फाइब्रॉइड के 7 चेतावनी सूचक संकेत

मार्च 5, 2019
ज़रूरी नहीं कि फाइब्रॉइड खतरनाक हों, लेकिन अगर आपको यहाँ बताये गए लक्षणों में से कोई भी लक्षण दिख रहे हैं, तो विस्तृत जांच के लिए आपको गाइनेकालजिस्ट के पास जाना चाहिए।

आम तौर पर फाइब्रॉइड या गर्भाशय की रसौली सौम्य और नुकसानरहित होती हैं। पर अगर वे तेजी से बढ़ें, तो उनकी गाइनेकालजिस्ट द्वारा निगरानी की जानी चाहिए। फाइब्रॉइड के कुछ चेतावनी देने वाले संकेत हैं जो बता सकते हैं कि कुछ गड़बड़ी की संभावना है।

फाइब्रॉइड (Fibroid) ऐसे विकास हैं जो गर्भाशय (Uterus) के अंदर विकसित होते हैं, हालांकि वे इसके बाहर भी मौजूद हो सकते हैं। नीचे उनके बारे में और जानें।

फाइब्रॉइड क्या हैं?

फाइब्रॉइड तब विकसित होता है जब गर्भाशय के अंदर की कोशिकाएं अनियंत्रित रूप से बढ़ने लगती हैं, और आखिरकार एक ठोस मास या उभार का निर्माण करती हैं। वे इतने छोटे हो सकते हैं कि नग्न आंखों से न दिखाई दें, और उनसे आपको कोई असुविधा नहीं भी हो सकती है।

समस्या तब पैदा होती है जब वे गर्भाशय या रिब केज पर दबाव डालने लायक बड़े हो जाते हैं। इससे असुविधा होती है जो समय के साथ बढ़ती जाती है।

फाइब्रॉइड की चेतावनी देने वाले संकेत आमतौर पर तब दिखाई देते हैं जब निम्न स्थितियां हों:

  • कई फाइब्रॉइड पहले ही विकसित हो चुके हैं
  • वे बहुत संवेदनशील क्षेत्रों में स्थित हैं

इसलिए वे जितने बड़े होंगे, उनके लक्षण उतने ही तीव्र होंगे

यहाँ फाइब्रॉइड की चेतावनी सेने वाले कुछ संकेत हैं जिन पर आपको ध्यान देना चाहिए।

इसे भी पढ़ें : गर्भाशय के फाइब्रॉइड से जुड़े 5 तथ्य: हर महिला को इन्हें जानना जरूरी है

1. ब्लैडर की समस्याएं

फाइब्रॉइड : ब्लैडर की समस्याएं

फाइब्रॉइड के शुरुआती चेतावनी देने वाले संकेत हमेशा इस समस्या से जुड़े नहीं भी हो सकते हैं।

जब आपके मूत्राशय के पास गर्भाशय की बाहरी दीवार पर फाइब्रॉइड उभरते हैं, तो यह इस अंग पर दबा बना सकता है और मूत्र की मात्रा कम हो सकती है।

इसका सबसे आम लक्षण सामान्य से ज्यादा बार पेशाब करने की इच्छा होगीब्लैडर भरा होने पर भी फाइब्रॉइड पेशाब को रोक सकता है, जो असुविधाजनक भी है और खतरनाक भी।

यदि आप देखें कि आप सामान्य से ज्यादा बार बाथरूम जा रही हैं, लेकिन आपको ऐसा महसूस नहीं होता है कि आपने अपना ब्लैडर खाली कर दिया है, तो आपको चेकअप करना चाहिए।

यह भी पढ़े: मूत्राशय को साफ़ करने के 6 प्राकृतिक तरीके

2. मलाशय पर दबाव (Pressure on the rectum)

फाइब्रॉइड जहाँ ब्लैडर पर दबा डाल सकता है, वहीं यह मलाशय पर भी दबाव डाल सकता है। इस मामले में दबाव के कारण आपको ऐसा महसूस होगा कि आपका पेट भरा हुआ है।

यह बॉवेल मूवमेंट को भी मुश्किल बना देगा और बवासीर (hemorrhoids) के विकास की संभावना पैदा कर सकता है।

वैसे तो दूसरी स्थितियों में भी ऐसे लक्षण दिखाई दे सकते हैं, लेकिन अगर आपकी फाइब्रॉइड की फैमिली हिस्ट्री है, तो गाइनेकॉलोजिस्ट से मिलना हमेशा अच्छा होता है।

