5 योगासन जो सपाट पेट पाने में आपकी मदद करते हैं

अक्टूबर 23, 2019
क्या आपको फ्लैट स्टमक यानी सपाट पेट की तलाश है? अपने एब्डोमिनल एरिया को बेहतर ढंग से टोन करने के लिए आप हर योगासन की प्रैक्टिस का वक्त बढ़ा सकते हैं और कुछ वज़न डालकर रेजिस्टेंस हासिल कर सकते हैं।

एक सुडौल-सपाट पेट पाने के लिए आपको हेल्दी लाइफस्टाइल अपनाने की ज़रूरत होगी जो एक्सरसाइज रूटीन के साथ अच्छे फ़ूड हैबिट को जोड़ती है। कुछ योगासन की मुद्राएँ आपको सुडौल-सपाट पेट पाने में मदद कर सकती हैं।

हालांकि मनचाहे नतीजे पाने के लिए कई अलग-अलग ट्रिक्स हैं, पर यह ध्यान रखना ज़रूरी है कि डाइट और एक्सरसाइज दो सबसे अहम पिलर हैं।

कुछ योगासन सपाट पेट पाने में मदद करते हैं

आज हम ऐसे पाँच योगासनों की बात करना चाहते हैं जिनकी रेगुलर प्रैक्टिस से कैलोरी गलाने में बढ़ोतरी और शरीर के इस हिस्से की ट्रिमिंग होगी।

अच्छी बात यह है कि इन अद्भुत शारीरिक फायदों के अलावा आप अपनी मसल्स को भी टोन करेंगे और अपनी सहनशक्ति को बढ़ाएंगे।

इन्हें घर पर आज़माएं!

1. भुजंगासन (Cobra Pose)

योगासन : भुजंगासन (Cobra Pose)

पेट की मांसपेशियों को मजबूत करने और पीठ के निचले हिस्से को आराम देने के लिए भुजंगासन की सिफारिश की जाती है। फ्लैट टमी पाने में आपकी मदद करने के लिए यह एक आदर्श व्यायाम है।

यह उन लोगों के लिए आदर्श है जो मोटापे और फैट का मुकाबला करते हुए अपने पेट को सुडौल-सपाट बनाना, उसे ट्रिम करना चाहते हैं।

कैसे करें?

  • पैर फैलाकर फर्श पर बछे गलीचा या मैट पर लेट जाएं और बांहों के सहारे धड़ को जमीन से ऊपर उठा लें (जैसा कि चित्र में है)।
  • धीरे-धीरे श्वास लें और जितना हो सके छाती को ऊपर उठाने की कोशिश करें।
  • 20 सेकंड के लिए इस स्थिति में रहें और फिर धीरे-धीरे चटाई पर लेट जाने की मुद्रा में लौटें।
  • तीन से पांच बार इसे दोहरायें, और जैसे-जैसे ताकत बढे उस मुद्रा में बने रहने की वक्त बढ़ायें।

नोट: पीठ में चोट, हर्निया या गर्भवती होने की स्थिति में इस मुद्रा से बचें।

और अधिक जानने की इच्छा है? देखें : 5 योगासन अभ्यास करें, यदि आप ज्यादा फ्लेक्सिबल नहीं हैं

2. नौकासन (Boat Pose)

यह मुद्रा पेट की मांसपेशियों को सुडौल बनाने के लिए आदर्श है, साथ ही भी पैर और पीठ को मजबूत करने के लिए इसकी सिफारिश की जाती है।

यह मुद्रा उन मसल ग्रुप पर इकट्ठे काम करती है। इसमें संतुलन और शक्ति की ज़रूरत होती है, इसलिए यह आपके रेजिस्टेंस को बढ़ाने के लिए बहुत अच्छा है।

कैसे करें?

