हाइड्रो-इलेक्ट्रोलाइटिक बैलेंस क्या है?

मिनरल वे न्यूट्रिएंट हैं जिन्हें हम कम मात्रा में लेते हैं पर वे इंसान के शरीर में बहुत अहम कार्य करते हैं। अपने शरीर में हाइड्रो-इलेक्ट्रोलाइटिक बैलेंस बनाए रखने का महत्व यहाँ जानिये।
हाइड्रो-इलेक्ट्रोलाइटिक बैलेंस क्या है?

आखिरी अपडेट: 26 नवम्बर, 2020

हाइड्रो-इलेक्ट्रोलाइटिक बैलेंस ऐसी अवधारणा है जिसका उद्देश्य हाइड्रेशन और मिनरल सप्लाई बीच सही संतुलन बनाए रखना है। इन दोनों तत्वों में से किसी एक की भी कमी से आपके शरीर पर नुकसानदेह असर हो सकता है। कुछ मिनरल्स की कमी, जैसे कि सोडियम (hyponatremia) जानलेवा भी हो सकती है।

इसलिए हम अपने शरीर के मुख्य इलेक्ट्रोलाइट्स के सबसे महत्वपूर्ण कार्यों के बारे में बताने जा रहे हैं। हम आपको कुछ सलाह भी देंगे जिससे पर्इयाप्सत मात्रा में इन्हें ग्रहण करके आप इनके असंतुलन को रोक सकें।

इलेक्ट्रोलाइट

इलेक्ट्रोलाइट आयनित मिनरल होते हैं जो मानव शरीर में कई काम करते हैं। उनमें से कई ऑसमाटिक बैलेंस बनाए रखने या नर्व इम्पल्स के ट्रांसमिशन से जुड़े हैं।

आइए सबसे महत्वपूर्ण बातों पर एक नजर डालें।

हाइड्रेशन इलेक्ट्रोलाइट्स की सप्लाई से होता है जो हमारे शरीर के कामकाज के लिए आवश्यक मिनरल हैं।

अधिक जानने के लिए: 8 संकेत जो बताते हैं, आप पर्याप्त पानी नहीं पी रहे

सोडियम

सोडियम आसपास सबसे प्रचुर मात्रा में मौजूद मिनरल में से एक है। इसकी कमी जैसा कि हमने पहले ही बताया, एक बड़ी समस्या का कारण बनता है जिसे हाइपोनेट्रेमिया (hyponatremia) कहा जाता है। नर्व इम्पल्स के ट्रांसमिशन में सोडियम एक आवश्यक पोषक तत्व है और हमारा जीवन इस पर निर्भर करता है।

इसके अलावा, हमारे ब्लडप्रेशर को सही बनाए रखने में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका होती है, जैसा कि न्यूट्रिएंट्स में प्रकाशित शोध ने दिखाया है। सोडियम दरअसल पानी के लिए प्यासा कम्पाउंड है, इसलिए यह इसे बांध लेता है, और ज्यादा मात्रा में खाए जाने पर हाइपरटेंशन बढाता है।

सौभाग्य से, हमारे भोजन में मौजूद सभी चीजों में सोडियम होता है। इसलिए इसकी कमी का शिकार होना आसान नहीं है। यह आमतौर पर अत्यधिक पसीना बहने और गर्म और आर्द्र वातावरण में ही संभव होता है।

गर्म वातावरण में प्रतिस्पर्धा करने वाले एथलीटों को अपनी मिनरल सेवन पर निगरानी करनी चाहिए। वे इस मिनरल की सही मात्रा वाले ड्रिंक पीकर ऐसा कर सकते हैं।

कैल्शियम

मानव शरीर में कैल्शियम सबसे प्रचुर मात्रा में पलब्ध मिनरल है। यह हमारी हड्डियों का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, उनका घनत्व बढ़ाता है और फ्रैक्चर का रिस्क घटाता है। वर्तमान वैज्ञानिक साक्ष्य के अनुसार मेनोपाज के कारण होने वाले अस्थि क्षय को रोकने में यह बेहद अहम हो जाता है।

इसके अलावा इस पोषक तत्व की नर्व इम्पल्स के ट्रांसमिशन में और मांसपेशियों की सिकुड़न, कार्डियोवैस्कुलर और स्केलेटन दोनों में भूमिका होती है। इस कारण शरीर में इसकी पर्याप्त मात्रा सुनिश्चित करना जरूरी है।

आपको इसमें रुचि भी हो सकती है: ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम के लिए कैल्शियम से भरपूर नुस्खा

पोटैशियम

पोटेशियम नर्व इम्पल्स  के ट्रांसमिशन में शामिल होता है, लेकिन यह सोडियम के विपरीत एक काल्पनिक असर को बढ़ाकर ब्लडप्रेशर  को नियंत्रित करता है। जर्नल ऑफ क्लिनिकल हाइपरटेंशन में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार इस मिनरल का नियमित सेवन ब्लडप्रेशर को कम करने में मदद करता है।

हाइड्रो-इलेक्ट्रोलाइटिक बैलेंस कैसे बनाए रखें?

