सरसाइज आपकी क्षमताओं और आवश्यकताओं के अनुरूप ही होनी चाहिए।

एक्सरसाइज के तमाम फायदों में जिनका हम यहाँ जिक्र करेंगे:

  • बढ़ा हुआ लचीलापन
  • बेहतर ब्लड सर्कुलेशन
  • सांस लेने की क्षमता में सुधार

इसके अलावा, चाहें तो आप अपनी एक्सरसाइज रूटीन में पिलेट्स या योग जैसी शांत गतिविधियों को भी शामिल कर सकती हैं।

या फिर विकल्प रूप से, आप बस पार्क के वाकिंग के लिए जा सकती हैं। ये सभी चीजें स्वस्थ मेनोपाज में सहयता करती हैं।

इसे भी पढ़ें: टी ट्री ऑयल : वह अद्भुत तेल जिसके हैं कई नायब फायदे

फल और सब्जियां खाएं

 

आपको दिन में फल या सब्जियों के 5 टुकड़े ज़रूर खाना चाहिए। यह इनकी दैनिक रेकमेंडेड मात्रा है। यह अहम है। फल और सब्जियों में प्रचुर मात्रा में मिनरल, विटामिन और फाइबर होते हैं। ये आपकी सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं।

इसके अलावा, फल और सब्जियां आपके मेटाबोलिज्म को बढ़ाने में मदद करती हैं। इनमें कैलोरी बहुत कम होती है जबकि ये आपकी भूख शांत करती हैं।

इसके अलावा, ये कोलेस्ट्रॉल कम करती हैं, वजन घटाने में आपकी सहायता करती हैं और आपको खाए हुए फास्ट फूड की सफ़ाई भी करती हैं।

यह महत्वपूर्ण है कि इनके पोषक तत्वों का ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाने के लिए जहाँ तक हो सके ताजे मौसमी फल और सब्जियां ही खाएं।

हेल्दी मेनोपाज के लिए सही वजन बनाए रखें

जीवन के किसी भी चरण में वजन पर काबू रखना ज़रूरी है, लेकिन मेनोपाज के दौरान यह सबसे ज्यादा ज़रूरी है जब आपके हार्मोन आपके खिलाफ होते हैं।

मोटापे या ज्यादा वजन से बचाव करने पर जोड़ों, कार्डियोवैस्कुलर और एंडोक्राइन रोगों का शिकार होने का खतरा घट जाता है।

इस मसले पर अपने डॉक्टर से मिलने में संकोच न करें। वे आपकी जरूरतों के मुताबिक़ सर्वोत्तम डाइट का सुझाव दे सकेंगे। साथ ही, उन खाद्यों को ज्यादा खाने से बचें जो सिर्फ आपकी कमर के चारों ओर कुछ ज्यादा किलो  और इंच बढ़ा लेने में मदद करते हैं।

सही जांच कराएं

क्या आप जानती हैं, मेनोपाज के दौरान मौत का मुख्य कारण कार्डियोवैस्कुलर बीमारी है? या मासिक धर्म रोकने के बाद स्तन या गर्भाशय का कैंसर होने के जोखिम का बढ़ जाना है?

यह अहम है कि ऐसी किसी संभावना को खारिज करने के लिए आप सही गाइनेकोलॉजिकल टेस्ट या दूसरी जांच करा लें।

इसका मतलब है, कार्डियोलॉजिस्ट  और एक गाइनेकोलॉजिस्ट से मिलना टॉप प्रायोरिटी होनी चाहिए, खासकर अगर इस कैटेगरी की बीमारियों का इतिहास आपके परिवार में है। इन सभी स्टेप्स का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि आप जीवन के इस चरण को यथासंभव सर्वोत्तम तरीके से पार कर सकें।

 

मैमोग्राम या इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम जैसा एक ब्लड टेस्ट आपकी ज़िन्दगी बचा सकता है।

गलत आदतें छोड़ दीजिये

क्या आप स्मोकिंग करती हैं? बहुत ज्यादा कॉफी पीती हैं? या टेक-आउट फ़ूड का ऑर्डर देने की ज्यादा शौकीन हैं? हम सलाह देंगे कि अभी से आप इन आदतों को बदलने की कोशिश करें।

सभी उम्र के लोगों के लिए ये गलत आदतें हैं। लेकिन मेनोपाज के दौरान ये आदतें कुछ स्थितियों को ज्यादा खराब कर देती हैं।

उदाहरण के लिए, सिगरेट, कैफीन और शराब कैल्शियम को एबजॉर्ब कर लेते हैं जिनकी ज़रूरत आपकी हड्डियों को मजबूत और स्वस्थ बनाने के लिए पड़ती है। इसलिए इन आदतों से छुटकारा पाना या कम से कम इन चीजों का सेवन एकदम घटा देना आपके लिए फायदेमंद होता है।

