साइटिक नर्व के दर्द को ठीक करने के लिए आसान एक्सरसाइज

27 अगस्त, 2020
ये एक्सरसाइज साइटिक नर्व के दर्द को ठीक करने के लिए सही हैं, क्योंकि इस स्थिति में लगातार आराम करना अच्छा नहीं है। इन्हें आजमायें!
 

यह कुछ विरोधाभासी लग सकता है, लेकिन अगर आप साइटिक नर्व के दर्द से पीड़ित हैं, तो जीवन की गुणवत्ता में सुधार लाने के लिए हल्का शारीरिक व्यायाम सबसे अच्छा इलाज होता है।

अगर दर्द बहुत तेज हो तो आराम करना ठीक है। हालांकि स्थायी रूप से गतिहीन रहना अक्सर स्थिति को और बदतर बना सकता है।

आपको यह नहीं भूलना चाहिए कि गति ही जीवन है, और यह एक्सरसाइज आपकी रीढ़ की हड्डी के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

सहज गतिशीलता और वे एक्सरसाइज जो आपकी रीढ़ की सभी संरचनाओं में सही सामंजस्य स्थापित करते हैं, इन नाजुक अंगों में तरल पदार्थ और पोषक तत्वों के आदान-प्रदान में मददगार होते हैं।

इस तरह आप साइटिक नर्व पर पड़ने वाले दबाव से लड़ते हैं और कूल्हों और पीठ में सूजन को कम करते हैं।

ध्यान रखें, कभी-कभी हमारे सबसे बड़े दुश्मन “दर्द का डर” और “दर्द से बेहतर है न हिलना-डुलना” जैसा आम तर्क है।

हालांकि ये आसान एक्सरसाइज आपको राहत देते हैं, बेहतर मूवमेंट और लाइफ क्वालिटी प्रदान करेंगे।

उनके बारे में अधिक जानने के लिए आगे पढ़ें।

यह भी पढ़ें: अर्निका और नारियल तेल का मरहम: पीठ के निचले हिस्से में दर्द का इलाज करने के लिए

1. साइटिक नर्व के दर्द को ठीक करने के लिए बटरफ्लाई पोजीशन

जैसा कि हमने शुरुआत में कहा था कि अगर आपके कूल्हे, पीठ या साइटिक नर्व का दर्द बहुत गंभीर नहीं है तो इस तरह का व्यायाम बहुत असरदार हो सकता है।

जब दर्द मध्यम दर्जे का हो तो आप अपनी हड्डियों, नर्व और जॉइंट की ताकत और स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए स्ट्रेचिंग और पोजिशन की इस रूटीन को अंजाम दे सकते हैं।

कैसे करें “बटरफ्लाई” पोजीशान

  • अपने पैरों को खुला और मोड़कर जमीन पर गलीचा बिछाकर बैठें।
  • पीठ एकदम सीधी रखकर व्यायाम शुरू करें।
  • अपने पैरों के तलवों को इकट्ठे धकेलने की कोशिश करें।
  • ऐसा करते समय अपनी एड़ियों को पकड़ें।
 
  • यदि आप इस स्थिति तक नहीं पहुँच सकते हैं, तो चिंता न करें। दिन-ब-दिन आप इसके करीब आते जाएंगे, लेकिन धीरे-धीरे अग्रसर होना ही सबसे अच्छा है।
  • बाद में आप आगे झुकना शुरू कर सकते हैं जब तक कि अपने कूल्हों पर हल्का दबाव महसूस न करें।
  • 5 सेकंड के लिए इस मुद्रा को बनाए रखें, आराम करें और दोहराएं।

2. “बर्ड” पोजीशन


यह व्यायाम Sciatic Nerve, पीठ या हिप में होने वाले दर्द से राहत के लिए सबसे अच्छे व्यायामों में से एक है।

