6 एंटी-इफ्लेमेटरी खाद्य : इन्हें भोजन में ज़रूर शामिल करें

जून 21, 2019
अपने आहार में सूजनरोधी यानी एंटी-इफ्लेमेटरी खाद्य पदार्थ शामिल करने से आपको स्वास्थ्य से जुड़ी समस्यायों को रोकने में मदद मिल सकती है। उनके पौष्टिक गुण के कारण आप अपनी रोग प्रतिरोधक प्रणाली को ताकत दे सकते हैं।

आपके खाने में सबसे अच्छे सूजनरोधी यानी एंटी-इफ्लेमेटरी खाद्य पदार्थ क्या हो सकते हैं? क्या आपने गौर किया है कि आप उन्हें कितनी बार खाते हैं और आपको कितनी मात्रा में उसकी ज़रूरत है?

शरीर की सूजन हाई ब्लडप्रेशर, अस्थमा और डायबिटीज जैसी कई स्वास्थ्य समस्याओं से जुड़ी है।

इसलिए, सूजन को कम करने वाले खाद्य पदार्थ खाकर मीडियम और लॉन्ग टर्म की सेहत की समस्याओं से बचा जा सकता है। भले ही आज आप बहुत तंदरुस्त हों, और आपको ऐसी कोई बीमारी न हो, लेकिन उन्हें रोकने का पहले से उपाय करना अच्छा रहेगा।\

नीचे ऐसे एंटी-इफ्लेमेटरी खाद्य पदार्थों की एक सूची दी गयी है जिन्हें आपको नियमित रूप से खाना चाहिए।

6 एंटी-इफ्लेमेटरी खाद्य

1. एंटी-इफ्लेमेटरी खाद्य में अहम हैं हरी पत्तेदार सब्जियां ( Green leafy vegetables)

एंटी-इफ्लेमेटरी खाद्य में अहम हैं हरी पत्तेदार सब्जियां

आप अपनी थाली में जो भी खाद्य परोसते हैं, आपको यह ध्यान रखना चाहिए कि उसमें हरी पत्तेदार सब्जियाँ भरपूर मात्रा में हैं। इनमें मौजूद एंटीऑक्सिडेंट की प्रचुरता के कारण ये सबसे लाजबाब एंटी-इफ्लेमेटरी खाद्यों में से एक हैं। इनको पर्याप्त मात्र में खाने से अपनी कोशिशकाओं को दोबारा बनाने में आपको मदद मिलेगी।

अगर आप कुछ हरी सब्जियां सीधे नहीं खाना चाहते हैं तो उन्हें स्मूदी में शामिलं कर सकते हैं। इस प्रकार आप ज्यादा स्वादिष्ट तरीके से उनका पोषक तत्व पा लेंगे।

इसी तरह कई किस्म की हरी पत्तेदार सब्जियों को अदल-बदल कर खाते रहना भी एक अच्छा विचार है। इससे आपको पोषक तत्वों की बड़ी रेंज मिल जायेगी।

2. ब्लूबेरी (Blueberries)

जंगल का यह छोटा फल आपके लिए एक और एंटी-इफ्लेमेटरी खाद्य है जिसे आपको जितना हो सके अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए। स्वादिष्ट होने के अलावा यह फैट वाले या हाई कार्बोहायड्रेट वाले खाद्य पदार्थों से होने वाली सूजन को बेअसर कर सकता है।

इनकी यह शक्ति इनमें मौजूद फ्लेवोनॉइड की वजह से आती है, जो एक प्रकार का एंटीऑक्सिडेंट है और प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है। इसके अलावा, ये विटामिन C और रिजर्वेट्रोल के स्रोत हैं। ये दोनों कम्पाउंड सूजन कम करते हैं।

इन सभी लाभों के कारण यह सिफारिश की जाती है कि कुछ मीठा खाने की क्रेविंग हो, तो ब्लूबेरी खाएं। आप उन्हें बिना किसी बड़ी जटिलता के सूजन से छुटकारा पाने के लिए उपयोग कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें : दर्द से राहत पाने के लिए अदरक और ऑलिव ऑयल सिरप

3. प्राकृतिक जई (Natural oats)

क्या आप नाश्ते में ओट्स खाते हैं? यदि हां, तो कैसे?

