7 संकेत जो बताते हैं, आप एक आज़ाद ख़याल इंसान हैं

26 जनवरी, 2019
कई लोगों की धारणा से अलग, एक आज़ाद ख़याल इंसान होने का अर्थ जिम्मेदारियों से भागना या एक किस्म की बेपरवाह आज़ादी की चाहत नहीं है। यह अपने प्रति सच्चा होना है। क्या आप एक आज़ाद ख़याल इंसान हैं?

आज़ाद ख़याल इंसान (free spirit) वह व्यक्ति होता है, आत्म-निर्भरता और सुरक्षा के आधार पर जिसका व्यक्तित्व परिपक्वता और मनोवैज्ञानिक क्षमता के एक ऊँचे मकाम पर पहुँच गया है।

व्यक्तिगत विकास के इस चरम पर पहुंचना बहुत आसान नहीं होता।

इस किस्म के व्यक्ति को समझने के लिए ज़रूरतों की पूरी एक हाइरार्की के आयाम को भी समझना पड़ता है जिसे 1943 में अब्राहम मैस्लो ने अपने आलेख “मानव प्रेरणा का सिद्धांत (A Theory of Human Motivation)” में बताया था।

आज़ाद ख़याल इंसान होने का मतलब निश्चित रूप से कोई ऐसा इंसान होना नहीं है जिसने सभी संबंध और जिम्मेदारियों से खुद को काट लिया है। यह बहुत आम ग़लतफ़हमी है।

सच्चे आज़ाद ख़याल इंसान की चारित्रिक विशिष्टतायें, नजरिया और यथार्थ से रूबरू होने का तरीका कुछ अलग ही होता है जिससे वह ज़िन्दगी के मुश्किल हालात का सामना करने में ज्यादा सक्षम होता है।

आइये हम बात करते हैं, कि एक आज़ाद ख़याल इंसान का परिचय क्या होता है। क्या आप भी ऐसे हैं?

1. आप बिना किसी स्वीकृति के चुनाव करते हैं, सोचते हैं और काम करते हैं

अपनी निजी यात्रा में उस मकाम पर पहुंचना जहां आपको दूसरों के मान्यता की ज़रूरत नहीं पड़ती है, निश्चित रूप से एक बड़ा कदम है।

आप ज़िन्दगी के बड़े हिस्से में अक्सर महसूस करते हैं कि आपको समाज में मान्य होने की ज़रूरत है। इसके दायरे में सबसे पहले आपके माता-पिता, फिर दोस्त या साथी और बाद में आपके काम का माहौल आता है।

अपने आपको वैसे देखना जो कि आप हैं, और ईमानदारी के साथ दिल से बोलना रातोंरात नहीं हो जाता है।

सिर्फ सच्चे आज़ाद ख़याल इंसान ही ऐसा कर पाते हैं।

इसे भी पढ़ें : किसी इंसान की महानता उसके छोटे-छोटे व्यवहार में छुपी होती है

2. आप निडर होकर जीते हैं और खुद पर भरोसा रखते हैं

आज़ाद ख़याल इंसान : निर्भयता

सेल्फ डेवलपमेंट और मोटिवेशनल साइकोलॉजी के एक्सपर्ट यह अच्छी तरह से जानते हैं कि अवसरों का सबसे बड़ा हत्यारा डर होता है

जब आप आखिरकार चिंता छोड़ देते हैं और भविष्य को गर्दिश में देखना बंद कर देते हैं, तो आप बड़े कदम उठाने में सक्षम होते हैं।

खुशी हमेशा आपके डर के उस पार होती है। हालाँकि उस रेखा को पार करने के लिए आपमें सबसे पहले जो होना चाहिए, वह है आत्मविश्वास।

3. आप एक भरोसेमंद, साहसी, सहज व्यक्ति हैं

आप बहुत ही ईमानदार व्यक्ति हैं, लेकिन आपमें एक खिलंदड़ा, जिंदादिल व्यक्तित्व है जो आपको हंसी और मुस्कान देता है।

इसके अलावा, आप सहज हैं, क्योंकि आप इस बात की परवाह नहीं करते कि लोग क्या कहेंगे या सोचेंगे

खुद्दार आज़ाद ख़याल व्यक्तित्व इसलिए विकसित होता है कि उनकी निजता पर अब किसी भी किस्म की पाबंदी नहीं है। वे अपने सच्चे सार और मूल्यों के संपर्क में हैं। वे दुनिया को दिखा सकते हैं कि वे जीवन को कैसा समझते हैं: पूरे जुनून से

