अपने घर के भीतर अत्यधिक नमी का पता कैसे लगाएं

जुलाई 30, 2019
कई संकेत आपको बता सकते हैं कि आपके घर में नमी कुछ ज्यादा है। साफ़-सफ़ाई और सही मेंटिनेंस इस समस्या को रोकने में मददगार हो सकती है।

अपने घर में अत्यधिक नमी या मॉइस्चर का पता लगाने के लिए इसके चेतावनी संकेतों को जानना ज़रूरी है। इस समस्या से तुरंत निपटने से आप कुछ बड़ी समस्याओं से बच सकते हैं।

हर घर में नमी होती है। आखिरकार किसी घर में रहने का अर्थ कुछ ऐसी चीजों का इस्तेमाल करना होता है जो इस समस्केया की ओर ले जाती हैं। किसी घर में एक दिन में कम से कम 15 लीटर पानी का उपयोग तो किया ही जाता है। चाहे वह शॉवर, किचन, सिंक या रेगुलर घरेलू काम ही हों, हम सभी पानी का उपयोग करते हैं। जाहिर है यह नमी पैदा करता है।

अगर आपके सभी एप्लीकेशन और प्लंबिंग ठीक से काम कर रहे हैं तो पानी को वाष्पित हो जाना चाहिए और यह समस्या नहीं होनी चाहिए। इसलिए सही मेंटिनेंस महत्वपूर्ण है।

घर के भीतर अत्यधिक नमी

कारण

घर के भीतर अत्यधिक नमी

ज्यादा मॉइस्चर एक बड़ी समस्या है जो आपकी सेहत और घर, दोनों को नुकसान पहुंचा सकती है।

नमी तब उत्पन्न होती है जब घर का वेंटिलेशन अपर्याप्त हो, या आप नम जलवायु वाले स्थान पर रहते हों। सर्दियों में घर को हवादार न रखने से भी अत्यधिक नमी हो सकती है। दीवार, छत या गैराज नमी का शिकार हो सकते हैं। यह स्थिति अचानक भी पैदा हो सकती है।

सौभाग्य से ऐसे संकेत हैं जो बताते हैं, आपको एक्सेस मॉइस्चर की समस्या है। इससे आप तुरंत एक्शन ले सकते हैं।

अपने घर में अत्यधिक नमी का पता कैसे लगाएं

अगर आपकी पहुँच के दायरे वाले हिस्से में नमी हो तो इसका पता लगाना बहुत आसान होगा। मोल्ड वाली या काली दीवारें संकेत देती हैं कि समस्या है। कभी-कभी यह उन जगहों पर भी दिखाई दे सकती है, जहां पहुंचना इतना आसान नहीं होता। इसका पता लगाने में आपको थोड़ा वक्त लग सकता है।

गंध आपको यह पता लगाने में मदद कर सकती है कि नमी कहाँ से आ रही है। यह आमतौर पर अंधेरे, नम स्थानों में मोल्ड और फफूंदी के पनपने से जुड़ी होती है।

जब स्पोर निकलते हैं, तो वे एक ख़ास तरह की गंध छोड़ देते हैं। उधर आपका ध्यान आकर्षित होगा। इस ओर से आपको सावधान रहना चाहिए। क्योंकि वे सेहत के लिए नुकसानदेह हैं और एलर्जी और दूसरी साँसों की तकलीफ पैदा कर सकते हैं।

यह लेख आपको दिलचस्प लग सकता है: घर के पौधों की सफ़ाई कैसे करें

लगातार निगरानी

लकड़ी की सतहें, दीवारें और छत वे जगहें हैं जहाँ तेजी से नमी जमा होती है।

इस ओर लगातार निगरानी रखना बेहद जरूरी है। जिन स्थानों पर जल वाष्प जमा हो, उनकी नियमित जाँच होनी चाहिए

रसोई और बाथरूम विशेष रूप से ज्यादा नमी के संवेदनशील ठिकाने हैं। कहीं सतहों पर कंडेनसेशन नमी की उपस्थिति को बताता है।

सेलर और तहखाने लगातार मिट्टी के संपर्क में रहते हैं, इसलिए वे नमी की चपेट में आ सकते हैं। अच्छी स्लैब वाली नींव के आभाव से मिट्टी में नमी का घुसना आसान हो जाता है।

अगर पेंट दीवार से उखड रहा है, तो वहाँ एक छोटा रिसाव हो सकता है। इस तरह की नमी कंस्ट्रक्शन की गड़बड़ी से होती है। छत, दीवारें या तहखाने को वाटर प्रूफ न बनाना और बाथरूम टाइल के खाराब हाल में पहुंचना नमी की कुछ बहुत आम वजहें हैं।

नमी के खिलाफ आपके सहयोगी

घर में नमी की तलाश करने में आप कई सहयोगियों का सहारा ले सकते हैं। नमी का पता चलते ही वॉटर कॉन्टैक्ट इंडिकेटर टेप रंग बदलता है। यह सस्ता, आसानी से उपयोग लायक और डिस्पोजेबल है।

हाइग्रोमीटर (hygrometer) एक ऐसा उपकरण है जिसे वातावरण में नमी को मापने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। इसकी डिजिटल स्क्रीन सहित कई अलग-अलग किसमें हैं जो डेटा को स्क्रीन पर दिखाती हैं

इसे भी पढ़ें: घर पर बनायें दुर्गन्ध दूर करने वाले डिओडोराइज़िंग टॉयलेट टैबलेट

अपने घर में अत्यधिक नमी से मुकाबले करें

पर्याप्त वेंटिलेशन कंडेनसेशन से जमा होने वाली नमी को कम करता है। इसलिए घर को हवादार बनाने से आपको अत्यधिक नमी को रोकने में मदद मिलेगी। विशेष रूप से रसोई और बाथरूम को हवादार होना चाहिए। इसलिए नमी को रोकने के लिए रेंज हूड्स बहुत उपयोगी हैं।

थोड़ी हीटिंग का उपयोग भी मददगार साबित होता है। कंडेनसेशन को कम करने के लिए अपने घर का तापमान सही रखना चाहिए। अगर बजट सहूलियत दे तो बड़ी खिड़कियों में निवेश करें जो हवा की आवाजाही को आसान बनाती हैं।

इसके अलावा यह भी ध्यान रखें कि ज्यादा पेड़-पौधे होने और कपड़ों को भर के अंदर सुखाने से नमी में बढ़ोतरी हो सकती है।

हालांकि अगर नमी का कारण पानी का रिसाव है तो आपको उसे तुरंत ठीक करना होगा। यह रिपेयरिंग प्रोफेशनल द्वारा की जानी चाहिए।

अत्यधिक नमी को रोकना, उसका पता लगाना और उसका मुकाबला करना आसान हो सकता है। घर में इसे रोकने के लिए आपको सही उपाय अपनाना चाहिए, क्योंकि यह आपकी सेहत पर असर डाल सकती है।

  • EPA 2015. Una guía contra el moho y la humedad en casa. Extraído de: https://espanol.epa.gov/sites/production-es/files/2015-08/documents/moldguide_sp_1.pdf
  • araucosoluciones.com. Cómo prevenir la humedad en casa. Extraído de: https://web.araucosoluciones.com/_file/01_15955_foll-web_sugerencias_prevenir_hum_mexco_01_sep_15_2322.pdf