इसके लिए आप इन सभी अंगों को मोशन में लाने जा रहे हैं। इसलिए लगातार बने रहना और हर दिन 5 या 10 मिनट के लिए इस एक्सरसाइज को पूरा करना अहम है।

“बर्ड” पोजीशन कैसे करें

  • फर्श के कारपेट पर चारों हाथ-पैरों पर स्थिर हों।
  • आपके हाथ बहुत मजबूती से जमीन से चिपके होने चाहिए।
  • फिर अपने दाहिने घुटने को अपने बाएं हाथ के पीछे रखें और साथ ही दूसरे पैर को थोड़ा ऊपर उठायें (इसके लिए अपनी हिप को थोडा झुकाना होगा)।
  • 10 सेकंड के लिए इस स्थिति में रहें।
  • आराम करें और फिर दूसरे पैर के साथ इसे दोहराएं (अब बायाँ घुटना दाहिने हाथ के पीछे होना चाहिए)।

3. साइटिक नर्व के दर्द को ठीक करने के लिए चेयर पर एक्सरसाइज


हम एक सहज एक्सरसाइज से अपनी रूटीन जारी रखते हैं जिसे आप दिन के किसी भी समय कर सकते हैं।

अपनी पीठ और कूल्हे को वास्तव में फायदा पहुंचाने और साइटिक नर्व के दर्द को ठीक करने के लिए  इन स्टेप का पालन करें।

चेयर पर इस सीटिंग एक्सरसाइज के स्टेप

 
  • एक मजबूत कुर्सी चुनें।
  • थोड़ा आगे बैठें, लगभग कुर्सी के किनारे पर।
  • अपने दाहिने पैर को अपने बाएं पैर के ऊपर रखें जिससे आपका टखना आपके घुटने पर लगभग आराम कर रहा हो।
  • 10 सेकंड के लिए इस स्थिति में रहें, सांस लें और फिर सीधे अपनी पीठ के साथ आगे झुकें।
  • दूसरे पैर के साथ इसे दोहरायें।

यह भी पढ़ें: 6 आसान एक्सरसाइज साइटिका के दर्द से निजात पाने के लिए

बेड या सोफे पर एक्सरसाइज करें


जैसा कि हम अब तक देख चुके हैं, एक्सरसाइज की यह सीरीज आसानी से घर पर की जा सकती है।

सबसे महत्वपूर्ण बात इस जरूरी बात को याद रखना है : यह रूटीन न सिर्फ दर्द से राहत देने का काम करती है बल्कि इसे रोकने के लिए और भी महत्वपूर्ण है।

इस बात को ध्यान में रखें कि हमें इसे हर दिन करने के लिए रोजाना 35 मिनट चाहिए।

आपको इन एक्सरसाइज को शांतिपूर्वक और दर्द रहित तरीके से करना चाहिए, लेकिन हमेशा स्ट्रेस, फ्लेक्सिबिलिटी और रेजिस्टेंस का हम पक्ष लेते हैं जिससे आपको प्रामाणिक नतीजे मिलें।

पीठ और कूल्हों के लिए सोफे पर एक अच्छी कसरत कैसे करें

  • सोफे पर लेट जाएँ।
  • अपने दाहिने घुटने को मोड़ें और इसे छाती तक उठाएं।
  • यदि आप उसे वहाँ तक नहीं पहुंचा सकते, तो जहां तक हो सके दर्द महसूस किए बिना पहुंचें। हर दिन आपको यह आसान लगेगा।
  • अपने घुटने को हाथों से पकड़ते हुए इस मूवमेंट को 10 बार दोहराएं।
  • जब आप दोहराव खत्म करते हैं, तो दूसरे पैर के साथ इसे दोहरायें।

अंत में, ये चार एक्सरसाइज आसान और बहुत फायदेमंद हैं। हालांकि याद रखें, यदि आपका साईटिक पेन बहुत गंभीर या पुराना है, तो इसे करने से पहले हमेशा एक अच्छे फिजियोथेरेपिस्ट से सलाह लें।