यदि उत्तर “हां” है, तो यह सुनिश्चित करना अच्छा होगा कि आप प्राकृतिक ओट्स ही खा रहे हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि प्राकृतिक ओट्स वाकई एंटी-इफ्लेमेटरी फ़ूड है।

सुगंधित कमर्शियल ओट्स के मुकाबले यह सस्ती होने के अलावा सेहत के लिए बहुत स्वस्थ है। प्राकृतिक जई आपको ऐसा कार्बोहाइड्रेट दे सकती है जो आपके पेट को बिना नुकसान पहुंचाए गुजर जाता है। इस प्रकार के कार्बोहाइड्रेट अच्छे बैक्टीरिया के विकास को बढ़ाने में मदद करते हैं और ऑक्सीकरण और सूजन को कम कर सकते हैं।

यदि आप इंसुलिन रेजिस्टेंट या डायबिटीज की समस्याओं से जूझ रहे हैं, तो जई इस समस्या और सूजन को कम करने में मदद कर सकती है। इसे डाइट में ज़रूर शामिल करें!

4. सेलरी (Celery)

सेलरी ऐसी सब्जी है जो अन्य खाद्य पदार्थों के साथ स्वादिष्ट और आसान भी है। स्वाद के अलावा यह एक उम्दा प्राकृतिक एंटीऑक्सिडेंट और एंटी-इफ्लेमेटरी है। इसलिए यह आमतौर पर उन व्यंजनों में पायी जाती है जिनकी सिफारिश रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल लेवल को घटाने के लिए की जाती है।

इसे खाने का अच्छा वक्त तब है जब आप बैक्टीरिया के संक्रमण या पोटैशियम की कमी का सामना कर रहे हैं। अगर आप रेगुलर प्रोसेस्ड फ़ूड खाते हैं, तो सेलरी एक एंटी-इफ्लेमेटरी फ़ूड है जिसे आपको अपनी डाइट में ज़रूर रखनी चाहिए।

क्योंकि प्रोसेस्ड फ़ूड में भारी मात्रा में सोडियम होता है जो आपकी सेहत को दीर्घकालिक आधार पर बिगाड़ सकता है। पोटैशियम के सेवन से यह असर कम हो जाता है। आम तौर पर खाने के दौरान पोटेशियम और सोडियम का संतुलन रखने की सलाह दी जाती है।

इसे भी पढ़ें : शहद और हल्दी जिलेटिन स्क्वेयर : एक शानदार एंटी-इन्फ्लेमेटरी

5. अदरक (Ginger)

अदरक : एंटी-इफ्लेमेटरी खाद्य

अदरक में एक रासायनिक कम्पाउंड होता है जिसे जिंजरॉल कहा जाता है। यह सूजन घटाने और एक जबरदस्त एंटीऑक्सिडेंट और एंटी बैक्टीरियल फ़ूड के रूप में काम करता है।

जब सूजन की बात है, तो अदरक रूमेटॉइड आर्थराइटिस को कम करने में मदद करती है। इसके गुणों का लाभ उठाने के कुछ तरीकों में आप इससे अर्क तैयार कर सकते हैं या सीधे जड़ का सेवन कर सकते हैं।

इसका अर्क के रूप में पियें या स्मूदी में अदरक का एक छोटा टुकड़ा डाल लें। अपने डिश का जायका बढ़ाने के लिए या ब्रेड और सूप में इसके ख़ास स्वाद को डालकर इसका लाभ उठा सकते हैं।

6. ग्रीन टी

हरी चाय आज की हमारी लिस्ट में आख़िरी एंटी-इफ्लेमेटरी खाद्य है। यह पेय स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद होने के कारण हाल के वर्षों में यह बहुत से लोगों की पसंद बन गया है। कैटेचिन वह कम्पाउंड है जो ग्रीन टी को आपके स्वास्थ्य के लिए एक अच्छा विकल्प बनाता है। यह एंटीऑक्सिडेंट सिर्फ इसी ड्रिंक में मिलता है और सूजन से लड़ने में शानदार है।

अब जब आप जानते हैं कि कौन से खाद्य आपके शरीर में एंटी-इफ्लेमेटरी असर डालते हैं, तो देर न करें, इन्हें खाने में शामिल करें और ओने खाने को ही अपनी दवा बनने दें।

  • Maffia P., Cirino G., Targeting inflammation to reduce cardiovascular disease risk. Br J Pharmacol, 2017. 174 (22): 3895-3897.
  • Wicinski M., Socha M., Walczak M., Wodkiewicz E., et al., Beneficial effects of resveratrol administration focus on potential biochemical mechanisms in cardiovascular conditions. Nutrients, 2018. 10 (11): 1813.
  • Singh R., De S., Belkheir A., Avena sativa (oat), a potential neutraceutical and therapeutic agent: an overview. Crit Rev Food Sci Nutr, 2013. 53 (2): 126-44.
  • Mashhadi NS., Ghiasvand R., Reza M., Anti oxidative and anti inflammatory effects of ginger in health and physical activity: review of current evidence. Int J Prev Med, 2013.