8 तथ्य पीरियड के बारे में जिन्हें शायद आप नहीं जानतीं

08 सितम्बर, 2018
जब आपके पीरियड चल रहे होते हैं तब भी पहले से ही आपकी ओवेरी अगले चक्र की तैयारी कर रही होती है। ऐसे में असुरक्षित यौन सम्बन्ध बनाने पर गर्भ धारण की संभावना रहती है।

ज्यादातर महिलाएँ जानती हैं, प्रत्येक 28वें दिन उनके पीरियड होंगे। मरोड़ उठना, महिलाओं के प्रोडक्ट इस्तेमाल करने की जरूरत, मनोदशा में उतार-चढ़ाव – ये ऐसी बाते हैं जिन्हें आपके पीरियड के तीन से छह दिनों के दौरान आपको सहना पड़ेगा।

इसके बावजूद, पीरियड का आना एक स्वाभाविक जैविक और हॉर्मोनल प्रक्रिया है, जो आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के कई पहलुओं पर निर्भर करती है।

वास्तव में कई अजीब तथ्य हैं जिनकी अधिकतर स्त्रियाँ शायद अनदेखी करती हैं, पर हो सकता है जो हर महीने उनके पीरियड के साथ हो रहा हो।

आज हम आपके साथ आपके पीरियड के बारे में ऐसे आठ तथ्यों की जानकारी शेयर करना चाहते हैं।

1. क्या होता है पीरियड के दौरान 

8 तथ्य पीरियड के बारे में

मासिक चक्र (menstrual cycle) नारी प्रजनन को आसान करने के लिए बना है। इस चक्र के लगभग बीचोंबीच ऑव्युलेशन (ovulation) होता है। यह वही प्रक्रिया है जिसमें ओवेरी (अंडाशय) एक अंडा उत्पन्न करती है, जो फर्टिलाइज़ हो भी सकता है और नहीं भी।

इसके साथ-साथ शरीर प्रोजेस्टेरॉन नाम के हॉर्मोन का उत्पादन बढ़ा देता है, जो आपके गर्भाशय की लाइनिंग को कुछ मोटा कर देता है और इसे फर्टिलाइज़ हुए अंडे को प्लांट करने के लिए तैयार कर देता है।

फिर भी, यदि महीने के दौरान अगर गर्भाधान नहीं होता है, तो प्रोजेस्टेरॉन लेवल गिर जाता है और आपके पीरियड नॉर्मल रूप से होते हैं।

कृपया पढ़िए: ओवेरियन कैंसर के 7 लक्षण जिनके बारे में हर महिला को पता होना चाहिए

2. हॉर्मोनल गर्भनिरोधक मासिक प्रवाह को बदल सकते हैं

हॉर्मोनल गर्भनिरोधक महिलाओं के मासिक चक्र में परिवर्तन का कारण बन सकते हैं। बर्थ कंट्रोल गोलियाँ, रिंग, ओर इम्प्लांट आपके शरीर से कहते हैं कि इसे अधिक प्रोजेस्टेरॉन उत्पादन करने की जरूरत नहीं है। यह पीरियड के दौरान आपके रक्त प्रवाह को हल्का बना देता है।

असल में बहुत कम रक्त-स्राव होना या बिल्कुल नहीं होना असामान्य नहीं है।

3. पीरियड के दौरान कोई महिला गर्भवती हो सकती है

8 तथ्य पीरियड के बारे में: फर्टिलाइज़ेशन

यह एक ऐसी चीज है जिसे प्रत्येक स्त्री को जानना चाहिए। हालाँकि संयोग बहुत कम है, पर यह बताया जा चुका है कि जब पीरियड चल रहे होते हैं तब भी गर्भधारण की संभावना रहती है।

पीरियड के दौरान ओवेरी अगले चक्र के लिए एक नया एग तैयार कर रही होती है, जिसे लगभग अगले 15 दिनों के दौरान नहीं छोड़ा जाएगा। परंतु सभी महिलाओँ का चक्र एक जैसा नहीं होता और कुछ स्त्रियाँ अपना पीरियड समाप्त करने से पहले ऑव्युलेशन कर सकती हैं।

यही कारण है कि पीरियड के दौरान असुरक्षित यौन संबंध बनाना संभावित रूप से गर्भधारण की ओर ले जा सकता है।

यह उन महिलाओँ के लिए विशेष रूप से सही है जिनके पीरियड अनियमित होते हैं।

4. नॉर्मल पीरियड में एक कप से भी कम खून निकलता है

हॉर्मोन और जीवन शैली के नजरिये से हर स्त्री अलग होती है। अनुमान किया जाता है कि आम तौर पर औसतन एक स्त्री 100 मिलीलीटर खून गँवाती है। यह एक छोटे कॉफी कप के बराबर है।

