हीट एग्जॉशन के चार प्राकृतिक इलाज

सितम्बर 26, 2019
बिना पर्याप्त प्रोटेक्शन के सूरज के ज्यादा बिना किसी प्रोटेक्शन के सूरज के संपर्क में आने के कारण हीट एग्जॉशन या गर्मी से थकान होती है। क्या आपको बड़ी आसानी से हीट स्ट्रोक हो जाता है? इसके लक्षणों को शांत करने के लिए कुछ प्राकृतिक नुस्खों का पता लगाएं।

जब तक आप सावधानी बरतते हैं, कुछ धूप के संपर्क में आना सेहतमंद हो सकता है। हालांकि जब सूर्य की किरणें बहुत प्रखर हों तो यह हीट एग्जॉशन का कारण बन सकती हैं।

सी बीच या धूप में लंबे समय तक रहने के कारण गर्मी से थकान का शिकार होने की ज़रूरत नहीं है। पर्याप्त सुरक्षा के बिना धूप में रहने के बाद यह स्थिति हो सकती है।

यहां हम आपको घर पर इसका इलाज करने के चार विकल्प देंगे।

गर्मी से थकान के चार प्राकृतिक इलाज

प्राकृतिक इलाज करना सीखने से पहले कुछ बातों को साफ़ करना अहम है। सबसे पहले हीट स्ट्रोक और हीट एग्जॉशन या गर्मी से थकान के बीच भ्रमित न हों

हीट स्ट्रोक बहुत गंभीर मामला है और इसमें चेतना का लोप भी हो सकता है।

हीट एग्जॉशन हीट स्ट्रोक की एक स्थिति है, जिसमें सतही जलन, पैरों में चिह्नित नसें, खूब पसीना आना, ऐंठन और बहुत से लक्षण शामिल हो सकते हैं। हालांकि यह गंभीर हो सकता है, पर आप आमतौर पर घर पर ही इसका इलाज कर सकते हैं।

यह साफ़ करना महत्वपूर्ण है कि लक्षण गंभीर होने पर डॉक्टर की ज़रूरत हो सकती है। इसलिए यदि आपको गंभीर जलन, लंबे समय तक कमजोरी या डिहाइड्रेशन के संकेत दिखें तो घर पर इससे निपटने की कोशिश करने के बजाय अस्पताल जाना सबसे अच्छा है।

अपने लक्षणों को कम करने के लिए निम्नलिखित प्राकृतिक इलाजों पर ध्यान दें। एक समय में केवल एक ही नुस्खा आजमायें। इससे आप किसी अवांछित नुकसान से बचेंगे।

1. हीट एग्जॉशन रेमेडी: टोमैटो जूस

हीट एग्जॉशन रेमेडी: टोमैटो जूस

बेशक टमाटर का रस गर्मी से थकान के मामले में सबसे अच्छा प्राकृतिक इलाज है। इसमें प्रचुर विटामिन, मिनरल और एंटीऑक्सिडेंट होते हैं जो इसे आपके शरीर और त्वचा के लिए एक उत्कृष्ट नुस्खा बनाते हैं। वास्तव में, यह उन तरल पदार्थों और साल्ट की भरपाई करने के लिए आदर्श है जिन्हें गर्मी आपके शरीर से सोख लेती है।

आपको क्या करना चाहिये?

  • गर्मी से थकान के मामले में आप हर दिन दो या तीन गिलास टोमैटो जूस पी सकते हैं। इसे बनाने के लिए ताजा टमाटर को पानी और नींबू के रस में मिलाएं। फिर इसे ठंडा पियें।
  • दूसरी ओर त्वचा पर मामूली जलन के मामले में टमाटर का रस उस पर लगा सकते हैं। इसे 20 मिनट के लिए छोड़ दें और फिर धो लें।

डिस्कवर: 6 शानदार टिप्स : होंठों को धूप से सुरक्षित करें

2. दही

त्वचा पर दही लगाने से आपकी त्वचा पर पड़ने वाले हीट एग्जॉशन के कुछ प्रभावों से राहत मिल सकती है। इसके प्रोबायोटिक कम्पाउंड आपकी त्वचा के पीएच लेवल को बहाल करने में मदद करते हैं। इसके अलावा यह रिजेनेरेशन प्रक्रिया में मदद करती है।

दरअसल यह डेड सेल्स से छुटकारा पाने में भी मदद करती है, और निशान व दाग-धब्बों को रोकती है।

आपको क्या करना चाहिये?

