8 आम गलतियाँ जो अंडरवियर पहनते समय अनजाने में होती हैं

मार्च 31, 2019
जालीदार कपड़े वाले अंडरवियर पहनने के अलावा आपको यह भी सुनिश्चित कर लेना चाहिए कि संक्रमणों से एक हाथ की दूरी बनाए रखने के लिए आप अपना अंडरवियर रोज़ बदलते हैं। जिम जाने वाले लोगों को तो दिन में दो बार ऐसा करना चाहिए।

हमारा अंडरवियर हमारे सबसे महत्त्वपूर्ण कपड़ों में से एक होता है। उसे अपनी त्वचा की दूसरी परत कहना भी गलत नहीं होगा।

यहाँ समस्या यह है कि कभी-कभी नये-नये फैशनों के चक्कर में पड़कर हम कुछ ऐसी गलतियाँ कर बैठते हैं, जिनकी कीमत हमारी सेहत को चुकानी पड़ती है।

इस लेख में हम उन 8 आम गलतियों के बारे में बात करने जा रहे हैं, जिनसे आपकी सेहत पर बुरा असर पड़ता है।

1. टाइट अंडरवियर न पहनें

अगर आप अक्सर बहुत टाइट अंडरवियर पहनती हैं तो आप संक्रमण या जलन की चपेट में आ सकती हैं। इसके पीछे वजह यह है कि बैक्टीरिया के बढ़ने और पनपने के लिए गर्म जगहें एकदम सही होती हैं। आपके अंडरगारमेंट जितने तंग होंगे वहां बैक्टीरिया के बढ़ने की संभावना भी उतनी ही ज़्यादा होगी।

पुरुषों के टेस्टिकल्स (अंडकोष) की सेहत के लिए यह स्थिति घातक होती है जो उनकी फर्टिलिटी (प्रजननक्षमता) को भी कम कर सकती है

समाधान

ढीली अंडरवियर पहनें। अगर चाहें तो कभी-कभी टाइट अंडरवियर पहन सकती हैं, पर उसे एक आदत में तब्दील न होने दें।

इसे भी जानें : लहसुन आधारित 3 उपचार वेजाइनल यीस्ट इन्फेक्शन होने पर

2. थोंग्स से परहेज़ करें (Avoid thongs)

अगर आप स्वस्थ रहना चाहती हैं तो थोंग्स से दूर ही रहना चाहिए।

थोंग्स के धागों का आपकी त्वचा के साथ रगड़ना लाज़मी होता है। थोंग के पिछले हिस्से में मौजूद धागे की वजह से योनि और गुदा एक-दूसरे के संपर्क में आ जाते हैं

दूसरे शब्दों में कहें तो थोंग का कपड़ा गुदे और योनि के बीच बैक्टीरिया के आदान-प्रदान का कारण बन सकता है। इससे योनि में संक्रमण हो सकता है।

3. जालीदार कपड़ों से बने अंडरवियर पहनें

जालीदार कपड़े से बने अंडरवियर आपकी त्वचा के लिए अच्छे होते हैं

ज़्यादा से ज़्यादा आरामदायक महसूस करने के लिए हमेशा जालीदार कपड़े से बने अंडरवियर ही पहनने चाहिए।

सिल्क या लाइक्रा से बने अंडरवियर पहनने से बचना चाहिए। देखने में भले ही वे अच्छे लगते हों पर आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि सिल्क या लाइक्रा जालीदार कपड़े नहीं होते व गुप्तांगों की त्वचा तक वे हवा को नहीं पहुँचने देते।

समाधान

आप कॉटन से बने अंडरगारमेंट्स का चयन कर सकती हैं। कॉटन आपको संक्रमण से बचाए रखता है। टाइट अंडरवियर ही की तरह सिल्क और लेस वाली अंडरवियर्स को कुछ ख़ास मौकों के लिए छोड़ दें

4. अंडरवियर को रोज़ाना न बदलना

आपको अपने अंडरवियर को रोज़ाना बदलना चाहिए। जिन लोगों को पसीना ज़्यादा आता है, उन्हें तो अपना अंडरवियर अक्सर बदलते रहना चाहिए। आपको इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि पसीने से तर या मैले अंडरवियर बैक्टीरिया से गुप्तांगों की रक्षा नहीं कर पाते

इसके अलावा अगर आप अपना अंडरवियर बदलकर जिम जाते हैं तो आपको वहां से वापस लौटकर उसे बदलने की आदत डाल लेनी चाहिए। यहाँ भी इसका कारण बैक्टीरिया को बढ़ने व संक्रमण को फैलने से रोकना होता है।