  • मैट पर पैर फैलाकर लेट जाएँ और बाहों को अपनी साइड में रखें।
  • श्वास लें और पैरों और धड़ को जितना हो सके उतना ऊपर उठाएं।
  • इसके अलावा बाहें ऐसे फ़ैली होनी चाहिए जैसे आप अपने पैर की उंगलियों को छूना चाहते हैं।
  • नितम्ब और उसे कुछ ऊपर का हिस्सा फर्श पर होगा और ऊपर व नीचे का बाकी शरीर हवा में 45 डिग्री का कोण बनाकर उठा होगा। इस स्थिति में 15 से 20 सेकंड रहें और साथ ही गहरी सांस लेते रहें।
  • हर सेशन में इसे तीन से पांच बार दोहराये।

3. धनुरासन (Bow Pose)

योगासन : धनुरासन (Bow Pose)

यह दिलचस्प मुद्रा कमर को ट्रिम करने और आपके पेट की मांसपेशियों को सुडौल बनाने के लिए आदर्श है।

इसकी रेगुलर प्रैक्टिस करने से पीठ के निचले हिस्से में मांसपेशियों को आराम मिलेगा और पाचन तंत्र के कामकाज में भी सुधार होगा। इसलिए सपाट पेट पाने में मदद लेने के लिए यह एक आदर्श योगासन है।

कैसे करें ?

  • मैट पर पैर फैलाकर पेट के बल लेट जाएँ और बाहों को बगल में रखें।
  • अब घुटनों को मोड़ें और बाहों के पास ले जाएँ जिससे पैर या टखने हाथों से पकड़ सकें।
  • फिर श्वास लें और सिर को ऊपर उठाएं जैसे कि शरीर को धनुष की आकृति में मोड़ने की कोशिश कर रहे हैं।
  • गहरी सांस लेते हुए इस स्थिति में 15 से 30 सेकंड तक रहें।
  • साँस छोड़ते हुए प्रारंभिक स्थिति में लौटें। इसे पांच बार दोहरायें।

इसे भी पढ़ें : 7 तरीके: मात्र 60 दिनों में पेट की चर्बी से छुटकारा पाने के लिये

4. प्लैंक

प्लैंक (कुंभकासन) एक फिजिकल रेजिस्टेंस एक्सरसाइज है जो पेट और पीठ की मांसपेशियों का वर्क आउट कराने की सहूलियत देती है।

हालांकि यह आसन लग सकती है, इसकी प्रैक्टिस के लिए बैलेंस और एकाग्रता की ज़रूरत होती है क्योंकि यह आपके पूरे शरीर को वर्क आउट में लगाती है।

कैसे करें?

  • पेट के बल लेट जाएं और हथेलियों और पैरों की बॉल के सहारे शरीर को सपोर्ट करें।
  • निश्चित करें कि आपके पैर पूरी तरह से सीधे हों और हाथों को अपने कंधों के नीचे आराम से रखें।
  • फिर एक्सरसाइज की इंटेंसिटी बढ़ाने के लिए अपने हाथों को नीचे की ओर धकेलते हुए धड़ को फर्श से उठाएं।
  • साँस लें 20 से 30 सेकंड के लिए शरीर को सीधी रेखा में होल्ड करें।
  • फिर साँस छोड़ें और धीरे-धीरे शरीर को नीचे लायें जब तक कि आप आराम की स्थिति में न पहुंच जायें।
  • इसे 3 बार दोहरायें।

5. सेतुबंधासन या ब्रिज पोज (Bridge Pose)

योगासन : सेतुबंधासन या ब्रिज पोज (Bridge Pose)

ब्रिज पोज़ एक आसान योगासन है जो आपकी मसल्स को मजबूत करता है।

रेगुलर प्रैक्टिस से आपकी पीठ में तनाव कम होगा और ग्लूट्स भी कसेंगे।

कैसे करें?

  • पैरों को मोड़कर पीठ के बल लेटें और हाथ शरीर के पास रखें।
  • फिर कंधों को थोड़ा पीछे खींचें और हाथों से अपनी एड़ी को पकड़ें।
  • पैरों को जमीन से ऊपर उठाए बिना कूल्हों को फर्श से जितना संभव हो उतना ऊपर उठाएं।
  • आप ग्लूट्स को भी सिकोड़ेंगे जैसे कि पीठ से एक पुल बनाने की कोशिश कर रहे हों।
  • 15 सेकंड के लिए इस स्थिति में रहें और शुरुआती स्थिति नेब वापस आने से पहले साँस छोड़े।

क्या आप अपना पेट मजबूत करने के लिए तैयार हैं? यदि आप पहले से ही अपनी डाइट ठीक कर रहे और एक्सरसाइज कर रहे हैं, तो अपनी रूटीन में इन योगासनों को शामिल करें।