5 घरेलू इलाज जो हाई ब्लड शुगर पर कंट्रोल करते हैं

जून 1, 2020
अगर आपके ब्लड शुगर का मेडिकल ट्रीटमेंट चल रहा है, तो यह महत्वपूर्ण है कि आप इनमें से किसी भी घरेलू इलाज को अपनाने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह लें।

आपके पैंक्रियाज के पर्याप्त इंसुलिन का स्राव न करने या इंसुलिन प्रतिरोधी होने के कारण हाई ब्लड शुगर लेवल हो सकता है।

यह ऐसा रोग है जो आपके पूरे स्वास्थ्य को नुकसान पहुँचाता है, आपकी आँखें. किडनी और कार्डियोवैस्कुलर सिस्टम की सेहत में हस्तक्षेप करता है।

यह लम्बे समय तक गलत फ़ूड हैबिट से पैदा हो सकता है, लेकिन यह एक सुस्त लाइफस्टाइल, मोटापा और जेनेटिक फैक्टर से भी जुड़ा हुआ है।

सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि आमतौर पर इसके शुरुआती स्टेज में स्पष्ट संकेत नहीं होते हैं। इस तरह जटिलताओं को विकसित कर लेना आसान है।

अच्छी खबर यह है कि इसे प्राकृतिक रूप से कंट्रोल किया जा सकता है। स्वस्थ आदतों से आपको अपने ब्लड शुगर को इसे सामान्य स्तर पर वापस लाने की सहूलियत मिलती है।

अगर आप कुछ प्राकृतिक नुस्खों के साथ अच्छी आदतों को अपनाते हैं तो आप हाई ग्लूकोस लेवल को और भी ज्यादा असरदार ढंग से मदद कंट्रोल कर सकते हैं।

इन घरेलू इलाजों से अपने ब्लड शुगर को नियंत्रण में रखने के बारे में और जानें। नीचे हम आपके लिए सबसे अच्छे 5 नुस्ख़े शेयर करेंगे।

1. अमरूद की पत्ती वाली चाय

5 घरेलू इलाज जो हाई ब्लड शुगर

अमरूद के पत्तों का उपयोग नेचुरल ट्रीटमेंट में इसमें मौजूद एंटीऑक्सिडेंट की प्रचुर मात्रा के लिए किया जाता है, जो ब्लड शुगर लेवल को को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

इनमें क्वेरसेटिन (quercetin) के रूप में जाना जाने वाला फ्लेवोनॉइड होता है। इस पदार्थ का हाइपोग्लाइसेमिक असर मधुमेह रोगियों के लिए अच्छा होता है।

सामग्री

  • 5 अमरूद के पत्ते
  • 1 कप पानी (250 मिली)

तैयारी

  • अमरूद के पत्तों को एक बर्तन में पानी के साथ डालें और उन्हें कवर करें।
  • उन्हें 5 मिनट के लिए उबलने दें और फिर आँच से हटा दें।
  • जब तक यह कमरे के तापमान तक न पहुँचे छोड़ दें, फिर छानें और पी लें।

कैसे करें सेवन?

  • हर बार भोजन से पहले एक कप चाय लें।

2. सेज वाइन से कम करें हाई ब्लड शुगर

सेज वाइन में पाए जाने वाले एंटीऑक्सिडेंट इंसुलिन के उपयोग को बेहतर बनाने, ब्लड शुगर को काबू करने में मदद करते हैं।

इस नुस्ख़े की सिफारिश बच्चों या नाबालिग लोगों के लिए नहीं की जाती है।

सामग्री

  • सेज की पत्तियों के 5 बड़े चम्मच (50 ग्राम)
  • 3 कप रेड वाइन (750 मिली)

तैयारी

  • एक पॉट में सेज की पत्तियों को डालें और रेड वाइन के साथ कवर करें।
  • गर्म करें और उबलने पर आँच कम करें और 2 या 3 मिनट के लिए उबाल लें।
  • इस समय के बाद ठंडा होने दें और फिर छान लें।
  • काले रंग के ग्लास जार में स्टोर करें।

कैसे पियें

  • हर बार भोजन के बाद एक छोटा कप सेज वाइन लें।

इसे भी पढ़ें : हाई ब्लड शुगर के 6 लक्षण

3. आर्टीचोक ग्रेप फ्रूट वाटर

हाई ब्लड शुगर : आर्टीचोक ग्रेप फ्रूट वाटर

आर्टीचोक ग्रेप फ्रूट वाटर में इंनुलिन (inulin) नाम का एक ग्लूकाइड होता है, जो आपके ब्लड शुगर को वापस बैलेंस करने में मदद करता है।

इसमें फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट होता है, जो आपकी धमनियों में जमा होने वाले लिपिड की मात्रा को रेगुलेट करने में मदद करता है।

सामग्री

  • 1 आर्टीचोक
  • 2 ग्रेप फ्रूट का जूस
  • 3 कप पानी

तैयारी

  • आर्टीचोक को काट लें और इसे पानी के साथ एक पॉट में डालें। उबाल आने तक गरम करें।
  • नरम होने पर आँच से निकालें और बैठने दें।
  • ग्रेप फ्रूट को निचोड़कर रस को आर्टीचोक के पानी में मिलाएं।

कैसे सेवन करें

  • खाने के बाद 2 या 3 बार लें।

4. हाई ब्लड शुगर कम करती है ग्रीन टी

ग्रीन टी रेगुलर पीने से डायबिटीज का जोखिम कम किया जा सकता है, इसकी वजह इंसुलिन के लिए आपके शरीर की संवेदनशीलता को बढ़ाने की इसकी क्षमता में है जो इसके मेटाबोलिक एक्शन में सुधार लाता है।

यह भी उल्लेखनीय है कि यह ब्लड शुगर के असंतुलन के मुख्य कारणों में से एक मोटापा को रोकने में मदद करता है।

सामग्री

  • 1 कप पानी (250 मिली)
  • ग्रीन टी के पत्तों का 1 चम्मच (5 ग्राम)

तैयारी

  • पानी को गर्म करें और ग्रीन टी की पत्तियां डालें।
  • 10 मिनट के लिए छोड़ दें, छान लें और पियें।

कैसे सेवन करें

  • हर दिन सुबह, पहली बार एक कप ग्रीन टी पिएं।

“और अधिक जानना चाहते हैं? पढ़ें : रोज़ाना ग्रीन टी पीने का हमारे शरीर पर क्या असर होता है?

5. मेथी की चाय (Fenugreek tea)

मेथी में पाए जाने वाले पोषक तत्व आपके पैन्क्रियाज सेल्स के लिए उत्तेजक के रूप में कार्य करते हैं, जिससे इंसुलिन उत्पादन में सुधार होता है।

सामग्री

  • 3 बड़े चम्मच मेथी के बीज (30 ग्राम)
  • 1 कप पानी (250 मिली)

तैयारी

  • पानी को गरम करें और मेथी के बीज डालें।
  • रात भर छोड़ दें और फिर सुबह बीज को पीस लें।
  • छानें और सर्व करें।

कैसे सेवन करें

  • हफ़्ते में कम से कम 3 बार सुबह मेथी के बीज का पानी पियें।

इन उपायों को अपनाने के अलावा याद रखें कि अपने सभी रूपों में रिफाइंड शुगर से दूर रहना नितांत ज़रूरी है। अपने ब्लड शुगर को नियंत्रण में रखने के लिए ज्यादा फ्रेश फ्रूट और सब्जियों का विकल्प चुनें।