इसके अलावा, फास्ट फूड हाई कोलेस्ट्रॉल से जुड़ा है और हार्ट अटैक के जोखिम से भी।

बैलेंस डाइट खाएं

हड्डियों की सेहत सुधारने के लिए आपको अपने आहार में जिन खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए, उनके कुछ उदाहरण देखें:

  • अंडे (ये विटामिन D से भरपूर हैं, हड्डियों में कैल्शियम फिक्सेसिंग का काम करते हैं)
  • कम फैट वाले डेयरी प्रोडक्ट
  • बादाम (Almonds)
  • पालक (spinach)

मछली की दूसरी वैरायटी के साथ ट्यूना, सामन और सार्डिन हफ़्ते में दो बार खाना भी सुविधाजनक है। ये ओमेगा -3 फैटी एसिड से भरपूर हैं जो आपकी सेहत के लिए अनिवार्य हैं। ऐसी मछलियों में प्रोटीन भी खूब होते हैं।

ऑलिव ऑयल, नट्स और फलियां खाना न भूलें।

इसे भी पढ़ें: उम्र के 50वें पड़ाव में हैं, यह औरतों के जीवन का शानदार समय होता है

खूब सोयें

उम्र के साथ दैनिक नींद की ज़रूरत भी बदलती रहती है। उदाहरण के लिए, वयस्क लोगों के लिए औसतन 8 घंटे की नींद चाहिए। पर्याप्त मात्रा में न सोना आपके इम्यून सिस्टम के साथ-साथ आपके नर्वस सिस्टम, समन्वय क्षमता, एकाग्रता और मूड को भी नुकसान पहुंचाता है।

अगर आपको सोने में समस्या हो रही है तो इन्हें आजमायें:

 
  • बिस्तर पर जाने का वक्त फिक्स कर लें, और जागने का भी – वीकेंड पर भी ऐसा ही करें।
  • वर्ष के मौसम के अनुसार अपना कमरा और बिस्तर बदलें।
  • बिस्तर पर जाने से पहले टीवी न देखें।

पॉजिटिव रहें

यह सच है, यह मान बैठना मुमकिन है कि मेनोपाज उन महिलाओं के लिए दुःस्वप्न है या उनका दुश्मन है जो इससे गुजर रही होती हैं। ऐसा मान लेने का कारण शरीर में होने वाले इतने सारे बदलाव हैं।

निश्चित रूप से कुछ अहम मसले हैं जिनका आपको इस स्टेज में ध्यान में रखना चाहिए। मसलन यह स्वीकार करना कि आपका शरीर ढेर सारे बदलावों से गुजरेगा

हालांकि अच्छे मूड में रहना और मेनोपाज के दौरान सकारात्मक बने रहना महत्वपूर्ण है।

एक प्रोएक्टिव और आभार मानने वाला रवैया सबसे अच्छा है। आपका पीरियड बंद हो गया है, इसका मतलब यह नहीं है कि आपका जीवन भी खत्म हो गया है। मेच्योरिटी के इन वर्षों का आपको सबसे ज्यादा लाभ उठाना चाहिए!

आपको जो पसंद है उसे चुनने चुनने का वक्त और अवसर आपके पास होगा और बुरी लगने वाली चीजों को छोड़ देने का भी।

अपने को उन लोगों से घिरा रखें जो आपको प्यार करते हैं, समझते हैं, खुश रखते हैं और आपको प्राथमिकता देते हैं। अहम बात अपने को खुश रखना है।

मेनोपाज अपने पार्टनर के साथ एक परिपूर्ण और हेल्दी सेक्स लाइफ के लिए भी एक अच्छा समय होता है। झुर्रियों और सफ़ेद बालों के प्रति आत्म सजग होने की ज़रूरत नहीं है।

 
  • Sleep Foundation. Menopause and Sleep. (2020). Recuperado el 14 de septiembre de 2020. https://www.sleepfoundation.org/articles/menopause-and-sleep
  • Mayo Clinic. Caffeine and menopause symptoms: Is there a link?. (2017). Recuperado el 14 de septiembre de 2020. https://www.mayoclinic.org/diseases-conditions/menopause/expert-answers/menopause-symptoms-caffeine/faq-20119077
  • American Association of Retired Persons. Got Meno-gut? How to Lose the Belly Menopause Brings. (2018). Recuperado el 14 de septiembre de 2020. https://www.aarp.org/health/conditions-treatments/info-2018/weight-loss-menopause-belly.html
  • British Dietetic Association. Menopause and diet: Food Fact Sheet. Recuperado el 14 de septiembre de 2020. https://www.bda.uk.com/resource/menopause-diet.html