तरबूज के बीज खाने के अद्भुत फायदे

सितम्बर 20, 2018
क्या आप जानते हैं, शरीर से अतिरिक्त लिक्विड को हटाने में आपकी मदद करने के अलावा तरबूज के बीज एंटीऑक्सीडेंट में भी समृद्ध हैं?

तरबूज एक स्वादिष्ट और ताजगी देने वाला फल है जो पानी और एंटीऑक्सीडेंट की उच्च मात्रा के लिए जाना जाता है। यह गर्मियों के खाद्य पदार्थों में से एक है। वर्ष के सबसे गर्म दिनों के दौरान आपके शरीर को हाइड्रेट करने का यह शानदार माध्यम है।

इसके अलावा तरबूज जरूरी पोषक तत्वों से भरपूर है जो आपकी सेहत के लिए काफी फायदेमंद हो सकते हैं।

इसमें लाइकोपीन होता है। लाइकोपीन आपके शरीर को डिटॉक्स यानी शुद्ध करने में मदद करता है। यह शरीर से अतिरिक्त द्रव्य को भी हटाता है।

लेकिन एक बात बहुत से लोग नहीं जानते हैं। जिस तरबूज के बीजों को वे आम तौर पर थूक देते हैं, वे भी पोषक तत्व और अन्य लाभों से भरपूर होते हैं। उन्हें इनका फायदा उठाना चाहिए।

चाय और दूसरे पेय पदार्थों में इनका उपभोग करने पर ये बीमारियों को रोकने में मदद कर सकते हैं, आपके कई अहम अंगों के कार्यों को सपोर्ट कर सकते हैं।

तरबूज के बीज नेचुरल लैक्जेटिव हैं

तरबूज के बीज में डायेटरी फाइबर की एक बड़ी मात्रा होती है। फाइबर शरीर से वेस्ट्स को हटाने के लिए ज़रूरी बॉवेल मूवमेंट को नियंत्रित करते हैं।

कब्ज से लड़ने और पाचन में सुधार करने के लिए सिंथेटिक लैक्जेटिव लेने के बदले आप इनका उपयोग कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ें: 7 क्षारीय खाद्य समूह, इन्हें पूरे हफ़्ते की डाइट प्लान में आजमायें और देखें चमत्कार

बेहतरीन मूत्रवर्धक

फल के समान ही, तरबूज के बीज में बेहतरीन ड्युरेटिक यानी मूत्रवर्धक गुण होते हैं। यह आपके टिश्यू में जमें अतिरिक्त द्रव को बाहर निकालने में मदद करता है।

इन बीजों के साथ बनाई गई औषधीय चाय किडनी में जमा टॉक्सिन और वेस्ट के लिए एक प्राचीन उपचार है जिससे गुर्दे की पथरी को बनने से रोका जा सकता है।

इसमें मौजूद एक्टिव कम्पाउंड मूत्रपथ को सही तरीके से काम करने में मदद करते हैं। वे तरल को हटाने के कार्य में बढ़ोतरी करते हैं और बैक्टीरिया की अतिवृद्धि को रोकते हैं।

ये एक्टिव कम्पाउंड नुकसानदेह पदार्थों और भारी धातुओं को हटाने में मददगार हैं जिससे गंभीर बीमारियों का खतरा कम हो जाता है।

आपके शरीर के तरल पदार्थ और साल्ट के लेवल को संतुलित करने की उनकी क्षमता की मेहरबानी से तरबूज के बीजों का नियमित सेवन उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करता है।

एंटीऑक्सीडेंट से समृद्ध

जबकि यह फल लाइकोपीन से समृद्ध है, इसके बीज में मैग्नीशियम और ज़िंक जैसे अन्य अहम एंटीऑक्सिडेंट होते हैं।

ये फ्री रेडिकल्स के कारण होने वाले नुकसान को नियंत्रित करते हैं और जोड़ों और हड्डियों को जल्दी क्षय होने से रोकते हैं।

एनर्जी का एक अच्छा स्रोत

लोग इन बीजों को एनर्जी के लिए इस्तेमाल करने के बजाय फेंकना पसंद करते हैं। तरबूज के बीजों में बहुत कम कैलोरी होती है लेकिन उनकी उच्च एनर्जी वैल्यू कमजोरी और थकावट से लड़ने में मदद कर सकती है।

