पित्ती (Hives) के लिए तीन नेचुरल ट्रीटमेंट

27 जून, 2019
यदि आप किसी एलर्जी के रिएक्शन से पीड़ित हैं या संक्रमण से प्रभावित हैं तो आपकी त्वचा, खुजली वाली लाल पित्ती, जैसे कई रूपों में आपको इसके बारे में बताएगी।

पित्ती या हाइव्स (Hives) एक बहुत ही सामान्य त्वचा की स्थिति है जिसका आप किसी भी उम्र में अनुभव कर सकते हैं। यह लाल, उभरे हुए, खुजली वाले वेल्ट्स के रूप में प्रकट होता है जो सच में बहुत परेशान करते हैं। लेकिन क्या आपने कभी पित्ती के प्राकृतिक उपचारों के बारे में सुना है?

यह सबसे आम त्वचा रोगों में से एक है। महिलाओं की पित्ती से पीड़ित होने की ज्यादा संभावना होती है। ये ज्यादातर किशोरावस्था के बाद दिखाई देते हैं, लेकिन लोगों को यह परेशानी किसी भी उम्र में हो सकती है। जब आप इन पर दबाव डालते हैं तो ये गायब नहीं होते हैं (अर्थात ये गैर-ब्लांचिंग हैं), जैसा कि अन्य चोटों के साथ होता है।

प्रभावित क्षेत्र के अलावा अन्य जगहों पर भी खुजली हो सकती है। इसका मतलब है कि आपके पूरे शरीर पर पित्ती हो सकती है। घाव आम तौर पर अपने आप कुछ घंटों के भीतर गायब हो जाते हैं।

जैसा कि हम पहले बता चुके हैं, खुजली इसका सबसे ज्यादा परेशान करने वाला लक्षण है इसलिए इस कारक को नियंत्रित करना चाहिए।

कारण

जब आपके शरीर में किसी पदार्थ की वजह से एलर्जी का रिएक्शन होता है तो वह रक्त प्रवाह में हिस्टामाइन और अन्य रसायनों को छोड़ देता है। यह खुजली, सूजन, और अन्य लक्षणों का कारण बनता है। पित्ती या अर्टिकेरिया एक आम रिएक्शन है।

एंजियोएडेमा गहरे ऊतकों की सूजन है जो कभी-कभी अर्टिकेरिया के साथ होती है। पित्ती की तरह एंजियोएडेमा भी शरीर में कहीं भी हो सकता है। जब यह मुंह या गले के आसपास होता है तो गंभीर लक्षण हो सकते हैं, यहां तक ​​कि वायुमार्ग के अवरुद्ध होने का भी डर होता है।

लक्षण

लाल वेल्ट्स के साथ खुजली इसका अहम लक्षण है। जब पित्ती बड़ी होती है (20 सेंटीमीटर की चौड़ाई तक), केंद्रीय क्षेत्रों में हल्का रंग होता है और छल्ले बनते हैं।

आम तौर पर, पित्ती का विस्फोट आता-जाता रहता है। दरअसल एक वेल्ट कुछ घंटों के लिए रह सकता है, फिर गायब होकर कहीं और दिखाई दे सकता है। त्वचा के लक्षणों के दिखाई देने से पहले कुछ मरीजों को इस तरह के अनुभव होते हैं:

  • भूख की कमी
  • बेचैनी
  • सिरदर्द
  • जोड़ों का दर्द
  • पेट में दर्द
  • दस्त
  • बुखार

इसे भी पढ़ें: 5 प्राकृतिक औषधियाँ: HPV का इलाज करने के लिए

पित्ती के लिए नेचुरल ट्रीटमेंट

1. प्याज (Onion)

प्याज सल्फर यौगिकों में समृद्ध है जो इसके आवश्यक तेल का हिस्सा हैं और इसकी विशेष गंध और स्वाद के लिए जिम्मेदार हैं। प्याज में मौजूद एलिल प्रोपिल डाइसल्फाइड आपके शरीर की रक्षात्मक प्रभावशीलता को बढ़ाता है।

इसके अलावा, यह डाइसल्फाइड प्याज को जीवाणुनाशक और फंगसनाशी गुण भी प्रदान करता है जो कई वायरसों को खत्म करने में मदद करते हैं।

सामग्री

  • 1 प्याज गोल छल्लों में कटा हुआ
  • 1 20 सेंटीमीटर की पट्टी

तैयारी

  • प्याज को गोल छल्लों में काटें और प्रभावित क्षेत्र पर रखें।
  • प्याज को जगह पर लगा रखने के लिए पट्टी का प्रयोग करें।
  • एक घंटे के लिए छोड़ दें और फिर ठंडे पानी से धोएं।

2. एलो वेरा (Aloe Vera)

एलोवेरा जेल में जोरदार एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो पॉलीफेनॉल नाम के, पदार्थों के विशाल परिवार से संबंधित हैं। ये पॉलीफेनॉल, अन्य एलो वेरा यौगिकों के साथ, कुछ बैक्टीरिया के विकास को रोकने में मदद कर सकते हैं जिनके कारण संक्रमण और त्वचा की एलर्जी होती है।

सामग्री

  • 2 एलो वेरा की पत्तियां

तैयारी

  • सबसे पहले, जेल तक पहुंचने के लिए मुसब्बर वेरा की पत्तियों को आधे में काटें।
  • प्रभावित क्षेत्र पर जेल लगायें और करीब 2 घंटे के लिए छोड़ दें।
  • बताये गए समय के बाद हटायें और पानी से धोएं।

3. कैमोमाइल टी (Chamomile Tea)

बेशक यह एलर्जी की वजह से होने वाली खुजली को शांत करने के लिए एक गजब की जड़ी बूटी है। खुजली से राहत पाने का यह सबसे अच्छा हल है।

यह त्वचा को आराम देता है और मॉइस्चराइज करता है। इसके अलावा यह सूजन को कम करने और त्वचा की मरम्मत करने में भी मदद करता है।

सामग्री

  • 1 बड़ा चम्मच कैमोमाइल के फूल (15 ग्राम)
  • 1 कप पानी (250 मिलीलीटर)

तैयारी

  • कैमोमाइल की पत्तियों के साथ पानी उबालें।
  • कुछ मिनटों के लिए पकने दें फिर आंच बंद करें और 7 मिनट तक यूंही रहने दें।
  • बताये गए समय के बाद, जलसेक को छानें। इसे पियें और परिणाम देखने के लिए प्रतीक्षा करें।

पित्ती से बचने के लिए आपको एक संतुलित आहार का सेवन करना चाहिए। ढेर सारी सब्जियां खाएं, अपनी त्वचा को मॉइस्चराइज करने के लिए रोज खूब सारा पानी पियें और अच्छी व्यक्तिगत स्वच्छता बनाये रखें।