3. पैल्विस में दर्द या असुविधा

फाइब्रॉइड : पैल्विस में दर्द या असुविधा

बड़े फाइब्रॉइड आम तौर पर पेल्विस क्षेत्र में असुविधा और दर्द का कारण बनते हैं

कुछ महिलाओं के लिए यह बहुत ही ध्यान देने योग्य और असुविधाजनक है, खासकर जब वे झुकती हैं या लेटती हैं।

दूसरों में, इसके लक्षण सिर्फ ज्यादा भारीपन की भावना के रूप में दिख सकते हैं

कुछ महिलाओं को पेल्विक क्षेत्र में तीव्र और गंभीर दर्द हो सकता है। यह तब होता है जब फाइब्रॉइड टूट जाता है, और इसमें दो हफ़्ते से लेकर एक महीने के बीच का वक्त लग सकता है।

इसके अलावा, फाइब्रॉइड बनाने वाले तत्व आपके खून और आसपास के टिशू को संक्रमित कर सकते हैं, जिससे बुखार हो सकता है।

इसे भी पढ़ें : एक महीने में दो बार मेन्स्ट्रुल पीरियड के क्या कारण हो सकते हैं?

4. पीठ दर्द (Back pain)

पीठ के निचले हिस्से (lower back) में दर्द फाइब्रॉइड के चेतावनी सूचक संकेतों में से एक है। जब फाइब्रॉइड गर्भाशय की बाहरी दीवार पर स्थित हो, तो यह रीढ़ या पीठ की मांसपेशियों की नसों पर दबाव डाल सकता है।

इससे आपको गहरा पीठ दर्द हो सकता है जो आपकी डेली एक्टिविटी को सीमित कर देगा। इसके अलावा, अपने विशिष्ट स्थान के कारण पीठ दर्द ऊपर बताये गए अन्य लक्षणों के साथ प्रकट हो सकता है

5. संभोग के दौरान दर्द

फाइब्रॉइड : संभोग के दौरान दर्द

यह लक्षण कुछ महिलाओं में दिखाई दे सकता है और यह फाइब्रॉइड के आकार और स्थान पर निर्भर करेगा

आप संभोग के दौरान असुविधा या दर्द का अनुभव कर सकती हैं जो कुछ पोजीशन या महीने के समय तेज होगा।

महत्वपूर्ण बात यह है कि अपने साथी के साथ अच्छा कम्युनिकेशन बनाए रखें, ताकि वह जान सके कि समस्या का कारण वह नहीं हैं।

6. भारी मेन्सट्रुल ब्लीडिंग

फाइब्रॉइड के सबसे प्रसिद्ध चेतावनी देने वाले संकेतों में से एक है, मासिक धर्म के समय भारी रक्तस्राव। यह बड़ी असुविधा पैदा कर सकता है क्योंकि यह प्रवाह कम समय में ही बहुत ज्यादा होगा।

समस्या यह है कि यह एपिसोड भयावह होने के अलावा दर्दनाक भी हैं। यह गहरी ऐंठन या दर्द पैदा कर सकता है जिसे खत्म करना मुश्किल है।

यदि आपके मेन्सट्रुअल फ्लो की मात्रा अचानक बढ़ गयी है या यह गहरे दर्द के साथ होता है, तो अपने डॉक्टर से तुरंत मिलें।

ऐसा इसलिए है क्योंकि जिन महिलाओं को भारी पीरियड होता है, उनमें एनीमिया होने की संभावना ज्यादा होती है। इससे वे थका हुआ, कमजोर और सिरदर्द का अनुभव कर सकती हैं।

इस लेख पर जाएँ: श्रोणि सूजन बीमारी के लक्षण (PID)

7. लॉन्ग पीरियड या उनके बीच स्पॉटिंग

फाइब्रॉइड न सिर्फ मेन्सट्रुल फ्लो में हस्तक्षेप कर सकते हैं, बल्कि उबके समय में भी।

वे ऐसे पीरियड का कारण बन सकते हैं जो सात दिनों से ज्यादा समय तक रहता है, या वे पीरियड्स के बीच में स्पॉटिंग का कारण भी हो सकते हैं। यह ऐंठन और गहरे दर्द के साथ भी हो सकता है

उपरोक्त सभी लक्षण फाइब्रॉइड के संभावित चेतावनी सूचक संकेत हैं जिन पर ध्यान दिया जाना चाहिए।

आदर्श रूप से आपको साल में एक बार अपने गाइनेकोलोजिस्ट से मिलना चाहिए। यदि आपको इनमें से कोई भी लक्षण दिख रहा है, तो ऐसे में अपने डॉक्टर से तुरंत मिलें।