मिनरल और फाइबर थकान का मुकाबला करते हैं। जाहिर है शारीरिक और मानसिक कार्यों को और अच्छी तरह करने में आपको मदद मिलती है।

100 ग्राम तरबूज में केवल 20.3 कैलोरीज़ होती है।  लेकिन इतने ही तरबूज के बीज आपको 555 कैलोरी तक दे सकते हैं। बेशक, आप कभी भी एक सर्विंग में इतना नहीं खा पाएंगी।

डिसलिपिडेमिया के लिए ट्रीटमेंट

डिसलिपिडेमिया या लिपिड असामान्यता, एक तरह का विकार है जो रक्त प्रवाह में लिपिड मेटाबॉलिज्म में असंतुलन से जाना जाता है।

धमनियों में कोलेस्ट्रॉल के उच्च स्तर और खराब ट्राइग्लिसराइड नियंत्रण इस स्थिति का कारण बन सकते हैं।

ओमेगा 3 और ओमेगा 6 जैसे पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड में समृद्ध होने के कारण तरबूज के बीज इस समस्या को नियंत्रित कर सकते हैं और आपके रक्त प्रवाह को साफ करने में मदद कर सकते हैं।

इससे आपकी धमनियों के अवरुद्ध या सख्त होने का जोखिम कम हो जाता है और गंभीर सर्कुलेटरी समस्याएं या कार्डियोवैस्कुलर बीमारी दूर रहती है।

इसे भी पढ़ें: 5 शानदार फ्रूट स्मूदी जो वज़न घटाने में हैं उतने ही असरदार

तरबूज के बीज के साथ ड्रिंक कैसे बनायें

 

इस ड्रिंक को बनाना बहुत आसान है और इसे बनाने में ज्यादा समय भी नहीं लगता है। ऐसे तो आप साबुत बीज इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन इनका पाउडर पोषक तत्वों के अवशोषण के लिए बेहतर है।

सामग्री

  • 4 बड़े चम्मच तरबूज के बीज (40 ग्राम)
  • 1 लीटर पानी
  • 1 कप कटा हुआ तरबूज (वैकल्पिक)

तैयारी

  • मध्यम आंच पर पानी को उबालें।
  • जब पानी उबल रहा हो, एक ओखल और मूसल का उपयोग करके तरबूज के बीज को पीस लें।
  • बारीक पाउडर बन जाने पर उसे गर्म पानी में डालें और 30 मिनट तक उबालें।
  • उसके बाद आंच से हटायें और मिश्रण को एक घंटे तक यूंही रहने दें।
  • तरल को छानें और इस औषधीय पानी को एक पिचर में डालें।
  • एक स्वादिष्ट ड्रिंक बनाने के लिए पानी को ताजे तरबूज के कई टुकड़ों के साथ एक ब्लेंडर में डालें।
  • इसे फ्रिज में ठंडा करने के लिए रखें या बर्फ डालकर तुरंत सर्व करें।

ऐसे सेवन करें

  • इस पानी का पहला कप खाली पेट पियें और नाश्ते के लिए कम से कम आधे घंटे तक प्रतीक्षा करें।
  • बेहतरीन परिणामों के लिए यह हर हफ्ते, लगातार दो बार करें।
  • किसी भी तरह की चीनी या आर्टिफीशियल स्वीटनर्स डालने से बचें।
  • किसी नेगेटिव साइड इफेक्ट से बचने के लिए बतायी गयी मात्रा से ज्यादा बीज न लें।

क्या आप इसे शुरू करने के लिए तैयार हैं? अब जब आप जानते हैं कि ये बीज कितने अच्छे हैं, इन्हें कूड़ेदान में फेंकने के बजाय इनका उपयोग करने में संकोच न करें।

Ip, B. C., & Wang, X. D. (2013). Non-alcoholic steatohepatitis and hepatocellular carcinoma: Implications for lycopene intervention. Nutrients. http://doi.org/10.3390/nu6010124

Erhirhie, E. O., & Ekene, N. E. (2013). Medicinal Values on Citrullus lanatus ( Watermelon ): International Journal of Research in Pharmaceutical and Biomedical Sciences.