यह मात्रा और भी बढ़ जाती है जब आप एंड्रोमेट्रियल लाइनिंग और अन्य योनिस्राव को ध्यान में रखें जो इस दौरान बहते हैं।

5. टॉक्सिक शॉक सिंड्रोम से सावधान रहेें

पीरियड के बारे में: टॉक्सिक शॉक सिंड्रोम

हालांकि यह बिरले ही होता है, लेकिन यह ज़रूरी है कि टॉक्सिक शॉक सिंड्रोम का कारण बनने वाले बैक्टीरिया का विकास रोकने के लिए, महिलाएँ दिन में कई बार अपने टैम्पन्स ( tampon) या पैड बदलना याद रखें।

यह परिस्थिति बहुत गंभीर है और कई स्त्रियों की मृत्यु का कारण बनती है।

6. प्रीमेंस्ट्रुअल सिंड्रोम (PMS) बहुत सामान्य हैं

PMS एक वास्तविकता है जिसे लगभग 90% स्त्रियाँ अपने जीवन के किसी न किसी मोड़ पर भुगतती हैं।

इसे मनोदशा में जबर्दस्त उतार-चढ़ाव, मुंहासों के प्रकट होने और लगातार सिरदर्द के रूप में देखा जा सकता है। यह पेट का फूलना और थकावट को बढ़ाता है।

ये लक्षण औसतन पीरियड से कुछ दिन पहले या उनके दौरान दीखते हैं। यदि आप देखती हैं कि आप अपने चक्र के दूसरे चरणों में भी इनसे भुगत रही हैं, तब यह किसी दूसरी बीमारी का चिह्न हो सकता है।

इसे भी पढ़िए: 8 लक्षण: महिलाओं को इन्हें नज़रंदाज़ नहीं करना चाहिए

7. कोई भी बीमारी पीरियड में हस्तक्षेप कर सकती है

ऐसी कोई भी चीज जो आपके स्वास्थ्य को प्रभावित करती है, आपके मासिक चक्र में हस्तक्षेप कर सकती है। कैंसर, हृदय रोग, थायरॉयड की गड़बड़ी इन प्रतिक्रियाओं के कुछ सामान्य दोषी हैं।

दूसरे स्त्री-रोग भी आपके पीरियड में बदलाव से जुड़े हो सकते हैं। फिर भी, इसका अर्थ यह नहीं है कि आपके पीरियड की असामान्यता हमेशा किसी गंभीर बीमारी का चिह्न हो।

8. मेंसट्रुअल फ्लो में स्टेम सेल्स होती हैं

पीरियड के बारे में: मेंसट्रुअल फ्लो

कई स्टडी ने इसकी पुष्टि की है कि वे कोशिकाएँ जो विभिन्न टिशुओं की मरम्मत करती हैं, वे उस खून में पाई जाती हैं जो पीरियड के दौरान बहता है।

इनमें शामिल हैं:

नर्वस सिस्टम टिशू
लिवर टिशू
पैंक्रियैटिक टिशू
हड्डी के टिशू

यह दिलचस्प लगता है? एक महिला होने के नाते, इस तरह की चीजों को जानना अच्छा है जो आपको उस किसी भी प्रश्न का उत्तर देने में सहायता करती हैं जो आपके अंदरूनी हेल्थ या आपके पीरियड के बारे में उठ सकते हैं।

  • VV.AA. (2015).Characterization of menstrual stem cells: angiogenic effect, migration and hematopoietic stem cell support in comparison with bone marrow mesenchymal stem cells. https://stemcellres.biomedcentral.com/articles/10.1186/s13287-015-0013-5
  • VV.AA. (2011).Manejo clínico del sangrado producido con la utilización de métodos anticonceptivos con sólo gestágenos. http://www.revistafertilidad.org/articulo/Manejo-cliacutenico-del-sangrado-producido-con-la-utilizacioacuten-de-meacutetodos-anticonceptivos-con-soacutelo-gestaacutegenos/42
  • VV.AA. (2000).The timing of the “fertile window” in the menstrual cycle: day specific estimates from a prospective study. https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC27529/
  • Curell Aguilà, N. Instituto Universitario Dexeus.Normalidad y alteraciones de la menstruación en adolescentes. https://www.pediatriaintegral.es/numeros-anteriores/publicacion-2013-04/normalidad-y-alteraciones-de-la-menstruacion-en-adolescentes/
  • Biblioteca Nacional de Medicina de Estados Unidos. https://medlineplus.gov/spanish/ency/article/000653.htm
  • Clínica Mayo.https://www.mayoclinic.org/es-es/diseases-conditions/premenstrual-syndrome/symptoms-causes/syc-20376780
  • McEwen, Bruce., Sapolsky, Robert. (2006). El estrés y su salud. https://academic.oup.com/jcem/article/91/2/E1/2843212