  • प्रभावित क्षेत्र पर सादे दही की एक पतली परत फैलाएं।
  • फिर 20 मिनट प्रतीक्षा करें। बाद में इसे ठंडे पानी से धो लें।
  • प्रक्रिया को दोहराएं।

इसे भी पढ़े: 5 स्वादिष्ट स्मूदी: आपकी डिटॉक्स डाइट के लिए

3. खीरे का जूस

हीट एग्जॉशन का असर कम करने के लिए एक और अद्भुत वनस्पति जूस है खीरे का जूस।

जैसा कि आप जानते होंगे कि इस सब्जी में 96% पानी है। इसके अलावा इसमें ढेर सारे एसेंशियल मिनरल, विटामिन C और फाइबर होते हैं। इसलिए यह डिहाइड्रेशन और जलने का इलाज करने में मदद करता है।

आपको क्या करना चाहिये?

  • सबसे पहले एक खीरा काट लें और इसे पानी और नींबू जूस के साथ मिलाएं। इसे ठंडा करके पियें। दिन में दो या तीन गिलास पी सकते हैं।
  • चाहें तो खीरे को अपनी त्वचा पर सही तरीके से लगा सकते हैं। इससे सनबर्न की जलन कम हो जाती है।

4. ओट बाथ

ओटमील एक रिलैक्सिंग इन्ग्रेडिएंट है जिसका दिलचस्प चिकित्सीय उपयोग हैं। इस मामले में यह सबसे प्रभावी हीट एग्जॉशन नुस्खा है। क्योंकि यह गर्मी से थकान को कम करने, आपकी त्वचा पर जलन और डिहाइड्रेशन को कम करने में मदद करता है।

आपको क्या करना चाहिये?

  • ठंडे या गर्म पानी के एक तब में एक कप ओट्स डालें।
  • फिर अपने शरीर को 15 या 20 मिनट के लिए भिगोएँ।
  • अंत में लगातार दो या तीन दिन इस नुस्ख़े को दोहराएं, जब तक कि आपको सुधार महसूस न हो।

याद रखें, हीट एग्जॉशन के मामले में सबसे अच्छी बात इसे रोकना है।
इसलिए अगर गर्मी ज्यादा है, तो दिन में कम से कम तीन बार सनस्क्रीन लगाना सुनिश्चित करें। इसके अलावा ऐसे कपड़े पहनें जो आपकी त्वचा को अधिक से अधिक ढकें।

इसके अलावा हर दिन कम से कम 6-8 गिलास पानी पीकर हाइड्रेटेड रहना निश्चित करें।

  • Polefka, T. G., Meyer, T. A., Agin, P. P., & Bianchini, R. J. (2012). Effects of Solar Radiation on the Skin. Journal of Cosmetic Dermatology. https://doi.org/10.1111/j.1473-2165.2012.00614.x
  • Kenny, G. P., Wilson, T. E., Flouris, A. D., & Fujii, N. (2018). Heat exhaustion. In Handbook of Clinical Neurology. https://doi.org/10.1016/B978-0-444-64074-1.00031-8
  • Bhowmik, et al. (2012). Tomato-A Natural Medicine and Its Health Benefits. Journal of Pharmacognosy and Phytochemistry Tomato-A.
  • Cooperstone, J. L., Tober, K. L., Riedl, K. M., Teegarden, M. D., Cichon, M. J., Francis, D. M., … Oberyszyn, T. M. (2017). Tomatoes protect against development of UV-induced keratinocyte carcinoma via metabolomic alterations. Scientific Reports. https://doi.org/10.1038/s41598-017-05568-7
  • Vaughn, A. R., & Sivamani, R. K. (2015). Effects of Fermented Dairy Products on Skin: A Systematic Review. The Journal of Alternative and Complementary Medicine. https://doi.org/10.1089/acm.2014.0261
  • Mukherjee, P. K., Nema, N. K., Maity, N., & Sarkar, B. K. (2013). Phytochemical and therapeutic potential of cucumber. Fitoterapia. https://doi.org/10.1016/j.fitote.2012.10.003
  • Reynertson, K. A., Garay, M., Nebus, J., Chon, S., Kaur, S., Mahmood, K., … Southall, M. D. (2015). Anti-inflammatory activities of colloidal oatmeal (Avena sativa) contribute to the effectiveness of oats in treatment of itch associated with dry, irritated skin. Journal of Drugs in Dermatology : JDD.