पैरों के कैलस कैसे निकालें: DIY दही और विनेगर की रेसिपी

08 फ़रवरी, 2019
पैरों के घट्टे या कैलस दिखने में भद्दे लगते हैं। लेकिन ये असुविधाजनक और दर्दनाक भी हो सकते हैं। यहाँ आपकी त्वचा को मुलायम बनाने वाले एक सरल फूट मास्क से कैलस को निकालने का तरीका बताया गया है!

पैरों के कैलस या घट्टे दिखने में भद्दे लगते हैं। लेकिन ये असुविधाजनक और दर्दनाक भी हो सकते हैं। यह सबसे आम बीमारियों में से एक है। इसलिए कैलस (Calluses) को कैसे निकालना है, यह बहुत ही उपयोगी जानकारी होगी।

यह स्थिति जूते या जमीन से पैरों के लगातार टकराने और घिसने के कारण पैदा होती है। कोमल त्वचा के क्षतिग्रस्त हो जाने पर हमारा शरीर और भी ज्यादा स्किन सेल्स का निर्माण करता है जो एक “कुशन” बनाते हैं और आपकी त्वचा की रक्षा करते हैं। पैरों की कैलस से मुक्ति दिलाने के लिए कई कठोर ट्रीटमेंट मौजूद हैं। लेकिन आज हम आपके पैरों में त्वचा को पोषण देने और कैलस हटाने में मदद करने के लिए एक आसान, घरेलू DIY रेसिपी की जानकारी शेयर करेंगे। पढ़ते रहिये!

अब जबकि हमने स्थापित किया है कि त्वचा के खराब होने या चोट लगने पर घट्टे या कैलस उभरते हैं, तो आप इस समस्या को रोकने और ठीक करने के उपाय अपना सकते हैं। घट्टे सौंदर्य से जुड़ी समस्या होने के अलावा भी कुछ हैं: उनकी मौजूदगी दर्दनाक होती है और ये कुछ प्रकार के संक्रमण का जोखिम भी बढ़ाते हैं। अपने पैरों को स्वस्थ, मुलायम और चमकदार बनाए रखने के लिए घट्टे हटाना सीखना आवश्यक है।

पैरों के कैलस उभरने से रोकें

बुनियादी बात पैरों को ज्यादा रगड़ खाना और अत्यधिक नुकसान से बचना है। कई बार आप जो जूते पहनते हैं, यह उसकी समस्या होती है। जूतों को अदल-बदल कर पहनना एक अच्छी आदत है। यह घर्षण या दबाव के बिंदुओं को बदलता रहेगा। आपके पैरों में एक ही स्थान पर बहुत ज्यादा नुकसान नहीं होगा। इसके अलावा, यह दिखने में भी अच्छा लगता है!

दूसरी ओर, कई रिसर्च ग्रुप ने धूम्रपान और पैरों की कैलस में आपसी संबंध पाया है। हालांकि भले ही हम इस बारे में निश्चित नहीं हों, फिर भी यह आपके लिए निकोटीन का सेवन घटाने का एक मोटिवेशन भी हो सकता है!

इसे भी आजमायें : पैर पर लगे फंगस और घट्ठे को इस अद्भुत घरेलू ट्रीटमेंट से दूर करें

पोरों के कैलस कैसे निकालें

तो, क्या करें अगर हमें पहले ही बहुत देर हो चुकी है और कैलस उभर आये हों? डरें नहीं! यह एक ऐसी आम समस्या है कि इसके बहुत सारे विकल्प उपलब्ध हैं। आप एक डर्मेटोलॉजिस्ट या पोडियाट्रिस्ट के पास जा सकते हैं। वे सर्जरी के जरिये पैरों के कैलस हटा सकते हैं। आप उन्हें फ़ाइल भी कर सकते हैं या नेचुरल ट्रीटमेंट का रास्ता भी अपना सकते हैं।

हम चाहेंगे कि घट्टे धीरे-धीरे ख़त्म हो जाएँ बजाय इसके कि उन्हें काट कर निकाला जाए। इसलिए हम एक शानदार DIY रेसिपी लेकर आये हैं जो त्वचा को मुलायम बनाएगी और कैलस को लड़ने में मदद करेगी।

सिरका और दही का उपयोग करने वाले इस नुस्ख़े में नेचुरल एसिड और हाइड्रेटिंग पदार्थ होते हैं। ये शरीर द्वारा अवशोषित होने पर प्राकृतिक पीएच को रेगुलेट करते हैं और कठोर त्वचा को नरम करते हैं। इसके अलावा, उनके एंटी इन्फ्लेमेटरी और एंटी बैक्टीरियल गुण संक्रमण को रोकने में मदद करते हैं। कुछ समय बाद आपकी त्वचा के पीएच स्तर को नियंत्रित करने और अत्यधिक घर्षण से बचने से पैरों के रंग-रूप में सुधार होगा और घट्टे नरम हो जाएंगे।