4. आप जानते हैं, क्यों इसके लिए संघर्ष करना सार्थक है

आज़ाद ख़याल इंसान : सजग

लोगों की आम धारणा से अलग, एक आज़ाद ख़याल इंसान होने का अर्थ जिम्मेदारियों से भागना या एक किस्म की बेपरवाह आज़ादी की चाहत नहीं है। जी हाँ, ऐसा बिलकुल ही नहीं है।

आज़ाद ख़याल इंसान जानते हैं कि वे किस चीज के लिए लड़ रहे हैं: वे जिसे प्यार करते हैं, अपनी पहचान, अपनी खुशियों के लिए।

और वे जानते हैं कि बाकी कुछ अहमियत नहीं रखता।

इसे भी पढ़ें : करिश्माई लोगों की 5 खूबियाँ: क्या आप भी उनमें से एक हैं?

5. आप आसक्ति की भाषा नहीं बोलते हैं

भावनात्मक आसक्ति व्यक्तिगत विकास का एक बड़ा दुश्मन है। इमोशनल एडिक्शन वाले किसी रिश्ते में उलझना आपकी पहचान, खुद्दारी और आत्म-अभिव्यक्ति की भावना को ख़त्म करता है

एक व्यक्ति जो आज़ाद ख़याल है, वह जानता है कि बिना निर्भरशील हुए प्यार कैसे किया जाता है। वे पूर्ण महसूस करते हुए अपना सर्वश्रेष्ठ देते हैं।

6. आप जानते हैं, ज़िन्दगी में छोटी-छोटी चीजों को कैसे एप्रिशियेट कैसे करें

आज़ाद ख़याल इंसान : सराहना

आज़ाद होने का मतलब ऐसी किसी चीज़ में जकड़ना नहीं है जो आपकी तरक्की या आपके जीवन से प्यार में बाधा डालती हो।

आज़ादी के लिए यह पैशन आप यह जानकर पाते हैं कि चीजों को प्रायोरेटाइज़ कैसे करना है। यह समझने में भी मदद करता है कि जीवन में सबसे महत्वपूर्ण चीजें वास्तव में चीजें नहीं, बल्कि भावनाएं हैं

ये भावनाएं रोज़मर्रा के सबसे मामूली अनुभवों से आती हैं। वह कोई बातचीत हो सकती है, बीच पर टहलना हो सकता है, एक डेट, ट्रिप, नंगे पांव चलना, अपने पेट्स को गले लगाना या बिना दुनिया की परवाह किये दौड़ पड़ना हो सकता है।

व्यस्त और फिक्रमंद लोग रोज़मर्रा के उन ब्यौरों को जानने-बूझने, सराहने के काबिल नहीं होते हैं जिन्हें आज़ाद ख़याल इंसान देखते, प्रोत्साहित करते हैं, और जिन्हें वे महत्व देते हैं।

7. ज़िन्दगी आपको प्रेरणा देती है और आपका नजरिया दूसरों को प्रेरित करता है

लोगों ने आपसे पूछा होगा कि आप इसे कैसे करते हैं।

आप हमेशा खुश रहते हैं, आपके पास हमेशा चीजों के लिए वक्त होता है। आप लाखों चीजें कर रहे होते हैं, और फिर भी आप हमेशा मुझे हंसा देते हैं … कैसे कर पाते हैं यह सब?”

आप शायद यह नहीं जानते कि कैसे उन्हें जवाब दें। क्योंकि आपका जीवन दर्शन कुछ ऐसा है जो आपने समय के साथ सीखा है।

कभी-कभी बंधे रहने के बाद ही एक आज़ाद ख़याल इंसान पैदा होता है। उनका रवैया चुनौतियां, समय और कड़ी मेहनत से हासिल परिपक्वता का नतीजा हो सकता है।

आज़ाद ख़याल इंसान होना एक ऐसा रवैया है जिसे आप दृढ़ संकल्प और मजबूती के साथ अपनाते हैं, यह जानते हुए कि आपको कुछ अन्य चीजों को पीछे छोड़ना पड़ सकता है।

क्या आप एक आज़ाद ख़याल इंसान हैं?

फीचर्ड इमेज : wikiHow.com के सौजन्य से