हाइड्रो-इलेक्ट्रोलाइटिक बैलेंस बनाए रखने के लिए पर्याप्त पानी पीना आवश्यक है। आपको लिक्विड पीने के लिए प्यास लगने तक इंतजार करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि शरीर इस मेकेनिज्म को तभी एक्टिवेट करता है जब अच्छा-ख़ासा नुकसान पहले ही हो चुका होता है।

थोड़ी-थोड़ी मात्रा में ताजा पानी पीने और कार्बोनेटेड ड्रिंक या कोल्ड ड्रिंक पीने से बचने की सलाह दी जाती है। यह देखा गया है कि शुगर के सेवन की हैबिट स्वास्थ्य के लिए नुकसानदेह है।

हाइड्रो-इलेक्ट्रोलाइटिक संतुलन बनाए रखने के लिए मिनरल ड्रिंक पियें

अपने खनिज सेवन को बेहतर बनाने के लिए, हम अनुशंसा करते हैं कि आप गर्म स्थितियों में व्यायाम करते समय भोजन को सामान्य से थोड़ा अधिक नमक दें। ऐसा करने से, आप हाइपोनेट्रेमिया के जोखिम को कम करते हैं।

एक गतिहीन जीवन शैली वाले लोगों के मामले में, सोडियम का सेवन उनकी आहार आवश्यकताओं के लिए समायोजित किया जाना चाहिए। हालांकि, यह धमनी उच्च रक्तचाप के मामले में सीमित होना चाहिए।

सबसे अच्छी बात एक विविध और संतुलित मेनू का उपभोग करना है, विशेष रूप से एक जो सब्जियों में समृद्ध है। फल और सब्जियां अपने सूक्ष्म पोषक तत्व के लिए बाहर रहती हैं। इस कारण से, उनके पास एक उल्लेखनीय खनिज सामग्री है जो हमारे स्वास्थ्य को प्रभावित करने वाली कमियों को रोकने में मदद कर सकती है।

अंत में, हमें हड्डियों के घनत्व से संबंधित समस्याओं को रोकने के लिए कैल्शियम के दैनिक सेवन की गारंटी देने की आवश्यकता है। इस उद्देश्य को ध्यान में रखते हुए, हम अपने डेयरी उत्पादों, नट्स या ब्लूफिश की खपत बढ़ा सकते हैं। उदाहरण के लिए, डिब्बाबंद सार्डिन महिलाओं में ऑस्टियोपोरोसिस को रोकने के लिए सबसे अधिक अनुशंसित खाद्य पदार्थों में से एक हैं।


खेल पेय एथलीटों की विशिष्ट आवश्यकताओं को पूरा करने में मदद करते हैं।

इसे भी पढ़ें : 6 टिप्स वैरिकोज वेन्स को रोकने के लिए

अपने स्वास्थ्य की गारंटी के लिए हाइड्रो-इलेक्ट्रोलाइटिक संतुलन बनाए रखें

जैसा कि आपने देखा है, जब किसी खेल के आयोजन के दौरान स्वास्थ्य में सुधार या प्रदर्शन में गिरावट को रोकने के लिए पर्याप्त इलेक्ट्रोलाइट संतुलन बनाए रखना आवश्यक होता है।

सौभाग्य से, इस लेख में हम आपके लिए लाए गए सलाह का पालन करके आपके शरीर को जो खनिज की आवश्यकता है, उसे प्राप्त करना बहुत आसान है। यदि आप डेयरी उत्पादों और ब्लूफिश के साथ नियमित रूप से सब्जियों का सेवन करते हैं, तो आप इन सूक्ष्म पोषक तत्वों के किसी भी प्रकार के नुकसान से पीड़ित होने की संभावना नहीं रखते हैं।

हालांकि, यदि आप किसी भी प्रकार की बीमारी से पीड़ित हैं, तो हम हमेशा सलाह देते हैं कि आप किसी मेडिकल प्रोफेशनल से संपर्क करें। याद रखें कि उच्च रक्तचाप वाले लोग, उदाहरण के लिए, अपने नमक का सेवन अधिक नहीं करना चाहिए।

It might interest you...
5 आदतें : अगर आप मसल-मास हासिल करना चाहते हैं
स्वास्थ्य की ओरइसमें पढ़ें स्वास्थ्य की ओर
5 आदतें : अगर आप मसल-मास हासिल करना चाहते हैं

मसल-मास हासिल करना उन लोगों के लिए मुख्य लक्ष्यों में से एक है जो मजबूत और सुडौल फिगर की ख्वाहिश रखते हैं।



  • Grillo A., Salvi L., Coruzzi P., Salvi P., et al., Sodium intake and hypertension. Nutrients, 2019.
  • Weaver CM., Alexander DD., Boushey CJ., Dawson Hughes B., et al., Calcium plus vitamin D supplementation and risk of fractures: an updated meta analysis from the national osteoporosis foundation. Osteoporos Int, 2016. 27 (1): 367-76.
  • Chmielewski J., Carmody JB., Dietary sodium, dietary protassium, and systolic blood pressure in US adolescents. J Clin Hypertens, 2017. 19 (9): 904-909.
  • Malik VS., Li Y., Pan A., Koning LD., et al., Long term consumption of sugar sweetened and artificially sweetened beverages and risk of mortality in US adults. Circulatino, 2019. 139 (18): 2113-2125.
  • Feye, Andrés Santiago Parodi. “Composición de las bebidas deportivas: efectos sobre la hidratación y el rendimiento.” Revista Universitaria de la Educación Física y el Deporte 11 (2018): 45-53.
  • Díaz-Rizo, Valeria, et al. “Factores nutricionales relacionados con osteoporosis.” El Residente 13.1 (2018): 23-30.
  • Llanio, Raimundo. “Balance HÃdrico y ElectrolÃtico.” Revista Cubana de Medicina 1.1 (2019).
  • Henríquez-Palop, Fernando, et al. “La sobrecarga hídrica como biomarcador de insuficiencia cardíaca y fracaso renal agudo.” Nefrología (Madrid) 33.2 (2013): 256-265.