5. अंडरवियर को धोने वाली सामग्री ध्यान से चुनें

अपने अंडरवियर को धोने वाली सामग्री का चयन करते वक़्त आपको सावधानी बरतनी चाहिए

अंडरवियर को धोने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले कुछ रासायनिक उत्पाद आपकी त्वचा में जलन पैदा कर सकते हैं। इसीलिए उनके इस्तेमाल से परहेज़ करते हुए आपको अन्य विकल्पों की तलाश करनी चाहिए।

ऐसा करके आप जलन और संक्रमण जैसी परेशानियों से दूर रह सकेंगी।

ताज़ा फूलों जैसी सुगंध के बहकावे में न आकर उन डिटर्जेंट में मौजूद रासायनिक पदार्थों से सावधान रहें। गुप्तांगों की संवेदनशील त्वचा को वे नुकसान पहुंचा सकते हैं।

समाधान

प्राकृतिक सफ़ेद साबुन या असुगंधित डिटर्जेंट यहाँ आपके सबसे अच्छे विकल्प साबित हो सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : नेचुरल रेसिपी जो ख़त्म करेगी नाखूनों की फंगस

6. अंडरवियर न पहनने वाले लोगों के लिए हमारी सलाह…

अगर आप उन्हीं लोगों में से हैं, जो कभी अंडरवियर नहीं पहनते तो साफ़-सफाई से जुड़ी कुछ एहतियात की अनदेखी तो आपको हरगिज़ नहीं करनी चाहिए

समाधान

ऊपर दी सभी टिप्स को आपको उन सभी कपड़ों के लिए अपनाना होगा जो आपके गुप्तांगों के संपर्क में आते हैं।

कपड़ों की सिलाई को अपनी त्वचा से रगड़ खाकर उसमें जलन पैदा होने से रोकने के लिए इस बात की ओर ख़ास ध्यान देना न भूलें।

7. अंडरवियर पहनकर सोना

सिर्फ़ अंडरवियर पहनकर सोने से परहेज़ करें

क्या आप भी सिर्फ़ अंडरवियर पहनकर सोते हैं? अपनी इस आदत पर पुनर्विचार करने का वक़्त शायद अब आ गया है।

2012 में किए गए एक अध्ययन के अनुसार गुप्तांगो वाली जगह में पैदा होने वाली अत्यधिक गर्मी से पुरुषों के स्पर्म (शुक्राणु) पर बुरा असर पड़ सकता है व महिलाओं को पनपते बैक्टीरिया से जूझना पड़ सकता है।

यह न भूलें कि जब आप रात की नींद लेते हैं तब आपके गुप्तांग अपनी ज़रूरत अनुसार सांस भी लेते हैं व उन्हें पसीना भी आता है

8. आपके अंडरगारमेंट आपकी जेब नहीं होते

कुछ पैसे या कागज़ के किसी टुकड़े को रखने के लिए क्या कभी आपने अपनी ब्रा का इस्तेमाल किया है? बिलों पर पाए जाने वाले बैक्टीरिया की भारी मात्रा की वजह से ऐसा करना आपकी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है।

समाधान

अपनी निजी चीज़ों को रखने के लिए अपने अंडरगारमेंट का इस्तेमाल न करें। बात आपके फ़ोन की हो या कुछ पैसों की, बैक्टीरिया की उस एक्स्ट्रा मात्रा से दूर रहकर खुद पर एक एहसान कीजिए।

निष्कर्ष

आपको जालीदार कपड़ों से बने अंडरवियर पहनने चाहिए व उन्हें साफ़-सुथरा रखना चाहिए।

हमेशा अंडरवियर पहने रखना एक अच्छी आदत होती है। फिर भी, अगर आप कुछ वक़्त के लिए उससे एक ब्रेक लेना चाहें तो आप रात को ऐसा कर सकते हैं।

ध्यान रहे कि कसरत करते वक़्त ये टिप्स और भी ज़्यादा अहम हो जाती हैं। कसरत के दौरान आपकी त्वचा नमी और बैक्टीरिया के अधिक संपर्क में रहती है। किसी संक्रमण का आगाज़ होने का इससे बेहतर मौका और कौनसा हो सकता है भला?

Satsumoto, Y., Murayama, C., & Takeuchi, M. (2009). Effect of moisture sorption of underwear material on clothing microclimate in a hot environment. Heat Transfer – Asian Research. https://doi.org/10.1002/htj.20220