पैरों के लिए दही के फायदे

पैरों के कैलस : दही के फायदे

पैरों के लिए दही का मुख्य लाभ इसमें मौजूद लैक्टिक एसिड की ऊँची मात्रा है। यह यौगिक त्वचा के प्राकृतिक PH (जो क्षारीय के बजाय अम्लीय है) को नियंत्रित करता है, फंगस की ग्रोथ को रोकता है और साथ ही साथ मृत कोशिकाओं को साफ़ करने की सहूलियत देता है

दूसरी ओर, दही में विटामिन, मिनरल और अन्य हाइड्रेटिंग पदार्थ भी प्रचुर मात्रा में होते हैं। शरीर में अवशोषित होने पर ये त्वचा को नरम करते हुए सुधार की प्रक्रिया में तेजी लाते हैं। ये सभी तत्व कुछ ही दिनों में पैरों के बेहतर लुक देने में मदद करते हैं!

इसे भी आजमायें : 5 हर्बल ट्रीटमेंट जो गोखरू का मुकाबला करने में मदद करते हैं

एप्पल साइडर विनेगर के लाभ

पैरों के कैलस : एप्पल साइडर विनेगर के फायदे

एप्पल साइडर विनेगर उन सामग्रियों में से एक है जिनका उपयोग पैरों के ट्रीटमेंट में सबसे ज्यादा किया जाता है। इसमें मौजूद एसिटिक एसिड कैलस को नरम करने और फंगस के विकास को रोकने में मदद करता है। एसिटिक एसिड आसानी से त्वचा में प्रवेश करता है, इस पर जमा होने वाली अशुद्धियों को दूर करता है और अतिरिक्त रूखेपन को नियंत्रित करने के लिए पीएच को बैलेंस करता है

इसकी अम्लता के कारण त्वचा कीटाणुओं से लड़ने में ज्यादा सक्षम है। यह कुछ संक्रमण और अप्रिय गंध से बचाव करता है। एप्पल साइडर सिरके में एंटीऑक्सीडेंट गुण बताये हाते हैं, जो आपकी त्वचा को युवा और कोमल रखने में मददगार है।

रेसिपी: DIY दही और सिरका फुट मास्क

 DIY दही और विनेगर की रेसिपी

इसमें उपयोग की जाने वाली सामग्री 100% ऑर्गेनिक होनी चाहिए। फ्लेवर वाली दही और परिष्कृत सिरके में ऑर्गेनिक किस्म वाले गुण नहीं होते। इस वजह से इन सामग्रियों को खरीदते समय सुनिश्चित करें कि सर्वोत्तम परिणाम पाने के लिए सबसे ऊँची गुणवत्ता के हैं

सामग्री

  • 1/2 कप बिना फ्लेवर वाली बिना मिठास वाली सादी दही
  • 1/4 कप ऑर्गेनिक एप्पल साइडर विनेगर

तैयारी

  • एक कटोरे में दही और सिरके को अच्छी तरह मिलाएं।
  • प्रभावित अनाग पर लगाएं।

कैसे इस्तेमाल करे

  • रात को सोने से पहले अपने पैरों को बिना खुशबू वाले साबुन और पानी से अच्छी तरह साफ कर लें।
  • मिश्रण को लगाएं।
  • अपने पैरों को उदारता से अच्छी तरह से ढकना सुनिश्चित करें, खासकर कैलस वाले हिस्से को।
  • इसे 30 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • इसके बाद अपने पैरों को 20 मिनट के लिए गर्म पानी में भिगोएँ।
  • फिर, ट्रीटमेंट के असर को पूरा करने और मृत कोशिकाओं को हटाने के लिए अपने पैरों को प्युमिक स्टोन से रगड़ें।
  • अपने पैरों को एक बार फिर पानी में भिगोएँ और अच्छी तरह से सुखाएँ।
  • जब तक आपके पैरों के रंग-रूप में सुधार न हो तब तक यह ट्रीटमेंट रोजाना दोहराएं।

यह मास्क आपकी त्वचा के पीएच लेवल को बहाल करेगा, त्वचा को मुलायम करेगा और धीरे-धीरे घट्टे को हटा देगा। केवल एक बार इसे लगाते ही पैरों के कैलस पूरी तरह से दूर नहीं हो जायेंगे। इसलिए पैरों के ज्यादा स्वस्थ और सुन्दर दिखने तक इसे कई बार उपयोग करना चाहिए।

  • Yeom G, Yun DM, Kang YW, Kwon JS, Kang IO, Kim SY. Clinical efficacy of facial masks containing yoghurt and Opuntia humifusa Raf. (F-YOP). J Cosmet Sci. 2011;62(5):505-514.
  • Yagnik, D., Serafin, V., & J Shah, A. (2018). Antimicrobial activity of apple cider vinegar against Escherichia coli, Staphylococcus aureus and Candida albicans; downregulating cytokine and microbial protein expression. Scientific reports, 8(1), 1732. https://doi.org/10.1038/s41598-017-18618-x